शनिवार, 9 दिसंबर 2017

सूरतगढ़ गौरव पथ नवनिर्मित नाला बेकार हुआ


- करणी दान सिंह राजपूत -

सूरतगढ़। राठी स्कूल से लेकर इंदिरा सर्कल तक बनने वाले गौरव पथ का पूर्वी साइड का नाला अभी आधी दूरी तक ही बना था लेकिन वह घटियापन का नमूना बनकर रह गया।

 नाले के पलस्तर की मोटाई अत्यधिक कम है। यह नाला निर्माण के कुछ दिनों बाद ही क्षार से खुर्द बुर्द होने लगा है। इसका यह चित्र यहां दिया जा रहा है। अनेक दुकानदारों ने इसे देखा होगा मगर इस घटिया निर्माण की परवाह किसी को भी नहीं। आखिर यह क्षार  कैसे हुआ? इंटें घटिया और पस्तर के पानी का घटियापन जिससे यह हालत हुई है। अधिकारियों में कोई अभियंता मौके पर उपस्थित नहीं रहा और सही निर्माण नहीं करवाया। 

राजनैतिक दलों के नेता सामाजिक नेता फेसबुक और व्हाट्स अप पर ही 

 जबानी जमा खर्च करते रहे।

 कोई भी नेता मौके पर नाले को देखने नहीं गया।यह नाला बनने के तुरंत बाद इस हालत में पहुंच गया जो आगे भविष्य में चलने वाला नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें