शनिवार, 19 मई 2018

कांग्रेसनेता पूर्वविधायक हरचंदसिंह सिद्धू का हथियार लायसेंस नवीनीकरण पुलिस का इनकार



* टिकट के दावेदार और कांग्रेस के नेता वरिष्ठ वकील की सुरक्षा पर खतरा  *

 - करणीदानसिंह राजपूत -

 सूरतगढ़ पुलिस की रिपोर्ट पर एसपी श्रीगंगानगर ने 2बार विधायक रह चुके सरदार हरचंदसिंह सिद्धु का हथियार लाइसेंस रिन्यू करने को अनुचित बताया है। लाइसेंस नवीनीकरण नहीं होने से उनकी आत्मसुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो गया है। सूरतगढ पुलिस इससे पहले भी ऐसी हरकत कर चुकी है।

हरचंद सिंह सिद्धू का हथियार सन 2013 में चुनाव के वक्त थाना अधिकारी रणवीर सिंह की रिपोर्ट पर पहले हथियार थाने में जमा करवाया गया और बाद में कहा गया कि लाइसेंस निलंबित कर दिया गया है।

 सिद्धू ने उस समय कानूनी और उच्च न्यायालय के हवाले दे करके पुलिस सीआई रणवीर साईं की कार्यवाही को गलत बताया था तब लाइसेंस रिन्यू किया गया। सिद्धु ने उस समय पुलिस की गलत कार्रवाई को जानबूझकर की गई कार्यवाही का आरोप लगाया था।

इस बार फिर चुनाव का मौका है और कुछ महीने बाकी हैं और सिद्धु सूरतगढ सीट से टिकट के दावेदार भी हैं। एक बार फिर से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के लाइसेंस रिन्यू पर पुलिस की आपत्ति से सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगा है। 

सिद्धू ने 18 मई को खुद ने SP को श्रीगंगानगर में पत्र दिया है जिसमें पुलिस की कार्यवाही पर ऐतराज़ किया गया है और अनेक उदाहरण दिए गए है। यहां तक कहा गया है कि यह मामला अदालत की अवमानना तक का बनता है। सिद्धू ने कहा है कि उसके विरुद्ध पुराने मामले जो राजनीतिक थे और उनमें बरी हो चुके हैं। 3 साल के भीतर कोई मामला हो तब पुलिस को ऐतराज़ हो सकता है लेकिन ऐसा नहीं है। एक मामला  अदालत में विचाराधीन है।

SP को दिए पत्र में लिखा है कि लाइसेंस का नवीनीकरण करने की अनुशंसा अतिरिक्त कलक्टर सूरतगढ़ को पुनः भेजी जाए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें