बुधवार, 11 अप्रैल 2018

गैंगरेप आरोपी विधायक फरार: पीड़िता के पिता की पिटाई से मौत:शरीर पर 15 चोटें

० यूपी में भाजपा सरकार का यह कैसा राज? ०

बांगरमऊ के बीजेपी विधायक और उनके साथियों पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के पिता की बहुत बेरहमी से पिटाई हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इसका खुलासा हुआ है।

जनसत्ता ऑनलाइननई दिल्ली | April 11, 2018

बांगरमऊ के बीजेपी विधायक और उनके साथियों पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के पिता की बहुत बेरहमी से पिटाई हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इसका खुलासा हुआ है। चिकित्सकों की ओर से तैयार रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता के पिता के शरीर के 15 स्थानों पर गंभीर चोट पहुंची। पिटाई से आंत भी क्षतिग्रस्त हो गई। आंख से लेकर हाथ, पैर और पेट पर कई स्थानों पर गंभीर चोट आई थी। मौत की वजह पिटाई से सदमा पहुंचने और सेप्टिसीमिया यानी शरीर में जहर फैलने की बात कही गई है। बता दें कि जब कोई इंफेक्शन पूरे शरीर में फैल जाता है तो इसे सेप्टिसीमिया कहते हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि पिटाई छह से सात दिन पहले हुई थी। उधर पोस्टमार्टम होने के बाद मंगलवार(दस अप्रैल) को सुबह पुलिस फोर्स की मौजूदगी में शुक्लागंज घाट पर दुष्कर्म पीड़िता के पिता का अंतिम संस्कार हुआ।

पहले जहां पीड़ित परिवार की पुलिस सुनवाई नहीं कर रही थीं, वहीं पिता की संदिग्ध मौत के बाद अफसर दबाव में आ गए। अब शासन-प्रशासन स्तर से ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हुई है। थानाध्यक्ष सहित चार पुलिसोकर्मियों को जहां निलंबित कर दिया गया, वहीं पिटाई के आरोपी विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शासन ने एसआईटी को घटना की जांच सौंपी है। उधर विधायक की तलाश में भी पुलिस जुटी है। मगर वे उन्नाव और लखनऊ दोनों ठिकानों पर नहीं मिले।  बता दें कि उन्नाव की महिला ने बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर गैंगरेप का आरोप लगाया था। कहा था कि पिछले साल जून में हुई घटना के बाद से पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।

जिसके बाद पीड़िता ने सोमवार(आठ अप्रैल) को मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी। उधर पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया था कि केस वापस न लिए जाने पर विधायक के भाई ने उनकी पिटाई की और जेल भी भिजवा दिया। जेल में हालत खराब होने पर बलात्कार पीड़िता के पिता को उन्नाव जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

( भाजपा का नारा है बेटी बचाओ बेटी पढाओ।)





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें