Thursday, June 16, 2016

सूरतगढ़ पालिकाध्यक्ष व ईओ होटल के गलत निर्माण पर बोलें:


पुराने बस स्टैंड पर बन रहा होटल:छज्जों को बनाये कमरे:
छप रहे समाचारों व फोटो पर चुप्पी: खुला भ्रष्टाचार:
- करणीदानसिंह राजपूत -
सूरतगढ़। नगरपालिका में एक लिपिक राजकुमार छाबड़ा की रिश्वत में गिरफ्तारी पर पालिकाध्यक्ष काजल छाबड़ा व ईओ प्रियंका बुडानिया सवालों के घेरे में फंसी हुई हैं तथा चौथे दिन भी उनका मुंह नहीं खुला है। नगरपालिका में खुले चल रहे भ्रष्टाचार में कनिष्ठ लिपिक 80 हजार की रकम नहीं ले सकता। उसमें किन किन का हिस्सा था।
नगरपालिका में निर्माण कार्यों पर खुला भ्रष्टाचार हो रहा है तथा निर्माण करने वाले को हर प्रकार की छूट दे दी जाती है। पालिका निर्माण की जाँच के लिए अपने किसी इंजीनियर व अन्य स्टाफ को नहीं भेजती।
पुराने बस स्टैंड पर कई दिनों से एक होटल का निर्माण गलत चल रहा है। कानून है कि छज्जों को खुला रखा जाएगा व कमरे नहीं बनाए जाऐंगे लेकिन उक्त होटल में छज्जों को गैर कानूनी रूप से कमरों का रूप दे दिया गया है। यहां पर फोटो दी जा रही है।
नगरपालिका की अध्यक्ष व ईओ प्रियंका बुडानिया इस होटल के गलत निर्माण में किसी रूप में शामिल नहीं है तो होटल का निर्माण बिना किसी विलंब के रोका जाना चाहिए और होटल को नगरपालिका द्वारा सीज किया जाना चाहिए।
इस होटल के गलत निर्माण का समाचार कई अखबारों में छपने के बावजूद अध्यक्ष व ईओ का कोई कार्यवाही नहीं करना अपने आप में प्रमाणित करता है कि नगरपालिका में भ्रष्टाचार खूब पनपा हुआ है और काजल व प्रियंका की शह पर सभी चल रहा है।
प्रतिपक्ष कांग्रेस के पार्षद व पार्टी देखते हैं कि कितने दिन बाद कार्यवाही करते हैं या सदा के लिए चुप ही रहते हैं।
------------------------------
====================================

No comments:

Post a Comment

Search This Blog