रविवार, 26 जून 2016

सरकारी विभागों पर एसीडी की नजर: गुप्त सूचनाओं पर प्रभावी कार्यवाही होगी:


लेट लतीफ, काम से मन चुराने वाल, नकारा कार्मिकों को नोटिस दिए जाने के निर्देश:
स्पेशल न्यूज- करणीदानसिंह राजपूत


 update 26-6-2016
श्रीगंगानगर 20 अप्रेल 2016.
भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एवं जिले के प्रभारी सचिव श्री टी. रविकान्त ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजकीय कार्यालयों की गरिमा होनी चाहिए। कार्यालय निर्धारित समय पर खुले तथा सभी कार्मिक निर्धारित समय पर कार्यालय पहुंचे। 

कार्यालय में आने वाले नागरिकों के प्रति व्यवहार सद्भावी होना चाहिए तथा कोई भी अधिकारी कार्यालय में नही आने पर अन्य कार्मिकों को अधिकारी के आने का समय इत्यादि की जानकारी के संबंध में संतोषजनक जवाब देने चाहिए। भोजन अवकाश भी निर्धारित अवधि से ज्यादा नही हो। प्रत्येक अधिकारी व कर्मचारी को सवेंदनशील एवं जवाबदेही बनना होगा।
उन्होंने कहा कि कार्यालयों की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए। कार्यालय साफ-सूथरा हो, बरताव अच्छा हो। इन बातों को राज्य सरकार ने गंभीरता से लिया है। समस्त राजकीय कार्यालय जनता के संस्थान है। सभी कार्यालयों में शौचालय हो तथा कार्यशील हो, जो कार्मिक नकारा है, लेट लतीफ आते है, काम से मन चुराते है, उन्हें नोटिस दिया जाये तथा नियमानुसार कार्यवाही करें। अपनी मित्रता निभाकर कार्यालयों का नुकसान नही करें तथा प्रत्येक कार्यालय पर एसीडी की नजर है तथा गुप्त सूचनाओं के आधार पर समय-समय पर प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। जो भी अधिकारी व कर्मचारी यात्राएं पर जाये तो पुस्तिका में इन्द्राज करें।
जिला मुख्यालय पर आयोजित इस बैठक में श्रम नियोजन राज्यमंत्री श्री सुरेन्द्र पाल सिंह टीटी,गंगानगर विधायक श्रीमती कामिनी जिंदल, नगर परिषद अध्यक्ष अजय चांडक, बलदेव सिंह बराड़, प्रधान  पुरूषोतम सिंह, एडीएम करणसिंह, जिला आबकारी अधिकारी शंकरलाल शर्मा, महाप्रबंधक शुगरमिल अरूण गर्ग, अनुसूचित जाति व जनजाति के परियोजना प्रबंधक हरविन्दर सिंह, रायसिंहनगर विधायक श्रीमती सोना देवी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी विश्राम मीणा, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीमती रचना भाटिया, न्यास सचिव करतार सिंह पूनिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें