Friday, December 2, 2016

अलीपुरा में नशा मुक्ति जन जागृति कार्यशाला

 
श्रीगंगानगर, 2 दिसम्बर 2016। जिला पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कोटोकी के निर्देशानुसार पुलिस थाना सादुलशहर द्वारा नशा मुक्ति जन जागृति कार्यशाला एवम् निःशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर का आयोजन रा0मा0विद्यालय अलीपुरा में किया गया। इस कार्यशाला में स्थानीय विद्यालय के अलावा मास्टर बलराम मैमोरियल उ0मा0वि0 व गोपाल मैमोरियल मा0 विद्यालय के विद्यार्थियों, शिक्षको  अभिभावको व पंचायत के गणमान्य लोगो ने भाग लिया।
 
नशामुक्ति जन जागृति कार्यशाला के मुख्य वक्ता नशामुक्ति परामर्श एवम् उपचार केन्द्र के प्रभारी डॉ0 रविकान्त गोयल ने शिक्षकों से आहवान किया कि शिक्षक बढ़ते नशे जैसी सामाजिक बुराईयों और समाज में व्याप्त दूसरी कमियों को दूर करने के लिये यूवा पीढ़ी में राष्ट्रीयता की अलख जगाने के साथ-2 विद्यार्थियों में राष्ट्रीय दायित्व बोध जागृत करने के लिये प्रभावी प्रयास करें। विद्यार्थी जीवन में अपना लक्ष्य तय करें और शिक्षा को ही अपना जुनून बनाये नशे जैसे दलदल से दूर रहे। समाज में नशे से बढ़ते अपराधों पर नियऩ्त्राण के लिये विद्यार्थी अपने आप को सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में तैयार करे। डॉ0 श्री गोयल ने छात्रा छात्राओं को हम नशा नहीं करेगे और नशा छुड़ायेगे की सामुहिक शपथ दिलवाई।
कार्यक्रम में श्रीमती संतोष देवी (सरपंच महोद्या) ने कहा कि जन जागृति कार्यशाला से लोगों की भ्रांतियों का निराकरण हुआ है नशे पर काबू पाने में ऐसी कार्यशालाएं प्रभावी साबित होगी।
कार्यक्रम में श्री नीरज कुमार तनेजा (प्रधानाध्यापक) ने कहा कि बढ़ते नशे और अपराध से समाज को मुक्ति दिलाने में नशामुक्ति जन जागृति कार्यशालाएं एक बेहतरीन प्रशंसनीय प्रयास है सामाजिक संस्थाओं और आम लोगों को इनके कार्यक्रमों में सहयोगी बनना चाहिऐ। विद्यार्थियों के लिये यह कार्यशाला अद्वितीय रूप से लाभकारी होगी। मंच संचालन श्री तीर्थ राम अ0 व धीरज मदान ने किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पुलिस थाना के श्री गुलाब सिह ने आम लोगों से आह्वान किया कि वे जिला पुलिस प्रशासन द्वारा संचालित नशामुक्ति अभियान के सहायक बने और नशामुक्ति के लिये वातावरण निर्माण कर अपराधों पर नियन्त्राण पाने में अपनी अहम भूमिका अदा करे। कार्यक्रम के अन्त में शिविर में आये नशा पीड़ित लोगो की डॅा0 गोयल ने जॉच की व उचित परामर्श प्रदान किया।
 


 

No comments:

Post a Comment

Search This Blog