रविवार, 4 अप्रैल 2021

राजपूत क्षत्रिय संस्था के प्रह्लाद सिंह राठौड़ अध्यक्ष,अजयसिंह चौहान महासचिव निर्वाचित. सर्वसम्मति




* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 4 अप्रैल 2021.

राजपूत क्षत्रिय संस्था के चुनाव सर्वसम्मति से हुए जिनमें प्रह्लाद सिंह राठौड़ अध्यक्ष एवं अजयसिंह चौहान महासचिव निर्वाचित हुए। 


करणी माता मंदिर परिसर में राजपूत क्षत्रिय संस्था की अध्यक्ष श्री मल सिंह भाटी जी की अध्यक्षता में मीटिंग हुई।

 संस्था के वरिष्ठ सदस्य पूर्व में अध्यक्ष रहे श्री हरि सिंह भाटी ने नये अध्यक्ष पद हेतु श्री प्रह्लाद सिंह जी के नाम का प्रस्ताव रखा जिसका मीटिंग में पधारे समाज के सभी राजपूत सरदारों ने समर्थन किया। 

 सर्वसम्मति से श्री प्रहलाद सिंह जी राठौड़ को अध्यक्ष नियुक्त किया और श्री अजय सिंह चौहान को महासचिव नियुक्त किया।

 मीटिंग में अध्यक्ष श्री मल सिंह जी भाटी ने संस्था में किए गए कार्यों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। विदित रहे की मलसिंह भाटी जी के कार्यकाल में कई सराहनीय विकास हुए जिनमें धर्मशाला निर्माण प्रमुख है।

संस्था में पधारे सभी राजपूत सरदारों ने होली स्नेह मिलन समारोह उत्साह पूर्वक एक दूसरे को गुलाल लगाकर मनाया और एक दूसरे को होली की शुभकामनाएं दी।

 संस्था के अध्यक्ष श्री मल सिंह भाटी ने नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्री प्रहलाद सिंह जी को बधाई दी और संस्था में एक दूसरे का सहयोग करने का आह्वान किया।

संस्था के नवनिर्वाचित अध्यक प्रह्लाद सिंह ने आगामी मीटिंग में अपनी कार्यकारिणी का विस्तार करने का कहा। 

 मीटिंग में संस्था के वरिष्ठ सदस्य श्री हरि सिंह भाटी, डॉ जितेंद्र सिंह राठौड़ भीम सिंह राठौड़ छत्रपाल सिंह राठौड़ लाल सिंह बीका बजरंग सिंह पवार राजेंद्र सिंह परिहार पेप सिंह राठौड़ गोपाल सिंह राठौड़ दीपक सिंह खुशाल सिंह राठौड़ बालू सिंह भाटी मनोहर सिंह ठुकराना लक्ष्मण सिंह शेखावत शायर सिंह रतन सिंह बीका राजकुमार सिंह परमार महेंद्र सिंह पार्षद राजीव प्रताप सिंह चौहान सूरज सिंह भाटी वीरेंद्र सिंह सिसोदिया रामेश्वर सिंह सिसोदिया विक्रम सिंह खींची विक्रम सिंह राठौड़ राजेश सिंह तोमर नारायण सिंह राठौड़ हनुमान सिंह भंवर सिंह शेखावत बलवीर सिंह शेखावत अजीत सिंह भाटी गुरदयाल सिंह महेंद्र सिंह शेखावत प्रमोद सिंह गणपत सिंह भाटी हिम्मत सिंह रेवंत सिंह वीरेंद्र सिंह राठौड़ पूरन सिंह मनोहर सिंह राठौड़ अजीत सिंह राठौड़ अजय सिंह चौहान सहित राजपूत सरदार शामिल हुए।00

********




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें