मंगलवार, 27 सितंबर 2016

राजस्थान के मंत्री वसुंधरा राजे के ठप्पा मंत्री-घनश्याम तिवाड़ी के आरोप:


वसुंधरा राजे के साथ भाजपा की मुश्किलें बढ़ेंगी- 

वसुंधरा राजे के खिलाफ विजयदशमी से घनश्याम तिवाड़ी का प्रदेशव्यापी लोक सम्पर्क अभियान:

करणीदानसिंह राजपूत -
 राजस्थान की मुख्यमंत्री की कार्यप्रणाली से नाराज वरिष्ठ भाजपा नेता घनयाम तिवाड़ी ने जनता का काम नहीं होने का आरोप लगाजे हुए वसुंधरा राज के मंत्रियों के लिए कहा कि वे ठप्पा मंत्री बन कर रह गए हैं।
भाजपा के विधायक पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी विजयदशमी से मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ प्रदेशव्यापी लोक सम्पर्क अभियान शुरू करेंगे। इसके तहत पहले चरण में जयपुर जिला और इसके बाद राजस्थान के हर विधानसभा क्षेत्र के दस-दस गांवों का दौरा कर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ अभियान चलाएंगे।



रविवार 25 सितम्बर 2016 को जयपुर में आयोजित दीनदयाल वाहिनी के प्रदेश स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में तिवाड़ी ने यह घोषणा की।
मीडिया जगत में बार बार आ रहा था कि दीनदयाल उपाध्याय के जन्म शताब्दी वर्ष के समापन पर 25 सितम्बर 2016 पर जयंती मनाने के साथ ही  तिवाड़ी अलग पार्टी बनाने की घोषणा कर देंगे, लेकिन उन्होंने श्राद्ध पक्ष की बात कह कर फिलहाल इसे रोक दिया।

हालांकि दीनदयाल वाहिनी के अग्रिम संगठन के रूप में किसान वाहिनी और विचार वाहिनी के गठन की घोषणा उन्होंने कर दी।
इसके साथ ही यह भी कहा कि प्रदेशभर में 25 हजार बूथस्तरीय समितियां बनने के बाद वे अलग पार्टी की औपचारिक घोषणा कर सकते है। तब तक वे पूरे प्रदेश में दौरे करेंगे और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की कार्यप्रणाली के बारे में लोगों को बताएंगे।

सम्मेलन में उन्होंने राजे पर जम कर कटाक्ष किए और कहा कि मौजूदा सरकार की कार्यप्रणाली के कारण पार्टी से जुडे संगठन और कार्यकर्ताओं का विश्वास पार्टी से खत्म होता जा रहा है। पार्टी से जुड़े संगठन ही सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे है।

उन्होंने कहा कि दीनदयाल वाहिनी का गठन पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र की स्थापना और कार्यकर्ता को सम्मान दिलाने के लिए किया गया है। उन्होंने राजमहल पैलेस प्रकरण सहित विभिन्न मामलों पर सरकार को घेरा और कहा कि सरकार के राज करने का तरीका सहीं नहीं है।
कैबिनेट के ऊपर सलाहकारों की सुपर कैबिनेट बना दी गई है और इसमें शामिल लोग भी राजस्थान के नहीं हैं। मौजूदा मंत्रिमंडल सिर्फ ठप्पा लगाने का काम करता है। पार्टी का संगठन भी सरकार के अधीन और पार्टी एकाधीन हो गई है और अब ये सब बातें गांव-गांव में जाकर लोगों को बताएंगे।
:::::::::::

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें