Sunday, March 26, 2017

सीमांत रक्षक अखबार के मालिक के विरूद्ध रजनीमोदी का अदालत में इस्तगासा:




संपादक सत्यपाल मेघवाल,उनकी धर्मपत्नी मीनाक्षी व बेटे योगेश को प्रतिपक्षी बनाया गया था।



सूरतगढ़ 24 अगस्त 2016. 

up date


दैनिक सीमांत रक्षक अखबार के विरूद्ध भाजपा नेता श्रीमती रजनी मोदी ने स्थानीय अदालत में इस्तगासा किया था। 

 अखबार के मालिक संपादक सत्यपाल मेघवाल,उनकी धर्मपत्नी मीनाक्षी व बेटे योगेश को प्रतिपक्षी बनाया गया था।  । इस्तगासे में अखबार का लाखों रूपए का आय व्यय ब्यौरा व कागजात फर्जी तैयार किए जाने का आरोप है। रजनी मोदी की पूर्व में की गई शिकायतों में आरोप था कि लाखों रूपए का अखबार का टर्न ओवर होते हुए भी बीपीएल कार्ड बनवा कर गरीबों को मिलने वाला राशन लेता रहा।
इस्तगासा 23 अगस्त को पेश किया गया है। रजनी मोदी ने पहले विभागों में शिकायतें की व सीएम सूरतगढ़ आई तब उनको शिकायत दी।

रजनी मोदी के इस्तगासे पर सूरतगढ़ सिटी पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा में दिनांक 1-9-2016 को मुकदमा नंबर 437 दर्ज हुआ यह धाराएं थी 386 466 468 469 471 420 और 120 बी में दर्ज हुआ था। रजनी मोदी और अखबार मालिक के बीच समझौता हो गया ऐसी चर्चा है। 

मोदी ने जो आरोप लगाया उसमें सरकार को आर्थिक नुकसान पहुंचाने का आरोप भी था। क्या इस बिंदु पर रजनी मोदी समझौता कर सकती है? 

 रजनी मोदी की शिकायत पर सरकारी विज्ञापनों की मंजूरी अखबार को नहीं मिली और वह फाइल जयपुर में अभी भी अटकी हुई पड़ी है। देखते हैं आगे क्या होता है? उस फाइल का निस्तारण कब तक होता है? समाचार पत्रों की फाइलों का निस्तारण निदेशालय में और मंत्रालय में तीव्र गति से होना चाहिए। अगर किसी की शिकायत है तो उन बिंदुओं पर जांच तुरंत की जानी चाहिए। सरकार एक तरफ त्वरित गति से कार्य करने का निर्देश देती है लेकिन सरकार के पास ही फाइल महीनों तक अटकी रहे। इसे नीति और निर्देश के पक्ष में नहीं माना जा सकता।



24-8-2016.
up date 26-3-2017.





No comments:

Post a Comment

Search This Blog