मंगलवार, 10 जनवरी 2017

ख्यालीवाला नशा मुक्ति कार्यशाला एवं निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर

 
श्रीगंगानगर, 10 जनवरी। जिला  पुलिस अधीक्षक श्री राहूल कोटोकी के निर्देशानुसार पुलिस थाना गजसिहपुर की ओर से पाकिस्तानी बोर्डर पर स्थित ख्यालीवाला गांव के अटल सेवा केन्द्र मे नशा मुक्ति जनजाग्ति कार्यशाला एवं निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में विधार्थियो ,शिक्षकों और नशा छोडने के इच्छूक अनेको लोगो ने कार्यशाला में भाग लिया ।
             कार्याशाला में मुख्य अतिथि के रूप मे पुलिस उप अधीक्षक श्रीकरणपुर श्री सुनील के पवांर ने सम्बोन्धित करते हुए कहा कि नशा 
अर्न्तराष्ट्रीय समस्या बन चुका है श्री गंगानगर जिले मे गॉव-गॉव, ढाणी-ढाणी जाकर जिला पुलिस प्रशासन नशामुक्ति कार्याशालाएं आयोजित कर रहा है। ये अभिनव प्रयोग आगामी वर्षां मे पूरे राजस्थान के लिए अपने आप में एक उदाहरण साबित होगा। इन कार्यशालाओ के आयोजन से हम पूरे जिले मे नशा मुक्ति का वातावरण निर्माण करना चाहते है। अच्छे लोगो का इस नेक कार्य में व्यापक सहयोग मिलता है। 
            कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि ख्यालीवाला बीऔपी के एसी. कमाण्डेट श्रीनवीन दहीया ने इस अवसर पर बच्चो को नशे की बुराइयो के सम्बन्ध मे बताते हूए कहा कि समाज मे जो लोग नशे को बढावा दे रहे है, वे रावण वंश के है
        नशा मुक्ति के मुख्य वक्ता नशा मुक्ति विशेषज्ञ डा रविकान्त गोयल ने इस अवसर पर नशा के सम्बध मे विभिन्न विज्ञानीक जानकारियां उपल्बध करवाते हुऐ कहां कि कुछ कलाकार गीतकार , लेखक बेहतर सृतनशीलता की सोच के साथ नशे मे अपना जीवन बरबाद कर देते हे परन्तु वास्तविकता सामने आने पर वे बेहद पश्चाताप को भोगते है, यदि उन्हे पता होता कि वे बीना नशा लिये बेहतर गा सकते है, लिख सकते है, तो वे इस नशा का गुलाम बन कर अपनी जिन्दगी तबाह नही करते । हर आदमी इस सोच के साथ प्रारंभ करता है कि जब चाहुगा, उसे छोड दूंगा , परन्तु एक बार नशा की लत मे पड़ जाने के बाद उससे निकलना काफि मुश्किल हो जाता है। द्वड इच्छा शक्ति से नशा छोडा जा सकता है। डॉ रविकान्त गोयल ने इस अवसर पर उपस्थिज जन समुह को जीवन भर नशा नही करने एंवम नशा पिडितो नशा छुडवाने की शपथ दिलवाई ।
               इस अवसर पर थान्देवाला गा्रम संरपच सुखमन्दरसिह ने पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नशा मुक्ति अभियान को वर्तमान मे बढते नशे  ओैर अपराध से समाज को निजात दिलाने की दशा मे एक प्रशसनीय प्रयास बताया और अभियान मे समर्पित भाव से कार्य कर रहे डॉ.गोयल की कार्यशेली को दूसरो के लिये प्रेरणादायक बताया ।
          कार्यक्रम के सयोजक थानाधिकारी श्याम सुदंर गजसिहपुर ने इस अवसर पर ख्यालीवाला क्षेत्र के लोगो से अपील की कि वे नशा मुक्ति अभियान मे पुलिस के सहयोगी बने ओर जिले को नशा मुक्त बनाने मे अपना महत्वपुर्ण योगदान द। इस अवसर पर सरपचं ख्यालीवाला श्रीमती बलजीतकौर एंवम अन्य गणमान्य नागरीक भी उपस्थित रहे। इसके उपरान्त शिविर मे उपस्थित नशा पिडित व्यक्तियो की जांच डा गोयल ने की तथा उचित परार्मश दिया। 

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें