सोमवार, 22 अप्रैल 2019

मोदी के साथ वह कौन?


** करणीदानसिंह राजपूत **


- मोदी की खास उपलब्धि?

- सबको खड़ा कर रखा है।

- गुजरात का सीएम बना तो बनता ही चला। सीएम की कुर्सी अपनी ईच्छा तक अपने पास रखी। अपनी ईच्छा से छोड़ी।

-ओह! तो अब पीएम की कुर्सी पर अपनी ईच्छा तक बैठेगा।

-समझ में आया मगर देर से।

-फिर भी कब तक बैठेगा?

-जब तक मोदी की ईच्छा।

-ऐसा कैसे हो सकता है? भगवान चाहेगा फिर कैसे रहेगा?

-वह साथ है।

*************


अमेठी सीट पर राहुल गांधी का नामांकन वैध पाया गया

22 अप्रैल 2019.

अमेठी
अमेठी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नामांकनसही पाया गया है। कुछ विपक्षी प्रत्याशियों ने राहुल पर नामांकन में गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए आपत्ति जाहिर की थी। एक निर्दलीय प्रत्याशी ने राहुल की नागरिकता और शैक्षिक योग्यता पर सवाल उठाते हुए अमेठी से उनका नामांकन रद्द करने की मांग की थी। जांच के बाद आपत्तियों को खारिज कर दिया गया है। बता दें कि अमेठी सीट से राहुल गांधी के खिलाफ बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी को उतारा है। 
अमेठी के रिटर्निंग ऑफिसर (निर्वाचन अधिकारी) ने कहा है कि राहुल के नामांकन पत्र में कोई खामी नहीं है और उनका नामांकन वैध पाया गया है। अमेठी के रिटर्निंग ऑफिसर से राहुल के खिलाफ शिकायत की गई थी। राहुल गांधी की शैक्षिक योग्यता को लेकर उठे सवाल पर वकील केसी कौशिक का कहना है, 'मुझे नहीं पता कि राउल विंची कौन है और वह कहां से आते हैं। राहुल गांधी ने 1995 में यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज से एमफिल किया था। मैंने उनके सर्टिफिकेट की एक कॉपी नामांकन के साथ सौंपी है।'
क्या है पूरा विवाद
निर्दलीय प्रत्याशी ध्रुवलाल ने जिला निर्वाचन अधिकारी से राहुल का नामांकन रद्द करने की मांग करते हुए आरोप लगाया था कि राहुल ने ब्रिटिश नागरिकता ली थी। उन्होंने ब्रिटेन में रजिस्टर्ड एक कंपनी के कागजातों के आधार पर यह दावा किया था। इसके साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष की शैक्षणिक योग्यता में त्रुटि का आरोप भी लगाया गया था। 
निर्दलीय प्रत्याशी ध्रुवलाल का कहना था कि उन्हें राहुल गांधी के निवास के बारे में कुछ जानकारियां मिली हैं कि वे भारतीय नहीं बल्कि दूसरे देश के नागरिक हैं। इस संबंध में काफी डॉक्युमेंट हैं। इसी पर उन्होंने आपत्ति जताई थी। राहुल गांधी के वकील राहुल कौशिक ने रिटर्निंग अधिकारी से जवाब देने के लिए समय मांगा था।
बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने सवाल उठाया कि राहुल किसी समय ब्रिटिश नागरिक बने थे या नहीं। राव ने कहा कि 2004 के चुनाव शपथपत्र के मुताबिक राहुल ने बैकऑफ्स लिमिटेड नाम की कंपनी में निवेश किया था। इस कंपनी के डॉक्युमेंट में कांग्रेस अध्यक्ष को ब्रिटिश नागरिक बताया गया है। यदि कोई भारतीय दूसरे देश की नागरिकता ग्रहण करता है तो उसकी भारतीय नागरिकता खुद समाप्त हो जाती है। इसके बाद वह भारत में चुनाव नहीं लड़ सकता।

रविवार, 21 अप्रैल 2019

सूरतगढ़ में बिजली गुल और खारे पानी का तूफान * लोकसभा चुनाव के मौके पर लोग नाराज*

****मील से लोगों के दिल नहीं मिलते-भरतराम मेघवाल ने भी मेल की कोशिश नहीं की।*****


* करणीदानसिंह राजपूत *


लोकसभा चुनाव के ऐन मौके पर सूरतगढ़ में खारे पानी का वितरण और बिजली का बीसियों बार गुल हो जाने से तूफान मचा है। सोशल मीडिया पर लगभग हर ग्रुप में खारे पानी और बिजली की आवाजाही पर रोष प्रकट किया जा रहा है। शहर के लोग बेहद नाराज हो रहे हैं कि प्रशासन सो रहा है और विभागों पर उसका कोई नियंत्रण नहीं है। सूरतगढ़ में सूरतगढ़ सुपर थर्मल पावर स्टेशन के होने के बावजूद बिजली की हालत बहुत खराब है। सड़कों की बिजली तो हद से ज्यादा गायब रहती है। एक तरफ अंधेरा तूफानी वर्षा और उस समय बिजली का गायब होना आम आदमी को पीड़ित करने वाला रहा है। आश्चर्य यह है कि लोगों की आवाज़ के बावजूद कोई सुधार नहीं हो रहा। आरोप है कि जोधपुर विद्युत वितरण निगम के अधिकारी सूरतगढ़ में नहीं रहते। वे दूसरे शहरों में रहते हैं रात को यहां नहीं रहते और उस कारण भी व्यवधान रहता है। फील्ड के कर्मचारियों की ड्यूटी भी कार्यालयों में कंप्यूटरों पर लगाने का आरोप है। जनता की आवाज पर कुछ भी नहीं हो रहा है। 

 इस बिजली की अव्यवस्था में पानी का भी बुरा हाल हो गया है। सूर्योदय नगरी में पानी 1 दिन छोड़ कर दिया जाता है उसका भी कोई समय निर्धारित नहीं है। पूर्ण रूप से पानी शुद्ध भी नहीं होता। हालात बहुत खराब है और अचानक 20 अप्रैल से सोशल मीडिया पर छाया कि शहर में खारे पानी की सप्लाई हो रही है। विभाग की ओर से पूर्ण चुपी है। नेताओं की ओर से भी सभी चुप बैठे हैं।


सबसे बड़ी आश्चर्यजनक बात यह है कि चुनाव के मौके पर जब एक तरफ कांग्रेस की सरकार श्री गंगानगर लोकसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी भरतराम मेघवाल को जिताने की कोशिश कर रही है वहीं पर सूरतगढ़ के लोगों को बिजली बंद और खारे पानी की सप्लाई से पीड़ित किया जा रहा है।  इस तरह से कांग्रेस पार्टी के नेता सूरतगढ़ से भरतराम मेघवाल को कैसे वोट दिला पाएंगे? 

एक कहावत भी वर्षों से चली आ रही है के अशोक के काल में बिजली पानी का संकट और आकाल की छाया रहती है। हालात यही दर्शा रहे हैं और कहावत चरितार्थ हो रही है।

इन हालात में तो कांग्रेस को परेशान जनता से अपने प्रत्याशी के लिए वोट मिलना मुश्किल ही लगता है। 

कांग्रेस के लोगों की कोई रुचि नजर नहीं आती है। सूरतगढ़ विधानसभा सीट 2018 में हारने के बाद कांग्रेस की गाड़ी वापस पटरी पर नहीं आई। बिखरे नेता और गुट जुड़ नहीं पाए। किसी ने भी कांग्रेस को एकजुट करने की कोशिश ही नहीं की। असल में मील के साथ दूसरों के दिल ही नहीं मिलते। भरतराम को अपने स्तर पर मेल बिठाने का प्रयास करना था लेकिन जिन्हें मिलने के लिए फोन काल किया,वहां भी नहीं गए।

**********



श्रीगंगानगर-निहाल चंद व भरतराम सहित 9 नामांकन सही पाए गए

लोकसभा आम चुनाव 2019.

** करणीदानसिंह राजपूत **

श्रीगंगानगर, 20 अप्रैल 2019.

लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान 20 अप्रैल 2019 को जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने अन्तिम तिथि 18 अप्रैल 2019 तक प्राप्त 11 उम्मीदवारों के नामांकन पत्रों की संवीक्षा की, जिनमें से 9 नामांकन पत्र विधिमान्य पाए गए। इस अवसर पर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लगाए गए भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी एवं सामान्य पर्यवेक्षक श्री अभिशेक जैन भी मौजूद थे। 

गंगानगर संसदीय क्षेत्र के लिए संवीक्षा के बाद ये नामांकन सही पाए गए।

1. निहालचंद, भारतीय जनता पार्टी.

2. भरतराम मेघवाल, इंडियन नेशनल कांग्रेस.

3. रावताराम कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया.

4. लूणाराम बहुजन समाज पार्टी.

 5.तीतरसिंह निर्दलीय.

 6.नरेश कुमार निर्दलीय.

7. डॉ0 बालकृष्ण पंवार निर्दलीय. 

8. भजन सिंह घारू निर्दलीय.

9.सतीश कुमार निर्दलीय.

 

22 अप्रैल को 3 बजे तक नामांकन वापस लेने का समय

    जिला निर्वाचन अधिकारी श्री नकाते ने बताया कि नामांकन पत्रों की संवीक्षा के बाद 22 अप्रैल 2019 को सायं 3 बजे तक नामांकन पत्र वापस लेने का समय रहेगा। इसके पश्चात इसी दिन 3 बजे प्रत्याक्षियों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे।

22 अप्रैल को उम्मीदवारों की बैठक 4 बजे

    जिला निर्वाचन अधिकारी श्री नकाते ने बताया कि 22 अप्रैल 2019 को चुनाव चिन्ह आवंटन के बाद 4 बजे कलैक्ट्रेट सभाहॉल में उम्मीदवारों व राजनैतिक दलों की बैठक आयोजित होगी। बैठक में लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान आदर्श आचार संहिता की पालना, निर्वाचन व्यय, स्वतंत्र निष्पक्ष भयमुक्त मतदान तथा आयोग के दिशा निर्देशों की जानकारी दी जाएग

राहुल गांधी के नामांकन की जांच रोकी गई-नागरिकता पर सवाल उठा:22 तक जवाब मांगा गया


* क्या 2004 में राहुल गांधी ब्रिटिश नागरिक थे, बीजेपी ने उठाया सवाल;*

*नामांकन पत्र की जांच रोकी गई राहुल की नागरिकता पर उठे सवालों के बाद अमेठी लोकसभा सीट से भरे गए राहुल गांधी के नामांकन पत्र की जांच रोक दी गई है।*

 20 Apr 2019.

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नागरिकता पर बीजेपी ने बड़ा सवाल उठाया है। बीजेपी ने कहा कि राहुल बताएं कि वो ब्रिटिश नागरिक हैं या भारतीय। बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने कहा कि राहुल गांधी ने 2004 में खुद को ब्रिटिश नागरिक बताया था।


बीजेपी की ओर से प्रेस कांफ्रेंस करते हुए राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, नामांकन के दस्‍तावेज में राहुल गांधी का नाम ब्रिटिश नागरिक के तौर पर दर्शाया गया है। इस पर बीजेपी ने सवाल उठाया है कि क्‍या राहुल गांधी ब्रिटिश नागरिक थे। बीजेपी का आरोप है कि राहुल गांधी ने नामांकन में जो दस्‍तावेज दिए हैं, उसमें झूठे तथ्‍य दिखाए गए हैं।

अमेठी के जिला निर्वाचन अधिकारी ने राहुल गांधी को सोमवार तक का समय दिया है। जीवीएल नरसिम्‍हा राव ने कहा, मुझे लगता है कि यह बहुत आश्चर्य की बात है कि उनकी नागरिकता को लेकर जो आपत्तियां जताई गई हैं, उनका जवाब नहीं दिया गया है।

जीवीएल ने कहा, मुझे लगता है कि यह घोर आश्‍चर्य का विषय है कि राहुल गांधी की नागरिकता को लेकर जो सवाल उठाए गए हैं, उसका उन्‍होंने अब तक जवाब नहीं दिया है। राहुल गांधी के कानूनी सलाहकार ने दूसरे उम्‍मीदवारों द्वारा उठाए गए सवालों का अब तक जवाब नहीं दिया है। उन्‍होंने उठाए गए सवालों का जवाब देने के लिए निर्वाचन कार्यालय से समय मांगा है।


राहुल की नागरिकता पर उठे सवालों के बाद अमेठी लोकसभा सीट से भरे गए राहुल गांधी के नामांकन पत्र की जांच रोक दी गई है। राहुल के वकील ने बीजेपी की आपत्ति का जवाब देने के लिए 22 अप्रैल तक का वक्त मांगा है जिसके बाद राहुल के नामांकन पत्र की जांच रोकी गई।

शनिवार, 20 अप्रैल 2019

आयकर रिटर्न नहीं भरने,2013 से 2017 पर कार्यवाही के संकेत

^^ 2.04 करोड़ लोगों ने नहीं भरा आयकर रिटर्न। ^^

* केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने आयकर विभाग से साल 2013 से 2017 के बीच आयकर रिटर्न नहीं दाखिल करने वालों के साथ ही अनियमित आयकर रिटर्न भरने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है। बोर्ड ने आयकर रिटर्न नहीं भरने वाले 2.04 करोड़ लोगों का पता लगाया है।*


केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आयकर विभाग के 30 जून से टैक्स रिटर्न नहीं भरने वाले और नियमित रूप से टैक्स रिटर्न भरने वालों के खिलाफ जुर्माना लगाने संबंधी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। आयकर विभाग के नॉन-फाइलर मॉनिटरिंग सिस्टम (एनएमएस) के अनुसार साल 2013 से 2017 के दौरान 2.04 करोड़ आयकर रिटर्न नहीं भरने वालों का पता लगा गया है।

इसके अतिरिक्त 25 लाख ऐसे लोगों की भी पहचान की गई है जो नियमित रूप से टैक्स रिटर्न नहीं भर रहे या बीच में रिटर्न भरने में गैप कर रहे हैं। ऐसे लोग जो एक साल तो रिटर्न भरते हैं लेकिन अगले साल नहीं भरते या बीच में दो साल के गैप के बाद फिर रिटर्न भरते हैं। विभाग ऐसे लोगों को ‘ड्रॉप फाइलर्स’ की कैटेगरी में रखता है। जबकि ‘नॉन फाइलर्स’ वो लोग हैं जो रिटर्न ही नहीं भरते हैं।


असेसिंग अधिकारी ने कहा, ‘हम देशभर के सभी नॉन फाइलर्स और ड्रॉप फाइलर्स को नोटिस जारी कर रहे हैं और संबंधित मामलों में कार्रवाई शुरू की जाएगी।’ आयकर विभाग के सेक्शन 271एफ के अंतर्गत टैक्स रिटर्न नहीं फाइल करने वाले पर जुर्माना लगाया जाएगा। वहीं देरी से रिटर्न फाइल करने वालों पर सेक्शन 234 के तहत कार्रवाई होगी।

यदि करदाता 31 अगस्त की निर्धारित तारीख के बाद लेकिन 31 दिसंबर से पहले रिटर्न फाइल कर देता है तो उस पर 5000 रुपये का जुर्माना लगेगा। वे लोग जो 31 दिसंबर के बाद रिटर्न फाइल करते हैं उनपर जुर्माने की रकम बढ़ कर 10000 रुपये हो जाएगी। हालांकि, इसमें छोटे करदाताओं को छूट दी जाएगी।

यदि उनकी कुल आय 5 लाख से अधिक नहीं है तो उन पर अधिकतम 1000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। एक असेसिंग अधिकारी जुर्माने के साथ ही तीन महीने से लेकर 2 साल तक सजा संबंधी कार्रवाई शुरू कर सकता है। कर योग्य आय 25 लाख से अधिक होने की सूरत में सजा की अवधि बढ़ सकती है।

कर विभाग ने एनएमएस डाटाबेस के आधार पर कार्रवाई शुरू कर दी है। एनएमएस के डाटा को असेसिंग अधिकारियों के साथ साझा किया जा रहा है। एक अधिकारी ने बताया कि इस सूचना के आधार पर कर दायरा को बढ़ाने के लिए प्रयोग किया जाएगा। एनएमएस डाटा के अनुसार साल 2013 के बाद से आयकर रिटर्न नहीं दाखिल करने वाले लोगों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है।

साल 2014 में आयकर रिटर्न नहीं दाखिल करने वाले लोगों की संख्या 12.2 लाख थी जो साल 2015 में बढ़कर 67.5 लाख हो गई। वहीं ड्रॉप फाइलर्स की संख्या वित्त वर्ष 2017 के 28.3 लाख के मुकाबले वित्त वर्ष 2018 में 25.2 लाख हो गई।

( साभार जनसत्ता ऑनलाइन April 20, 2019.)

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019

सूरतगढ़ रेलवे स्टेशन पर बिजली से चलेंगी गाड़ियां:पटरियों के विद्युतीकरण में तेजी

 ^^ करणी दान सिंह राजपूत ^^

सूरतगढ़ 19 अप्रैल 2019.

 मॉडल स्टेशन सूरतगढ़ में रेल पटरियों पर विद्युत उपकरण लगाने का कार्य तीव्र गति से चल रहा है। कार्य पूर्ण होने के बाद यहां रेलगाड़ियां का आवागमन विद्युत से शुरू हो जाएगा। 

 सूरतगढ़ से बठिंडा तक रेल लाइन का विद्युतीकरण कार्य लगभग पूर्ण है।  बठिंडा से हनुमानगढ़ तक पूर्व में इंजन चला कर जांच की जा चुकी है।  हनुमानगढ़ से रंग महल स्टेशन तक की जांच कुछ दिनों पहले हो चुकी है।  वर्तमान में रेलवे स्टेशन यार्ड में और प्लेटफार्म के पास तेज गति से कार्य हो रहा है। रेल पटरी का विद्युतीकरण थर्मल पावर स्टेशन तक होगा ताकि कोयले के रेक वहां पर आसानी से पहुंच सकें। 

 रेल पटरी के विद्युतीकरण के बाद बठिंडा सूरतगढ़ के बीच रेलों की गति में और तेजी आएगी।

**************





गुरुवार, 18 अप्रैल 2019

लोकसभा चुनाव 2019-स्वीप कार्यक्रम के तहत सतरंगी सप्ताह 27 अप्रैल से 3 मई


श्रीगंगानगर, 17 अप्रेल। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते के निर्देशानुसार लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान 6 मई को मतदान का प्रतिशत बढाने के लिए 27 अप्रैल से 3 मई तक सतरंगी सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। 

27 अप्रैल को सतरंगी सप्ताह के दौरान हर शहर में जन जन उठेंगे, मतदान की कीमत समझेगें सांग के साथ दीपदान होगा तथा हम भी वोट करेगे, हम भी गर्व करेंगे सलोगन व बैंगनी कलर की थीम के साथ कार्यक्रम करेंगे। 

इसी प्रकार 28 अप्रैल को अब कोई ना आकर भरमाये, मन मे डर न घर कर जाए संगीत के साथ लालच पर होगी चोट सोच समझकर करेंगे वोट सलोगन व नारंगी रगं की थीम के साथ बैण्डवादन का कार्यक्रम होगा। 

इसी प्रकार 29 अप्रैल को क्या गांव डगर सब संग आये कोई वोट न बाकी रह जाये सांग व हम भी नाचेंगे गायेंगे वोट डालकर आयेगें सलोगन व नीले रंग की थीम पर वोट बारात का कार्यक्रम होगा। 

इसी प्रकार 30 अप्रैल को अब आओं घूंघट से निकले घर ढाणी पनघट से निकले गाने की थीम व वोट करूगीं तभी तो बढूंगी सलोगन व हरे रंग की थीम के साथ महिला मार्च का कार्यक्रम होगा। 

एक मई को हर पीढी के मतदाता जनतंत्र के भाग्यविधाता सांग व जिम्मेदारी का एहसास है वोट डालने को तैयार है सलोगन तथा पीले रंग की थीम के साथ मानव श्रखंला बनाई जाएगी।

 2 मई को हम लोकतंत्र की जान बने जनजागृति का आह्वान् बने सांग व अधिकार का प्रयोग करेंगे , वोट करेंगी वोट करेंगे सलोगन तथा ओरेंज कलर की थीम के साथ ट्राईसाईकिल रैली निकाली जाएगी।

 इसी प्रकार 3 मई को उर्जा हम है, हम संयम है, हम जोश है, हिम्मत दमखम है सांग तथा अगुंली पर निशान राष्ट्र के नाम सलोगन व लाल थीम के साथ वोट मैराथन का आयोजन किया जाएगा। 


फसल खराबा- सर्वे में कोताही-ढील पर सख्त कार्रवाई होगी-जिला कलेक्टर*सर्वे के निर्देश



जिला कलक्टर ने उपनिदेशक कृषि को दिये निर्देश 


श्रीगंगानगर, 17 अप्रेल। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कृषि विभाग के उपनिदेशक को निर्देशित किया है कि 15 व 16 अप्रैल 2019 को हुई असामयिक वर्षा , ओलावृष्टि , अंधड से हुई क्षति का सयुक्त सर्वे फसल बीमा कम्पनी , एसबीआई जनरल एन्शयोरेन्स कम्पनी के प्रतिनिधियों को निर्देशित कर तत्काल करवाया जाना सुनिश्चत करें।


जिला कलक्टर ने उपनिदेशक कृषि को निर्देश दिए है कि इस सम्बध मे तत्काल कम्पनी प्रतिनिधियो से सम्पर्क स्थापित कर बीमा प्रावधानों के अनुरूप क्षति के आंकलन के लिए तत्काल कमेटी (बीमा कम्पनी क्षतिपूर्ति सर्वेयर, सहायक कृषि अधिकारी, भू अभिलेख निरीक्षक तथा सम्बधित प्रभावित किसान) से सयुक्त सर्वे करवाकर किसानो को नियमानुसार मुआवजा दिलाए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करावें। सर्वे जैसे कार्य मे किसी तरह की कोताही बरतने पर उपनिदेशक कृषि व विभागीय अधिकारियों व बीमा कम्पनी के प्रबन्धन के विरू़़द्ध कडी कार्यवाही की जायेगी। 

सूरतगढ़-भगवान महावीर जयंती पर प्रभातफेरी


भगवान महावीर जन्म कल्याणक के शुभ अवसर पर जैन समाज द्वारा महावीर इंटरनेशनल सूरतगढ़ के संयुक्त तत्वावधान में प्रभात फेरी का आयोजन किया गया। प्रभात फेरी बुधवार प्रातः श्री पार्श्वनाथ जैन मंदिर से आरंभ हुई और शहर की विभिन्न गलियों तथा बाज़ार से होती हुई पुनः जैन मंदिर पर समाप्त हुई। इस प्रभात फेरी में श्रद्धालु भगवान महावीर के सत्य,अहिंसा और समता धर्म के नारे लगाते हुए जियो और जीने दो का संदेश दे रहे थे। प्रभात फेरी में समाज के लोगों के अलावा महिलाएं, बच्चे और महावीर इंटरनेशनल व वीरा केंद्र के सदस्य सम्मिलित हुए।





सूरतगढ़-सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को बेबीकिट भेंट

17-4-2019.

महावीर इन्टरनेशनल, सूरतगढ़ द्वारा महावीर जयन्ति के उपलक्ष में एस.टी.पी.एस. सूरतगढ़ के मुख्य अभियन्ता बी.पी. नागर के सहयोग से प्राप्त 100 हाइजैनिक बेबी किट सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सूरतगढ़ में भेंट की गयी। ये बेबी किट राजकीय चिकित्सालय में जन्म लेने वाले प्रत्येक शिशु को निःशुल्क प्रदान की जाती है। इसी के साथ संस्था सदस्य पवन जैन व नीरज डांग के सहयोग से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती रोगियों को फल व बिस्कुट वितरित किये गये। इस अवसर पर एस.टी.पी.एस. के तकनीकी सहायक हिमांशु बोलिया, नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. सपना बवेजा, नर्सिंगकर्मी बबीता शर्मा, किरण, पूर्ण भाटिया सहित संस्था अध्यक्ष नत्थूराम कलवासिया, पूर्व अध्यक्ष संजय बैद, शंकरलाल मूंधड़ा, विजय कुमार सावनसुखा, अमन रांका, दिलीप मिश्रा, पवन जैन, नीरज डांग, रमेश तिवाड़ी, सचिव राजेश वर्मा उपस्थित थे।


बुधवार, 17 अप्रैल 2019

सूरतगढ़:बाल विवाह रोकथाम कार्यशाला 18 अप्रैल को होगी

* बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 पर सेवा प्रदाताओं की ब्लाक स्तरीय आमुखीकरण एवं संवेदिकरण कार्यशाला*
उपखंड अधिकारी रामावतार कुमावत के निर्देश पर दिनांक 18.04.2019 को सुबह  11.30 से 1.30 बजे तक पंचायत समिति सभागार में ब्लाक स्तरीय आमुखीकरण एवं संवेदिकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया है।
बाल विवाह रोकथाम के सम्बन्ध में आयोजित होने वाली उक्त कार्यशाला में निर्धारित समय पर उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है।
         विकास अधिकारी पंचायत समिति सूरतगढ़ कार्यशाला आयोजन हेतु आवश्यक व्यवस्थायें करवाना सुनिश्चित करेंगे तथा अधिषाषी अधिकारी न0पा0 सूरतगढ़ (शहरी क्षेत्र) तथा विकास अधिकारी पंचायत समिति सूरतगढ़ (ग्रामीण क्षेत्र) के प्रिन्टिंग प्रेस, टेन्ट मालिक, मेरीज ब्युरो, पण्डित, मौलवी, पाठी, फोटोग्राफर आदि को कार्यशा ला में उपस्थित होने बाबत सूचित कर अवगत करायेेंगे।
तहसीलदार सूरतगढ़ ब्लाक स्तरीय आमुखीकरण एवं संवेदिकरण कार्यशाला की मोनिटरिंग करेंगे।
इन अधिकारियों विभागों को सूचना दी गई है।
1.पुलिस उप अधीक्षक,सूरतगढ़
2.तहसीलदार सूरतगढ़
3.ब्लाक मुख्य चिकित्सा अधि0सूरतगढ़
3.मुख्य ब्लाक षिक्षा अधिकारी सूरतगढ़
4.विकास अधिकारी प.सं.सूरतगढ़
5.अधिशाषी अधिकारी न0पा0सूरतगढ़
6.थानाधिकारी,सूरतगढ़/जैतसर
  सूरतगढ़ सदर/राजियासर
7.सामाजिक सुरक्षा अधिकारी सूरतगढ़
8.महिला एवं बाल विकास अधि.सूरतगढ़

सूरतगढ़:अवैध खनन व ढुलाई पर सख्ती:अनुमति स्थल के अलावा खनन अवैध:जिप्सम का होता है अवैध खनन.



^^ जिप्सम के अवैध खनन ढुलाई में माफिया और भ्रष्ट अधिकारी मालामाल होते रहे, अब लगेगी रोक ^^
** करणीदानसिंह राजपूत **
 सूरतगढ़। उपखण्ड अधिकारी रामावतार  कुमावत  की अध्यक्षता में तहसील क्षेत्र सूरतगढ़ में अवैध खनन व निर्गमन पर रोकथाम हेतु 16 अप्रैल 2019 को एक बैठक का आयोजन किया गया। 
उपखण्ड अधिकारी ने तहसीलदार सूरतगढ़ को निर्देशित किया कि वे उपखण्ड क्षेत्र सूरतगढ़ में जिन स्थानों पर खान विभाग द्वारा खनन करने का अनुमति पत्र दे रखा है, उसकी सूची प्रस्तुत करें व कनिष्ठ अभिंयता खान विभाग को निर्देशित किया कि उनके विभाग द्वारा उपखण्ड क्षेत्र सूरतगढ़ में कितने खनिज परमिट जारी किये गये हैं  उनकी सम्पूर्ण सूची दो दिवस में प्रस्तुत करें। 
कुमावत ने कहा कि खान विभाग द्वारा जारी खनन परमिट में शर्ते दी हुई होती है, लेकिन लीजधारक खनन परमिट में दी गई शर्तो की पालना नहीं करता है। खनिज परमिट अनुसार खनिज की जाने वाली भूमि पर सम्पूर्ण विवरण सहित बोर्ड व तकनीकी व्यक्ति होना आवश्यक है व अनुमति पत्रधारित भूमि पर सीमांकन आवश्यक है। लेकिन लीजधारक उक्त शर्तो की पालना नही करता है। उन्होंने ऐसे लीजधारक के विरूद्ध नियमानुसार सख्त कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये। 
उन्होंने कहा कि लीजधारक खान विभाग द्वारा जारी परमिट से ज्यादा क्षेत्र में खनन करता है तो वह अवैध खनन की श्रेणी में आता है इसलिये संबंधित लीजधारक के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाए है व अवैध खनन करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं  जावे।

  परिवहन विभाग व पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया ओवरलोडैड वाहनों पर यातायात नियमों से कठोर कार्यवाही की जावे, अवैध खनन के परिवहन में लिप्त वाहनों के परमिट निलम्बन/निरस्त करने की कार्यवाही नियमानुसार की जाने के साथ ही वाहन चालक का लाईसेन्स भी जब्त करने की कार्यवाही की जावे। तहसीलदार सूरतगढ़ को निर्देशित किया कि वे अपने अधीनस्थ गिरदावर व पटवारियों को निर्देशित कर रिपोर्ट प्राप्त करें कि कहां-कहां अवैध खनन किया जा रहा है तथा खातेदारी भूमि पर अवैध खनन होने पर एवं खान विभाग की अथवा अन्यथा रिपोर्ट प्राप्त होने पर राजस्व अधिकारी नियमों का अनुसरण कर खातेदारी निरस्त करने की कार्यवाही करें। उन्होने कहा कि राजस्व/पुलिस/खान/वन/परिवहन विभाग निचले स्तर पर सामंजस्य रखेगें, निर्दिष्ट स्थान के अतिरिक्त पास में कही से कोई अवैध खनन की सूचना किसी स्त्रोत द्वारा प्राप्त होती है तो उसे नजरन्दाज न कर कार्यवही करेगें। पंचायतीराज विभाग के प्रतिनिधी को निर्देश दिये कि वे अपने अधिकार क्षेत्र की भूमि को सुरक्षित करें यदि कहीं अवैध माईनिंग हो रही है तो पंचायतीराज अधिनियम के तहत नियमानुसार कार्यवाही करें। 
श्री कुमावत ने कहा कि खातेदार कृषक द्वारा अपनी खातेदारी भूमि में खनन करना भी अवैध है, ऐसा करने पर उसके विरूद्ध राजस्थान काश्तकारी अधिनियम के तहत नियमानुसार खातेदारी निरस्त करने की कार्यवाही की जावेगी। यदि कोई व्यक्ति अवैध खनन करते पाया गया तो उसके विरूद्ध नियमानुसार कठोर कार्यवाही की जावेगी। 
      बैठक में श्री रामेश्वरलाल बिश्नोई, उप निरीक्षक सूरतगढ़, श्री ओमप्रकाश रेंजर वन विभाग, श्री सतवीर सिंह, उपनिरीक्षक, परिवहन विभाग, श्री एम0एस0 परिहार, वरिष्ठ प्रबन्धक, एफसीआई, श्री बजरंगसिंह, कनिष्ठ अभियंता, खान विभाग, श्री पवनकुमार, काूननगो तहसील कार्यालय, श्री कुलदीप सिंह रीडर उपखण्ड कार्यालय, श्री रोशनलाल, थाना राजियासर, श्री राजेन्द्रकुमार थाना सूरतगढ़ सदर व श्री तेजाराम, पंचायत प्रसार अधिकारी, सूरतगढ़ उपस्थित रहे।





मंगलवार, 16 अप्रैल 2019

सूरतगढ में संचालित हर होस्टल/पीजी की पुलिस जांच-जांच के बिंदु सख्त-3 दिन में जांच


^^^^^ संचालक व रहने वालों का पूरा विवरण^^^^^

^^ पुलिस सत्यापन नहीं कराने वालों पर बिजली गिरेगी^^


विशेष खबर - करणीदानसिंह राजपूत*


सूरतगढ़ में छोटे बड़े बीसियों हास्टल संचालित हैं जिनमें विद्यार्थी,कोचिंग लेने वाले और विभिन्न सरकारी गैर सरकारी संस्थानों में काम करनेवाले लोग रहते हैं। इसी तरह से पेईंग गेस्ट हाऊस भी हैं। बाहरी लोगों युवाओं की तरफ से अनेक बार दंगे फसाद हुए, मारपीट हुई, डीजे का शोर गुल हुआ। पुलिस जांच की मांग उठती रही।  पुलिस और प्रशासन को ज्ञापन दिए जाते रहे, मगर जांच सिरे नहीं चढी। बीट कांस्टेबल से जांच कराने की मांग सीएलजी की बैठकों में भी होती रही। हालांकि यह काम दो तीन दिन का होते हुए भी कभी संपन्न नहीं हुआ।

सूरतगढ़ सामरिक दृष्टि से संवेदनशील है और यहां अनेक विभाग हैं,लेकिन परवाह नहीं की गई। इस कारण यहां मनमाने तरीकों से होस्टल चलाए जाते रहे। 

अब उपखंड अधिकारी रामावतार कुमावत ने इस अति महत्वपूर्ण मामले पर गौर किया है और जांच के बिंदु तय कर 3 दिन में जांच रिपोर्ट मांगी है। उपखंड अधिकारी ने सूरतगढ़ के उप अधीक्षक पुलिस को  16-4-2019 को पत्र दिया है।


--- जांच के बिंदु ---

सूरतगढ में संचालित हर होस्टल/पीजी की पुलिस जांच-जांच के बिंदु सख्त-3 दिन में जांच

1. होस्टल/पीजी व संचालक नाम व पूर्ण पता, मो0नं0 मय प्रमाण।

2. होस्टल/पीजी में रहने वालों की संख्या एवं सूची (पूर्ण पता मो0नम्बर सहित)।

3. होस्टल/पीजी संचालक द्वारा अपने होस्टल/पीजी में रहने वाले व्यक्तियों के मूल निवास, पता, रेफरेन्स, रहने की अवधि, रहने का उद्देश्य।। अध्ययनरत है तो किस संस्थान में आदि संबन्धी रिकार्ड/रजिस्टर का संधारण किया जा रहा है अथवा नहीं। मालिक द्वारा पहचानस्वरूप लिये गये दस्तावेज की जानकारी। 

4. जांच के दौरान होस्टल/पीजी में कोई बाहर के प्रतिबंधित/अनाधिकृत व्यक्ति के गैरकानूनी रूप से निवासरत होना पाया गया अथवा नहीं। 

5. होस्टल/पीजी में रहने वाले व्यक्तियों के संबन्ध में होस्टल स्वामी द्वारा थाना हाजा में दी गई सूचना एवं पुलिस सत्यापन करवाया गया है अथवा नहीं, संबन्धी विवरण।

6. होस्टल संचालक/पीजी संचालक द्वारा संचालित होस्टल/पीजी के संचालन की अनुमति के संबन्ध में टिप्पणी। 

7. संचालक स्वयं भवन का मालिक है अथवा किराये पर लिया हुआ है। भवन के मालिकाना/किराये पर लिये जाने संबन्धी दस्तावेज की प्रति रिपोर्ट के संलग्न करें। 

8. पुलिस थाना में होस्टल/पीजी के संबन्ध में संधारित रिकार्ड अथवा किसी होस्टल/पीजी की किसी प्रकार से की गई जांच /शिकायत प्राप्ति पर की गई कार्यवाही एवं पाये गये तथ्य संबन्धी विवरण।

(समाप्त)


लोकसभा चुनाव-सूरतगढ़ मेंं 3 भवन अधिग्रहित- अन्य स्थानों पर भी.

श्रीगंगानगर, 16 अप्रेल। लोकसभा आम चुनाव 2019 के प्रयोजनार्थ बाहर से आने वाले केन्द्रीय पुलिस बलों एवं अन्य पुलिस बलों के अधिकारियों, जवानों के उपयोग के लिये लोकप्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 के तहत 30 अप्रेल से 7 मई तक विभिन्न भवनों का अधिग्रहण किया गया है। अधिग्रहित भवन व परिसर को जिला निर्वाचन अधिकारी की पूर्व अनुमति के बिना किसी अन्य कार्य के लिये उपयोग में नही लिया जायेगा। 

    जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते के निर्देशानुसार पंचायती धर्मशाला, महावीर दल मंदिर, सोनी धर्मशाला, कुम्हार धर्मशाला, लीला धर्मशाला गंगानगर, नागपाल धर्मशाला अनुपगढ, व्यापार मंडल नई मंडी घडसाना, अरोडवंश धर्मशाला करणपुर, दुर्गा मंदिर धर्मशाला सादुलशहर, व्यापार मंडल सादुलशहर, महाराजा अग्रसेन आईटीआई कॉलेज सूरतगढ, जसन मेरिज पेलेस सूरतगढ, सत्यनारायण धर्मशाला विजयनगर तथा ब्रह्मण धर्मशाला रायसिंहनगर का अधिग्रहण किया गया है। 

7 मेडिकल स्टोर के अनुज्ञा पत्र निलम्बित-3 से एनडीपीएस औषधियां की अनुमति वापस ली

श्रीगंगानगर, 16 अप्रेल 2019.  औषधि नियंत्रक विभाग द्वारा मेडिकल स्टोर की जॉंच के दौरान अनिममितताऐ पाये जाने पर 7 मेडिकल स्टोर के अनुज्ञा पत्र निलम्बित किये गये है। 

आदेशों के अनुसार शिव मैडिकल स्टोर छापावाली, जयहिन्द मेडिकल स्टोर गोधूवाला तथा सिपसामेड सूरतगढ का 10 प्रकार की एनडीपीएस औषधियों की अनुमति को स्थायी रूप से वापिस ले लिया गया है। 


सहायक औषधि नियंत्रक डी एस उप्पल ने बताया कि सतगुरू मैडिकल स्टोर कोठा का 22 अप्रेल से 1 मई, शिव मैडिकल स्टोर छापावाली का 22 अप्रेल से 1 मई, जयहिन्द मेडिकल स्टोर गोधूवाला का 22 से 28 अप्रेल, सिपसामेड सूरतगढ का 22 से 28 अप्रेल, बवेजा मैडिकल स्टोर ओडकी का 29 अप्रेल से 5 मई, विक्रम मेडिकोज चक 1एलएलपी का 29 अप्रेल से 13 मई तथा गुरूनानक मेडिकोज हिन्दुमलकोट का 29 अप्रेल से 5 मई तक के लिये अनुज्ञा पत्र निलम्बित किये गये है।

सूरतगढ़ स्टेशन- नये निर्माण में खोट:


^^ करणीदानसिंह राजपूत ^^

उत्तर पश्चिम रेलवे के माडल स्टेशन 'सूरत गढ' पर इंजीनियरों की देखरेख में  करोड़ों रूपये खर्च करने के बाद भी अनेक निर्माण कार्य बेहद घटिया हुए हैं।

निर्माण सही नहीं होने, लेवल सही नहीं होने और टूट जाने के प्रमाण हैं।

मुंह तो सुंदर होना चाहिए और उसका रखरखाव भी उच्च स्तरीय होना चाहिए। लेकिन मुख्य द्वार जहां से लोगों का प्रवेश व निकास है वहां आंगन समतल के बजाय नीचे धंस चुका है।टाईल्स इंटरलॉकिंग से पहले मिट्टी को दबाया नहीं गया। अब मामूली वर्षा होने पर पानी भरता है। यात्रियों को मजबूरी में उस पानी में से गुजरना पड़ता है। सवाल यही है कि जूते चप्पल भी क्यों भीगे।

इसी प्रवेश द्वार पर ऊपर देखें तो नाम पट्ट भी टूटा हुआ दिखाई देता है। सूरतगढ़ की यह सूरत निर्माण इंजीनियरों ने और ठेकेदारों ने बना दी है। 


सोमवार, 15 अप्रैल 2019

सूरतगढ़ गंगानगर हनुमानगढ में अंधड़- कुछ बरखा,औले गिरे-किसानों को चिंता

* करणीदानसिंह राजपूत *

मौसम विभाग की पूर्व सूचना के अनुसार इलाके में 15-4-2019 की शाम को करीब पौने सात बजे अंधड़ छाया। अंधड़ की गति काफी तेज। 

कुछ स्थानों पर बरखा ।

गंगानगर जिले में कई स्थानों पर औले गिरे।

मारवाड़ी युवा मंच सूरतगढ़ का शपथ ग्रहण व दानदाता सम्मान सामारोह 14-4-2019.

मारवाड़ी युवा मंच शाखा सूरतगढ़ का शपथ ग्रहण व दानदाता सम्मान सामारोह माहेश्वरी भवन में 14 अप्रैल को सम्पन्न हुआ। 

 कार्यक्रम अध्यक्ष कपिल लखोटिया जी ने शाखा अध्यक्ष भरत मून्दड़ा, सचिव नितेश सोमानी व कोषाध्यक्ष कपिल गुप्ता के साथ कार्यकारिणी को शपथ दिलायी।

कार्यक्रम प्रभारी महेन्द्र बैद के अनुसार मंच कार्यक्रम में मुख्य अतिथि नोएडा से मारवाड़ी युवा मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कपिल लखोटिया कार्यक्रम अध्यक्ष, नोखा से प्रांतीय अध्यक्ष सुरेन्द्र जी भट्टड़ विशिष्ट अतिथि, देशनोक से प्रांतीय महामंत्री जयकरण जी चारण व प्रांतीय उपाध्यक्ष संजय जी चौधरी ने भाग लिया।

मारवाड़ी युवा मंच के कार्यक्रम में कोषाध्यक्ष ने सत्र 18-19 के आय-व्यय का लेखा जोखा प्रस्तुत किया गया।

सचिव ने गत वर्ष हुए सामाजिक प्रकल्पो का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। निवृत अध्यक्ष मनीष सोनी ने अपने कार्यकाल में सहयोग करने के लिये सभी का आभार जताया। 

मंच के सत्र 18-19 के रूप में सर्वश्रष्ठ सदस्य के रूप में अशोक सोनी व अंकित कुक्कड़ को सम्मानित किया गया। 

भरत ऋषि रांका को पांच वर्षो से शाखा के प्रकल्पों व गतिविधियों  में मार्गदर्शन के लिए विशेष सम्मान प्रदान किया गया। 

मंच के सामाजिक प्रकल्पों  में सहयोग करने वाले सभी दानदाता नागरिकों को सम्मान प्रतीक देकर सम्मानित किया गया।

साथ ही हाल ही में मंच से जुड़े नये सदस्यो का स्वागत भी लेपल पिन लगाकर किया गया। नव निर्वाचित कार्यकारिणी ने पूर्व की भांति सामाजिक सारोकार में बढचढ़ कर भाग लेकर मंच के सामाजिक उद्देश्यों को प्राप्त करने में पूरी मेहनत व लगन के कार्य करने का भरोसा दिलाया।

मंच द्वारा आये हुऐ सभी सम्मानित अतिथियों को भी सम्मान प्रतीक देकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम का मंच संचालन डॉ आर आर यादव ने किया।





 

 


सूरतगढ़ एसडीएम की क्षेत्र के मतदाताओं व कर्मचारियों को विशेष नवीनतम जानकारी



*** करणीदानसिंह राजपूत *

श्रीगंगानगर जिला मुख्यालय पर दिनांक 13.4.2019 को लोकसभा आम चुनाव-2019 की तैयारियों के संदर्भ में सहायक रिटर्निंग अधिकारियों की बैठक में दिये गये निर्देशों के क्रम में सूरतगढ़ में
उपखंड अधिकारी रामावतार कुमावत ने 14 अप्रैल को बैठक आयोजित कर अति महत्वपूर्ण निर्देश व जानकारी दी।

आम मतदाता के लिए यह जानकारी खास मानते हुए हम प्रकाशित कर रहे हैं।

बैठक में लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत लोकशांति बनाये रखने एवं मतदाताओं के लिए निर्भीक वातावरण बनाये रखने हेतु पुलिस उप अधीक्षक सूरतगढ व सभी थानाधिकारियों को वांछित निरोधात्मक कार्यवाही शीघ्र पूरी करने हेतु निर्देश दिये गये तथा चुनावों के दृष्टिगत अवैध शराब, नकदी आदि की जब्ती संबन्धी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। बैठक में प्रथम रेण्डमाईजेशन में प्राप्त मशीनों की जांच आदि के बारे में चर्चा करते हुए द्वितीय रेण्डमाईजेशन के तुरन्त बाद ईवीएम तैयारी हेतु आवश्यक  स्टाफ लगाने हेतु निर्देश  दिये गये । विकास अधिकारी एवं तहसीलदार सूरतगढ को निर्वाचन विभाग के निर्देशा नुसार मतदान दिवस को बूथों पर छाया, पानी एवं अन्य आवश्यक सुविधाऐं उपलब्ध कराने हेतु बूथवार व्यवस्था सुनिष्चित करने हेतु निर्देष दिये गये।
          बैठक में जानकारी देते हुए उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि पूर्व चुनाव की भांति इस बार भी आदर्श  मतदान केन्द्र , महिला मतदान केन्द्र स्थापित किये जायेंगे। फ्लाईंग स्कवाड, स्थैतिक निगरानी दल, विडियो सर्विलेन्स टीम पूर्णतः सतर्क होकर कार्य करें।
मतदाता सूची के संबन्ध में चर्चा करते हुए उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि मतदाता सूची की शुद्वता एवं अद्यतन होना सुनिश्चित की जानी आवश्यक है। क्षैत्र के मतदाताओं को बीएलओ के माध्यम से पर्ची वितरण कार्यक्रम अवधि दिनांक 21.4.2019 से 27.4.2019 के मध्य की निर्धारित कर समय पर पर्ची वितरण करने हेतुु निर्देश  देते हुए उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि पर्ची वितरण कार्यक्रम की जानकारी राजनीतिक दलों एवं अभ्यर्थियों को भी यथासमय दी जावे। मतदाता पर्ची कार्यक्रम की चुनाव पर्यवेक्षक एवं तहसीलदार सूरतगढ द्वारा मोनीटरिंग की जाकर सेक्टर ऑफिसर के माध्यम से सत्यापन कराया जायेगा तथा पर्ची वितरण में किसी बीएलओ द्वारा लापरवाही किये जाने पर आयोग के निर्देशानुसार सख्त कार्यवाही अमल में लाई जावेगी। मतदान हेतु निर्वाचन विभाग द्वारा जारी वोटर कार्ड के अलावा अन्य निर्धारित दस्तावेज भी पहचान हेतु मान्य होंगे। निर्वाचन विभाग द्वारा सेक्टर ऑफिसर्स को दी गई रिजर्व मशीनों की जीपीएस द्वारा ट्रेकिंग की जायेगी, इसलिए सेक्टर ऑफिसर्स निर्धारित रूट चार्ट अनुसार भ्रमण एवं जरूरत अनुसार रिजर्व ईवीएम उपलब्ध कराना सुनिश्श्चित करें। मतदान केन्द्रों पर निर्वाचन विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं की जानकारी देते हुए उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि मतदान केन्द्रों पर आवश्यक होने पर मतदाताओं के लिए छाया हेतु टैण्ट लगाकर छाया की सुविधा दी जायेगी तथा पेयजल हेतु वाटर कैम्पर उपलब्ध कराये जायेंगे । निर्वाचन विभाग द्वारा मतदान केन्द्र पर छाया की सुविधा हेतु 500रूपये एवं पेयजल हेतु 500/-रूपये संबन्धित बीएलओ को दिये जायेंगे। दिव्यांग एवं वृद्वजन मतदाओं की सहायता व केन्द्रों  पर मतदाताओं के कतारबद्व करने व्यवस्था हेतु प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 2 स्काउट गाईड लगाये जायेंगे। स्काउट गाईड को इस हेतु ट्रेनिंग के 250/-, मतदान दिवस का 250रूपये व भोजन हेतु 150 रूप्ये का भुगतान बीएलओ के माध्यम से किया जायेगा।
बैठक में श्री प्रदीपकुमार चाहर तहसीलदार सूरतगढ़, श्री विनोद कुमार विकास अधिकारी, प0स0 सूरतगढ़, श्री लालचन्द सांखला अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका सूरतगढ़, चुनाव प्रभारी मलकीत सिंह, सह प्रभारी शाईना भटेजा व श्री विशाल सिंह आदि कार्मिक उपस्थित थे।

रविवार, 14 अप्रैल 2019

भादू कटले के निर्माण की स्वीकृति में गड़बड़ी- पूरा पढें

** करणीदानसिंह राजपूत **

^^ आरोप-सरकारी नियमों में निर्माण स्वीकृति मिलना असंभव था,मगर पूर्व के एक  पालिका अधिकारी ने तथ्यों की अनदेखी कर नियमों को ताक पर रख,स्वीकृति जारी करदी- दस्तावेजों की नकलें लेने वालों के सामने ऐसी स्थिति स्पष्ट हुई है।बात का निचोड़ यह है कि कटले का निर्माण द्रुत गति से चल रहा है और ऐसे में कौन बिल्ली के गले में घंटी बांधे। इस निर्माण को लेकर चर्चाएं हैं और राजनीतिक बड़े लोग एकदम चुप हैं और शहर उनकी ओर देख रहा है। राजनीतिक नेताओं में जिन्होंने सीधे संघर्ष करने से मना किया था,उनके समाचार ब्लास्ट की आवाज में बहुत पहले छप चुके।


**कानूनी रूप में किसी ने भी कटले के निर्माण को रोकने के लिये पालिका में कोई आवेदन नहीं दिया और संघर्ष करने को सामने नहीं आया। **

सूरतगढ।  मुख्य बाजार में बीकानेर रोड से सटी जमीन पर तेज गति से बनाए जा रहे भादू शॉपिंग कांपलेक्स की नगर पालिका द्वारा जारी की गई निर्माण स्वीकृति में गड़बड़ी है। जिस भूखंड पर निर्माण चल रहा है, उस पर दस्तावेज की अनदेखी की जाने की चर्चा है। नगरपालिका की ओर से मौजूद स्थिति दस्तावेजों व आवेदन पर निर्माण की स्वीकृति गलत दी गई की चर्चा अब होने लगी है जब निर्माण धरती के ऊपर नजर आने लगा है। 

संपूर्ण भूखंड की मालिकाना अधिकारिता में जो आवेदन किया गया, उसमें निर्माण की स्वीकृति दी नहीं जा सकती लेकिन गलत दे दी। आरोप है कि आवेदन कीअसलियत और मौजूद भूखंड के तथ्यों में अंतर है, मेल नहीं है,जिसके कारण निर्माण की स्वीकृति दी नहीं जा सकती थी।

 दस्तावेजों में मौजूद तथ्यों की वजह से नियमों की पालना की जाती तो स्वीकृति जारी नहीं होती लेकिन नगर पालिका की ओर से अनदेखी कर निर्माण करने की स्वीकृति मालिकों को दी गई। भूखंड पर निर्माण स्वीकृति के बाद निर्माण कार्य तेज गति से चलता हुआ भूमिगत कार्य के बाद जब भूमि से ऊपर शुरू हुआ तो नजरों में आने लगा। 

 इस निर्माण कार्य को लेकर चर्चाएं तो आम हैं मगर गलत स्वीकृति और अनेक तथ्यों को नजर बंद रखते हुए स्वीकृति जारी कर दी गई। वर्तमान अधिशासी अधिकारी से पहले यह स्वीकृति जारी की गई कटले की भूमि और सड़कों गलियों के बारे में भी गड़बड़ी के आरोप हैं। राजनीतिक दृष्टि से शहर में चर्चाओं के बावजूद भी कोई राजनीतिक नेता इस मामले पर मुंह खोलना नहीं चाहता। लोग दस्तावेज प्राप्त करते हैं और पढ़ कर के रह जाते हैं। समाचार भी छपते हैं पढ़े जाते हैं मगर कोई भी व्यक्ति इस प्रकरण में पक्की कार्यवाही करने को आगे नहीं आता। अभी भी यही स्थिति बनी हुई है चर्चाएं गर्म है और चर्चाओं से कुछ होने वाला नहीं है।

 कोई भी बड़ा आदमी या राजनीति पार्टी का नेता और कार्यकर्ता दूसरे बड़े आदमी या राजनीति परिवार के विरुद्ध संघर्ष करने के बजाय अनजान बने रहना अच्छा समझता है। लेकिन राजनीतिक नेताओं के अलावा भी लोग रहते हैं जो नजरों में नहीं आकर भी काम करते हैं। ऐसा अनेक स्थानों पर हो चुका है।***

( ब्लास्ट की आवाज 15-4-2019 में)






सूरतगढ़:महावीर इन्टरनेशनल व वीरा केन्द्र की नवनिर्वाचित कार्यकारिणी का शपथग्रहण 14-4-2019.








सूरतगढ़ 14 अप्रैल, 2019.

 समाज सेवा संस्था महावीर इंटरनेशनल सूरतगढ़ व वीरा केंद्र का शपथ ग्रहण समारोह अग्रसेन भवन में आयोजित किया गया।

 कार्यक्रम के अध्यक्ष महावीर इन्टरनेशनल एपेक्स के अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव वीर डॉ. विनय शर्मा, मुख्य अतिथि एस.टी.पी.एस. सूरतगढ़ के मुख्य अभियन्ता बी.पी. नागर, सम्मानीय अतिथि बीकानेर के साहित्याचार्य एवं कथावाचक श्रद्धेय रमन जी महाराज थे, जबकि विशिष्ट अतिथि सी.आर.पी.एफ. के डी.आई.जी. गिरीश चावला, व्यापार मण्डल अध्यक्ष दीपक भाटिया, महावीर इन्टरनेशनल एपेक्स की संभागीय अध्यक्ष वीरा चारू नाहटा व जोन सचिव वीरा नन्दिनी छल्लानी थी। अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन कर समारोह का शुभारम्भ किया गया।

 वीरा केन्द्र की बहिनों द्वारा प्रार्थना व संस्था सचिव दिलीप मिश्रा ने स्वागत के रूप में अपना उद्बोधन प्रस्तुत किया। रोज वेली स्कूल के विद्यार्थियों द्वारा स्वागत गीत व नृत्य प्रस्तुत किया गया। अध्यक्ष नत्थूराम कलवासिया एवं वीरा केन्द्र की अध्यक्ष नीतू बैद ने वर्ष 2016 से 2019 तक अपना अध्यक्षीय प्रतिवेदन एवं भावी योजनाओं का प्रारूप प्रस्तुत किया तथा कोषाध्यक्ष अमन रांका ने आय-व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत किया। 

अतिथियों द्वारा रक्तदाताओं, भामाशाहों, सहयोगी संस्थाओं को सम्मानित किया गया व सांस्कृति कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहन स्वरूप उपहार दिये गये। समारोह के दौरान हंसराज पचेरिया ने देहदान की घोषणा की तथा निर्धन कन्याओं की शादी के लिए समाज सेवी रायचन्द डागा ने 11,000/-रू, रमाकान्त सोनी ने 5100/-रू. व बी.पी. नागर ने नवजात शिशुओं के लिए 100 बेबी किट देने की घोषणा की। सचिव राजेश वर्मा द्वारा महावीर इन्टरनेशनल के प्रकल्पों के बारे में प्रश्नोतरी कार्यक्रम में आगन्तुकों से प्रश्न पूछे गये व कार्यक्रम के दौरान लक्की ड्रा का भी आयोजन किया गया। प्रश्नोतरी व लक्की ड्रा के विजेताओं को भी उपहार भेंट किये गये। डॉ. विनय शर्मा ने नई कार्यकारिणी में अध्यक्ष नत्थूराम कलवासिया, संरक्षक सुरेश सिडाना, उपाध्यक्ष शंकर लाल मूंदड़ा, सचिव राजेश वर्मा, कोषाध्यक्ष अमन रांका, सह-सचिव विजय कुमार सावनसुखा, धनसंग्रह अधिकारी अनिल वर्मा व जनसम्पर्क अधिकारी शिशपाल सारस्वत को एवं नये सदस्यों में रमेश तिवाड़ी, चन्द्र सिंह चौधरी व दीपक बिश्नोई को शपथ दिलाई। इसी प्रकार वीरा केन्द्र की अध्यक्ष नीतू बैद, उपाध्यक्ष इन्दु सोनी, सचिव अंजना सिंह, कोषाध्यक्ष सोनू डागा, सह-सचिव विजयश्री बैद को एवं नई सदस्यों में खुशबु सिंह, सारिका रांका, पूजा बैद, ममता सारड़ा, अनुजा सारड़ा, प्रमिला सुराणा, प्रीति मूंधड़ा, अनिशा नौलखा, चन्दा नौलखा, अदिती गोदारा को शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ. विनय शर्मा ने रक्तदान व पौधारोपण जैसे सेवा कार्यों को और अधिक सुदृढ़ बनाने के लिए महावीर इन्टरनेशनल एपेक्स द्वारा शीघ्र ही लांच किये जा रहे एप के बारे में जानकारी दी तथा अन्य सेवा कार्यों के बारे में भी मार्गदर्शन किया। बी.पी. नागर व दीपक भाटिया ने संस्था के सेवा कार्यों की सराहना करते हुए मानव सेवा को सर्वोपरि बताया। 

श्रद्धेय रमन जी महाराज ने कहा कि ऋग्वेद के अनुसार ‘अस्माकम सेवा धर्म’ अर्थात सेवा ही धर्म है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक धार्मिक ग्रन्थ में सेवा का भाव अंकित है। प्रत्येक सामाजिक संस्थाओं को सत्यता, शुद्ध आचरण, सदाचार, अंहकारविहीन आदि सात तरह की मर्यादाओं में रहते हुए सेवा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। 

गिरीश चावला ने संस्था के सेवा प्रकल्पों की प्रशंसा करते हुए सी.आर.पी.एफ. की ओर से मानव सेवा, पौधारोपण जैसे सेवा कार्यों में हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

चारू नाहटा व नन्दिनी छल्लानी ने संस्था व वीरा केन्द्र के सेवा कार्यों की सराहना करते हुए नारी सशक्तिकरण के बारे में बताया। उन्होंने नारी को शिक्षित कर सिलाई आदि जैसी कलायें सिखाकर उन्हें रोजगारयुक्त बनाने का संदेश दिया तथा महावीर इन्टरनेशनल की ‘स्वस्थ मां स्वस्थ शिशु’ योजना के बारे में बताया। 

इस कार्यक्रम में दानदाता, रक्तदाता, सहयोगी संस्थाओं सहित विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारीगण, गणमान्य व्यक्ति आदि उपस्थित हुए।

संस्था द्वारा सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। नवनिर्वाचित सचिव वीर राजेश वर्मा ने आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया। मंच का सफल संचालन पूर्व अध्यक्ष संजय बैद व विकास पारीक ने संयुक्त रूप से किया।





सूरतगढ़-आधुनिक भारत के निर्माता है बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर - पवन सोनी



सूरतगढ- 14 अप्रैल 2019.

 आज प्रात 11 बजे मानवता के मसीहा, भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की 128 वीं जयंती के उपलक्ष में पवन सोनी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता एकत्रित होकर बाबा साहेब अमर रहे के नारे लगाते हुए केक काटा और और पुष्पांजलि अर्पित की। कार्यक्रम की अध्यक्षता जगदीश बिश्नोई ने की। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता पवन सोनी ने बाबा साहेब की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विश्व के सर्वश्रेष्ठ छः विद्वानों में से एक गिने जानेवाले विलक्षण प्रतिभा के धनी बाबा साहेब का जन्म 14 अप्रैल 1891 में को मध्य प्रदेश की महू छावनी की एक फौजी बैरिक में हुआ था। बाबा साहेब की शिक्षा एक साधारण स्कूल से शुरू होकर अंत में अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की पढ़ाई करके पूरी हुई। बाबासाहेब उच्च कोटि के समाजशास्त्री, अर्थशास्त्री, कानूनविद और राजनीतिज्ञ थे। बाबासाहेब 1947 में स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री बने एवं संविधान निर्मात्री समिति के सभापति बनकर भारतीय संविधान का निर्माण किया। भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना, वित्त आयोग की स्थापना, स्वतंत्रता चुनाव आयोग की स्थापना में अहम भूमिका निभाने के कारण बाबा साहब को आधुनिक भारत का निर्माता कहा जाता है। बाबा साहब ने अपने समाज को शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करने का आह्वान किया। बाबासाहेब 64 विषयो में मास्टर डिग्री की और 9 भाषाओं के ज्ञाता थे। बाबा साहेब की जयंती पूरे विश्व में विश्व विज्ञान दिवस के रूप में मनाई जाती है।


 कार्यक्रम में महावीर प्रसाद टाक, जगदीश विश्नोई, सुभाष गेदर, बालूराम जालप अध्यक्ष नगर कांग्रेस कमेटी ओबीसी, रामेश्वर भोभरिया, बलवन्त विश्नोई,  हेतराम कुचेरिया, पंकज गेदर, सुरेंद्र स्वामी, मनोहर नायक, राजाराम मेघवाल, दीपा राम नायक, कालूराम मेघवाल, महावीर घोड़ेला, सहीराम नायक, मनोज जाटव, राजपाल झटवाल आदि शामिल हुए।





श्रीगंगानगर-डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयंती-जिला कलक्टर ने पुष्प अर्पित किये


श्रीगंगानगर, 14 अप्रेल2019. 

डॉ. भीमराव अम्बेडकर जंयती के अवसर पर रविवार को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा कार्यक्रम आयोजित किया गया। डॉ. भीमराव अम्बेडकर चौक पर जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने फूलमाला व पुष्प अर्पित किये। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन श्री ओपी जैन, एसडीएम श्री मुकेश बारहठ, सहायक निदेशक समाज कल्याण श्री बी.पी.चंदेल, डॉ. प्रेम बजाज, अधीक्षण अभियंता सीएडी श्री गोपाल कृष्ण, सर्किट हाउस मेनेजर श्री संदीप कुमार सहित शहर के गणमान्य नागरिकों ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर की मूर्ति पर पुष्प अर्पित किये।

----------


शुक्रवार, 12 अप्रैल 2019

राहुल गांधी पर राफेल मामले में SC की अवमानना का आरोप, 15 अप्रैल को होगी सुनवाई

**भाजपा प्रवक्ता सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता मिनाक्षी लेखी ने अर्जेंट सुनवाई में लगाई याचिका**

^^^ राहुल बयानों में हवाला देते हैं कि सुप्रीम कोर्ट ने भी राफेल में चौकीदार को चोर माना है, जबकि कोर्ट ने ऐसा कोई फैसला नहीं दिया है।^^^
12 अप्रैल 2019.
**सुप्रीम कोर्ट द्वारा राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना की याचिका को स्वीकर करने से कांग्रेस अध्यक्ष की मुश्किलें बढ़ सकती हैं**
नई दिल्ली।भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधीके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करने को लेकर याचिका दायर की है। सुप्रीम कोर्ट ने मीनाक्षी लेखी की याचिका स्वीकार कर ली है। सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर 15 अप्रैल को सुनवाई करेगा। सुप्रीम कोर्ट द्वारा याचिका स्वीकार किए जाने से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। याचिका में राहुल गांधी द्वारा सुप्रीम कोर्ट के फैसले को तोड़-मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया गया है।
मिनाक्षी लेखी ने अवमानना याचिका दायर कर आरोप लगाया है कि राहुल गांधी ने राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश को तोड़-मरोड़ कर पेश किया। इतना ही नहीं कांग्रेस अध्यक्ष पर आरोप है कि उन्होंने ‘चौकीदार चोर है’ का बयान इस तरह से पेश किया है, जैसे वह सुप्रीम कोर्ट का बयान है। मिनाक्षी लेखी ने आरोप लगाया है कि राफेल मामले में गोपनीय दस्तावेज को बहस का हिस्सान बनाने संबंधी कोर्ट के आदेश को भी राहुल गांधी ने गलत तरीके से लोगों के सामने पेश किया है।
सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश की अव्हेलना को लेकर राहुल गांधी के खिलाफ दायर अवमानना याचिका को स्वीकर कर लिया है। कोर्ट मामले में 15 अप्रैल, सोमवार को सुनवाई करेगा।





गहलोत जोधपुर से अपने पुत्र वैभव को भी जीताने की स्थिति में नहीं हैं।

 

* प्रधानमंत्री मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने से बाज आएं सीएम गहलोत -प्रो. सारस्वत।*

भाजपा पर हमले के लिए तिवाड़ी का सहारा ले रहे हैं गहलोत। 

370 पर सचिन पायलट स्थिति स्पष्ट करें-जैन।

==========

अजमेर जिला देहात भाजपा के अध्यक्ष प्रो. बीपी सारस्वत ने प्रदेश के सीएम अशोक गहलोत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर अभद्र टिप्पणियां करने का आरोप लगाया है। प्रो. सारस्वत ने कहा कि गहलोत संवैधानिक पद पर बैठे हैं, उन्हें देश के प्रधानमंत्री पर गैर मर्यादित टिप्पणियां नहीं करनी चाहिए। प्रो. सारस्वत ने कहा कि 11 अप्रैल को जयपुर की चुनावी सभा में भी गहलोत ने प्रधानमंत्री के लिए झूठा जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया है। गहलोत कभी प्रधानमंत्री मोदी को नाटकबाज कहते हैं तो कभी चोर। भाषणों में मोदी साम्प्रदायिक और राहुल गांधी को धर्मनिरपेक्ष बता रहे हैं। राजस्थान में कांग्रेस का शासन होने के बाद भी मोदी की वजह से भय का वातावरण बताया जा रहा है। गहलोत कह रहे हैं कि इस बार मोदी जीत गया तो फिर देश में चुनाव नहीं होगा। प्रो. सारस्वत ने कहा कि प्रधानमंत्री पर अमर्यादित टिप्पणियां करने से पहले गहलोत को अपने गिरेबां में झांक लेना चाहिए। 2013 में जब गहलोत प्रदेश के सीएम थे, तब कांग्रेस को 200 में से मात्र 21 सीटों पर ही जीत मिली। यदि गहलोत का शासन अच्छा होता तो कांग्रेस की इतनी दुगर्ति नहीं होती। गत विधानसभा के चुनाव में भले ही कांग्रेस की सरकार बन गई है, लेकिन कांग्रेस का भाजपा से मात्र 1 लाख 86 हजार वोट अधिक मिले हैं। गहलोत जो इतना बढ़ चढ़ कर बोल रहे हैं उसकी हवा लोकसभा चुनाव में निकल जाएगी। गहलोत जोधपुर से अपने पुत्र वैभव को भी जीताने की स्थिति में  नहीं हैं। गहलोत एक तरफ कहते हैं कि उन्हें राजनीति में चालीस वर्षों का अनुभव है, लेकिन गहलोत बचकानी बात करने से बाज नहीं आते। गहलोत जिन शब्दों का उपयोग कर रहे हैं वो प्रधानमंत्री पद की गरिमा गिरा रहे हैं। गहलोत को भाजपा पर हमला करने के लिए अब घनश्याम तिवाड़ी का सहारा लेना पड़ रहा है। लम्बे अर्से तक भाजपा में रहे तिवाड़ी को कांग्रेस में शामिल कर गहलोत अपनी बड़ी सफलता समझ रहे हैं। गहलोत कह रहे हैं कि यदि भाजपा में लोकतंत्र होता तो संघनिष्ठ तिवाड़ी कांग्रेस में शामिल नहीं होते। सारस्वत ने कहा कि तिवाड़ी व्यक्तिगत कारणों से कांग्रेस में शामिल हुए हैं। तिवाड़ी के कांगे्रस में शामिल होने से पूरी भाजपा खराब नहीं हो जाती। गहलोत प्रधानमंत्री मोदी के मुकाबले में राहुल गांधी की प्रशंसा कर रहे हैं, जबकि पूरा देश जानता है कि राहुल गांधी के परिवार के सभी सदस्य जमानत पर हैं। सोनिया गांधी से लेकर दामाद रॉबर्ट वाड्रा तक पर वित्तीय अनियमितताओं के आरोप हैं। वहीं पीएम मोदी और उनके परिवार के किसी भी सदस्य पर कोई आरोप नहीं हैं। राफेल विमान सौदे में भी सुप्रीम कोर्ट ने अपने पहले के निर्णय में कोई बदलाव नहीं किया है। पुनर्विचार भी केन्द्र सरकार की याचिका पर किया जा रहा है।  गहलोत स्वयं प्रदेश के सीएम हैं, लेकिन मोदी की वजह से भय और डर का वातावरण बता रहे हैं। प्रो. सारस्वत ने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के मन में भय होना ही चाहिए। गहलोत का यह कहना है कि मोदी दोबारा से पीएम बन गए तो देश में कभी भी चुनाव नहीं होंगे, यह लोगों को डराने वाली बात है। पूरा प्रदेश जानता है कि कांग्रेस के तीन माह के शासन में विकास ठप हो गया है। गहलोत राजनीति दुर्भावना से सरकार चला रहे हैं, इसलिए केन्द्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्रदेश के गरीब लोगों को नहीं दिलवा रहे। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में प्रदेश के पात्र किसानों को सूची भी केन्द्र को नहीं भेजी हैं। वायदे के मुताबिक सरकारी बैंकों का किसानों का ऋण अभी तक भी माफ नहीं किया है। 

पायलट जवाब दें:

अजमेर नगर सुधार न्यास के अध्यक्ष रहे और भाजपा के वरिष्ठ नेता धर्मेश जैन ने कश्मीर के मुद्दे पर अनुच्छेद 370 पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और डिप्टी सीएम सचिन पायलट से स्थिति स्पष्ट करने का कहा है। पायलट को यह बताना चाहिए कि वे अनुच्छेद 370 को लागू रखने के पक्ष में हैं या विरोध में। भाजपा ने जब अपने संकल्प पत्र से अनुच्छेद 370 को कश्मीर से हटाने की बात कही तो कश्मीर के पूर्व सीएम फारुख अब्दुल्ला ने राष्ट्र विरोधी बयान दिया। फारुख का कहना रहा कि यदि अनुच्छेद 370 को हटाया गया तो कश्मीर भारत से अलग हो जाएगा। चूंकि सचिन पायलट फारुख अब्दुल्ला के दामाद हैं, इसलिए उन्हें राजनीतिक तौर पर अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। राजस्थान में पहले चरण का मतदान 29 अप्रैल को है उम्मीद है कि पायलट मतदान से पहले अपनी स्थिति स्पष्ट कर देंगे। सब जानते हैं कि 370 की वजह से कश्मीर में आतंकवाद पनपा है। प्रदेश के मतदाताओं को भी पता चलना चाहिए कि सत्तारुढ़ पार्टी के अध्यक्ष की 370 पर क्या राय है। 

एस.पी.मित्तल) (11-04-19)




सेक्स रैकेट, 4 महिलाएं गिरफ्तार, ट्रेंड कुत्ता यूं करता था मदद:( क्लिक कर पढें)

^^ संचालिका औरत का कहना भी जानिए  ^^


*उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस ने एक मकान में छापेमारी कर के देह व्यापर लिप्त संचालिका और तीन युवतियों के साथ दो ग्राहकों और एक ब्रोकर को गिरफ्तार किया है।*

उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक किदवई नगर पुलिस ने गुरुवार (11 अप्रैल) देर शाम को इस कार्रवाई को अंजाम दिया।

 पुलिस ने मकान में छापेमारी कर के देह व्यापर लिप्त संचालिका और तीन युवतियों के साथ दो ग्राहकों और एक ब्रोकर को गिरफ्तार किया है।

 पुलिस सभी से पूछताछ कर रही है। इस सेक्स रैकेट में एक पालतू कुत्ते की भी अहम भूमिका बताई जा रही है। किदवई नगर थाना क्षेत्र स्थित डब्ल्यू ब्लॉक में यह रैकेट चल रहा था। घाटमपुर की रहने वाली एक महिला इस सेक्स रैकेट को ऑपरेट कर रही थी। यह पूरा काला काम किराए के मकान से अंजाम दिया जा रहा था।


आरोपी महिला ने दी ये दलीलः उसने बताया, ‘जिन लड़कियों की माली हालत ठीक नहीं होती थी और परिवार चलाने समेत कई जिम्मेदारियों का बोझ होता था। वो अपनी इच्छा से यहां आती थी किसी पर कोई दबाव नहीं बनाया जाता था।’ आरोपी महिला का कहना है, ‘हमने छह दिन पहले ही डब्ल्यू ब्लॉक में मकान किराए पर लिया था। एक मेरा साथी है उसके संपर्क में ये सभी लड़कियां थीं। उसके माध्यम से मैं भी इन्हें जानने लगी।’


यूं मदद करता था कुत्ताः रैकेट में शामिल कुत्ता गेट के पास रेकी करता था और आने-जाने वालों पर नजर रखता था। कुत्ता भौंक कर संचालिका को संकेत देता था कि कोई गेट पर आया है। संचालिका ने इसे ट्रेंड किया था कि किस तरह से पूरे मकान पर नजर रखनी है। आरोपी महिला के मुताबिक यह पब नस्ल का कुत्ता है, इसको ट्रेंड किया था और ये पूरे मकान की रेकी करता था। उसने यह भी कहा कि इसके भौंकने से हमें आहट हो जाती थी कि कोई आया है।

 सीओ बाबुपुरवा मनोज कुमार ने बताया कि उन्हें लोगों से जानकारी मिली थी कि साकेत नगर में सेक्स रैकेट चल रहा है। इसके बाद छापेमारी की तो मकान से तीन लड़कियों के साथ संचालिका मिली। इसके साथ ही वहां से दो ग्राहक और एक ब्रोकर भी पकड़ा गया। सभी पर कानूनी कार्रवाई की जा रही है

साभार जनसत्ता ओनलाइन

( जब औरत ही यह कार्य करवाने लगे तो फिर कौन होगा रक्षक?)





सूरतगढ़ गंगानगर हनुमानगढ बीकानेर- अंधड़ बिजली बरखा औले

मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार 11 अप्रैल की रात्रि में तेज अंधड़ और बिजली की चमक ने बीकानेर संभाग के  इलाके को घेरा। किसानों को पिछले दिनों भी नुकसान हुआ और अब इस अंधड़ ने भी हालात और खराब कर दिए हैं। अंधड़ के साथ बिजली की चमक के साथ बरखा और कई स्थानों पर औले भी गिरे।

सूरतगढ़ शहर में अंधड़ के साथ मामूली बूंदे गिरी। अंधड़ आधी रात के बाद भी चलता रहा।




बुधवार, 10 अप्रैल 2019

महावीर जयंती 17 अप्रैल पर सूखा दिवस:

श्रीगंगानगर, 10 अप्रेल 2019.

जिला आबकारी विभाग द्वारा 17 अप्रेल को महावीर जयंती के उपलक्ष्य पर सूखा दिवस की पालना के लिये क्षेत्रवार आठ अधिकारियों को लगाया गया है। 

आठ अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में सूखा दिवस की पालना करवाना सुनिश्चित करेंगे। 

श्रीगंगानगर लोकसभा चुनाव 2019. पर्यवेक्षक पहुंचे-मोबाइल नं.नोट करें


श्रीगंगानगर, 10 अप्रेल। लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा गंगानगर संसदीय क्षेत्र के लिये लगाये गये व्यय पर्यवेक्षक श्री धीरज सिंह बघेल श्रीगंगानगर पहुंच गये है। इनके मोबाईल नम्बर 7597526685 है। निर्वाचन व्यय से संबंधित इस मोबाईल नम्बर पर संपर्क किया जा सकता है। 

----------



सूरतगढ़ एसडीएम कार्यालय के आगे खड़ी गैरकानूनी सफेद बालवाहिनियां



सूरतगढ़ में परिवहन विभाग और यातायात पुलिस दोनों के सामने प्रतिदिन गैरकानूनी बालवाहिनियां गुजरती है। 

बाल वाहिनियोंके लिए सख्त नियम हैं, लेकिन स्कूल संचालन समितियां वाले पालन नहीं करते और संबंधित विभाग भी किसी न किसी कारण से मेहरबान बने छूट दिए हुए हैं। 

कभी भी कोई हादसा हुआ तो सूरतगढ़ का परिवहन विभाग और यातायात पुलिस सीधे रुप से जिम्मेदार होंगे।


 उपखंड कार्यालय के आगे सड़क के किनारे पेड़ों की छाया में अनेक बाल वाहिनी खड़ी रहती हैंं । कुछ का रंग नियमानुसार पीला है मगर कुछ सफेद और लाल भी है,जिन पर बालवाहिनी लिखा है। कुछ पर स्कूलों के नाम भी लिखे हैं। यह स्थान भी पार्किंग के लिए नहीं है।

स्कूल वाले बच्चों के आने जाने के लिए भारी भरकम फीस वसूल करते हैं। लेकिन बाल वाहिनियों के लिए निर्धारित नियमों का पालन नहीं करते।

अभिभावक भी अपने बच्चों के जीवन की सुरक्षा बाबत घोर लापरवाह हैं। गैरकानूनी वाहनों में बच्चों को स्कूलों में भेजने से रोकना चाहिए।

मासूम बच्चों को तो मालूम नहीं है कि वे गैर कानूनी बालवाहिनियों में आते जाते हैं,लेकिन संबंधित विभागों के अधिकारियों कर्म देखना है कि विभाग नियमों का पालन करते हुए गैर कानूनी बालवाहिनियां सीज करेगा?



यह ब्लॉग खोजें