शनिवार, 23 अप्रैल 2016

महिलाओं को महापङाव में पहुंचने का न्योता ~पीले चावल~ताजा खबर:


महापङाव में  हेतराम बेनीवाल व  गंगाजल मील आदि नेता भाग लेंगे
सूरतगढ़ 23 अप्रेल:
ऐटा सींगरासर माइनर के निर्माण की मांग को लेकर टिब्बा क्षेत्र संघर्ष समिति द्वारा कल थर्मल पावर प्लांट पर अनिश्चितकालीन महापङाव की तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया महापङाव को कामयाब बनाने के लिए आज महिलाओं की टीम ने सोमासर, कालुसर, ठुकराना, गोसाईसर में पीले चावल बांटकर महिलाओं को महापङाव में पहुंचने का न्योता दिया।टिब्बा क्षेत्र संघर्ष समिति के संयोजक राकेश बिश्नोई ने कहा कि महापङाव को लेकर क्षेत्र के किसानों में जबरदस्त उत्साह है। बिश्नोई ने आरोप लगाया कि एक तरफ सरकार दुसरे चरण में लगातार जमीनों को कमाण्ड कर रही है वहीं प्रथम चरण के इन गांवों में जो मुड में स्थित है उनको पानी देने में आनाकानी कर रहे है जब तक 54 गांवों को पानी नहीं दिया जाता तब तक किसान संघर्ष बंद नहीं करेंगे। माकपा के जिला सचिव श्योपत मेघवाल ने कहा कि कल हजारों की संख्या में किसान, युवा, महिलाएं ठुकराना के रास्ते थर्मल के 1 नम्बर गेट पर महापङाव डालने के लिए कुच करेंगे। महापङाव में पूर्व विधायक हेतराम बेनीवाल व पूर्व विधायक गंगाजल मील, किसान नेता बलवान पूनिया आदि नेता भाग लेंगे। आज संघर्ष समिति संयोजक राकेश बिश्नोई, माकपा जिला सचिव श्योपत मेघवाल, घङसाना कृषि उपज मंडी के चैयरमेन सत्यप्रकाश सिहाग, शिवसेना प्रमुख औम राजपुरोहित,जिला परिषद् सदस्य गौरीशंकर थोरी,नोहर कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष सोहन ढील, भगवाना राम सहारण,किसान सभा जिला सचिव रविंद्र तरखान, जसराज बुगालिया, जिला परिषद् सदस्य मंगेज चौधरी,श्रमिक नेता लियाकत अली आदि ने गांव ऐटा, फरीदसर, 4 चक, राइयावाली, हरदासवाली, सांवलसर आदि गांवों में जनसम्पर्क किया। घङसाना क्रषि उपज मंडी के चैयरमेन सत्यप्रकाश सिहाग ने कहा कि प्रथम चरण के मरम्मत के बाद बच्चे हुए पानी पर प्रथम चरण का हक है। सरकार प्रथम चरण के बच्चे हुए पानी को दुसरे चरण में ले जाना चाहती है जिसे होने नहीं देंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें