Saturday, September 30, 2017

राजस्थान के सार्वजनिक निर्माण मंत्री युनूस खान पर पथरबाजी:कार क्षतिग्रस्त:

 पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को हिरासत में लिया है। नागौर के पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने बताया कि शुक्रवार  29 सितंबर को रात में युनूस खान  नागौर जिले के छोटी खांटू स्थित देवी माता के मंदिर सडक़ का लोकार्पण करने जा रहे थे तभी ग्रामीणों ने पहाड़ी से उनकी कार पर हमला कर दिया। इस हमले में उनकी कार के शीशे टूट गए।

पुलिस ने मौके की नजाकता को देखते हुए मंत्री को तत्काल सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया और पथराव पर नियंत्रण किया। बाद में मंत्री सडक़ के लोकार्पण पर पहुंचे और कहा कि वह ऐसे हमले से नहीं डरते। पुलिस के अनुसार कुछ लोग पूर्व नियोजित तरीके से रात को वहां पहुंचे थे। पहले तो लोगों ने मंत्री को ज्ञापन देने के बहाने रोका और इसी बीच पहाड़ी पर स्थित कुछ लोगों ने मंत्री की कार पर पथराव करना शुरू कर दिया। देशमुख ने बताया कि प्रांरभिक जांच के अनुसार घटना स्थानीय राजनीति और कार्यक्रम के आयोजकों और ग्रामीणों के बीच कथित विवाद को लेकर हुई है।

उन्होंने बताया कि हमले के बाद कार्यक्रम के आयोजक ओम सिंह तंवर ने पुलिस को कुछ लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने इसके आधार पर सात लोगों को हिरासत में लिया जिनमें से तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है तथा शेष से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि घटना के बाद क्षेत्र में स्थिति शांतिपूर्ण बनी हुयी है और एहतियात के तौर पर पुलिस तैनात की गई है। क्षेत्र में की गयी विडियोग्राफी के आधार पर घटना के जिम्मेदार लोगों की पहचान कर तलाश की जा रही है।

किसी भी राज्य की कानून व्यवस्था का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वहां के ताकतवार नेताओं पर ही आसानी से हमला कर कोई फरार हो जाता है। ऐसा ही इन दिनों राजस्थान में देखने को मिल रहा है। जब राज्य सरकार के सबसे ताकतवार मंत्री माने जाने वाले यूनुस खान पर बीती रात उन्ही के गृह जिले में कुछ लोगों ने हमला कर दिया।दरअसल पीडब्ल्यू मंत्री यूनुस खान रात करीब 11 बजे चामुण्डा देवी मंदिर में एक सडक निर्माण के लोकार्पण कार्यक्रम में हिस्सा लेने गए थे। इस दौरान जिले के छोटी खाटू क्षेत्र में उनकी कार पर अचानक कुछ लोगों ने पत्थर फेंकने प्रारंभ कर दिए। इस कार के शीशे टूट गए और कार अनियंत्रित हो गई। हालांकि मंत्री खान को चोट नहीं आयी है लेकिन घटना काफी गंभीर बताई जा रही है। अचानक हुए पथराव से मंत्री के काफिले में अफरा-तफरी मच गई। घटना की जानकारी मिलते ही ना​गौर एसपी पारिस देशमुख सहित बड़े पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। घटना के बारे में मंत्री यूनुस खान ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाए है।वहीं पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ प्रारंभ कर दी है। गौरतलब है कि मंत्री युनूस खान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के सबसे करीबी मंत्रियों में सम्म​लित है। 


No comments:

Post a Comment

Search This Blog