Thursday, June 22, 2017

राधेश्याम(पूर्व राज्य मंत्री)की पत्नी के निधन पर मुख्यमंत्री ने शोक व्यक्त किया




श्रीगंगानगर।, 22 जून।

 पूर्व राज्यमंत्री श्री राधेश्याम गंगानगर की धर्मपत्नी श्रीमती इन्द्रा राजपाल के निधन पर  मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने भेजे शोक संदेश में लिखा है कि माननीय राधेश्याम जी, आपकी धर्मपत्नी श्रीमती इन्द्रा राजपाल के निधन का समाचार सुनकर मुझे दुख हुआ। मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हॅू कि दिवगंत की आत्मा को शांति प्रदान करे और शोक संतप्त परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति दें। माननीय मुख्यमंत्री द्वारा भेजा गया शोक संदेश सहायक सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी श्री रामकुमार पुरोहित ने उनके निवास स्थल 82 जी ब्लॉक श्रीगंगानगर पहुंचकर पूर्व राज्यमंत्री श्री राधेश्याम गंगानगर को पत्र सौंपा। इस अवसर पर श्री रमेश राजपाल, श्री वीरेन्द्र राजपाल, श्री भूपेन्द्र राजपाल भी मौजूद थे।

गंगानगर के लालगढ़ से हवाई यात्रा करने को तैयार हो जाएं

श्रीगंगानगर, 22 जून। नागरिक उड्डयन विभाग जयपुर के निर्देशानुसार लालगढ़ हवाई पट्टी पर जल्द ही हवाई यात्रा शुरू होने वाली है

। इस संबंध में सुरक्षा, फायर बिग्रेड, एम्बुलेंस, पानी व बिजली इत्यादि व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।इस संबंध में 23 जून को सायं 5.30 बजे कलेक्ट्रेट सभा हॉल में जिला कलक्टर की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई है। 



सूरतगढ़ में घर से बाहर खतरा ही खतरा क्यों है

- करणीदानसिंह राजपूत -




 सूरतगढ़. 22 जून 2017.

 सूरतगढ़ शहर का हर गली और मोहल्ला खुदा हुआ पड़ा है।घर से बाहर निकलना खतरा ही खतरा है।आप खुद बचें और अपने बच्चों को भी बचाएं।

सीवरेज के कारण शहर के अनेक गली मोहल्ले सड़कें खुदे हुए हैं तथा वहां किसी प्रकार का सूचना पट नहीं है और जो खुदाई वाले स्थान है उनके चारों तरफ कोई अवरोधक भी नहीं लगाए हुए हैं।जहां पर मिट्टी डाली गई वहां जोर रह गई और सड़कें बरसाती पानी से धंसी पड़ी है।

 शहर में वर्षा के कारण नाले लबालब और सड़कें पानी से भरी हुई।मोहल्ले पानी से भरे हुए पड़े हैं। किसी गड्ढे का किसी नाले का चेहरा दिखाई नहीं पड़ रहा। ऐसे में चाहे पैदल निकले चाहे दुपहिया चौपहिया वाहनों पर निकलें किसी भी समय दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं।

 शहर में भयानक कीचड़ भरा हुआ है फिसल करके भी दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं।यह स्थिति दिन की बताई जा रही है।जब दिन में निकलना कठिन है,तब रात्रि में निकलना और भी ज्यादा खतरनाक है। कोई बहुत जरूरी कार्य हो तो ही रात में बाहर सावधानी से और टॉर्च आदि ले कर के ही निकलें।आज 22 जून को शहर के कई मार्गों का मोहल्लों का अवलोकन किया जिसमें यह खतरनाक हालात सामने आए हैं।

आवासन मंडल का भी जिक्र कर दें वहां पर हालत बहुत बुरी है।किसी भी सड़क पर निकल नहीं सकते।आवासन मंडल में यह हालत अतिक्रमणों से भी आई है, जहां मकानों के आगे 15- 20 फुट तक अतिक्रमण किए हुए हैं और केवल सड़क बची हुई है,बाकी सारे स्थान कब्जे में है।

 आवासन मंडल की समस्त सड़कें भी भयानक कीचड़ में लथपथ है और वहां पैदल तथा वाहनों से निकलना मुश्किल है।

बीकानेर रोड पर सैकड़ों की तादाद में नए गड्ढे बन चुके हैं। शहर की यह हालत नाजुक है।





सूरतगढ़ विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों के निवासों पर एसीबी का छापा-




22 जून 2017 को एसीबी के एडिशनल SP रजनीश पूनिया ने सूरतगढ़ में रिकॉर्ड जप्त किया है।


----------------------------

विद्युत उपभोग मीटरों में बहुत अधिक और रिकार्ड में बहुत कम का आरोप:
सहायक अभियंता से लेकर लाईनमैन तक पर बिजली चोरी का आरोप:
चार टीमों नें 11 स्थानों पर मारे छापे


सूरतगढ़ में अणुव्रत मार्ग को बचाओ!अविलंब बचाओ!!


- करणीदान सिंह राजपूत -





बीकानेर रोड से आवासन मंडल को जोड़ने वाली सड़क जो नई धानमंडी और रोडवेज बस स्टैंड के बीच में से निकलती है को बिना विलंब किए बचाने की आवश्यकता है। इस सड़क को अणुव्रत मार्ग नाम दिया हुआ है और यह शहर की बहुत अच्छी सड़कों में गिनी जाती है।




इस सड़क का नाला सफाई नहीं किए जाने के कारण बंद पड़ा है और वर्षा के कारण सड़क के काफी हिस्से पर पानी भरा हुआ है। सड़क पर से वाहन गुजरते हैं जिससे पानी से भरी लबालब सड़क टूटने लगी है।


 नाले की हालत देखने से लगता है कि कई दिन से इसकी सफाई नहीं हुई और यह बंद पड़ा है।इस नाले की सफाई करके ही अणुव्रत मार्ग को क्षतिग्रस्त होने से बचाया जा सकता है।

 सफाई का कार्य नगरपालिका का है और वर्षा के दिनों में लगातार निरीक्षण करने की आवश्यकता होती है जो नहीं हुई है।

 कुछ दिन पूर्व राज्य सरकार के आदेश से जिला कलेक्टर सभागार में मानसून की वर्षा से पहले साफ-सफाई का पूर्ण प्रबंधक किए जाने बाबत बैठक हुई थी। उसमें जिला कलेक्टर ने जिले के सभी विभागों और अधिकारियों को निर्देश दिए थे,लगता है कि सूरतगढ़ नगरपालिका के अधिकारियों का और निर्वाचित पार्षदों का ध्यान शहर की टूट रही सड़कों पर नहीं है ।

नगर पालिका बोर्ड के रूप में चलाई जाती है जिसमें अध्यक्ष उपाध्यक्ष सहित समस्त पार्षदों का दायित्व भी बराबर का बनता है।

इंजी. एम.एल.सिडाना हार्ट ऑपरेशन के बाद सूरतगढ़ लौटे



-  करणीदानसिंह राजपूत  -

सूरतगढ़ 22 जून.इंजीनियर एम एल सिडाना का हार्ट ऑपरेशन 15 अप्रैल को एशियन हार्ट हॉस्पिटल मुंबई में हुआ। कुछ दिन चिकित्सा सेवाएं एशियन हॉस्पिटल में ली गई और 29 अप्रैल को सिडाना जयपुर पहुंचे तथा वहां विश्राम किया। श्री सिडाना  19 जून को सूरतगढ़ लौट आए हैं। सर्जन डॉ.रमाकांत की राय के मुताबिक भ्रमण कसरत के साथ सिडाना अपने निवास पर विश्राम पर हैं।उनका स्वास्थ्य सुधार पर है।

सिडाना की धर्मपत्नी श्रीमती राजेश सिडाना नारी उत्थान केंद्र की अध्यक्ष एवं पार्षद हैं। सिडाना स्वयं राजस्थान के सिंचाई विभाग से सेवानिवृत्त हैं।


रात में सोती महिलाओं व लड़कियों के बाल काट ले जाने की खबरें!

राजस्थान के बीकानेर के बाद अब जोधपुर में भी लोगों में एक अजीब सा खौफ दिखने लगा है। इसका कारण यहां रात में सोती महिलाओ के बाल काट ले जाने की घटनाएं हैं। लोगों का कहना है कि ऐसा तंत्र-मंत्र करने के लिए किया जा रहा है।


ताजा मामला, जोधपुर के फलौदी से जुड़ा हुआ है जहां मंगलवार आधी रात को मलार रोड पुलिया के पास रहने वाले मेघवाल परिवार की बच्ची के कोई बाल काट ले गया। परिजनों के मुताबिक आधी रात को उनकी 13 वर्षीय बच्ची संतु की रोने की आवाज आई। जब उससे पूछा गया तो उसने बताया कि कोई उसके बाल काट रहा है।इसके बाद से बच्ची की तबीयत खराब है वहीं, मां गवरी देवी काफी डरी हुई है। परिजनों ने पूरी घटना की जानकारी पुलिस को भी दी है। जिसमें उन्होंने बताया है कि लड़की की नाभी पर भी त्रिशुल और चोट के निशान है। उधर, शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो लड़की के बाल कटे हुए हैं।




बाल ही नहीं कान भी काटने का किया प्रयास


बीकानेर में महिला पेट पर निशान दिखाते हुए


पुलिस की ओर से संदिग्धों से पूछताछ भी की जा रही है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपित पुलिस के कब्जे में होगा। इसी तरह की घटनाए चिमाणा, चाखू, रियां और बेदू गांव में भी सामने आई है। बेदू के उनावड़ा गांव में रामूराम जाट की पत्नी मैना देवी के बाल किसी ने काट दिए।


वहीं, देवलीजाल (जाम्बा) ढाणी में रहने वाले सुनील के परिजनों ने अज्ञात के खिलाफ रात के समय नींद में कान काटने का प्रयास करने का मामला दर्ज कराया है।


इससे पहले बीकानेर में भी पिछले एक महीने से ग्रामीण इलाकों में इस तरह की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। यहां जिले के नोखा, राइसर, नापासर, गिगाला, बीठनोक, हिंयादेसर, बज्जू सहित अनेक गांवों में अफवाह चल रही है कि रात में नींद के दौरान कोई व्यक्ति महिलाओं और लड़कियों के बाल-नाखून काट रहा है।


साथ ही, पेट पर कई प्रकार के निशान बनाने की बातें भी सामने आई। इसके बाद यहां ग्रामीणों में इतना खौफ है कि लोग घर पर तंत्र-मंत्र करवा रहे हैं। वहीं, पुलिस का कहना है कि अफवाह फैलाने वालों का जल्द ही पर्दाफाश किया जाएगा।


डरे हुए गांववालों को रात को लगाना पड़ रहा है पहरा



तंत्र-मंत्र

नोखा तहसील के हिंयादेसर गांव के पप्पुराम जाट ने बताया कि 12 जून को घर की छत्त पर उसकी पत्नी अपनी बच्ची के साथ सो रही थी। रात करीब 1 बजे एक महिला ने मेरी पत्नी के बाल काट लिए। जब पत्नी ने शोर मचाया तो महिला कहीं गायब हो गई।


इसके बाद में जब पत्नी ने नवजात बच्ची को देखा तो उसके मुंह पर पीला रंग लगा हुआ था। इस घटना की सूचना मिलते ही सरपंच विजयराम सहित कई लोग घटनास्थल पर पहुंचे। इससे पहले 6 जून को मैनसर गांव के राजूराम नायक के घर में भी यह घटना सामने आई थी। इसके बाद से लोग रात में पहरा लगा रहे हैं।


गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर इस तरह की बातें सामने आई हैं कि बाहरी राज्यों से करीब 78-80 लोग बीकानेर आए हुए हैं। जो दिन में लोहा-प्लास्टिक आइटम बेचने के बहाने ये पता लगाते हैं किस घर में कितने लोग हैं। इसके बाद रात में घरों में पहुंचकर बाल काटकर तंत्र-मंत्र के बहाने वश में करने की कोशिश कर रहे हैं।

(अमर उजाला)


XXX विशेष टिप्पणी 

इस प्रकार की खबरें कितनी सच है और कितनी अफवाहें? यह है सच में तो पुलिस जांच का विषय है। संभव है कि को दहशत फैलाने के लिए ही इस प्रकार की कार्यवाही में लिप्त हो।ग्रामीण क्षेत्र में खुले में सोने,रातों में प्रकाश की व्यवस्था न होने से अपराधिक तत्व ऐसी कोई घटना करने में लगे हों जिससे भय फैले।  ऐसे प्रकरण कहीं सामने आएं तो पहले पंच सरपंच ग्रामसेवक आदि को तत्काल सूचित किया जाना चाहिए और पुलिस को भी इतला की जानी चाहिए । यदि ऐसी घटना हो तो उसके आसपास पांव के निशान आदि को मिटने से बचाना चाहिए ताकि पुलिस का अनुसंधान सही रुप से हो सके और दहशत फैलाने वाले पुलिस की पकड़ में आ सके।




सेवानिवृत्ति से पहले बहाली की प्रक्रिया में पोटलिया की बहाली संभव

- करणीदानसिंह राजपूत - 


सूरतगढ़ 22 जून 2017. एसडीएम पद पर से सस्पेंड चल रहे रामचंद्र पोटलिया को सेवानिवृत्त किए जाने की प्रक्रिया में पहले यहां एडीएम पद पर बहाल किए जाने की संभावना हो सकती है। 

सेवानिवृत्ति से पहले बहाल किए जाने की प्रक्रिया में चाहे बहाली एक-दो दिन की ही हो।

 रामचंद्र पोटलिया वरिष्ठ आर ए एस अधिकारी हैं जिनकी सेवानिवृत्ति 31 जुलाई को होना निश्चित है। रामचंद्र पोटलिया एसीबी की कार्यवाही के दिन 25 मई 2016 से अनुपस्थित माने गए। श्री गंगानगर के जिला कलेक्टर द्वारा पोटलिया की अनुपस्थिति की सूचना सरकार को भेजी गई जिस  पर सरकार ने रामचंद्र पोटलिया को सस्पेंड किया था।

 पोटलिया को ड्यूटी से अनुपस्थित 14 महीने से अधिक का समय बीत चुका है। अब केवल सवा महीना ही शेष बचा हुआ है। सरकारी प्रक्रिया में सेवानिवृत्ति से 1 दिन पूर्व तक और सेवानिवृत्ति के दिन भी आरोप पत्र दिए जाने की प्रक्रिया होती रही है।
एसडीएम के अवकाश पर जाने पर उस पद  का कार्य भार एडीएम को सौंपने की प्रक्रिया निभाई जाती है ऐसी स्थिति में एस डी एम कार्यालय के सभी कार्य एडीएम द्वारा​ निपटाए जाते हैं। उनमें भूमि संबंधी कार्य भी हो सकते हैं। एसडीएम कार्यालय में पूर्व में चल रही भूमि संबंधी फाइलों का निपटारा भी किए जाने पर किसी प्रकार की कोई रोक नहीं है।

आर ए एस अधिकारी शीघ्र ही (आगामी दो-चार दिन में) स्थानांतरण व पदस्थापन सूची के आने की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

*********************************





Wednesday, June 21, 2017

कम वोल्टेज और ढीली तारें सब परेशान


श्रीगंगानगर, 21 जून। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने पंचायत समिति श्रीगंगानगर की ग्राम पंचायत मनफूलसिंहवाला के अटल सेवा केन्द्र में रात्रि चौपाल आयोजित कर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा संबंधित विभागों के अधिकारियों को समस्याओं के समाधान के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।


जिला कलक्टर ने कृषि के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार की फसलों की पैदावार से किस प्रकार अधिक से अधिक लाभ लिया जा सकता है की जानकारी दी।

 उन्होंने बताया कि गांव मनफूलसिंहवाला में मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना में किसानों के लिये 1191 सॉयल कार्ड बन गए है, जिनमें से 617 कार्डो का वितरण किया गया तथा शेष कार्डो का जल्द वितरण किया जाएगा। उन्होंने विद्युत छिजत, कम वोल्टेज व ढीली तारों के संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने को कहा। जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को गांव की सड़को के बारे में जानकारी प्राप्त की। विभाग के अधिकारी ने बताया कि गौरव पथ योजना के तहत सड़के बनाई जाएगी तथा जो सड़के क्षतिग्रस्त हो गई है, उनको जल्द ही ठीक करवाया जाएगा। उन्होने चिकित्सा विभाग भामाशाह स्वास्थ्य योजना एवं राजश्री योजना की प्रगति प्राप्त की तथा भामाशाह योजना के तहत 5 को लाभान्वित किया गया। उन्होने शिक्षा, श्रम, पशुपालन, नरेगा सहित अन्य विभागों की जानकारी प्राप्त कर इसके संबंध में ग्रामीणों को अधिक से अधिक पात्रों को लाभ देने को कहा।


आयोजित रात्रि चौपाल में एसडीएम श्री यशपाल आहूजा, कृषि अधिकारी श्री सुभाषचन्द्र बिश्नोई, सरपंच, पटवारी, ग्राम सेवक सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


पूर्व राज्यमंत्री राधेश्याम की पत्नी इंदिरा का निधन

भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व राज्यमंत्री राधेश्याम की धर्मपत्नी श्रीमती इंदिरा राजपाल का आज 21 जून को दोपहर में निधन हो गया। उनकी उम्र करीब 79 वर्ष थी। वे कुछ काल से अस्वस्थ थी।

राधेश्याम के निवास स्थान जी ब्लॉक पर शोक व्यक्त करने वालों की भीड़ जमा है।

Search This Blog