बुधवार, 23 जून 2021

रात को घर में रहें,कोरोना से बचें,कुत्तों से बचें। * करणीदानसिंह राजपूत *

 



रात को अपने घरों में रहिए ताकि कोरोना से और कुत्तों के काटने से बच सकें। यह सच्च है कि श्रीगंगानगर  जिले में कुत्तों से काटने की घटनाएं बहुत हो रही है। 

जिला कलेक्टर जाकिर हुसैन की अध्यक्षता में आज 23 जून 2021 को विभिन्न विभागों के कार्य की साप्ताहिक समीक्षा में यह चिंता जनक तथ्य सामने आया। जिले में कुत्तों के काटने की घटनाओं की संख्या बताई गई। सीएमएचओ डाॅ. गिरधारी लाल ने बताया कि सप्ताह में 306 कुत्तों के काटने के रोगी आये।यह संख्या कम नहीं मानी जा सकती। हर रोज करीब 43 से 44 घटनाएं हुई।

अक्सर कुत्तों के काटने की घटनाएं रात को अधिक होती है। रात का वक्त इंसानों के सोने का और कुत्तों के जागने का होता है। रात को तो एक ही कुत्ता पार नहीं पड़ने देता और  कुत्ते पीछे पड़ जाएं तो फिर बचना मुश्किल। रात को लोग घरों में और कूलर का शोर इतना अधिक होता है कि कोई चिल्लाए तो वह सुनाई नहीं पड़ता। कोई बचाने को आ भी जाए तब तक कुत्ता काट लेता है। 

इसलिए रात को अब कोरोना का कर्फ्यू लगा है और आवागमन नहीं है तो फिर घर में रहना ही सुरक्षित है। शासन प्रशासन की सलाह मानिए।

रात को घर में रहें,कोरोना से बचें,कुत्तों से बचें।

०0०








कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें