रविवार, 27 दिसंबर 2015

सूरतगढ़ पुस्तक प्रदर्शनी में राजस्थानी 2 पोथियों का विमोचन भी होगा


2 जनवरी से 6 जनवरी तक पांच दिन चलेगा कार्यक्रम
                  सूरतगढ़ । राजस्थानी व हिंन्दी के जाने माने लेखकों की पुस्तकों की विशाल प्रदर्शनी का पांच दिन का यहां आयोजन किया गया है। नववर्ष की 2 जनवरी से 6 जनवरी तक पुस्तक प्रदर्शनी रहेगी। पुस्तक प्रदर्शनी का उदघाटन मायड़ भाषा प्रेमी दिलात्मप्रकाश जैन, जेलर प्रभु सिंह, डाक्टर एसके जेतली व व्याख्याता राजेन्द्र छींपा करेंगे।
इसके बाद मनोज कुमार स्वामी की आत्मकथ्य राजस्थानी पुस्तक खेचळ अर खेचळ का विमोचन समारोह होगा। जिसकी अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार समालोचक करणीदानसिंह राजपूत करेगे। मुख्य अतिथि प्रकाशक बोधि प्रकाशन जयपुर संदीप मायामृग होंगे। विशिष्ठ अतिथि अभिनव अनिल सैनी, राजस्व बारसंध अध्यक्ष साहबराम स्वामी, सीताराम शर्मा, अनिल चुघ व डाक्टर गोरीशंकर निमिवाल होंगे। इस पुस्तक पर पत्र वाचन सुमन शेखावत द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा।
इसी कड़ी में 3 जनवरी को रचनाकार आकाशवाणी के उदद्योषक बीरूराम चावरियां के राजस्थानी उपन्यास खिण्डता मोती का विमोचन समारोह आयोजित होगा जिसमें अध्यक्षता करणीदानसिंह राजपूत करेगे। मुख्य अतिथि डाक्टर जितेन्द्र बोगिया विशिष्ठ अतिथी मनोजकुमार स्वामी व प्रहलाद राय पारीक होंगे। इस उपन्यास का पत्रवाचन शिक्षाविद मांगीलाल शर्मा करेंगे।
ये कार्यक्रम नगरपालिका के समीप की चौपड़ा धर्मशाला में होंगे।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें