करणी प्रेस इंडिया

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

सफाई कर्मी की नियुक्ति पहले 1 साल काम कराने के बाद हो: जयपुर में हड़ताल 24 जुलाई से.

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में सफाई कर्मचारी भर्ती में अपनी मांगों को लेकर बुधवार 24 जुलाई  से सफाई कर्मचारियों की हड़ताल रहेगी। वर्तमान में चल रही भर्ती प्रक्रिया में समझौता शर्ताे की पालना नहीं किए जाने से सफाई कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है।

संयुक्त वाल्मिकी एवं सफाई श्रमिक संघ अध्यक्ष नन्दकिशोर डंडोरिया के अनुसार सफाई कर्मचारियों की भर्ती में संघ की शर्ते नहीं मानने के विरोध में हड़ताल का निर्णय किया गया है। संघ की प्रमुख मांग मस्टररोल के आधार पर और आरक्षण मुक्त सफाई कर्मचारियों की भर्ती है। जिसमें एक साल तक पहले कर्मचारी से काम करवाया जाए। उसके बाद नियुक्ति दी जाए। वाल्मीकि समाज के अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जाए। पूर्व की जिन भर्तियों में कोर्ट में मामला विचाराधीन है या जिन पर निर्णय हो चुका है उनमें नियुक्ति के आदेश जारी किए जाए।

* प्रदेश में भाजपा सरकार ने जो 24 हजार 797 पदों पर सफाई कर्मचारी की भर्ती की है। उस भर्ती के नियमों में कुछ संशोधन का प्रस्ताव संघ ने सरकार को दिया था। इन मांगों पर सरकार और संघ के बीच 15 मार्च को समझौता भी हुआ। समझौते में नगरीय निकायों में काम करने वाले सफाई कर्मचारियों (अस्थायी) को वरीयता देने एवं जिन अभ्यर्थियों के साल 2012 और 2018 की भर्ती के प्रकरण कोर्ट में विचाराधीन हैं। उन पर नीतिगत निर्णय करके नियुक्ति देने पर सहमति बनी थी।०0०


युवाओं में बढता नशा: नशीले पदार्थ रोकने:सरकारी कदम.टास्क फोर्स का गठन होगा:


* करणीदानसिंह राजपूत *

जयपुर, 23 जुलाई 2024.

 चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि मादक पदार्थों पर नियंत्रण के लिए शीघ्र एन्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नशे की बढ़ती प्रवृति एक गंभीर विषय है और युवाओं को नशे की गिरफ्त से बचाने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।


चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब गृह मंत्री की ओर से दे रहे थे। उन्होंने कहा राज्य बजट 2024-25 में एन्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के गठन की घोषणा की गई है। राज्य सरकार नारकोटिक्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। उन्होंने बताया कि पुलिस थानों में बंद पड़े सीसीटीवी केन्द्रों के संबंध में जांच करवाई जाएगी।

इससे पहले विधायक श्री घनश्याम के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि जिला करौली में विगत पांच वर्षों (जनवरी 2019 से दिसम्बर 2023 तक) में हत्या के 218, लूटपाट के 106, चोरी के 3080, बलात्कार के 631, छेड़खानी के 919, मादक पदार्थों की तस्करी के 240 व अवैध हथियारों की तस्करी के 536 मामले दर्ज हुए है। कुल 5730 दर्ज मामलों में से अभी तक 2030 मामलों में चालान पेश किया जा चुका है व 29 मामलों में चालान पेश किया जाना शेष है। उन्होंने विधान सभा क्षेत्रवार व थानेवार दर्ज मुकदमों का संख्यात्मक विवरण सदन के पटल पर रखा।

उन्होंने बताया कि जिला करौली मे दिनांक 1 जनवरी, 2024 से 31 मई, 2024 तक हत्या के 16, लूटपाट के 19, चोरी के 258, बलात्कार के 60, छेड़खानी के 97, मादक पदार्थों की तस्करी के 52 व अवैध हथियारों की तस्करी के 48 मामले दर्ज हुए है। कुल  550 दर्ज मामलों में से अभी तक 89 मामलों में चालान पेश किया जा चुका है व 32 मामलों में चालान पेश किया जाना शेष है। उन्होंने विधान सभा क्षेत्रवार व थानेवार दर्ज मुकदमों का विवरण सदन के पटल पर रखा।

उन्होंने सरकार द्वारा टोडाभीम सहित सम्पूर्ण राज्य में मादक पदार्थो की तस्करी की रोकथाम हेतु की जा रही कार्यवाही एवं कार्ययोजना का विवरण सदन के पटल पर रखा।०0०




सूरतगढ़: भाजपा एवं कांंग्रेस की टीमों में प्रभावी नेता.

 


* करणीदानसिंह राजपूत

👍 सूरतगढ़ की राजनीति में भाजपा और कांंग्रेस में कसमकश में कहीं न कहीं कुछ चुनिंदा नेता सक्रिय हैं।

* भाजपा टीम में महत्वपूर्ण नेता.

पूर्व विधायक रामप्रताप कासनिया**

संदीप कासनिया*

पूर्व विधायक अशोक नागपाल* ओमप्रकाश कालवा *

--

राकेश बिश्नोई*

पूर्व प्रधान चंदुराम लेघा

पूर्व प्रधान बिरमा नायक

--

नगरपालिका पूर्वाध्यक्ष आरती शर्मा


नगरपालिका पूर्वाध्यक्ष काजल छाबड़ा*

--

श्रीभगवान सेवटा.*

हनुमान मील

पूजा छाबड़ा

--/--


कांंग्रेस की टीम में महत्वपूर्ण नेता.

----

विधायक डुंगरराम गेदर*

पूर्व विधायक स.हरचंद सिंह सिद्धु

पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह भादु*

--

पूर्व प्रधान परमजीत सिंह रंधावा.

पूर्व उप प्रधान कृष्ण गोदारा.

अमित कड़वासरा.

--

पूर्व पालिकाध्यक्ष इकबाल कुरैशी

पूर्व पालिका अध्यक्ष परसराम भाटिया*

उपाध्यक्ष सलीम कुरेशी

--

पूर्व जिला उपाध्यक्ष बलराम वर्मा.*

पूर्व पार्षद राजाराम गोदारा.*

गगनदीप विडिंग.

--०0०







राजस्थान सरकार भिक्षावृत्ति पर अंकुश लगाने के लिए प्रयासरत

 

जयपुर, 22 जुलाई 2024.

 सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री अविनाश गहलोत ने विधानसभा में कहा कि भिक्षावृत्ति एक गंभीर समस्या है।राज्य सरकार भिक्षावृत्ति पर अंकुश लगाने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि इसके लिए विभिन्न गैर सरकारी संगठनों और संस्थाओं की सहायता से जनजागरण अभियान चलाया जायेगा, जिसमें जनप्रतिनिधियों से प्राप्त सुझावों को भी शामिल किया जायेगा.

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्यों द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने सदन को बताया कि राजस्थान भिखारियों या निर्धन व्यक्तियो का पुनर्वास अधिनियम, 2012 में भिक्षावृत्ति पर कोई दंडात्मक प्रावधान नहीं है. लेकिन किशोर न्याय अधिनियम के तहत भिक्षावृत्ति का सिंडिकेट चलाने पर 5 से 10 साल तक की सजा का प्रावधान है.


श्री गहलोत ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों, धार्मिक स्थानों, स्टेशनों और चौराहों आदि पर भिक्षावृत्ति एक गंभीर समस्या है। गत 2 वर्षों में भिक्षावृत्ति में लिप्त बालकों की प्रभावी रोकथाम, देखरेख, संरक्षण एवं पुनर्वास हेतु प्रत्येक जिला स्तर पर जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता त्रेमासिक 217 बैठकों का आयोजन किया गया है। उन्होंने बताया कि इनके पुनर्वास के लिए जयपुर में 100 बालकों की क्षमता के 3 पुनर्वास केंद्र संचालित है तथा इन बालकों के रेस्क्यू का काम भी सरकार द्वारा किया जाता है।


सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने बताया कि भिक्षावृत्ति में लिप्त भिखारियों और किन्नरों के पुनर्वास के लिए केंद्र सरकार द्वारा संचालित ऑपरेशन स्माइल में सिटी पैलेस जयपुर, उदयपुर और जैसलमेर क्षेत्र को चिन्हित किया गया है। 


इस मामले पर विधानसभा अध्यक्ष श्री वासुदेव देवनानी ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि भिक्षावृत्ति के सिंडिकेट चलाने वाले व्यक्तियों पर कठोर कार्रवाई की जाना सुनिश्चित करें।       


      इससे पहले विधायक श्री चन्द्रभान सिंह चौहान के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि भिखारियों या निर्धन व्यक्तियों के पुनर्वास हेतु राज्य मे राजस्थान भिखारियों या निर्धन व्यक्तियों का पुनर्वास अधिनियम, 2012 अधिनियमित है। उन्होंने बताया कि राज्य में बालकों से भिक्षावृत्ति करवाने पर नियंत्रण एव निगरानी हेतु किशोर न्याय (बालकों की देखरेख और संरक्षण) अधिनियम, 2015, किशोर न्याय (बालकों की देखरेख और संरक्षण) अधिनियम, 2000 लागू है तथा अन्य पर भारतीय न्याय संहिता 2023 (धारा 139) के तहत प्रकरण दर्ज कर कानूनी कार्यवाही का प्रावधान है।

      उन्होंने बताया कि समय-समय पर पुलिस विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, बाल अधिकारिता विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, बाल कल्याण समिति एवं विभिन्न एनजीओ के माध्यम से समन्वय स्थापित कर भिक्षावृत्ति पर नियन्त्रण व निगरानी हेतु अभियान चलाये जाते हैं।


      श्री गहलोत ने बताया कि राज्य में विभिन्न स्थानों पर भिक्षावृत्ति के प्रकरण पुलिस के संज्ञान में आने पर पुलिस द्वारा प्रदेश के विभिन्न थानों में कुल 20 प्रकरण दर्ज किए गए जिनमें से 3 प्रकरण जयपुर शहर मे दर्ज किये गये एवं इनमें से 19 में चालान पेश किया गया। उन्होंने इन प्रकरणों का विवरण सदन के पटल पर रखा। उन्होंने बताया कि प्रदेश में भिक्षावृत्ति पर नियंत्रण एवं निगरानी हेतु पुलिस विभाग द्वारा विशेष अभियान उमंग चलाया जा रहा है। पुलिस द्वारा प्रदेश मे भिक्षावृत्ति पर नियमित निगरानी एवं गश्त जारी है।०0०





सोमवार, 22 जुलाई 2024

सूरतगढ़ ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष परसराम भाटिया पर मुकदमा:पूरा मामला पढें. पालिका पंप हाउस जमीन का पट्टा बनाने का मामला.

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 22 जुलाई 2024.

नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष परसराम भाटिया के विरुद्ध नगर पालिका के पंप हाउस की जमीन का पट्टा मोनिका पत्नी राजेश कुमार के नाम से और लाखों रूपये की भूमि निशुल्क दे दिए जाने का मुकदमा नंबर 387 दिनांक 19 जुलाई 2024 को न्यायालय के आदेश पर दर्ज हुआ है। 


* मीडिया में यह मामला बहुत उछाला, सोशल मीडिया में भी खूब चला और अब जबानी जमा खर्च नहीं मुकदमा हो गया है,इसलिए सच्च सामने आएगा।

* पुलिस जांच में सब सामने आएगा कि इस घोटाले में कौन-कौन अभियुक्त है और नगर पालिका को कितना बड़ा लाखों रुपए का नुकसान हुआ है?

👍 मुकदमा भारतीय दंड संहिता की धाराएं 420 467 468 471 120 बी 409 166 167 188 में दर्ज हुआ है।

 इसमें परसराम भाटिया पूर्व अध्यक्ष नगर पालिका, शैलेंद्र गोदारा तत्कालीन अधिशासी अधिकारी, सुशील सिहाग तत्कालीन सहायक अभियंता, मनप्रीत कौर तत्कालीन लेखाकार का नाम  है और जांच में जो भी अभियुक्त पाए जाएं वे शामिल होंगे।

 *लाभ लेने वाले को वाले को भी मुकदमे से अलग नहीं किया जा सकता। मोनिका ने इसका लाभ उठाया है पुलिस जांच में यह सब असलियत सामने आएगी। 

*अदालत में मुकदमा कराने का इस्तगासा शब्बीर सिद्दीकी उर्फ रिंकू सिद्दीकी की ओर से एडवोकेट विष्णु शर्मा ने पेश किया था।

👍 पार्षदों सुरेश बिश्नोई वार्ड नं 8, सरला नायक वार्ड नं 13,राजीव प्रताप सिंह वार्ड नं 34,यासमीन सिद्दिकी वार्ड नं 38 और सुरेश कुमार वार्ड नं 12 ने ईओ श्रीमती पूजा को पंप जमीनपट्टा की जांच की मांग का पत्र सौंपा था।


इनसे पहले पार्षद यासमीन सिद्दिकी ने भी जांच के लिए ईओ को पत्र सौंपा था।


* राजनैतिक लोगों के भ्रष्टाचार के मामले अधिक पढने की उत्सुकता रहती है इसलिए संपूर्ण मुकदमा यहां दे रहे हैं।







शनिवार, 20 जुलाई 2024

सूरतगढ़:'खबर पोलिटिक्स' वैब चैनल कार्यालय का शुभारंभ 21 जुलाई को.

  

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 20 जुलाई 2024.

खबर पोलिटिक्स वैब चैनल के कार्यालय का शुभारंभ रविवार 21 जुलाई 2024 को राजनैतिक सामाजिक पत्रकारिता क्षेत्र से जुड़े लोगों के बीच में होगा। इलाके के समाचारों में सूरतगढ़ सिरमौर होगा। खबर पोलिटिक्स समाचारों और टिप्पणियों में खुलकर खेलेगा खुद राजनीति नहीं करेगा लेकिन इससे राजनेताओं और राजनीति की गतिविधियों में निश्चय ही बढोतरी होगी। समाचारों का संपादन और खोज वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र जैन(पटावरी)के द्वारा होगा। पिछले कुछ वर्षों से 'खबर पोलिटिक्स' में राजेंद्र जैन ही लेखक और टिप्पणीकार के रूप में हरदिन हलचल मचाते रहे हैं। इस शानदार अवसर पर मेरी शुभकामनाएं. 

💐 करणीदानसिंह राजपूत.

पत्रकार,

(राजस्थान सरकार से अधिस्वीकृत)

सूरतगढ़ ( राजस्थान)

94143 81356

******

हरिद्वार से कांवड़ पर गंगाजल लेकर आएंगे ढाबां झल्लार के पड़पाटाधाम.

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 20 जुलाई 2024.

ढांबा झल्लार के आस्था भरे  पड़पाटा धाम से तीन जने 19 जुलाई को तीन जने सुरेश जी सुथार  सचिव  पड़पाटा धाम, राधेश्याम जी निरबाण सदस्य, दिनेश जी निरबाण पड़पाटा धाम मंदिर पुजारी हरिद्वार को अध्यक्ष सेवाराम जी के नेतृत्व में रवाना हुए हैं जो कावड़  से गंगाजल लेकर पैदल लौटेंगे। ये श्रावण की अमावस्या तक  गगांजल लेकर आयेगें और अमावस्या को गगांजल से भोलेनाथ का अभिषेक  किया जायेगा।  इनके साथ कुछ अन्य सहायक रूप में भी संग रहेंगे जो साथ में रवाना हुए हैं। ०0०





 

राजस्थान: प्रतिबंधित प्लास्टिक को रोका जाएगा.2010 से प्रतिबंधित.

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

जयपुर, 19 जुलाई 2024.

 पर्यावरण राज्य मंत्री श्री संजय शर्मा ने शुक्रवार को विधानसभा में कहा कि राज्य सरकार प्रतिबंधित पॉलीथीन बैग्स के निर्माण,बिक्री एवं उपयोग के विषय पर बेहद संवेदनशील है। उन्होंने सदन को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार द्वारा बाहरी राज्यों से प्रदेश में बिक्री एवं उपयोग के लिए लाये जाने वाले प्रतिबंधित प्लास्टिक को रोकने की दिशा में सार्थक प्रयास किये जाएंगे।


पर्यावरण राज्य मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पॉलीथीन कैरी बैग्स पर प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा गत 2 वर्षों में 4 औद्योगिक इकाइयों एवं गत 5 वर्षों में 68 औद्योगिक इकाइयों को बंद किया गया है। उन्होंने कहा कि यह भी देखा गया है कि प्रतिबंधित पॉलीथीन कैरी बैग्स को अन्य राज्यों से प्रदेश में बिक्री एवं उपयोग के लिए लाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पॉलीथीन कैरी बैग्स को प्रदेश में लाये जाने से रोकने के उद्देश्य से मुख्य सचिव, राजस्थान द्वारा स्पेशल टास्क फोर्स के तहत परिवहन विभाग एवं वाणिज्यिक विभाग को निर्देशित किया गया है। इसके अतिरिक्त इस संबंध में जन सहभागिता को बढ़ावा देने के लिए 27 जून, 2024 को राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा पारितोष स्कीम शुरू की गई है, जिसके अंतर्गत प्रतिबंधित प्लास्टिक के परिवहन सम्बन्धी सूचना देने वाले व्यक्ति को इनाम देकर सम्मानित किया जाएगा और उसका नाम गुप्त रखा जाएगा।

इससे पहले विधायक श्री भागचंद टांकड़ा के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में पर्यावरण राज्य मंत्री ने बताया कि राज्‍य सरकार द्वारा पर्यावरण (संरक्षण) अधिनियम, 1986 की धारा 5 के अन्‍तर्गत जारी अधिसूचना दिनांक 21 जुलाई 2010 द्वारा संपूर्ण राज्‍य को प्‍लास्टिक कैरी बैग्‍स मुक्‍त क्षेत्र घोषित किया गया एवं राज्‍य में प्‍लास्टिक कैरी बैग के उपयोग,  विनिर्माण, भण्‍डारण,  आयात, विक्रय एवं परिवहन को एक अगस्त 2010 से प्रतिबन्धित किया गया। आदेश की प्रतिलिपि उन्होंने सदन के पटल पर रखी। उन्होंने बताया कि पॉलीथीन कैरी बैग्स पर देश भर में पूर्ण प्रतिबंध नहीं होने एवं कैरी बैग्स की मोटाई आधारित आंशिक प्रतिबंध ही है, जिससे प्रदेश के पड़ोसी राज्यों से प्लास्टिक कैरी बैग्स के राज्य में बिक्री लाने एवं उपयोग से इंकार नहीं किया जा सकता है।

पर्यावरण राज्य मंत्री  बताया कि प्लास्टिक कैरी बैग्स पर प्रतिबंध के क्रियान्वयन के लिए पर्यावरण संरक्षण अधिनियम, 1986 के प्रावधानों के अन्तर्गत सक्षम न्यायालय एवं प्राधिकारी में परिवाद प्रस्तु्त करने के लिए जिला कलेक्टर, राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल के क्षेत्रीय अधिकारियों एवं उपखण्ड मजिस्ट्रेट को अधिकृत किया गया है।

उन्होंने प्लास्टिक कैरी बैग्स पर प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा औद्योगिक इकाईयो एवं प्रतिष्ठानों के विरूद्व गत 2 वर्षो में की गई कार्यवाही का जिलावार संख्यात्मक विवरण सदन के पटल पर रखा। उन्होंने जानकारी दी कि नगरीय निकायों द्वारा जुलाई, 2022 से जून, 2024 तक 181.92 टन प्रतिंबधित प्लास्टिक की जब्ती कर 113.51 लाख रूपये की शास्ति आरोपित की गई है।


उन्होंने बताया कि राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा जल (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम 1974 एवं वायु( प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम 1981 के अन्तर्गत प्लास्टिक कैरी बैग्स के विनिर्माण के लिए किसी भी इकाई को स्थापना एवं संचालन हेतु सम्मति जारी नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि प्लास्टिक कैरी बैग्स पर प्रतिबंध को सुनिश्चित करने के लिए प्लास्टिक कैरी बैग्स के निर्माण से जुडी समस्त चिन्ह्रित इकाईयों को बंद करवाया गया है , जो कि एक सतत् प्रक्रिया है।०0०







शुक्रवार, 19 जुलाई 2024

श्रीगंंगानगर:स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह की तैयारी बैठक.

 

* करणीदानसिंह राजपूत * 

श्रीगंगानगर, 18 जुलाई 2024.

स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त 2024) समारोह आयोजन के लिये गुरूवार को जिला कलक्टर श्री लोकबंधु की अध्यक्षता में बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। इस दौरान जिला कलक्टर ने आयोजन तैयारियों को लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्ययक दिशा-निर्देश दिये। मुख्य समारोह डॉ. भीमराव अम्बेडकर राजकीय महाविद्यालय में हर्षाल्लास के साथ आयोजित होगा। मुख्य अतिथि द्वारा प्रातः 9.05 बजे ध्वजारोहण किया जायेगा।

बैठक में जिला कलक्टर ने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में प्रातः 8 बजे ध्वजारोहण के पश्चात मुख्य समारोह में शामिल होंगे। समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा 9.05 बजे ध्वजारोहण के पश्चात परेड का निरीक्षण व मार्च पास्ट की सलामी ली जायेगी। इससे पूर्व सभी कार्यक्रमों की तैयारियों का अंतिम पूर्वाभ्यास अम्बेडकर महाविद्यालय में होगा। महामहिम राज्यपाल का प्रदेशवासियों के नाम संदेश का पठन अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन द्वारा किया जायेगा।

जिला कलक्टर ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस समारोह में आमजन की भी भागीदारी होनी चाहिए। समारोह में सुरक्षा, मुख्य चौराहों पर लाईटिंग, मुख्य स्थल पर बिजली, पानी, चिकित्सा, बैठने की व्यवस्था, माईक की व्यवस्था के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। जिला कलक्टर ने कहा कि सभी विभाग समन्वय के साथ व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर कार्यक्रम सम्पन्न करवायें। स्वतंत्रता दिवस समारोह में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की थीम देशभक्ति और भारतीय संस्कृति पर केन्द्रित होनी चाहिए। सम्मानित होने वालों के नाम भेजने से पहले आवश्यक जांच कर ली जाये। स्वतंत्रता सैनानियों के परिजनों को सम्मानपूर्वक आमंत्रित किया जाये। उन्होंने कहा कि आयोजन से संबंधित समस्त तैयारियां अधिकारी निर्धारित समयावधि में पूर्ण करना सुनिश्चित करें ताकि सफलतापूर्वक आयोजन सम्पन्न किया जा सके।

कार्यवाहक एडीएम प्रशासन श्री यशपाल आहूजा ने बताया कि समारोह स्थल की सफाई व्यवस्था, बैठने की व्यवस्था, शुद्ध पेयजल के लिये नगरपरिषद को जिम्मेदारी दी गई है जबकि सांस्कृतिक कमेटी द्वारा समारोह में प्रस्तुत किये जाने वाले कार्यक्रमों की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। समारोह में विद्यार्थियों द्वारा व्यायाम प्रदर्शन भी किया जायेगा। पारितोषिक चयन के लिये दो कमेटियां बनाई जायेंगी। शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों के साथ-साथ सीबीएससी परीक्षा के टॉपर्स भी सम्मानित होने के लिये अपने नाम भिजवा सकते हैं। प्रशासनिक अधिकारियों की अध्यक्षता में दूसरी कमेटी बनेगी, जो विभागीय स्तर से प्राप्त होने वाले प्रकरणों पर विचार विमर्श करेगी।

उन्होंने बताया कि सम्मानित होने के इच्छुक व्यक्ति और संस्थाएं अपने से संबंधित विभाग के माध्यम से ही प्रस्ताव भिजवा सकेंगे। मुख्य समारोह से पहले 14 अगस्त को पूर्व संध्या पर सांस्कृतिक कार्यक्रम बिहाणी ऑडिटोरियम में आयोजित किया जायेगा, जिसमें आमजन के साथ-साथ सभी जिला स्तरीय अधिकारी भी शामिल होंगे।

बैठक में जिला परिषद सीईओ श्री मृदुल सिंह, एडीएम सतर्कता श्री नरेन्द्र पाल सिंह, सीओ सिटी श्री बी. आदित्य, प्रशिक्षु आईएएस श्री रजत यादव, श्री धीरज चावला, सहायक निदेशक लोक सेवाएं श्री ऋषभ जैन, डॉ. करण आर्य, सुश्री कविता सिहाग, श्री आशीष गुप्ता, श्री पदमप्रकाश कोठारी, डॉ. नरेश गुप्ता, श्री शिव सिंह भाटी, डॉ. सतीश शर्मा, श्री सुरेन्द्र बिश्नोई, श्री पन्नालाल कड़ेला, श्री विजय कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। ०0०





---------

श्रीगंगानगर:भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने किया जन जागरण

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

श्रीगंगानगर, 18 जुलाई 2024.

 भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो द्वारा अपने स्थापना दिवस 15 जुलाई से आरंभ जन जागरण सप्ताह के तहत गुरुवार को सजग ग्राम पंचायत योजना के तहत चयनित गांव महियांवाली एवं 5 जी  (सहारणावाली) में एसीबी अधिकारियों ने जन जागरण शिविर लगाया।

 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री पवन कुमार मीणा के निर्देशन में गत दिवस शहर श्रीगंगानगर के विभिन्न राजकीय कार्यालयों में जन जागरण पोस्टर चस्पा किए गए। गुरुवार को एसीबी प्रथम चौकी द्वारा चयनित गांव महियांवाली में पुलिस उप अधीक्षक श्री भूपेंद्र सोनी के नेतृत्व में टीम एवं एसीबी द्वितीय चौकी द्वारा 5 जी (सहारणावाली) में पुलिस उप अधीक्षक श्री वेदप्रकाश लखोटिया के नेतृत्व में टीम ने जन जागरण शिविर लगाया।



  इस दौरान आमजन को एसीबी की कार्यप्रणाली से अवगत करवाते हुए अधिकारियों ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के टोल फ्री नंबर 1064 एवं व्हाट्सएप हेल्पलाइन नंबर 94135-02834 पर भ्रष्टाचार संबंधित सूचना देने के लिए प्रेरित किया। श्री लखोटिया ने बताया कि शिविर के पश्चात दोनों गांवों में पौधारोपण भी किया गया। एसीबी की सजग ग्राम पंचायत योजना के तहत आमजन को भ्रष्टाचार के विरुद्ध जागरूक किया जा रहा है। ०0०




---------

यह ब्लॉग खोजें