सोमवार, 27 अप्रैल 2015

बसपा नेता डूंगर गेधर की चुपी सवाल बनी?


भाजपा व विधायक भादू के मामलों में चुप।
सूरतगढ़। विधानसभा चुनाव के बाद से बसपा नेता भाजपा और भाजपा के विधायक राजेन्द्र भादू के मामलों और नगरपालिका के मामलों पर एकदम चुप हैं। भादू के बाद विभागों में क्या हो रहा है? पुलिस में क्या हो रहा है? राजस्व विभाग में क्या हो रहा है? भादू की कोठी कटलों पर भी चुपी। विधानसभा चुनाव के मंचों पर भाजपा और कांग्रेस को एक ही थैली के चट्टे बट्टे बताने वाली बसपा के नेता डूंगर गेधर के चुप रहने पर सवाल उठाए जाने लगे हैं। आखिर क्यों चुप हैं? डूंगर गेधर और बसपा दोनों ही चुप हैं।
डूंगर गेधर चुनाव से पहले कहा करते थे कि वे सूरतगढ़ में ही रहेंगे। सूरतगढ़ में रहकर राजनीति करनी है तो भाजपा और भाजपा के विधायक की रीति नीति पर मुंह खोलना ही पड़ेगा।
डूंगर राम गेधर बसपा की राष्ट्रीय कार्य समिति के सदस्य हैं और यह सदस्यता भी पावरफुल ही मानी जाती है।
चुपी को राजनीति तो नहीं माना जा सकता।
=========================

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें