सोमवार, 29 अप्रैल 2019

मतदान दिवस! मोदी प्रकाट्य दिवस!! कविता-करणीदानसिंह राजपूत.


मुझे लग रहा है।
जब जब अवतार हुए
उस समय प्रकृति बदली
वातावरण बदला,
लोगों ने माना कि
कुछ अलौकिक होने वाला है।
हुआ था ऐसा ही,
लोगों की सोच
सच्च सिद्ध हुई।
धरा पर महान आत्माएं प्रगट हुई,
जिन्हें लोगों ने अवतार माना।
अब फिर यह बदलाव का नजारा
और बदलाव का वातावरण
कुछ न कुछ होने वाला है।
कोई विशिष्ट प्रगट होने वाला है।
मैं ही नहीं लोगों से भरे
नगर डगर मान रहे हैं
देश ही नहीं विश्व में भी
यह हलचल समझी जा रही है,
भारत में मोदी शक्ति का विस्तार
अब किसी के रोके रुकने वाला नहीं है,
मोदी अवतार नहीं,
मोदी तो आदर्श पुरुष है।
मतदान दिवस
लोगों को नजर आए मोदी दिवस,
मतदान दिवस जब हर नगर डगर में
बन जाए मोदी दिवस,
जब अधि संख्य विचार में गूँज उठे
मोदी ही मोदी,
आगे मोदी पीछे मोदी,
बीच में मोदी और दूर दूर तक मोदी।
बस यही है मोदी प्रकट्य दिवस।
मोदी अवतार नहीं है
आदर्श पुरुष है।


-- 



करणीदानसिंह राजपूत,
स्वतंत्र पत्रकार,
सूरतगढ़
94143 81356.
*********





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें