Friday, August 18, 2017

डेराप्रमुख राम-रहीम पर साध्वी यौन-शोषण मुकदमा: 25 अगस्त को फैसला


पंचकुला 17 अगस्त 2017.

 डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख बाबा राम रहीम से जुड़े साध्वी यौन शोषण मामले में पंचकूला की स्पेशल सीबीआई कोर्ट में आज 17 अगस्त को सुनवाई हुई. इस मामले में सीबीआई अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया.

अब डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम पर यौन शोषण आरोप मामले में 25 अगस्त को आएगा फैसला. साथ ही 25 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को व्यक्तिगत रूप से सीबीआई कोर्ट में पेश होने के दिए निर्देश दिया गया है.डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम पर यौन शोषण आरोप मामले में गुरुवार 17अगस्त को सुनवाई पूरी हो गई. बता दें कि इस मामले में बुधवार 16 अगस्त को भी करीब दो घंटे तक सुनवाई हुई थी.

बुधवार को सीबीआई के वकील ने चार्जशीट के आधार पर गुरमीत राम रहीम पर लगाए गये आरोपों को लेकर बहस की थी. वहीं बचाव पक्ष की ओर से इन आरोपों का जवाब दिया गया.

बता दें कि 15 अगस्त को गुरमीत राम रहीम ने अपना 50 वां जन्मदिन मनाया. इस दौरान सिरसा में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया और करीब 15 लाख लोगों की मौजूदगी में उन्होंने अपना  जन्मदिन मनाया था.


क्या है साध्वी यौन शोषण मामला


- पंचकूला विशेष सीबीआई कोर्ट में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर साध्वी के यौन शोषण समेत 2 हत्या के मामले चल रहे हैं।

- दरअसल एक गुमनाम पत्र के जरिए एक साध्वी ने गुरमीत राम रहीम पर यौन शोषण सहित कई अन्य संगीन आरोप लगाए थे।

- तब उच्च न्यायालय ने पत्र का संज्ञान लेते हुए सितम्बर 2002 को मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए थे।

- सीबीआई ने जांच में आरोप सही पाए और डेरा प्रमुख के खिलाफ विशेष अदालत के सामने 31 जुलाई, 2007 में आरोप पत्र दाखिल किया।

- डेरा प्रमुख को इस मामले में अदालत से जमानत तो मिल गई, लेकिन काफी समय से मामला पंचकूला की सीबीआई अदालत में चल रहा है।

पत्रकार की हत्या का भी चल रहा मामला

 यौनशोषण मामले की सुनवाई के अलावा राम रहीम पर हत्याओं के 2 केस भी चल रहे हैं।

- पहला मामला सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या का है। आरोप है कि छत्रपति ने साध्वी बलात्कार मामले को अपने अखबार में छापा तो नवंबर 2002 में उसकी गोली मार कर हत्या कर दी गई।

- बाबा राम रहीम पर ये भी आरोप है कि उन्होंने डेरे के पूर्व प्रबंधक रंजीत सिंह की भी हत्या करवाई, क्योंकि वो डेरे के कई राज जान चुका था।

- रंजीत सिंह की 10 जुलाई 2003 को हत्या कर दी गई थी और तब इन दोनों हत्याओं में डेरा सच्चा सौदा का नाम सामने आया था।

पंजाब और हरियाणा दोनों राज्यों में हाई अलर्ट

डेरा प्रमुख के खिलाफ यौन शोषण मामले में जल्द फैसला आने की उम्मीदों के बीच हरियाणा के साथ साथ पंजाब की सरकार भी अलर्ट पर है। सूबे की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर दोनों राज्यों के पुलिस महानिदेशकों ने केंद्रीय गृह सचिव के साथ बैठक की और हालातों पर चर्चा भी की। पंजाब में कानून व्यवस्था बिगड़ने के डर से पंजाब सरकार ने केंद्र से 250 कंपनियां पैरामिलट्री फोर्स भी मांगीं हैं। साथ ही भारी संख्या में पुलिस बलों की भी तैनाती की गई है।

राजस्थान के श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिलों में भी पुलिस व प्रशासन सतर्क

 है। इन दोनों जिलों में डेरे के अनुयायियों की संख्या बहुत है। श्री गंगानगर जिले की सूरतगढ़ तहसील के गुरुसर मोडिया गांव में डेरामुखी का पैतृक निवास है।


Thursday, August 17, 2017

नशे में रात को नाचते हुड़दंगी कोचिंग छात्र छात्राओं की खबर में भाटिया आश्रम सूरतगढ का नाम क्यों?

----------------------------------+++----------------++++---------------++++----------------++++-----------+++++++++-----+-+-

सूरतगढ़ 17 अगस्त 2017.
 स्वतंत्रता दिवस की रात में पेइंग गेस्ट हॉस्टल में कोचिंग करने वाले छात्र-छात्राओं ने जमकर हुड़दंग मचाया जिनके शराब के अलावा कोई नशा किया हुआ था। पुलिस का यह बयान कई समाचार पत्रों में पूरी खबर के साथ छपा है जो चौंकाने वाला है। कोचिंग करने वाले लड़के और लड़कियां किधर भटक रहे हैं? सूरतगढ़ में शहर के अलावा दूर-दूर के छात्र-छात्राएं आते हैं लेकिन उन पर घर वालों की कोई निगाहें नहीं होती। पुलिस में अनेक बार लोगों ने शिकायत की कि पेइंग गेस्ट हॉस्टल में रहने वाले छात्र आदि रात्रि को हुड़दंग करते हैं जिससे शहर का वातावरण खराब होता है। स्वाधीनता दिवस पर यह कैसी स्वाधीनता सामने आई है?.

  लड़कों के एक  पेइंग गेस्ट हॉस्टल की छत पर पार्टी होती है और पास के लड़कियों के पेइंग गेस्ट हॉस्टल कीमत​ लड़कियां उस पार्टी में शामिल होती हैं।यह पूरी खबर चौंकाने वाली है और अभिभावकों को इस खबर के पढ़ने से कोई निर्णय लेना चाहिए।अभिभावक कोई निर्णय नहीं लेते हैं तो उनके भटके बच्चे किधर चले जाएंगे? खबर में शराब के अलावा किसी और नशे का छपा होना साफ संकेत कर रहा है। सूरतगढ़ के कोचिंग सेंटरों के नाम पर अभिभावक अपने बच्चों को भेजते हैं तथा पेइंग गेस्ट हॉस्टल का प्रबंध कर के जाते हैं या लड़के लड़कियां खुद ही प्रबंध करते हैं। सस्ते के नाम पर बच्चों को सूरतगढ़ में भेजना कोचिंग कराना अच्छा हो सकता है लेकिन पिछले कुछ महीनों से हालात खराब होने की ओर बढ़ रहे हैं।कोचिंग वालों के अपने हास्टल भी है और वे दिखावटी अच्छे प्रबंध व रात्रि की सरक्षा व्यवस्था का दावा करते हैं। लेकिन घटनाएं नामी संस्थाओं की सही तस्वीर सामने रख देती हैं।
 ऐसी हालत में अभिभावकों को ही निर्णय करना होगा कि अपने लड़के लड़कियों को बिगड़े माहौल में बिगड़ने को छोड़ दें या फिर वहां ले जाएं जहां निगरानी रख सकें।








Wednesday, August 16, 2017

स्वतंत्रता दिवस समारोह सूरतगढ़ में जो हुआ वह निंदनीय

सूरतगढ़ 16 अगस्त 2017.

स्वतंत्रता दिवस समारोह में अधिकारी बोतलों में बंद ठंडा पानी पी रहे थे और स्कूली बच्चे और अन्य लोग पानी के लिए तरस रहे थे। समारोह में पानी के 10-12  केन रखे गए जो सामारोह शुरू होने से पहले ही खाली हो गए  थे। समारोह में अच्छी व्यवस्था के

लिए पूर्व में बैठक आयोजित हुई और अलग-अलग ड्यूटियां बांट दी गई थी। इसके बावजूद पानी की समुचित व्यवस्था न कर पाने के लिए कौन दोषी होगा? यह तो जांच के बाद ही मालूम पड़ेगा।

कूप्रबंध की हालत यह भी रही कि राष्ट्रीय पर्व की कवरेज के लिए प्रेस गैलरी बनाई जाती है जो इस बार नहीं थी। पत्रकार कहां बैठें ?इसकी  किसी को परवाह नहीं रही। 

शिवसेना ने इस कुप्रबंध की निंदा की है तथा जांच की मांग की है।





Tuesday, August 15, 2017

नारी उत्थान की अध्यक्ष राजेश सिडाना स्वतंत्रता दिवस समारोह में सम्मानित

सूरतगढ़ 15अगस्त 2017.नारी उत्थान केंद्र की अध्यक्ष एवं पार्षद श्रीमती राजेश सिडाना को संस्था के उत्कृष्ट कार्यो के लिए श्री गंगानगर में जिला स्तर पर स्वतंत्रता दिवस समारोह में सम्मानित किया गया। राज्य मंत्री श्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी एवं जिला कलेक्टर  श्री ज्ञानाराम ने श्रीमती राजेश सिडाना को प्रशस्ति पत्र भेंट किया।विदित रहे कि नारी उत्थान केंद्र सन 1992 से महिलासूरतगढ़ 14 अगस्त 2017.नारी उत्थान केंद्र की अध्यक्ष एवं पार्षद श्रीमती राजेश सिडाना को संस्था के उत्कृष्ट कार्यो के लिए जिला स्तर पर स्वतंत्रता दिवस समारोह में सम्मानित किया जाएगा। विदित रहे कि नारी उत्थान केंद्र सन 1992 से महिलाओं के कन्या बचाओ और कन्या पढ़ाओ महत्वपूर्ण अभियान के साथ परिवारों को बचाने का कार्य कर रहा है। केंद्र ने अपनी स्थापना के बाद इतने वर्षों में 5 सौ से अधिक दम्पत्तियों को समझाइश कर सम्बंध विच्छेद से बचाया। कन्याओं को सफल बनाने के लिए केंद्र की ओर से सिलाई का प्रशिक्षण भी दिलाया जाता है। निर्बल और असहाय परिवारों को विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान कर महिलाओं को शिक्षित करने में भी केंद्र आगे रहा है।ओं के कन्या बचाओ और कन्या पढ़ाओ महत्वपूर्ण अभियान के साथ परिवारों को बचाने का कार्य कर रहा है। कन्याओं को सफल बनाने के लिए केंद्र की ओर से सिलाई का प्रशिक्षण भी दिलाया जाता है। निर्बल और असहाय परिवारों को विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान कर महिलाओं को शिक्षित करने में भी केंद्र आगे रहा है।


श्री गंगानगर में स्वाधीनता समारोह 2017 में सुरेंद्र पाल टीटी ने ध्वजारोहण किया



श्रीगंगानगर, 15 अगस्त2017. स्वतंत्रता दिवस  का मुख्य कार्यक्रम महाराजा गंगासिंह स्टेडियम में आयोजित हुआ। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि एवं खान राज्यमंत्री श्री सुरेन्द्र पाल सिंह टीटी ने प्रातः 9.05 बजे ध्वजारोहण किया। 

आयोजित कार्यक्रम में खान राज्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण कर मार्च पास्ट की सलामी ली। मार्च पास्ट में आरएसी, राजस्थान पुलिस, अरबन होमगार्ड, पुलिस केडेट, राजकीय उच्च माध्यमिक बालिका विद्यालय, राजकीय कन्या महाविद्यालय, हिन्दुस्तान स्काउट तथा गुरूनानक कन्या महाविद्यालय की टुकड़ियों ने भाग लिया। मुख्य समारोह में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन श्री नखतदान बारहठ ने महामहिम राजपाल का प्रदेशवासियों के नाम के संदेश का पठन किया। कार्यक्रम में विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के एक हजार से अधिक छात्र-छात्राओं ने सामूहिक व्यायाम प्रर्दशन किया। मुख्य अतिथि श्री टीटी एवं जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कार्यक्रम में उपस्थित स्वतंत्रता सैनानियों एवं वीरांगनाओं को शॉल उढाकर सम्मान किया। 

मुख्य समारोह में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रर्दशन करने वाले छात्रों, राजकीय सेवाओं में उल्लेखनीय कार्य करने वाले कार्मिकों, सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाएं देने वाले कुल 37 नागरिकों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। नागरिक सुरक्षा द्वारा आपदा प्रबंधन के क्षेत्रा में किसी आगजनी या अन्य विपदा के समय नागरिक किस प्रकार अपनी सुरक्षा करें, की जानकारी प्रर्दशन के माध्यम से दी गई। 

समारोह में विभिन्न शिक्षण संस्थाओं द्वारा देश भक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में गुरूहरकिशन पब्लिक स्कूल, जुबिन नर्सिंग कॉलेज, किड्स कैम्प स्कूल, टाइनी टॉट्स, नोजगे पब्लिक स्कूल तथा गुड शैफर्ड शिक्षण संस्थाओं की छात्र-छात्राओं ने आकर्षक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। मार्च पास्ट में दक्ष टुकड़ियों में आरएसी ने प्रथम, राजस्थान पुलिस ने द्वितीय तथा अरबन होमगार्ड की टुकड़ी ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार अदक्ष टुकड़ियों में गुरूनानक कन्या महाविधालय ने प्रथम, राजकीय कन्या महाविधालय ने द्वितीय तथा हिन्दुस्तान स्काउट ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में नोजगे पब्लिक स्कूल ने प्रथम, गुडशेफर्ड ने द्वितीय तथा किड्स कैम्प ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आयोजित मुख्य समारोह में जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम, पुलिस अधीक्षक श्री हरेन्द्र कुमार महावर, गंगानगर विधायक श्रीमती कामिनी जिंदल, जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका श्योराण, न्यास अध्यक्ष श्री संजय महिपाल, पूर्व जिला प्रमुख श्री सीताराम मोर्य, गंगानगर प्रधान श्री पुरूषोतम सिंह, श्री महेन्द्र सिंह सोढ़ी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों, शिक्षण संस्थाओं के छात्र-छात्राओं एवं भारी संख्या में गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया।


Sunday, August 13, 2017

औद्योगिक प्रोत्साहन शिविर सूरतगढ़ 16 अगस्त घड़साना 22 पदमपुर 24 को आयोजित होंगे

श्रीगंगानगर, 10 अगस्त। जिला उद्योग केन्द्र श्रीगंगानगर द्वारा औद्योगिक प्रोत्साहन शिविर/चेतना शिविरों का आयोजन प्रस्तावित है, जिसमें रीको, राजस्थान वित्त निगम, खादी बोर्ड, बैंक, नाबार्ड, वन विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा उद्यमियों, दस्तकारों, बुनकरों, बेरोजगार युवाओं को राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं तथा प्रदान की जाने वाली सहायता व सुविधाओं की जानकारी व आवश्यक मार्गदर्शन दिया जावेगा ताकि वे अपना स्वयं का उद्यम स्थापित कर स्वावलम्बी बन सके। 

जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक श्रीमती मंजू नैण गोदारा ने बताया कि उद्यम स्थापित करने की इच्छा रखने वाले उद्यमियों, दस्तकारों एवं स्वरोजगार योजनाओं के माध्यम से अपना सेवाकार्य/उद्यम स्थापित करने वाले युवाओं के लिये यह शिविर अत्यधिक उपयोगी है। शिविर में औद्योगिक क्षेत्रों में भूमि आवंटन हेतु रीको, वित्तीय सहायता प्रदान करने हेतु खादी, बैंक, नाबार्ड के अधिकारियों द्वारा मौके पर ही आवेदन पत्र तैयार करवाने के लिये मार्गदर्शन प्रदान किया जावेगा एवं संबंधित विभाग द्वारा उद्यमियों की समस्याओं का निराकरण भी किया जायेगा। शिविर व्यापार मंडल सूरतगढ़ में 16 अगस्त 2017 को, व्यापार मंडल घड़साना में 22 अगस्त को तथा पंचायत समिति पदमपुर में 24 अगस्त को प्रातः 11 बजे आयोजित किया जायेगा। 


सूरतगढ़ क्षेत्र में जिप्सम खनन के 7 परमिट खेत मालिकों को दिए गए

श्रीगंगानगर, 10 अगस्त। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिप्सम वाले क्षेत्र में किसानों को अपनी भूमि से जिप्सम खनन के परमिट दिये जायेंगे। इच्छुक काश्तकार को निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करना होगा। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप जिप्सम के खनन पट्टे जारी करने से अवैध खनन पर रोक लगेगी। 


जिला कलक्टर गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभा हॉल में खनिज विभाग द्वारा आयोजित बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। बैठक में 14 प्रकरणों पर चर्चा हुई, जिसमें से 7 काश्तकारों को जिप्सम खनन के लाईसेंस देने की स्वीकृति दी गई। चौदह किसानों ने अपने आवेदन वापस लेने के कारण पत्रावलियां निरस्त कर दी गई है। जिला कलक्टर ने कहा कि सरकार की मंशा किसानों को लाभ पंहुचाने की है। खनन पट्टे जारी करने से खेत मालिक जिप्सम निकाल सकेगा, वही पर अवैध गतिविधियों पर रोक लगेगी। ये खनन के पट्टे सूरतगढ़ तहसील क्षेत्र में दिये गये है। 

बैठक में सूरतगढ़ एसडीएम श्रीमती सीता शर्मा, एएमई श्री सुरेश अग्रवाल, श्री धमेन्द्र भांभू तथा भू-वैज्ञानिक श्री मनीष शर्मा सहित विभिन्न विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। 

राजस्थानी व हिन्दी के महान साहित्यकार ओम पुरोहित कागद को संस्मरण रूप श्रद्धांजलि:





एक दिन कागद उपनाम जुड़ गया और उनका जीवन भी कागद ही बन गया जो मृत्यु तक कागद ही बना रहा।

- करणीदानसिंह राजपूत -

सूरतगढ़। ओम पुरोहित कागद की यात्रा इस तरह से पूर्ण हो जाएगी किसी ने भी सोचा न होगा। वे कितने रूपों में अपना जीवन जी गए। पत्रकारिता अध्यापन और राजस्थानी हिन्दी में साहित्य सृजन, राजस्थानी साहित्य अकादमी की पत्रिका जागती जोत के संपादक,कविता पाठ,आकाशवाणी और दूरदर्शन में तथा मित्र जगत में तथा राजस्थानी मान्यता संघर्ष में उनकी स्मृतियां जीवित रहेंगी। 


खाद्य सुरक्षा कार्ड अब रसद विभाग जारी करेगा-कलक्टर का नया निर्देश

श्री गंगानगर 9 अगस्त 2017.

जिला कलक्टर ने कहा है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के तहत जरूरतमंद नागरिकों को लाभ देने के लिये अब उपखण्ड अधिकारी के बजाय रसद विभाग ही खाद्य सुरक्षा कार्ड जारी कर सकता है। 

Search This Blog