रविवार, 17 जून 2018

महेंद्र सिंह शेखावत के काव्य संग्रह सफ़र का लोकार्पण










* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 17 जून 2018.

भाषा के प्रखर ज्ञाता महेंद्र सिंह शेखावत के काव्य संग्रह सफ़र का लोकार्पण आज साहित्यकार डॉक्टर हरिमोहन सारस्वत की अध्यक्षता में टैगोर PG कॉलेज के सभागार में हुआ।

 शहर के लब्ध प्रतिष्ठित लोग जो विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत हैं वे इस समारोह में शामिल हुए। मुख्य अतिथि

गर्भस्थ शिशु संरक्षण समिति के जिला अध्यक्ष परसराम भाटिया और कार्यक्रम अध्यक्ष हरिमोहन सारस्वत सहित मंचासीन अतिथियों ने काव्य संग्रह का लोकार्पण किया।

महेंद्रसिंह शेखावत

 इस अवसर पर संग्रह में समायोजित कविताओं के बारे में महेंद्र सिंह शेखावत ने बताया कि सफ़र में हर प्रकार के  सुख दुख की अनुभूति होती है। पिछले करीब 15 सालों में विभिन्न प्रकार के अनुभव मिलते रहे हैं जिन्हें काव्य रूप में संयोजित किया गया। यह काव्य संग्रह राजस्थान साहित्य अकादमी के सहयोग से प्रकाशित हुआ है।

मुख्य अतिथि परसराम भाटिया ने काव्य रचनाओं पर अपने विचार व्यक्त किए। 

हरिमोहन सारस्वत 'रूंख'

डॉक्टर हरिमोहन ने अपने अध्यक्षीय भाषण में साहित्य और शहर के बारे में विभिन्न प्रकार के सम्मेलन आदि पर अपने विचार रखे। 

विशिष्ट अतिथि साहित्यकार रामेश्वर दयाल तिवारी ने विस्तृत विचार व्यक्त किए।

 विशेष  अतिथियों एडवोकेट अमित कपूर व पार्षद सुरेंद्र सिंह राठौड़ ने  महेंद्र सिंह शेखावत के काव्य संग्रह सफ़र पर अपने विचार प्रकट किए।

आकाशवाणी के वरिष्ठ उद्घोषक रमेश शर्मा ने काव्य संग्रह पर पत्र वाचन किया जिसमें समायोजित कविताओं पर विचार रखे। 

इस अवसर पर अमरपुरा जाटान से पधारे किसान कवि के नाम से विख्यात रिडमाल सिंह राठौड़ ने राजस्थान की धरती के विकास व हरियाली का सांगोपांग राजस्थानी और हिंदी  कविताओं के माध्यम से प्रस्तुत किया।

रिड़मालसिंह राठौड़

इस समारोह का संयोजन शब्द के ज्ञाता मांगीलाल शर्मा ने किया।

आभार श्रीमती रजनी मोदी की ओर से किया गया। 

समारोह में साहित्यिक संस्थाओं से संबंधित बुद्धिजीवी पत्रकार व रूचि रखने वाले लोगों ने भाग लिया।


 इस अवसर पर साहित्य गोष्ठियां आयोजित किए जाने का आह्वान किया गया।



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें