गुरुवार, 25 मई 2017

नाबालिक से बलात्कार मूवी बनाकर डर पैदा कर 1 साल से देह शोषण

सूरतगढ़ 25 मई 2017.
 सिटी पुलिस थाना क्षेत्र में​ घर में अकेली  एक किशोरी से पहले जबरन बलात्कार किया और मोबाइल पर वीडियोग्राफी की बाद में डर पैदा कर 1 साल तक देह शोषण किया जाता रहा।
यह संगीन मामला पीड़िता के पिता की ओर से मंगलवार 23 मई शाम को दर्ज कराया गया। द
बलात्कार और देह शोषण के शिकार पीड़िता 17 वर्षीय किशोरी अनुसूचित जाति की है और आरोपी श्रवण भादू स्वर्ण जाति का है। पुलिस ने यह प्रकरण पोक्सो एक्ट और अनुसूचित जाति अत्याचार निवारण अधिनियम में दर्ज किया है। इसकी जांच श्रीगंगानगर के पुलिस उपाधीक्षक चेतराम सेवदा को सौंपी गई है।उप अधीक्षक  सूरतगढ़ पहुंचे और उन्होंने अनुसंधान शुरू किया। सिटी पुलिस थाने में दर्ज
रंग महल गांव का यह मामला है जो पीड़ित किशोरी के पिता ने दर्ज करवाया है।
प्रकरण के अनुसार पिता ड्राइवरी करता है और माता छोटे बच्चों की एक सरकारी योजना में काम करती है।

करीब 1 साल पहले माता पिता दोनों के बाहर होने पर किशोरी घर में अकेली थी। श्रवण भादू गाड़ी किराए पर लेने के लिए बात करने आया और उसने देखा कि  घर में किशोरी अकेली है तो उसका मन खराब हुआ। वह किशोरी को जबरन कमरे में ले गया और जबरदस्ती बलात्कार किया तथा अपने मोबाइल से अश्लील फिल्म बना ली।उसके बाद जब मौका मिलता वह किशोरी को डराता कि फिल्म लोगों को दिखा देगा। यह डर पैदा कर ब्लैकमेलिंग करते हुए 1 साल तक देह शोषण करता रहा।
 किशोरी इस डर और देहशोषण से गुमसुम रहने लगी। किशोरी की हालत पर मां बाप की नजर गई तो उन्होंने पूछा तब उसने पूरा घटनाक्रम बताया कि श्रवण ने उसके साथ बुरा काम किया है और डरा कर 1 साल से बुरा काम कर रहा है। श्रवण भादू बडोपल डेहर का निवासी है और बेरल पॉइंट चलाता है।

इस घटना से सावधान रहने की आवश्यकता है जहां माता पिता दोनों बाहर काम के लिए जाते हैं और घर में लड़कियां अकेली होती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें