बुधवार, 18 जुलाई 2018

ऋण माफी प्रमाण-पत्र मिले: किसानों ने जलाये घी के दीये - प्रह्लादराय टाक

-  भाजपा सरकार किसान हितैषी, तभी तो इतनी बड़ी संख्या में माफ किये  ऋण -

श्रीगंगानगर 18-7-2018.

देश व प्रदेश की भाजपा सरकार किसान हितैषी हैं, तभी तो इतनी

बड़ी संख्या में किसानों के ऋण माफ किये जा रहे हैं, जो अपने आप में एक

मिसाल हैं। यह बात भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्रहलादराय टाक ने आज बुधवार को

ख्यालीवाला के ग्राम 11 एलएनपी में ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरित करते हुए

कहीं। कार्यक्रम के दौरान करीब 167 ऋण माफी प्रमाण-पत्र भाजपा नेता

प्रहलादराय टाक ने बैंक अधिकारियों के साथ किसानों को वितरित कियेे।

उन्होंने कहा कि यह राजनीति के इतिहास में पहली बार हुआ हैं जब इतने बड़े

स्तर पर किसानों को नकद राशि के समान ही ऋण माफ किये जा रहे हैं। इससे अब

यह पूरी तरह स्पष्ट हैं कि भाजपा सरकार किसानों की हितैषी हैं ओर नित नई

योजनाओं से जरूरतमंदों को लाभाविंत कर रही हैं। इस मौके पर भाजपा जिला

उपाध्यक्ष प्रहलादराय टाक, पंचायत समिति प्रधान पुरूषोतम बराड़, विधायक

कामिनी जिंदल, बैंक एमडी रणवीरसिंह सहारण, सीनियर मैनेजर मीनू मित्तल,

शिविर प्रभारी पूर्णाराम, बृजमोहन यादव, सोसायटी चेयरमैन गुरूविन्द्र

कौर, सरपंच उर्मिला देवी, मीडिया कोडिर्नेटर लक्ष्मीकांत शर्मा, नरेन्द्र

कुमार सहित काफी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद थे।

वहीं दूसरी ओर श्रीगंगानगर के गांव तीन एमएल में किसानों को मिले ऋण माफी

प्रमाण पत्र पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का अनोखे ढंग से धन्यवाद

ज्ञापित करते हुए किसानों ने अपने-अपने घरों में घी के दिये जलाये। वहीं

इस दौरान भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्रहलाद टाक को गांव के किसानों ने

आश्वस्त किया कि हम किसान हित के काम में सरकार के साथ हैं।



राजस्थान भाजपा: जिला संगठन प्रभारियों में फेरबदल


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी ने प्रदेश में पहला फेरबदल करते हुए जिला संगठन प्रभारियों में बदलाव किया है। 

पार्टी की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार प्रदेश के सभी जिलों में संगठन प्रभारियों को बदल दिया गया है।


पार्टी की ओर से किए गए इस बदलाव में एक पूर्व विधायक, प्रदेश कार्यसमिति के पूर्व सदस्यों के साथ ही पूर्व अध्यक्षों को जगह दी गई है। 

पार्टी की ओर से नियुक्त किए गए प्रभारियों में बीकानेर देहात से पूर्व विधायक रामेश्वर भाटी, श्रीगंगानगर से विजय आचार्य, हनुमानगढ़ से जालम सिंह भाटी, बीकानेर शहर से महेन्द्र सोढ़ी, चूरू से रामगोपाल सुथार, जयपुर शहर से महेश शर्मा, जयपुर देहात से संजय शर्मा, सीकर से काशीराम गोदारा, झुंझुनू से पंकज गुप्ता, अलवर से शैलेन्द्र भार्गव ,दौसा से प्रेमप्रकाश शर्मा (पूर्व अध्यक्ष ), भरतपुर से बृजेष शर्मा (प्रदेश कार्यसमिति ), करौली से सत्येन्द्र गोयल, धौलपुर से भैरों सिंह जादौन, सवाई माधोपुर मनीश पारीक ( पूर्व उप महापौर), अजमेर शहर से तुलसीराम शर्मा-प्रदेश विभाग संयोजक, अजमेर देहात से प्रसन्न मेहता, भीलवाड़ा से पुखराज पहाडिया ( पूर्व जिला प्रमुख) शामिल हैं।


इसके अलावा टोंक से अखिल शुक्ला ( प्रदेश कार्यसमिति ) नागौर से शहर नन्दकिशोर सोलंकी, नागौर देहात से सुरेश टांक, कोटा शहर से श्याम शर्मा, कोटा देहात से रमेश जिंदल, बूंदी से शंकरलाल, बारां से दिनेश जैन, उदयपुर शहर से लक्ष्मीनारायण डाड, उदयपुर देहात से हीरेन्द्र शर्मा, बांसवाड़ा से इन्द्रमल सेठिया, प्रतापगढ़ से ओम पालीवाल चित्तौडग़ढ़ से ताराचंद जैन, राजसमन्द से हरीश पाटीदार, जोधपुर से शहर महेन्द्र बोहरा, जोधपुर देहात से दिलीप पालीवाल, फलोदी से गोविन्द मेघवाल, जैसलमेर से घनश्याम डागा, सिरोही से नरेन्द्र कच्छावा, पाली से देवीशंकर भूतड़ा और जालौर से जगतनारायण जोशी को संगठन प्रभारी बनाया गया है।


सूरतगढ की विशाल नंदीशाला:सेवा की प्ररेणा:गौ वंश का प्यार दुलार:संरक्षण


^ करणीदानसिंह राजपूत ^

 नगरपालिका सूरतगढ़ द्वारा निर्मित विशाल क्षेत्र 55 बीघा में निर्मित विशाल नंदी शाला गलियों सड़कों पर घूमते असहाय निराश्रित पशुओं खासकर गोवंश के लिए जीवनदायिनी होगी।

विधायक राजेंद्रसिंह भादू के निर्देश और ईच्छा पर पालिका अध्यक्ष श्रीमती काजल छाबड़ा और पार्षदों ने नंदीशाला के निर्माण का कदम उठाया।

नगर पालिका की ओर से  किशनपुरा आबादी की तरफ तरफ विशाल क्षेत्र में नंदीशाला का ऐतिहासिक निर्माण हुआ है। 

नंदीशाला अभी अनेक प्रकार की सुविधाएं और विकास चाहती है। नंदीशाला का निर्माण गरीब 55 बीघा में में हुआ है जिस पर अभी तक 81 लाख  रुपए व्यय होने का अनुमान है।

कुछ दिन पूर्व विधायक राजेंद्र भादू  और पालिकाध्यक्ष काजल छाबड़ा की अगुवाई में पत्रकारों के दल को इसका अवलोकन कराया गया था।

नंदीशाला में 3 शैड गौवंश के लिए और 1 शैड तूड़ी के लिए बनाया जा चुका है।  करीब 800 की तादाद में गौ वंश शैडों के नीचे बैठे खड़े थे। तूड़ी शैड तूड़ी से भरा था।

अवलोकन से यहां धूप अधिक मिली  जिसके कारण वृक्षारोपण की आवश्यकता है। वृक्ष छायादार होंगे तो भयानक गर्मी में गौ वंश उनके नीचे बैठकर विश्राम कर सकेगा। पीपल और बड़ के पेड़ लगाए जा सकते हैं। अन्य पेड़ों में भीे छायादार वृक्ष लगाए जा सकते हैं। 

अवलोकन के बाद मेरी भाजपा नेता अमित भादू से बात हुई और उन्होंने स्वीकार किया कि किया कि नंदीशाला में वृक्षारोपण की आवश्यकता है और उसको अति शीघ्र ही पूरी करवाई जाएगी ताकि आने वाले सालों मैं यह नंदीशाला हरियाले रूप में स्थापित हो जाए।

फोटो के माध्यम से पाठक भी इस नंदीशाला का अवलोकन करें।








रेल यात्रा में डिजीटल आधार तथा ड्राइविंग लाइसेंस मान्य हुए

* भारतीय रेलवे का डिजीटल क्रांति को समर्थन*

श्रीगंगानगर, 17 जुलाई 2018.

भारतीय रेलवे पर आरक्षित श्रेणी में यात्रा के दौरान यात्रा को निश्चित दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज अपने साथ रखना अनिवार्य होता है। इसी कड़ी में रेलवे बोर्ड ने यात्रियों के डिजीटल लॉकर खाते में ‘‘जारी परिपत्र’ खण्ड से आधार या ड्राइविंग लाइसेंस दिखाए जाने को भी अनुमति दे दी है।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री तरूण जैन के अनुसार वर्तमान में रेलवे के आरक्षित श्रेणी में यात्रा के दौरान एक टिकट पर यात्रा/यात्रियों के समूह में से किसी एक यात्री को अपना वैध पहचान पत्र मूल रूप से दिखाना होता है। पहचान के वैध प्रमाण के रूप में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी मतदाता फोटो पहचान पत्र, पासपोर्ट, आयकर विभाग द्वारा जारी पैन कार्ड, सड़क परिवहन कार्यालय द्वारा जारी ड्राइविंग लाइसेंस, केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा क्रम संख्या युक्त जारी फोटो पहचान पत्र, मान्यता प्राप्त विद्यालय/महाविद्यालय द्वारा अपने विद्यार्थियों को जारी फोटोयुक्त विद्यार्थी पहचान पत्र, राष्ट्रीयकृत बैंकों के फोटोयुक्त पासबुक, बैंकों द्वारा जारी लेमीनेटेड फोटोयुक्त क्रेडिट कार्ड, युनिक आईडेन्टीफिकेशन कार्ड-आधार, एम-आधार व ई-आधार तथा केन्द्र/राज्य सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, जिला प्रशासन, नगर पालिका निकाय तथा पंचायत प्रशासन द्वारा जारी क्रम संख्या युक्त फोटो पहचान पत्र शामिल है। 

इसके अतिरिक्त शयनयान तथा आरक्षित द्वितीय श्रेणी में यात्रा करने के लिए कम्प्यूटरीकृत यात्रा आरक्षण काउन्टर पर टिकट बुक कराने पर यात्रा के दौरान फोटो युक्त राशन कार्ड तथा राष्ट्रीयकृत बैंकों के फोटो युक्त पासबुक की प्रमाणित छायाप्रति भी स्वीकार की जाती है। 

अन्य दस्तावेजों के साथ-साथ अब डिजी लॉकर अकाउंट के ‘‘इश्यूड डॉक्यूमेंट’’ खण्ड में जाकर कोई भी यात्री अपना आधार या ड्राइविंग लाइसेंस यात्रा के दौरान अपने वैध पहचान पत्र के रूप में दिखा सकेगा। (ध्यान देने योग्य बात है कि इसके अर्न्तगत यात्री के स्वयं के द्वारा अपलोड दस्तावेज पहचान के वैध प्रमाण के रूप में मान्य नहीं होंगे।) इससे यात्रियों को कागजी या भौतिक दस्तावेज अपने साथ रखने की दिक्कत या भूलने की आदत से राहत मिलेगी, साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में पेपरलैस कार्यप्रणाली को भी बढ़ावा मिलेगा। 


छोटे स्टेशनों और फील्ड में कार्यरत रेलकर्मियों के परिवार को बड़े स्टेशनों पर मिलेगी आवास सुविधा

श्रीगंगानगर, 17 जुलाई 2018.

 श्री पीयूष गोयल रेलमंत्री भारत सरकार की पहल से रेलकर्मियों को होने वाली परेशानियों का निराकरण प्राथमिकता से किया जा रहा है। 

छोटे स्टेशनों और फील्ड में कार्यरत रेल कर्मचारियों को दिन-प्रतिदिन आने वाली समस्याओं को ध्यान में रखकर नीतिगत निर्णयों में बदलाव किया जा रहा है। 


रेलकर्मियों के हितों को ध्यान में रखते हुये ऐसे रेलकर्मी, जो छोटे स्टेशनों तथा फील्ड में कार्यरत् है तथा उनके परिवारजन, बच्चों की शिक्षा, चिकित्सा अथवा अन्य किसी कारणों के चलते साथ रहने में असमर्थ है तथा अन्य स्थानों पर रह रहे है, उनके लिये कार्यरत स्टेशन से 50 से 100 किलोमीटर के दायरें में स्थित बड़े स्टेशन पर आवास सुविधा प्रदान करने का निर्णय किया है। ऐसे बड़े स्टेशनों को नोडल स्टेशन बनाया जायेगा। जोनल रेलवे को नोडल स्टेशन निर्धारित करने के लिये प्राधिकृत किया है, जिसमें वह इस स्कीम को सुसंगत तरीके से लागू कर सकें। इसके लिये नोडल स्टेशनां पर खाली आवास को पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर रेलकर्मियों के परिवार को आवंटित किया जायेगा। 

इस स्कीम के लागू होने में रेलकर्मियो को अपने बच्चों की पढ़ाई, चिकित्सा अथवा अन्य किसी कारणों के कारण बड़े स्थान पर परिवार के रहने के लिये आवास की चिन्ता से मुक्ति मिलगी और उनकी कार्यकुशलता में अपेक्षित वृद्धि होने साथ-साथ संतोषप्रदत्ता के स्तर में भी सुधार आयेगा। 


डॉ.अक्षय भंसाली अध्यक्ष डॉ.पर्वत सिंह शेखावत सचिव चुने गए




^  करणीदानसिंह राजपूत ^

सूरतगढ़।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की सूरतगढ़ शाखा के अध्यक्ष पद पर  डॉक्टर अक्षय भंसाली और सचिव पद पर डॉक्टर  पर्वत सिंह शेखावत चुने गए। नव निर्वाचित पदाधिकारियों को बधाईयां मिल रही है।


मंगलवार, 17 जुलाई 2018

आपातकाल 1975 में जेलो में बंद: सूरतगढ़ के लोकतंत्र रक्षकों ने कलेक्टर को प्रमाणपत्र पेश किए

सूरतगढ।

आपातकाल 1975 का विरोध कर लोकतंत्र बहाली के संघर्ष में जेलों में बंद किए गए लोकतंत्र रक्षा सेनानियों ने मंगलवार 17-7-2018 को श्रीगंगानगर में जिला कलेक्टर  को अपने जेल प्रमाण पत्र व अन्य कागजात आदि प्रस्तुत किए। भाजपा नेता प्रह्लाद राय टाक ने श्रीगंगानगर में सेनानियों को स्वागत कर सम्मान प्रदान करते हुए कार्य में सहयोग प्रदान किया।

विदित रहे कि आपातकाल में जेलों में 1 माह से अधिक सीआरपीसी धाराओं में बंद रहने वाले कार्यकर्ताओं को भी मीसा रासुका बंदियों की तरह लोकतंत्र सेनानी सम्मान और सम्मान निधि प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के इस संबंध में सार्वजनिक बयान देने के बाद सरकार ने 4 जुलाई 2018 को अधिसूचना जारी कर दी थी।

इसके तहत श्री गंगानगर जिले में सूरतगढ़ एक ऐसा क्षेत्र रहा जहां आपातकाल लगते ही उसी दिन 26 जून 1975 की शाम को आपातकाल के विरोध में गुरुशरण छाबड़ा के नेतृत्व में जबरदस्त आम सभा हुई।

उसके बाद विभिन्न क्षेत्रों से कार्य करते हुए प्रदर्शन करते हुए गिरफ्तारियां दी गई पूर्व में श्रीगंगानगर जिले में सम्मान निधि 26 लोगों को प्रदान की जा रही है।

हाल ही में सरकार ने लोकतंत्र सेनानी उपाधि भी प्रदान की है।

 यही सभी सुविधाएं और सम्मान सीआरपीसी में  एक माह से अधिक समय तक जेलों में बंद रहे कार्यकर्ताओं  आंदोलनकारियों को भी दिए जाने की घोषणा हुई है।

श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर ज्ञानाराम को मंगलवार 17-7-2018 को पत्रकार करणीदानसिंह राजपूत मुरलीधर उपाध्याय गुरनाम सिंह कंबोज सिख और मांगीलाल जैन ने प्रमाण पत्र पेश किए। 

सबका साथ ओर सबका विकास वाली पार्टी भाजपा : प्रहलादराय टाक


- ऋणमाफी प्रमाण-पत्र मिलने पर खिले किसानों के चेहरे

श्रीगंगानगर 17-7-2018.

 दी गंगानगर केन्द्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड़ की शाखा सुखाड़िया सर्किल में राजस्थान फसली ऋण माफी योजना 2018 के तहत ऋणमाफी प्रमाण-पत्र वितरित किये गये। इस दौरान ऋणमाफी प्रमाण-पत्र भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्रहलादराय टाक ने किसानों को सौंपे। इस दौरान किसानों के प्रमाण-पत्र पाकर चेहरे खिले हुए थे। वहीं भाजपा नेता टाक ने कहा कि राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सरकार अनेकों कल्याणकारी योजनाओं

के बलबूतें जरूरतमंदों को लाभ दे रही है। जिसमें से एक योजना ये भी हैं

कि किसानों के ऋण माफ किये जा रहे हैं। इस मौके जीकेएसबी सुखाडिया सर्किल की सीनियर मैनेजर श्रीमती नीनू मित्तल, शिविर प्रभारी पूर्णराम वर्मा,

हरद्वारीगढ़ सोसायटी के अध्यक्ष पारसराम सेवटा, उपसरपंच 2 एमएल कृष्ण स्वामी, विनोद झटवाल, धूकलराम, डूंगरराम, रूपसिंह भूल्लर, भजनलाल भादर माहर, मूलाराम सूडिया, नत्थूराम, लिखमीचंद जलंधरा, जयप्रकाश, भानीशंकर जलंधरा, रमेश शर्मा, मोहनलाल शर्मा, शंकरलाल भाटी, कृष्ण छींपा सहित काफी संख्या में किसान  मौजूद थे।

करणी प्रेस इंडिया के पाठकों की संख्या 11 लाख से पार!

 * करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़,17-7- 2018.

सच्च को सामने लाने में और दबे हुए लोगों की आवाज को उठाने व समाज को जगाने के समाचारों विचारों के सामने लाने के प्रयास में करणी प्रेस इंडिया पाठकों की पसंद में शिखर पर है। पाठक 11 लाख से अधिक बार देख कर और आगे बढ चुके हैं। यह ऊंचाई पार करना प्रसन्नता पैदा करने वाली तो है ही और आगे बढने की प्रेरणा देने वाली भी है।

इस साइट को देखने, या इसके लिंक को फेस बुक पर तथा ऑल वर्ल्ड ब्लॉग संगठन की न्यूज में देख पढ़ कर तत्काल विचार प्रगट करने में पाठक गण भी तत्पर रहे हैं। ये कदम ऐसे प्रभावशाली रहे हैं कि इनसे निरंतर तेज गति मिली  है।

 हमने विचारों को नया विस्तार दिया है जिसमें अनेक नए विषय शामिल किए हैं। व्यक्तियों के बजाय तथ्यों वाले कानून   एवं नियमों को सर्वाेपरि मानते हुए आगे बढ़ें हैं।

 महिलाओं व लड़कियों के साथ अपराध बढ़े हैं इसलिए सावधान व सतर्क रहने की जागरूकता के लिए भी पोस्टों को लिखा जा रहा है। कन्याओं को बचाने का अभियान हो  या नशा मुक्ति अभियान हो, उनके समाचार देने में आगे रहे हैं।

कई लोग व संगठन कानूनों से परिचित नहीं होते और इसलिए उनको लिखा हुआ अच्छा नहीं लगता,लेकिन उनकी आलोचनाओं  व टिप्पणियों पर गौर किया जाता रहा है। 

विशाल देश में नए नए समाचार तेजी से आते हैं। हमारे क्षेत्र में भी समाचारों का बाहुल्य है इसलिए किसी विषय को पकड़ कर नहीं रखा जा सकता। नए विषय पर भी आगे बढना होता है।

राजनीतिज्ञ​ और भ्रष्टाचारी सदा ही मीडिया को अपने विचारों से चलाना चाहते हैं लेकिन लोगों के साथ रहते हुए सच्चाई को ही आगे लाने के प्रयास में रहे हैं।

बड़े अखबार जिन समाचारों को रोकने में दबाने में व अपनी ईच्छानुसार बदल कर छापने में समय के अनुसार लगे हुए हैं। ऐसे समय में निर्भीक स्वतंत्र लेखन व समाचार देने का प्रयास रहा है। यही एक महत्वपूर्ण प्रमाण है कि अनेक समाचार बड़े अखबारों में नहीं मिलते जो करणी प्रेस इंडिया में पढ़ने को मिल जाते हैं। अखबारों में व चैनलों में आसपास के समाचार देने में आनाकानी होती है,लोग समाचार देखने को पढ़ने को आतुर रहते हैं लेकिन मिलते नहीं हैं। वे समाचार विचार करणी प्रेस इंडिया में देने का प्रयास रहता है। 

राजनैतिक आपराधिक सामाजिक धार्मिक आर्थिक विषय शहरी व ग्रामीण,सरकारी व गैर सरकारी सभी में आगे रहने का प्रयास सदा सफल रहा है।

हमारे समाचार,विचार,टिप्पणियां,लेख कहानियां,कविताएं एवं 

फोटो कवरेज आसपास और देश प्रदेश में सभी वर्गों द्वारा सराहे जाते रहे हैं। 

हमारे असंख्य पाठकों की आलोचनाओं समालोचनाओं ने ही इस ऊंचे शिखर पर पहुंचाया है। उनकी आलोचनाओं समालोचनाओं भरी राय से ही आगे और आगे बढने की प्रेरणा मिली है।

उच्च कोटि की टिप्पणियों व समाचारों के लिए लोग इस साइट पर भरोसा करते हुए देखते हैं। 

राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2018 अब सिर पर है और उन पर व्यापक दृष्टिकोण से समाचार देने का पूरा प्रयास रहेगा।

पाठकों से आग्रह है कि करणी प्रेस इंडिया को देखते रहें व फोलोवर बनें।

www.karnipressindia.com

mail- karnidansinghrajput@gmail.com

^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^


सोमवार, 16 जुलाई 2018

उमसभरी गर्मी के बाद सूरतगढ में बूंदाबांदी



* करणीदानसिंह राजपूत *

सात आठ दिन की उमसभरी गर्मी से लोग और जीवजंतु बेहाल हो रहे थे कि आज 16-7-2018 को सवा चार बजे बूंदें गिरने लगी।

कितने समय तक गिरेंगी और कितनी गिरेंगी? 

यह ब्लॉग खोजें