Friday, November 18, 2016

सावंतसर में पुलिस थाना पदमपुर द्वारा निशुल्क नशामुक्ति जनजाग्रति कार्यशाला


श्रीगंगानगर, 18 नवम्बर। जिला पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कोटोकी के निर्देशानुसार पुलिस प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे नशामुक्ति के अर्न्तगत शुक्रवार को रा.उ.मा.वि.सावंतसर में पुलिस थाना पदमपुर द्वारा निशुल्क नशामुक्ति जनजाग्रति कार्यशाला प्रशिक्षण एंव परामर्श श्विर का आयोजन किया गया। 
राजकीय परामर्श एंव उपचार केन्द्र श्रीगंगानगर के प्रभारी डा. रविकांत गोयल ने मुख्यवक्ता के रूप में अपने सम्बोधन में कहा कि नशा आज तेजी से बढ रहा हैं। स्कूल एंव कॉलेज विधार्थी भी नशे के गिरफत में आ रहें हैं तथा महिला भी इस लत की शिकार हो रही हैं। इसको देखते हुए यदि समाज में नशा मुक्ति की अलख घर घर में ना जगाई गई तो निकट भविष्य में हर घर में नशा करने वाले पाए जाऐंगे। इसलिए हर व्यक्ति को इसे अपना व्यक्तिगत कार्य मानकर नशामुक्ति अभियान को सफल बनाने में जुटना होगा तभी हम नशे के जाल से मुक्त हो पाऐंगे। डा. गोयल ने नशे से बचने व अन्य को बचाने के सरल वैज्ञानिक उपाय बताते हुए उपस्थित विधार्थियों ग्रामिणो व जन प्रतिनिधियों को जीवनभर नशा ना करने व नशा छुडाने की शपथ दिलाई !
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डिप्टी एसपी करनपुर श्री सुनिल के पंवारजी ने अपने सम्बोधन में विधार्थियों को नशे की बुराईयों को समझा कर इससे दूर रहते हुए अपने माता पिता व गुरजनो के दिखाए सदमार्ग पर चलते हुए एक आदर्श जीवन जीने के लिए प्रेरित किया तथा जिले में चल रहे नशामुक्ति अभियान की जानकारी दी।
इस अवसर पर थाना अधिकारी पदमपुर श्रीदलीप खतरी ने कहा कि नशे सर्वाधिक मार महिलाओं पर पडती हैं अतः महिला वर्ग को जगरूक होकर व एक कदम आगे बढकर समाज से नशे को समाप्त करने में अपना योगदान देना चाहिए, जिससे समाज को नशे की मार से बचाया जा सके। 
कार्यक्रम में पुलिस कर्मी श्री श्योपत रामजी समाज सेवी सरदार बलवंत सिंह एंव ग्रामिणों जनप्रतिनिधियों व स्थानीय विधालय व रा.बा.मा.वि. तथा विधा मैमोरियल सै.वि. के विधार्थियों व अध्यापक गणो ने भाग लिया।
इस अवसर पर स्थानीय विधालय के प्रधानाचार्य श्री राजेन्द्र प्रसाद मुंझाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि विधार्थी यदि समाज से नशे को मिटाने की ठान लें व दिन दूर नही जब हमारा देश नशामुक्त हो जाऐगा। अतः विधार्थियों को इस नेक कार्य में पुरी ताकत से जुट जाना चाहिए । इस अवसर डा. गोयल ने रोगियों की मौके पर ही जॉंच की व परामर्श प्रदान किया। 


No comments:

Post a Comment

Search This Blog