मंगलवार, 5 अक्तूबर 2021

सूरतगढ़ से भाजपा के 2023 में फिर वही चेहरे होंगे टिकट के दावेदार

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के चुनाव में भाजपा की टिकट के दावेदारों में फिर वही पुराने चेहरे होंगे रामप्रताप कासनीया और राजेंद्र सिंह भादू। संपूर्ण विधानसभा क्षेत्र में दिनरात सक्रियता में ये ही संघर्षरत नजर आ रहे हैं। रामप्रताप कासनीया वर्तमान में विधायक हैं और राजेंद्र सिंह भादू पूर्व विधायक हैं। 



वर्तमान कांग्रेस राज में भाजपा के प्रदर्शनों आदि में और अलग अलग कार्य कराने में किसानों के साथ इनके अलावा कोई समय नहीं दे रहा।


 राजेंद्र सिंह भादू एक बार 2013 से 2018 तक सूरतगढ़ से विधायक रहे हैं।


रामप्रताप कासनीया सूरतगढ़ से 2018 में विधायक चुने गए लेकिन पीलीबंगा से चुनाव जीतते हुए राज्यमंत्री रह चुके हैं। सन 2018 के चुनाव में भाजपा की टिकट की दावेदारी में कासनीया और भादू ही प्रमुख थे। कासनीया को टिकट मिली और वे जीते। यहां विशेष यही देखा जा रहा है कि भादू टिकट नहीं मिलने के बावजूद लोगों के साथ संघर्ष में खडे़ रहते हैं। अनेक प्रदर्शनों में दोनों की मौजूदगी रहती है।

विधानसभा चुनाव 2023 में अभी 2 साल बाकी हैं तो फिर इतने पहले यह चर्चा क्यों? यह प्रश्न होना भी स्वाभाविक है। 

अभी कुछ दिन पूर्व एक व्यावसायिक उद्घाटन समारोह में विभिन्न राजनीतिक लोग पहुंचे। वहां भाजपा के अनेक कार्यकर्ता भी पहुंचे। बस। वहीं यह चर्चा शुरू हुई कि अगली बार भाजपा किसको लड़ा सकती है?वहीं यह बात भी प्रमुख रही कि ये दो ही दावेदार सक्रियता में नजर आ रहे हैं। ०0०








कोई टिप्पणी नहीं:

यह ब्लॉग खोजें