Tuesday, November 21, 2017

दुष्कर्म मुकदमें में फरार सेवा निवृत्त आइएएस बीबी मोहंती ने सरेंडर किया


राजस्थान केे चर्चित दुष्कर्म मामले में कई सालों से फरार चल रहे रिटायर्ड आईएएस बीबी मोहंती ने आखिरकार पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया। मोहंती ने जयपुर के महेश नगर थाने में सरेंडर किया है। वरिष्ठ पुलिस अफसरों ने मोहंती के सरेंडर करने की पुष्टि की है। जानकारी के मुताबिक़ मोहंती का मेडिकल कराया जाएगा जिसके बाद उसे कोर्ट में पेश करने की कार्रवाई की जायेगी।

गौरतलब है कि साल 2014 में जयपुर में एक महिला ने मोहंती पर दुष्कर्म का संगीन आरोप लगाया था। एफआईआर के मुताबिक, अधिकारी ने आईएएस की परीक्षा में मदद का भरोसा देकर महिला के साथ दुष्कर्म किया था। आरोप लगने के बाद सरकार ने मोहंती को निलंबित कर दिया था। उसके बाद से वे फरार चल रहे थे।

जिस समय मोहंती पर ये आरोप लगे तब वे राजस्थान सरकार में सिविल सर्विस appellate tribunal के अध्यक्ष थे। पीड़ित का आरोप था कि मोहंती उसे एक फ्लैट में ले जाते थे और उसका शोषण करते थे। आरोप लगने के समय इस मामले में आरोपी बीबी मोहंती की तरफ से न तो कोई बयान आया और न ही पुलिस उनसे कोई संपर्क कर पाई। इस मामले की जांच एडिशनल डीसीपी लेवल के अधिकारी को सौंपी गई।

निलंबित आईएएस अधिकारी बीबी मोहंती रेप के आरोप में कई सालों से फरार चल रहे हैं। जनवरी, 2014 में जयपुर के महेशनगर थाने को निलंबित आईएएस अधिकारी बीबी मोहंती के खिलाफ रेप की शिकायत कोर्ट से मिली। उसमें 23 वर्षीय एक युवती ने मोहंती पर फरवरी 2013 में विभिन्न जगहों पर रेप करने का आरोप लगाया था।

उसने कहा था कि मोहंती ने उसे स्वेज फार्म में बुलाया था और उसने 17 और 19 फरवरी 2013 को उसके साथ रेप किया। उत्तर प्रदेश की रहने वाली युवती जयपुर के महेश नगर में रहकर सीविल सेवा परीक्षा की तैयारी करती थी। उसका रूम आईएएस ऑफिसर्स फ्लैट के पास ही था।

युवती के अनुसार मोहंती ने खुद को एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी के तौर पर अपनी पहचान बताई थी। मोहंती ने 11 महीने में न केवल उससे रेप किया था बल्कि सिविल सेवा की परीक्षा की तैयारी में मदद करने के नाम पर उसका लगातार शोषण किया था।


No comments:

Post a Comment

Search This Blog