Tuesday, March 28, 2017

मलकाना कलां में नशा मुक्ति शिविर आयोजित हुआ:



श्रीगंगानगर, 28 मार्च। जिला पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कोटोकी के निर्देशानुसार पुलिस थाना केसरीसिंहपुर द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मलकाना कलां में नशा मुक्ति जन जागृति कार्यशाला एंव निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में राजकीय उ0मा0वि0 मलकाना कलां के विद्यार्थियों सहित भारी संख्या में ग्रामीणों ने भाग लिया ।


       कार्यशाला के मुख्य वक्ता नशा मुक्ति विशेषज्ञ डॉ.रविकान्त गोयल ने इस अवसर पर कहा कि नशे में खुशियां तलाशना अपने विनाश को आह्वान देना है। जीवन  में  बढ्ते  तनाव निराशाओं और भौतिक संसाधन जुटाने की अंधी दौड में असफल  रहने  पर  जो लोग नशे में अपनी खुशियां तलाशते है वे धीरे-धीरे अपने और अपने परिवार के जीवन को बर्बादी के रास्ते पर ला के खडा कर देते हैं। नशा किसी भी समस्या का हल नहीं है। जो लोग किसी भी कारणवश नशे की चपेट में आ चुके हैं वे अपने परिवार और समाज के लोगों की सलाह पर नशा छोडे़। दृढ संकल्प से बिना कोई नुकसान उठाए नशा छोडा जा सकता है ।


       सामाजिक कार्यकर्ता श्री बलवन्त सिंह ने विशिष्ठ अतिथि के रूप में सबोंधित करते हुए कहा कि जो लोग समय बिताने के लिए गलत संगति में पड कर नशा करते है। वे सामाजिक कार्यां में जुटकर अपना कीमती समय समाज के विकास में लगाए ताकि एक स्वच्छ नशा मुक्त भारत का निर्माण किया जा सके ।


       कार्यक्रम को संबोधित करते हुए थानाधिकारी श्री जीतराम ने कहा की बच्चों को शिक्षित कर नशा मुक्ति का वातावरण निर्माण करने में बडी मदद मिलेगी।  


       डायरेक्टर प्रतिनिधि श्री अमृतपाल सिंह बराड ने भी इस विषय पर अपने विचार रखते हुए कहा कि नशे को समाप्त कर युवा पीढी को राष्ट निर्माण में जोडा जा सकता है ।


        कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए श्री मती रेखा गोयल ने कहा कि आम लोग नशा बेचने वाले लोगों की सूचना पहुंचाए ताकि समाज में जहर फैला रहे लोगों पर प्रभावी कार्यवाही की जा सके। जो लोग किसी भी कारण नशे की चपेट में आ गये हैं वे जिला पुलिस प्रशासन द्वारा संचालित राजकीय नशा मुक्ति परामर्श एंव उपचचार केन्द्र की सेवांए लेकर नशा छोडें ।


        उक्त कार्यक्रम में शाला के, श्री बलजिन्द्र सिंह, श्री सुनील कुमार, श्री तरूण गुप्ता, श्री जगमेल सिंह, श्री गौरव काठपाल, श्री गुरकमल सिंह, श्रीमती सरोज सहित गांव के गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया। कार्यक्रम के अन्त में डॉ. रविकान्त गोयल ने भविष्य में नशा नहीं करने की शपथ दिलाई ।





No comments:

Post a Comment

Search This Blog