शुक्रवार, 11 मार्च 2016

इंदिरागांधी नहर: कानौर हैड पर आँदोलनकारियों पर पुलिस लाठी चार्ज:


सूरतगढ़ 11 मार्च 2016.
इंदिरागांधी नहर के कानौर हेड पर से आंदोलनकारियों को खदेडऩे के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया जिसमें कुछ लोगों के चोटें आने की सूचना है। सूरतगढ़ के राजकीय चिकित्सालय में भी घायल भर्ती है। एक बसपा नेता के अनुसार गंभीर घायल गंगानगर भेजे गए हैं। पुलिस की लाठी चार्ज के बाद आँदोलनकारियों को भाग कर अपने को बचाना पड़ा जिनमें सैंकडों की संख्या में साधारण ग्रामीण लोग ही थे। आसपास के खेतों में बनी ढाणियों में भी लोग छुप गए।
इंदिरागांधी नहर की बुर्जी नं 165 पर यह हैड है जहां पर ऐटा सिंगरासर माइनर की मांग करने वाले लोगों का 3 मार्च से बेमियादी धरना शुरू था। आंदोलनकारियों की संघर्ष समिति के संयोजक राकेश बिश्रोई की अगुवाई में यह धरना था और तीन चार दिनों से विभिन्न राजनैतिक दलों के नेता जिनमें पूर्व विधायक आदि भी थे ने यहां पर भाषण भी दिए।
संयोजक व नेताओं का आरोप था कि भाजपा की सरकार ने बजट में इस माइनर के लिए कुछ भी घोषणा नहीं की। इस आक्रोश में 11 मार्च को महापड़ाव व कानौर हैड पर कब्जे का ऐलान किया हुआ था।
इस ऐलान के कारण प्रशासन ने वहां पर भारी पुलिस बंदोबस्त कर दिया था तथा कार्यपालक मजिस्ट्रेट भी लगा दिए थे। भारी पुलिस बंदोबस्त में भी आंदोलनकारी हैड पर पहुंच गए।
अभी पूरी सूचनाएं नहीं है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें