शुक्रवार, 14 अक्तूबर 2016

दीप विजुएल सूरतगढ़ की सफलता के 25 वर्ष:


9 अक्टूबर 2016 को 25 साल पूर्ण:अब दीप आई हॉस्पीटल:
- करणीदानसिंह राजपूत -
सूरतगढ़। दीप विजुएल का शुभारंभ भगतसिंह चौक के पास रेलवे रोड पर उपखंड अधिकारी पद पर नियुक्त वासुदेव शर्मा ने किया था। भारत विकास परिषद के जोन अध्यक्ष तक पदों पर पहुंचे राष्ट्रीय विचार धारा के घनश्याम शर्मा इसके संचालक मालिक ने इसे गति दी। श्रीगणेश के समय से ही आधुनिक मशीनों से नेत्र जाँच करने का कार्य लोगों को प्रभावित करने लगा था। उस समय जापान का उपकरण काफी महंगा था मगर इस कस्बे को उसकी सुविधा दी गई।
घनश्याम शर्मा ने अपने कार्यों से लोगों को प्रभावित किया। नेत्रों की दृष्टि वाले चश्मों की जरूरत हर जन को उम्र के हिसाब से पड़ ही जाती है।
समय की आवश्यकता के अनुसार इसका विकास हुआ।
अब ऑप्टम सर्वेश शर्मा यहां अति आधुनिक मशीनों से नेत्र दृष्टि की जाँच करते हैं। इस इलाके का सर्वश्रेष्ठ नेत्र जाँच का केन्द्र बन गया है दीप आई हॉस्पीटल।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें