मंगलवार, 3 जुलाई 2018

राजस्थान में जट सिख भी ओबीसी में शामिल

राजस्थान सरकार ने ओबीसी की सूची में जाट के साथ जट सिख जाति को शामिल कर लिया है। इसे लेकर 29 जून 2018 को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव जेसी महांति ने आदेश जारी कर सभी जिलों के कलक्टर, एसपी व अन्य अधिकारियों को अवगत करवाया है।

मंत्री मंडल में लिए गए निर्णय का जिक्र कर अतिरिक्त मुख्य सचिव ने जट सिख जाति को ओबीसी सूची में शामिल करने को लेकर आदेश जारी किया है। राज्य की अन्य पिछड़ा वर्ग की अधिकृत सूची में तत्काल प्रभाव से क्रम संख्या 54 पर जाट जाति के आगे जट सिख जाति को शामिल कर इसका लाभ देने के लिए संबंधित अधिकारियों को पाबंद किया गया है। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के हजारों जट सिख परिवारों को आरक्षण का लाभ मिलेगा।

जिला कांग्रेस कमेटी ओबीसी विभाग के जिलाध्यक्ष गुरदीप सिंह चहल ने बताया कि तत्कालीन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जट सिख परिवार के लोगों की भावना का सम्मान करते हुए ओबीसी वर्ग की जातियों के वर्गीकरण की सूची में जट सिख को शामिल कर लिया था। अब इस संबंध में राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी कर ओबीसी सूची में जाट के साथ जट सिख को भी शामिल कर लिया है। इससे अब जट सिख परिवार के युवक-युवतियों को उच्च शिक्षा के साथ नौकरी में आरक्षण का लाभ मिल सकेगा।


ओबीसी सूची में जट सिख को शामिल करवाने की मांग को लेकर कांग्रेस ओबीसी प्रकोष्ठ के प्रदेश महामंत्री व देवस्थान विभाग के सदस्य हरदीप सिंह चहल के नेतृत्व में समाज का प्रतिनिधि मंडल तत्कालीन सीएम अशोक गहलोत से मिला था। इस मांग पर गंभीरता दिखाकर गहलोत ने तत्काल ओबीसी सूची में जट सिख को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी। इस संबंध में सरकार ने हाल ही में अधिसूचना जारी की है।


ओबीसी प्रकोष्ठ के कार्यकर्ता अब जट सिख समाज को केंद्रीय सूची में शामिल करवाने को लेकर प्रयासरत हैं। कांग्रेस ओबीसी वर्ग के जिलाध्यक्ष गुरदीप चहल, जिला महामंत्री रिछपाल सिंह मान, जिला सचिव गुरलाल बराड़, जट सिख समाज के जगतार सिंह मक्कासर, गुरदीप सिंह चिश्तियां व सुखपाल सिंह आदि लगातार जट सिख जाति को ओबीसी सूची में शामिल करने को लेकर संघर्षरत रहे हैं। सभी कार्यकर्ताओं ने सूची में शामिल होने पर खुशी मनाई। राज्य सूची में शामिल होने के बाद अब आगे ओबीसी की केंद्रीय सूची में जट सिख को शामिल करने को लेकर प्रयास शुरू कर दिए गए हैं।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें