Saturday, June 10, 2017

गांधी को बनिया बताने वाली भाजपा खुद गांधी को क्यों ढोने में लगी है

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। शाह शुक्रवार 9 जून को छत्तीसगढ़ में  लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी सिद्धान्तों पर काम करने वाली पार्टी थी ही नहीं, बल्कि वह एक स्पेशल गाड़ी के समान है, जिसे आजादी के लिए इस्तेमाल किया गया था।

इसके साथ ही अमित शाह नेमहात्मा गांधी को एक चतुर बनिया बताया।
उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी को कांग्रेस के निराशाजनक भविष्य के बारे में पता था। साथ ही शाह ने देश विरोधी नारे लगाने वालोें​ पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जो देशद्रोही नारे लगाएगा, वो देशद्रोही ही कहलाएगा।

वहीं काग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस किसी एक विचारधारा के आराध पर या किसी सिद्धान्त के आधार पर बनी हुई पार्टी नहीं है। कांग्रेस का गठन आजादी प्राप्त करने के लिए हुआ था। जिसमें सभी विचारधारा के लोग शामिल थे। महात्मा गांधी एक चतुर बनिया थे, उन्हें पता था कि कांग्रेस का आगे क्या होने वाला है। इसलिए उन्होंने कहा था कि काग्रेस को बिखेर देना चाहिए। उन्होंने ये इसलिए कहा था क्योंकि देश चलाने के लिए एक विचारधारा की आवश्यकता होती है और कांग्रेस की तो कोई विचारधारा थी ही नहीं।
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जब यह कहते हैं कि महात्मा गांधी चतुर बनिया थे तब यह सवाल उठता है कि इस चतुर बनिए का नाम सिद्धांत और फोटो भारतीय जनता पार्टी क्यों ढोने में लगी हुई है?
भाजपा का महात्मा गांधी का नाम फोटो सिद्धांत आदि उपयोग में लेने के पीछे क्या कारण है?
गांधी का नाम फोटो सिद्धांत अपनाए बिना भाजपा भी राज में आ नहीं सकती थी और राज कर नहीं सकती थी। गांधीजी के नाम पर बड़ी-बड़ी गलतियां छुपाई गई और अब भी छुपाई जा रही हैैं​।

 गांधी के नाम को अपनाते हैं और गोलियां भी चलाते हैं।
 गांधी ने तो किसानों को घरेलू उद्योग धंधों को कुटीर उद्योगों को खुशहाल देखने का सपना संजोया था लेकिन आज सभी पीड़ित हैं।
भाजपा केंद्र सरकार के 3 साल पूरे होने के बावजूद हर समस्या पर बयान देती है कि कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में सुधार नहीं किया विकास नहीं किया कांग्रेस को कोसने में ही 3 साल बिता दिए और आगे के 2 साल भी बिता देंगे। सवाल यह है कि कांग्रेस ने नहीं किया गलतियां की या अपराध किया तभी तो कुछ करने के लिए भारत को बदलने के लिए भाजपा को सत्ता सौंपी थी।
भाजपा सत्ता में आने के बाद अब केवल कांग्रेस को कोसने  में ही समय व्यतीत कर रही है। जनता आगे भाजपा​  को  क्यों चुनेगी?

No comments:

Post a Comment

Search This Blog