शुक्रवार, 26 अगस्त 2016

वसुन्धरा हॉस्पीटल में ‘एक दिन बेटियों के नाम समारोह

 
‘रंग भरो, चित्रकला एवं फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिताएं
सूरतगढ 25 अगस्त 2016.
महावीर इन्टरनेशनल, सूरतगढ़ व वसुन्धरा हॉस्पीटल के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 25 अगस्त, 2016 को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर ‘एक दिन बेटियों के नाम’ का आयोजन वसुन्धरा हॉस्पीटल परिसर में किया गया।

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती काजल छाबड़ा थी तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में पुलिस उप-अधीक्षक श्री मोहम्मद अयूब खान उपस्थित थे। अन्य अतिथियों के रूप में डॉ. राजेन्द्र छाबड़ा, डॉ. अक्षय भंसाली, डॉ. सेतु छाबड़ा, हरिमोहन सारस्वत व श्रीमती आशा शर्मा उपस्थित थी। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के उप महानिरीक्षक श्री गिरीश चावला व ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज अग्रवाल ने भी कार्यक्रम का अवलोकन किया। 

इस अवसर पर बच्चों की सीनियर व जुनियर ग्रुप में ‘रंग भरो, चित्रकला एवं फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। जिनमें विभिन्न विद्यालयों की 70 छात्राएं शामिल हुईं।
रंग भरो, चित्रकला प्रतियोगिता में जुनियर ग्रुप में हिमांशी रतन ने प्रथम, इलिजा बंसल ने द्वितीय व युवाक्षी महाजन ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सीनियर ग्रुप में कोमल प्रथम, दिक्षा पंवार द्वितीय व मानसी मीणा तृतीय स्थान पर रही। 


फैन्सी ड्रेस प्रतियोगिता में पावनी चुघ एवं स्तुति संयुक्त रूप से प्रथम, काव्या द्वितीय व राधिका तृतीय स्थान पर रही। सभी विजेताओं को अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया।
निर्णायक मण्डल में व्याख्याता श्रीमती शशि सांखला, श्रीमती सीमा बवेजा, डॉ. अर्चना भंसाली व डॉ. अनुविन्द बेनीवाल शामिल थे। इस अवसर पर 25 अगस्त को जन्म लेने वाली 6 कन्याओं का जन्मदिन भी केक काटकर मनाया गया।


वसुन्धरा हॉस्पीटल की ओर से हॉस्पीटल में जन्म लेने वाली कन्याओं को ‘बेटियाँ’ शीर्षक से स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। अतिथियों ने अपने उद्बोधन में इस कार्यक्रम की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए आयोजकों को धन्यवाद दिया। अतिथियों ने कहा कि बेटियों ने ही इस ओलम्पिक में भारत की लाज रखी है। श्रीमती काजल छाबड़ा ने कहा कि जहां लड़का एक परिवार को संभालता है, वहीं बेटी दो परिवारों का ध्यान रखती है।

डॉ. इन्द्र चुघ ने सभी का स्वागत करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि आज लड़कियां किसी भी क्षेत्र कमतर नहीं हैं। वो कन्धे से कन्धा मिलाकर आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने विश्वास दिलाया कि सूरतगढ़ शहर का सौभाग्य है कि यहां प्रसव पूर्व लिंग की जांच नहीं की जाती है। इस आयोजन में सिप्ला, वोकार्ड, ग्लेनमार्क, रेनबेक्सी व ज्वांटिस कम्पनियों सहित संजय बैद, नीरज डांग, सुरेश सिडाना, अमन रांका, लालचन्द वर्मा, राजेश वर्मा, अशोक धमीजा, श्रीमती प्रीति चुघ, श्रीमती सपना अग्रवाल, अजीतसिंह चौहान, अलका धमीजा सहित हॉस्पीटल स्टाफ का सहयोग रहा।
डॉ. नरेश चुघ ने सभी सहयोगियों, अभिभावकों व शाला प्रधानों का आभार व्यक्त किया एवं सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनायें दी। मंच संचालन संजय बैद ने किया। हॉस्पीटल में इस दिन आने वाले प्रत्येक बच्चों को आकर्षक उपहार प्रदान किये गये। सभी अतिथियों को हॉस्पीटल परिवार द्वारा सम्मानित किया गया।











कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें