गुरुवार, 21 मार्च 2019

2019 में निहालचंद फिर निहाल:श्री गंगानगर से भाजपा का टिकट

* करणीदानसिंह राजपूत *

भाजपा की चयन समिति ने श्री गंगा नगर संसदीय सीट पर निहालचंद मेघवाल को पुनः टिकट घोषित किया है। निहाल चंद वर्तमान में श्री गंगानगर से सांसद हैं।

निहाल चंद के कार्य काल में श्री गंगानगर और हनुमान गढ सूरतगढ को विभिन्न दूर की रेलों का विस्तार मिला। इसके अलावा सांसद कोटे कि राशि से खूब विकास हुए। राजस्थान के 25 सांसदों में कोटे की राशि विकास कार्यों में लगाने में निहाल चंद नंबर 1 पर रहे हैं।

मंगलवार, 19 मार्च 2019

प्रमोद सावंत गोवा के नए सीएम बने


पणजी

बीजेपी विधायक प्रमोद सावंत गोवा केनए सीएम बन गए हैं। उनके साथ 11 और मंत्रियों ने शपथ ली है। सावंत बीजेपी गठबंधन का नेतृत्व करेंगे।अन्य 11 मंत्रियों को राज्यपाल ने शपथ दिलाई है, उनमें से सभी पहले वाली पर्रिकर सरकार में भी मंत्री थे। सीएम पद की शपथ लेने से पहले सावंत ने गोवा विधानसभा के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया। फिलहाल गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकल लोबो इस पद के लिए चुनाव होने तक कार्यवाहक अध्यक्ष होंगे। 

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी शपथग्रहण समारोह में मौजूद थे।

एमजीपी के दो विधायकों सुदीन धावलिकर और मनोहर अजगांवकर के साथ-साथ गोवा फॉरवर्ड पार्टी के विजय सरदेसाई, विनोद पालीकर और जयेश सलगांवकर को शपथ दिलाई गई है। 

बीजेपी से मौविन गौदिन्हो, विश्वजीत राणे, मिलिंद नाईक और निलेश नाईक को गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। निर्दलीय विधायकों रोहन खवंटे और गोविंद गावडे को भी शपथ दिलाई गई है।

सावंत के नेतृत्व में बीजेपी गठबंधन ने राज्यपाल को 20 विधायकों का समर्थन पत्र सौंपा। उसके बाद नई सरकार को शपथ दिलाई गई। बीजेपी गठबंधन ने बीजेपी के 11 के अलावा जीएफपी, एमजीपी और निर्दलीय विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा। 

बीजेपी को एमजीपी के तीन, जीएफपी के तीन और तीन निर्दलीय विधायक का समर्थन मिला है। सावंत के नेतृत्व वाले गठबंधन का समर्थन कर रहे सभी विधायक शपथग्रहण समारोह में मौजूद थे।46 साल के प्रमोद सावंत पर्रिकर सरकार के दौरान गोवा विधानसभा के अध्यक्ष थे। पर्रिकर की तरह उन्हें भी उनकी सादगी के लिए जाना जाता है। वह संकेलिम विधानसभा सीट से विधायक हैं। सावंत का जन्म 24 अप्रैल 1973 को हुआ था। वह आयुर्वेद के डॉक्टर भी हैं। उनकी पत्नी सुलक्षणा सावंत अभी बीजेपी महिला मोर्चा की गोवा यूनिट की अध्यक्ष हैं।

2017 चुनाव में सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी थी कांग्रेस
2017 को गोवा विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी या गठबंधन को बहुमत नहीं मिला था। कांग्रेस सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी थी, लेकिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तेजी और मनोहर पर्रिकर की तत्परता से बीजेपी सरकार बनाने में कामयाब हो गई थी। मनोहर पर्रिकर तब केंद्र में रक्षा मंत्री थे, लेकिन छोटे दलों ने उन्हें (पर्रिकर) सीएम बनाने की शर्त पर बीजेपी को समर्थन देने का फैसला किया था।
सोमवार देर रात तक तेज रही राजनीतिक हलचल
गोवा में नई सरकार के गठन के लेकर रविवार से ही राजनीतिक हलचल तेज हो गई थी जो सोमवार देर रात तक जारी रही। रविवार आधी रात को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गोवा पहुंचे थे। उस समय सहयोगी दलों से आम सहमति नहीं बन सकी थी। इसके बाद सोमवार को अमित शाह भी गोवा पहुंचे और सहयोगी दलों से बैठक की। शुरू में खबर थी कि सोमवार रात 11 बजे तक प्रमोद सावंत को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलाई जाएगी। लेकिन एकबार फिर कुछ कारणों से इसे टाल दिया गया। बाद में सहयोगी दलों एमजीपी और जीएफपी से एक-एक उप मुख्यमंत्री बनाए जाने के फैसले के बाद बात बनी। बीजेपी ने अपने 11 विधायकों समेत एमजीपी के तीन, जीएफपी के तीन और तीन निर्दलीय विधायक के समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंपा। सारे घटनाक्रम के बाद मंगलवार रात करीब 2 बजे प्रमोद सावंत को सीएम पद की शपथ दिलाई गई। इसीबीच कांग्रेस ने भी सरकार बनाने का दावा ठोका था। अब सावंत सरकार को बहुमत साबित करना होगा।

सोमवार, 18 मार्च 2019

चिकित्सा शिविर : महावीर इन्टरनेशनल सूरतगढ़ एवं आयुर्वेद विभाग राजस्थान का संयुक्त आयोजन.

**अर्श, भगन्दर आयुर्वेद अंतरंग शल्य चिकित्सा**


^ विशेष रिपोर्ट- करणीदानसिंह राजपूत ^

चौपड़ा धर्मशाला, सूरतगढ़ में चल रहे 10 दिवसीय निःशुल्क अर्श, भगन्दर आयुर्वेद अंतरंग शल्य चिकित्सा शिविर का रविवार सायं को समापन समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों द्वारा भगवान धन्वन्तरी की पूर्जा अर्चना कर की गई। 

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सूरतगढ़ के विधायक श्री रामप्रताप कासनिया ने सभी रोगियों की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए चिकित्सकीय दल व संस्था सदस्यों को धन्यवाद दिया एवं अपना हरसंभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

कार्यक्रम अध्यक्ष आयुर्वेद विभाग श्रीगंगानगर के उपनिदेशक बलदेव राज अरोड़ा ने शिविर का अवलोकन भी किया व इसकी व्यवस्थाओं में सेवारत सभी की सराहना की एवं अपनी ओर से यथासंभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि नगरपालिका के अधिशाषी अधिकारी लालचन्द सांखला ने शिविर के सभी सहयोगियों का धन्यवाद किया।


रोगियों की शल्य चिकित्सा करने वाले सीकर के शल्य चिकित्सक डॉ. ओमप्रकाश चेचु ने रोगियों को खानपान के बारे में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए सभी को जीवनशैली के बारे में बताया व कहा कि शिविर में भर्ती सभी अब रोगी नहीं रहे बल्कि लाभार्थी बन गये हैं। कब्ज व गलत आहार-व्यवहार से इस तरह के रोग पनपते हैं और इस तरह के सभी रोग आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से जड़ से समाप्त किये जा सकते हैं। डॉ. चेचु ने शिविर में सहयोगी चिकित्सीय स्टाफ सहित संस्था सदस्यों का धन्यवाद करते हुए भविष्य में भी अपनी सेवायें देने का आश्वासन दिया।


डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़ ने पथ्य-अपथ्य के बारे में बताया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में संस्था अध्यक्ष वीर नत्थूराम कलवासिया ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।






शिविर संयोजक चन्द्र सिंह चौधरी ने बताया कि शिविर में कुल 195 रोगियों की जांच कर शल्य चिकित्सक डॉ. ओमप्रकाश चेचु द्वारा अपनी अनुभवी टीम के सहयोग से 93 रोगियों के सफल ऑपरेशन किये गये। 


 साध्वी पूर्ण प्रज्ञा  जी ने शुद्ध आहार व जीवनशैली हेतु मार्गदर्शन किया व सभी के स्वास्थ्य हेतु मंगल पाठ किया।

शिविर में स्वास्थ्य प्राप्त करने वाले व उनके परिचारकों में करणीदान सिंह राजपूत ने कहा कि सेवा कार्य में महावीर इंटरनेशनल का हर पदाधिकारी व कार्यकर्ता दिल से सेवा में लीन रहते हैं। राजपूत ने चिकित्सक डा.ओमप्रकाश चेचू व अन्य चिकित्सकोंं व नर्सिंग स्टाफ की सराहना की।


भागीरथ शर्मा, सुरेश कुमार, लालचन्द, नीलम मिढ़ा आदि ने भी अपने अनुभवों को साझा करते हुए शिविर आयोजन में चिकित्सीय स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ व संस्था के सेवा कार्यों की प्रशंसा करते हुए धन्यवाद दिया।

 संस्था सचिव वीर दिलीप मिश्रा ने अतिथियों, चिकित्सकों, नर्सिंग कर्मियों सहित सभी का आभार व्यक्त किया।

समारोह के दौरान स्वाईन फ्लू की रोकथाम हेतु जिले एवं संभाग में काढ़ा वितरण में व अर्श, भगन्दर शिविरों में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने पर डॉ. सीमा चौहान, डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़ व श्री चन्द्र सिंह चौधरी को विभाग द्वारा सम्मानित किया गया। 




मंच का संचालन संजय बैद ने किया। सभी लाभार्थी सन्तुष्ट नजर आये। शिविर के परियोजना निदेशक वीर विजय कुमार सावनसुखा व वीर ओमप्रकाश कारगवाल के अनुसार शिविर हेतु सेठ सुखलाल चौपड़ा मेमोरियल ट्रस्ट सूरतगढ़ द्वारा चौपड़ा धर्मशाला (श्री विजय वल्लभ जैन धर्मशाला) व नरेश नागपाल द्वारा चारपाईयां एवं गंगा फिल्टर वाटर द्वारा शुद्ध पेयजल निःशुल्क उपलब्ध करवाया गया तथा जनता रोग निदान केन्द्र के संचालक ब्रह्मानन्द शर्मा द्वारा निःशुल्क जांचें की गई। साथ ही द्वारा पूराराम सहित कई जनों ने गुप्तदान के रूप में शिविर हेतु आर्थिक सहयोग भी किया। 


सूरतगढ़ ओपन रोवर क्रू के रोवर तुषार कामरा के नेतृत्व में रोवर्स व समाजसेवी रमेश चन्द्र माथुर, रमेश तिवाड़ी, आत्माराम महर्षि आदि ने शिविर में विभिन्न प्रकार से सहयोग किया।

चिकित्सकीय दल में डॉ. ओमप्रकाश चेचु, डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़, डॉ. राजेश कनवारिया, डॉ. सीमा चौहान, डॉ. सपना खत्री व नर्सिंग स्टाफ में सोहनलाल ढ़ाका, ब्रह्मानन्द शर्मा, सेवानिवृत ओमप्रकाश शर्मा, सरस्वती, कुलविन्द्रकौर एवं परिचारक ओमप्रकाश, पंकज कुमार, सुमन तथा सफाई कर्मचारी कमल कुमार, शंकरलाल ने अपनी सेवायें दी।

संस्था द्वारा सभी अतिथियों व चिकित्सकीय दल सहित सभी सहयोगियों को प्रोत्साहन स्वरूप सम्मानित किया गया।



सूरतगढ में पर्रिकर को भाजपा की मौन श्रद्धांजलि

सूरतगढ 18 मार्च 2019.

आज भारतीय जनता पार्टी सूरतगढ ने गोवा के मुख्यमंत्री एवं पूर्व रक्षा मंत्री मनिहार जी पर्रिकर के निधन पर श्रदांजलि सभा कर शोक प्रकट किया! सभा मे पर्रिकर जी के छाया चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित किये और 2 मिनट का मौन रखा गया।

    श्रद्धांजलि सभा में विधायक रामप्रताप कासनियां, पूर्व विधायक अशोक नागपाल, नगरपालिका अध्यक्ष काजल छाबड़, पालिका उपाध्यक्ष पवन ओझा, एस सी मोर्चा अशोककुमार आसेरी,जिला महामंत्री मुरलीधर पारीक,  युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष प्रेमसिंह,पार्षद राजेंद्र ताखर,संतोष गिरी,रमेश चन्द्र माथुर,सुनील छाबड़ा,शरणपाल सिंह मान ,विनोद शर्मा,राघव गुप्ता,योगेश स्वामी,भगीरथ सिंह,सुरेश सुथार,संजीव गुप्ता,पवन छाबड़ा, किशन स्वामी सहित अनेक कार्यकर्ताओ ने श्रद्धासुमन अर्पित किये।


श्रीगंगानगर *लोकसभा चुनाव:भाजपा संचालन समिति के संयोजकों व प्रभारियों की नियुक्ति*


राजस्थान प्रदेश नेतृत्व ने आगामी लोकसभा चुनावों हेतु सभी लोकसभा क्षेत्रों के लिए संयोजकों एवं प्रभारियों  की नियुक्तियां की है ।

गंगानगर लोकसभा चुनाव के लिए गंगानगर के  सभी 6 विधानसभा क्षेत्रों  के संयोजक व प्रभारी का दायित्व दिया है ।

विधानसभा-अनूपगढ़--- 

श्री मोहित छाबडा संयोजक 

श्री उम्मेदसिंह  राठौड़ प्रभारी


 विधानसभा- सादुलशहर 

श्री साहिब राम पुनिया संयोजक  

श्री राजकुमार सोनी प्रभारी


 विधानसभा-गंगानगर 

श्री महेश पेड़ीवाल संयोजक       

श्री महेन्द्र सिंह सोढ़ी प्रभारी


 विधानसभा-करणपुर 

 श्री राजन  तनेजा संयोजक         

श्री  मुख्तयार सिंह प्रभारी


विधानसभा-सूरतगढ़ 

श्री शरण पाल सिंह संयोजक  

श्री आत्मा राम तरड़ प्रभारी


विधानसभा-रायसिंहनगर 

 श्री विनोद बिश्नोई संयोजक     

श्री  राजेन्द्र भादु प्रभारी 


 इन सब को अपने विधानसभा क्षेत्र में बूथ स्तर ,शक्ति केंद्र  एवं चुनाव सभा की व्यवस्था एवं संचालन की जिम्मेदारी दी गयी है।

मनोहर पर्रिकर के निधन के 2 घंटे बाद कांग्रेस ने पेश की सरकार बनाने की दावेदारी,

18 मार्च 2019.

मनोहर पर्रिकर के निधन के करीब 2 घंटे बाद गोवा कांग्रेस ने प्रदेश में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है। चिट्टी में कांग्रेस ने सरकार बनाने का दावा पेश किया है। चिट्ठी में सभी पार्टियों के विधायकों की संख्या का लेखा जोखा दिया गया है और मनोहर पर्रिकर के निधन का दुख मनाते हुए कांग्रेस सरकार बनाने की बात कही है।


कांग्रेस सबसे बड़ा दल: 


40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में कांग्रेस सबसे बड़ा दल है। दिल्ली भाजपा प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने इस चिट्ठी की फोटो अपने सोशल मीडिया पर शेयर की है। चिट्ठी में दावेदारी पेश करते हुए कांग्रेस ने बताया है कि कांग्रेस के पास 14 विधायक, भाजपा के पास 11 विधायक, गोवा फॉर्वर्ड के पास 3 विधायक, महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के 3, एनसीपी के 1, और 3 निर्दलीय विधायक हैं।



पहले भी पेश की थी दावेदारी:


इससे पहले 16 मार्च को भी कांग्रेस की तरफ से दावेदारी पेश की गई थी। कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा को चिट्ठी लिखी थी। कांग्रेस ने चिट्ठी में लिखा था कि विधायक फ्रांसिस डिसूजा के निधन के बाद से विधानसभा में भाजपा के 13 विधायक हैं। ऐसे में पार्टी का बहुमत खत्म हो चुका है। जो पार्टी अल्पमत में है उसको सरकार में रहने का कोई हक नहीं है। ऐसे में मौजूदा सरकार को बर्खास्त कर कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका दिया जाए।

 

मनोहर पर्रिकर के निधन के 2 घंटे बाद पेश की दावेदारी: दिल्ली भाजपा प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा के ट्वीट के मुताबिक मनोहर पर्रिकर के निधन के दो घंटे बाद भी गोवा कांग्रेस ने सरकार बनाने की दावेदारी पेश की है। बग्गा के ट्वीट की गई चिट्टी में रात 10:25 मिनट पर हस्ताक्षर किए गए हैं। 


बालवाहिनी संचालन के नियम : छात्र छात्राओं की सुरक्षा जरूरी


जयपुर,  4 जुलाई 2017.

 न्यूज अपडेट 18-3-2019.

 शैक्षणिक संस्थानों के छात्र छात्राओं को सुरक्षित, सुविधाजनक एवं सुलभ वाहन व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए परिवहन विभाग द्वारा बाल वाहिनी योजना लागू की गई  है। इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए परिवहन विभाग ने दिशा निर्देश जारी किये हैं।

इन दिशा निर्देशों के अनुसार वाहन चालक को कैब, बस, आॅटो श्रेणी के वाहन चलाने का 5 साल का अनुभव हो तथा उसके पास कम से कम 5 वर्ष पुराना वैध ड्राइविंग लाइसेंस हो। आटो की बजाय बस, वैन एवं कैब जैसे सुरक्षित वाहनों को प्राथमिकता दी जावे। बाल वाहिनी योजना के अन्तर्गत संचालित वाहनों की बैठक क्षमता सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों से निर्धारित क्षमता की डेढ़ गुना से अधिक नहीं होगी। 

आटो में बच्चों की सुरक्षा हेतु बायीं ओर चढ़ने एवं उतरने वाले गेट पर लोहे की जाली लगा कर बन्द किया जाएगा। दुर्घटना और आपात स्थिति में छात्रों के लिए शिक्षा संस्था की वैन, कैब, बस, आटो में अनिवार्य रूप से प्राथमिकता सहायता बाॅक्स तथा अग्निशामक यंत्र लगाया जाये। वाहन में पानी की बोतल व स्कूल बैग रखने के लिए रैक लगी होगी। वैन, बस, कैब में चालक अनिवार्य रूप से नियमानुसार सीट बेल्ट लगा कर ही वाहन चलाएगा। आटो में ड्राइवर सीट पर बच्चों का परिवहन नहीं किया जाएगा। वैन, बस, कैब में चालक के पास वाली सीट पर 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों का परिवहन नहीं कि
या जाएगा। बाल वाहिनी वाहन चालक एवं कन्डक्टर नियमानुसार खाकी वर्दी पहनेंगे।

बाल वाहिनी में अनिवार्य रूप से जी.पी.एस लगाया जाए जिसके लाॅगिंग नम्बर व कोड स्कूल प्रशासन को उपलब्ध करवाये जायेंगे जिससे स्कूल प्रशासन द्वारा उसकी माॅनिटरिंग की जायेगी। यदि वाहन चालक का लाल-बत्ती का उल्लघंन करने, तेज व खतरनाक तरीके से वाहन चलाने, शराब पीकर वाहन चलाने, वाहन चलाते समय मोबाईल फोन पर बात करने जैसे अपराध के लिए एक से अधिक चालान हुआ तो स्कूल प्रशासन द्वारा उसे हटाया जाएगा। बस में छात्रों को उतारने व चढ़ने में सहायता के लिए एक परिचालक होगा। चालक व परिचालक को निर्धारित वर्दी पहन कर वाहन चलाना होगा। 

दो वर्ष में कम से कम एक बार बाल वाहिनी की सड़क एवं जीवन दायनी प्रक्रिया का प्रशिक्षण एवं एक बार मेडिकल चेकअप नेत्र व स्वास्थ्य जांच करवाना आवश्यक होगा। बाल वाहिनी वाहनों में डोर लाॅक की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। बाल वाहिनी वाहनों में स्पीड  गवर्नर अनिवार्य रूप से लगाया जाये एवं उसकी क्रियाशीलता सुनिश्चित की जावे। 


विद्यालय एवं महाविद्यालय के कर्तव्य


शैक्षणिक संस्थान प्रमुख द्वारा सड़क सुरक्षा क्लब के माध्यम से बाल वाहिनी योजना सख्ती से लागू कराई जाएगी। संस्थान प्रमुख द्वारा सड़क सुरक्षा क्लब में एक वरिष्ठ अध्यापक एवं व्याख्याता स्तर का यातायात संयोजक नियुक्त किया जाएगा। प्रत्येक शैक्षणिक संस्थान द्वारा एक विस्तृत ट्रेफिक प्लान तैयार करके बाल वाहिनी के वाहनों द्वारा छात्र छात्राओं को विद्यालय एवं महाविद्यालय द्वारा विद्यालय परिसर में विद्यार्थियों को चढ़ाने उतारने के निर्धारित स्थान पर विद्यालय के बाहर सड़क की ओर देखते हुए सीसीटीवी कैमरा लगाया जाना अनिवार्य होगा।

शैक्षणिक संस्थान द्वारा बाल वाहिनी वाहन चालक को विशेष फोटो युक्त परिचय पत्र सुनहरे पीले रंग के कार्ड पर नीले रंग से लिखा  जाएगा जो वाहन चालक के अनुबंधित बाल वाहिनी वाहन चलाने तक ही वैध होगा। प्रत्येक जिले में बाल वाहिनी योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस कमीशनरेट में उपायुक्त की अध्यक्षता में एक स्थाई संयोजक समिति गठित होगी, जो शैक्षणिक संस्थानों में छात्र छात्राओं को लाने-जाने के लिए बाल वाहिनी योजना के नियमों का सख्ती से पालन करायेगी। बैठक की रिपोर्ट जिला कलक्टर की अध्यक्षता में गठित यातायात प्रंबधन समिति के समक्ष नियमित रूप से प्रस्तुत की जायेगी। 


खतरनाक




रविवार, 17 मार्च 2019

कुम्हार समाज समिति, सूरतगढ का होली स्नेह मिलन आयोजित

यहां कुम्हार धर्मशाला में होली स्नेह मिलन का आयोजन किया गया। सभी ने आपस में गुलाल लगाकर, गले मिलकर होली की शुभकामनायें दी।

 इससे पूर्व आम सभा का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता हेतराम जालप ने की। बैठक में अशोक कुमार बागोरिया ने गत वर्ष का आय-व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत किया। समिति अध्यक्ष भागीरथ गेदर ने सभी को होली की शुभकामनायें देते हुए धर्मशाला में निर्माण किये जाने व फर्नीचर आदि पर विचार-विमर्श किया जिसके बारे में उपस्थित बन्धुओं ने कई सुझाव दिये।

 वक्ताओं ने अपने उद्बोधन में समाजिक उत्थान के बारे में अपने विचार साझा किये। बैठक समाप्ति के पश्चात् । इस अवसर पर बलराम वर्मा, राजेन्द्र भोभरिया, जयराम रोकणा, इन्द्र कुमार लकेसर, रामेश्वर लाल भोभरिया, राजेन्द्र जालप, बलराम कुकड़वाल, एडवोकेट रामप्रताप जालप, हेतराम खुडिया, राजेन्द्र गेदर, श्यामलाल होदकासिया, राजेश कुमार निराणियां, रणजीत खुडिया, लालचन्द घोड़ेला, नत्थूराम कलवासिया, ओमप्रकाश कारगवाल, बालूराम जालप, हंसराज ढ़ुंढ़ाड़ा, तेजपाल टाक, रामकुमार टाक, एडवोकेट रामनारायण जालप, दीवानचन्द पेंटर, रामकरण जालप आदि उपस्थित थे।



शनिवार, 16 मार्च 2019

सूरतगढ़: एपेक्स स्थापना सप्ताह पर रक्त दान

^^ करणीदानसिंह राजपूत ^^


एपेक्स स्थापना सप्ताह 10 से 16 मार्च पर एपेक्स क्लब सूरतगढ की ओर से रक्त दान शिविर लगाया गया। यह आयोजन मैत्री ब्लड बैंक सूरत गढ में हुआ।

एपेक्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सचिव  विनोद जाखड़ एवं एल.आर.दाहिया ने भी शिविर में सेवाएं दी।

एपेक्स क्लब सूरतगढ के अध्यक्ष राजाराम बिनावरा सचिव अशोक भट्ट  परियोजना अध्यक्ष मनीष कवातड़ा व डा. जगजीत सिंह,समाजसेवी रमेशचंद्र माथुर ने सेवाएं प्रदान की।

दि. 16-3-2019. 

************


************




चुनाव-सोशल साइट से हटाने होंगे पुराने पोस्ट: नियमों की अनदेखी पर होगी कार्रवाई


आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद सोशल मीडिया पर किसी भी तरह नियमों की अनदेखी पर कार्रवाई की जाएगी। प्रावधानों के मुताबिक पोस्ट चाहे कितना भी पुराना क्यों न हो, अगर नियमों की अनदेखी होती है तो तत्काल उसे हटाना होगा। सीईसी के अधिकारियों ने तमाम सोशल साइट्स के पोस्ट को ई-पोस्टर का नाम देते हुए कहा कि जिस तरह आचार संहिता लागू होने पर पोस्टर हटा दिए जाते हैं, ठीक उसी तर्ज पर पोस्ट को भी तत्काल हटाने के आदेश हैं।


ई विजिल पर मिली 79 शिकायतें


ई विजिल के तहत सीईओ को शुक्रवार सुबह 10 बजे तक 79 शिकायतें मिल चुकी हैं। शुरुआती जांच के बाद 35 मामलों पर कार्रवाई की जा चुकी है। ई विजिल ऐप पर मिलने वाली शिकायतों पर 100 मिनट के अंदर कार्रवाई की जाती है। इनमें अधिकतर पोस्टर, बैनर और होर्डिंग से संबंधित हैं जबकि कई ऐसी शिकायतें हैं, जिन्हें कार्रवाई के लायक नहीं समझा गया। ऐप पर मिलने वाली शिकायतों में पंखे, जूते के फोटोग्राफ भी लोग भेज रहे हैं। इसके साथ ही कई ऐसी शिकायतें भी मिली हैं, जिन्हें अनुचित समझते हुए खारिज कर दिया गया। 


फेसबुक से भाजपा विधायक ने हटाया पोस्ट 


भाजपा विधायक ओपी शर्मा ने फेसबुक पर विंग कमांडर अभिनंदन और भाजपा के नेताओं के साथ की फोटो पोस्ट करने के मामले की शिकायत के बाद पोस्ट हटा दी है। विधायक ने सीईओ को आश्वासन दिया है कि आगे ऐसी कोई पुनरावृत्ति न हो इसका पूरा ध्यान रखेंगे।


सूचना -- हमारी किसी पोस्ट पर चुनाव को प्रभावित करने वाली नजर आती है तो बताएं ताकि उसका अवलोकन कर हटाया जा सके।

यह ब्लॉग खोजें