Wednesday, March 15, 2017

पालिकाध्यक्ष काजल छाबड़ा के घोटाले वाली मालचंद की संपूर्ण शिकायत: सबसे पहले: जबरदस्त हड़कंप मचा हुआ है:


- करणीदानसिंंह राजपूत -
सूरतगढ़ 15 मार्च 2017.

नगरपालिका अध्यक्ष काजल छाबड़ा ने भ्रष्टाचार मुक्त सूरतगढ़ का वादा किया और वह अपने वादे पर कायम नहीं रह सकी। काजल छाबड़ा के काल में भ्रष्टाचार व अनियमितताएं बहुत हुई क्योंकि कोई रोक टोक करने वाला नहीं है।
मालचंद जैन पत्रकार की शिकायत में काजल छाबड़ा, पालिका के सहायक अभियंता तरसेम अरोड़ा,कनिष्ठ अभियंता मोहित व्यास, कनिष्ठ अभियंता महेन्द्र थलौड़,लेखाकार लालचंद सांखला,निर्माण शाखा के लिपिक राजकुमार छाबड़ा पर भ्रष्टाचार के आरोप में 23 अप्रेल 2015 को शिकायत भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में की थी।
राजकुमार छाबड़ा रिश्वत के मामले में गिरफ्तार व सस्पैंड है। लालचंद सांखला का स्थानान्तरण नोहर हो गया था।
इसकी प्रतियां अन्य अधिकारियों को भी दी गई थी।
भाजपा को चुनाव में स्पष्ट बहुमत में एक पार्षद कम रहा मगर निर्दलीयों का समर्थन लेकर काजल छाबड़ा को अध्यक्ष बनाया गया। विधायक राजेन्द्रसिंह भादू ने उनको अध्यक्ष पद पर जितवाने में सहयोग दिया लेकिन पालिका के घोटालों में काजल छाबड़ा पर परेशानियां आने वाली हैं उनमें विधायक क्या बचाव कर पाऐंगे?
मूल शिकायत पहली बार आपके सामने पेश है।












No comments:

Post a Comment

Search This Blog