Thursday, May 18, 2017

भ्रष्टाचार के मुकद्दमें में पूर्व पालिकाध्यक्ष इकबाल मोहम्मद, ईओ भंवरलाल सोनी,मनीराम सुथार, एडवोकेट आनन्द शर्मा आरोपी-

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की इकबाल कुरैशी पर जांच:
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पृथ्वीसिंह ने मौके पर जांच की-
बाबूसिंह खीची द्वारा दर्ज कराया गया था प्रकरण-
खास खबर- करणीदानसिंह राजपूत



सूरतगढ़, 13 दिसम्बर 2013.
अप डेट   18 मई 2017.
****************************


भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो श्रीगंगानगर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पृथ्वीसिंह ने बुचरी के पास की मंडी समिति की जगह पर नाप जोख सहित जांच की। इस मौके पर पूर्व पालिकाध्यक्ष इकबाल मोहम्मद कुरैशी व पालिका के सहायक अभियंता करमचंद अरोड़ा व अन्य स्टाफ भी था।
आरोप है कि बूचरी की जगह बता कर मंडी समिति की जगह पर इकबाल मोहम्मद कुरैशी ने प्लॉट नियमित कर पट्टे जारी कर दिए। बाबूसिंह खीची ने इसकी शिकायत ब्यूरो को की जिस पर प्रकरण दर्ज हुआ था।
इकबाल मोहम्मद कुरैशी ने बताया कि इस ओर आबादी बसी ही नहीं थी। उससे पहले के ये अतिक्रमण थे।
--------


आरोपों में घिरे पूर्व पालिकाध्यक्ष इकबाल मोहम्मद कुरैशी, अधिशाषी अधिकारी भंवरलाल सोनी व आनन्द शर्मा

जांच भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो श्रीगंगानगर को सौंपी गई:

सूरतगढ़ 2 जनवरी 2012.नगरपालिका सूरतगढ़ में भ्रष्टाचार,घोटालों से कीमती व्यावसायिक भूखंड आवासीय बना कर पट्टा जारी करने के आरोप में नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष इकबाल मोहम्मद कुरैशी, उस समय के अधिशाषी अधिकारी भंवरलाल सोनी व सेवा निवृत हो चुके अधिशाषी अधिकारी मनीराम सुथार, अतिक्रमण को नियमन करने वाली कमेटी के सदस्य एडवोकेट आनन्द शर्मा, वरिष्ठ लिपिक रणजीत खुडिया जो वर्तमान में अन्य जगह स्थानान्तरित हैं, और पट्टा बनवाने वाले हामीद मोहम्मद पुत्र गुलाब मोहम्मद तथा हामीद की पत्नी प्रवीण बानो के विरूद्ध भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में मुकद्दमा दर्ज हुआ है।
यह मुकद्दमा पिछले वर्ष 2011 में 16 दिसम्बर को दर्ज हुआ है तथा इसकी जांच भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की श्रीगंगानगर चौकी को सौंपी गई है।
    यह प्रकरण भ्रष्टाचार निवारण अदालत के सेशन जज के सम्मुख सूरतगढ़ निवासी बाबूसिंह खीची ने पेश किया था। अदालत के आदेश पर पहले प्राथमिक जांच की गई और उसके बाद में नियमित मुकद्दमा दर्ज किया गया। हामिद मोहम्मद पुत्र गुलाब मोहम्मद कुरैशी तत्कालीन अध्यक्ष इकबाल मोहम्मद का भतीजा है। आरोप है कि किसी अन्य स्थान के अतिक्रमण के कागजातों को व्यावसायिक स्थान बूचरी के भूखंड पर बतला कर अध्यक्ष ने अपने भतीजे का भूखंड नियमन किया।
    इस मुकद्दमें के अलावा एक और प्रकरण भी अदालत में पेश किया गया जिसकी प्राथमिक जांच में इकबाल मोहम्मद कुरैशी,अधिशाषी अधिकारी भंवरलाल सोनी व अधिशाषी अधिकारी मनीराम सुथार, नियमन करने वाली कमेटी के सदस्य एडवोकेट आनन्द शर्मा, वरिष्ठ लिपिक रणजीत खुडिया और पट्टा बनवाने वाले शकील मोहम्मद,तथा पत्नी बानो, तथा पट्टा बनवाने वाले आसिफ मोहम्मद को नामजद किया गया है। शकील मोहम्मद गुलाब मोहम्मद कुरैशी का पुत्र है। आसिफ मोहम्मद आमीन मोहम्मद का पुत्र है। इस मुकद्दमें में भी लाभार्थी इकबाल मोहम्मद के भतीजे हैं।
विशेष रपट- करणीदानसिंह राजपूत

------------------------------------------------------------------

No comments:

Post a Comment

Search This Blog