मंगलवार, 28 जुलाई 2020

* उसके प्यार से बेचैन दुनिया* काव्य शब्द- करणीदानसिंह राजपूत.


प्यार करने को सभी
तड़पते रहते हैं।
प्यार छुपे छुपे कर
कोई तारे गिनता है।

रात को छत पर
कोई नदिया किनारे
बहते पानी में ढूंढता
समुद्र की लहरों में।

कोई भूले बिसरे गीत
सुनकर जी बहलाता
कोई चित्र देखता
तो कोई चित्र बनाता।

अनेक मेरे जैसे तो
दिल में ही देखते हैं
और दिल में से
निकालने नहीं देते।

दूसरों को बताने से
डरते हैं कोई छीन ले
उस प्यार को जिसे
कली से पुष्प बनाया।

प्यार कभी हम नहीं
दूसरा भी कर लेता है
अचानक मालूम पड़ते
ही हमारा चैन खत्म।

तब बाग बगीचे नदिया
समुद्र की लहरें किनारा
पहाड़ आकाश बादल
कुछ भी नहीं सुहाता।

ऐसा प्यार जिसके
संकेत मिलते ही वो
भाग उठता है तुरंत
ईलाज के लिए।

प्यार का अहसास
अच्छा नहीं लगता
उसकी तस्वीर भी
देखना नहीं चाहता।

बड़ा अजब गजब है
अनूठा है उसका प्यार
वह दिल लगाता है
दुनिया दूर भागती है।

प्यार करने को सभी
तड़पते हैं हर वक्त
मगर इस प्यार से
सभी दूर भागते हैं।

दुनिया के हर देश में
उसके प्यार के चर्चे
वह तो करता है प्यार
जग मारने को लगा है।

उसने जिससे प्यार किया
लोग उससे भी दूर भागते
पूरी दुनिया उसे मारने का
तरीका खोजने में लगी।

बड़ा अजब गजब है
अनूठा है उसका प्यार
वह दिल लगाता है
दुनिया दूर भागती है।

०००००
दि. 28 जुलाई 2020.
करणीदानसिंह राजपूत,
पत्रकार,
सूरतगढ़
94143 81356.
*******

शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

💐 आ सावन में मिलें 💐 *काव्य शब्द: करणीदानसिंह राजपूत*


सावन का महीना 

बरखा का महीना

ठंड का महीना

सब कुछ ठंडा।


तो फिर तन में

आग क्यों लगी

जब सब होता है

ठंडा बहुत ठंडा।


सावन की अगन

होती है अजब

बुझाते हैं जितनी

और ही भड़कती।


सावन की आग 

बुझेगी मिलन से

मिलने कौन दे

जग होता बैरी।



सावन का महीना

ठंडा ठंडा मौसम

रात का मिलन हो

जब सब सोते हों।


मिलन भी होगा

तेरा मेरा भी होगा

मैं जागता रहूंगा

तूं भी जागना।


तूं भी चंदा देखना

मैं भी देखता रहूंगा

वहां मिलेंगी नजरें

अद्भुत मिलन होगा।


मैं भी धरती पर हूं

तूं भी धरती पर

मिलन होगा दूर

चंदाकी धरतीपर।


मैं तो चाहता यहां

धरती पर मिलन हो

अब तूं बता अपनी

कहां पर मिलन हो।


कुछ कोशिश तूं कर

कुछ कोशिश मैं करूं

मैं सड़क पर आऊंगा

तूं भी द्वार पर आना।


तूं देखना मेरी ओर

मैं देखूंगा तेरी ओर

अपना यह मिलन 

कोई कैसे रोकेगा।


सावन में मिलन हो

कितनी खुशी होगी

मत डरना जमाने से

निश्चय अडिग रखना।


आंखों का मिलन पहले

फिर तन मन मिलेंगे।

यह मिलन होगा ऐसे

धरा नभ मिलन जैसे।


***

दि. 23 जुलाई 2020.

*****

काव्य शब्द-

करणीदानसिंह राजपूत,

सूरतगढ़।

94143 81356.

******




मंगलवार, 21 जुलाई 2020

* सूरतगढ़ नगर पालिका क्षेत्र में बड़ों के अतिक्रमण,बाजारों की दुर्दशा, भयानक गंदगी से त्रस्त शहर*

* ईओ और बोर्ड जिम्मेदार*


* करणीदानसिंह राजपूत *


सूरतगढ़ शहर की 100 करोड़ से अधिक वार्षिक बजट की नगर पालिका की लापरवाही,अधिकारियों की सरकारी ड्यूटी की पालना में लापरवाही से शहर चमकने दमकने के बजाय गंदगी में धकेला जा रहा है।


नागरिकों के धरना प्रदर्शन और मांग पत्रों पर नगर पालिका अधिशासी अधिकारी और  निर्वाचित 45 सदस्यों का अध्यक्ष उपाध्यक्ष सहित बोर्ड  शहर की दुर्दशा के लिए कहीं ना कहीं जिम्मेदार हैं। 

पालिका अधिकारियों का गैर जिम्मेदाराना व्यवहार अनदेखी कर्तव्य के प्रति लापरवाही गरीब को सताने और बड़े लखपतियों करोड़पतियों के ऊपर मेहरबानी से शहर पीड़ित है।


नगर पालिका का चुनाव हुआ बोर्ड कांग्रेस पार्टी का बना जिसके अध्यक्ष ने 2 दिसंबर 2019 को कार्य ग्रहण किया था। पूर्व विधायक गंगाजल मील और पिछले चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी रहे हनुमान मील उस शपथ ग्रहण कार्यक्रम में वक्ता थे। शहर को

अति सुंदर बनाने की घोषणाएं हुई।



👌शहर के हालात पर नगर पालिका की ओर से विशेषकर सरकार का प्रतिनिधि अधिशासी अधिकारी प्रथम रूप से जिम्मेवार है। नगर पालिका का अतिक्रमण हटाओ दस्ता कच्ची बस्तियों में कार्यवाही के लिए जाता है। लेकिन जहां करोड़ों रुपए के अतिक्रमण बड़े लोगों के हैं वहां नगर पालिका प्रशासन को वे दिखाई नहीं देते। नगर पालिका के ईओ,सफाई निरीक्षक,अभियंता आदि जो सरकार से बड़ी-बड़ी तनख्वाह लेते हैं उनकी जिम्मेवारी है जो पूरी नहीं करते।


नगर पालिका एक तरफ तो गरीबों के कब्जे तोड़ने जाती है दूसरी और नगर पालिका प्रशासन ने नगर पालिका भवन के साथ में जनता के हित के लिए बनाए गए सार्वजनिक पार्क पर खुद का अतिक्रमण कर रखा है।

 

लाखों रुपए लगाकर सुंदर बनाए गए पार्क में नगर पालिका ने अपने वाहन खड़े कर रखे हैं या फिर टूट-फूट खराब वाहन वहां पड़े हैं। अनेक बार अखबारों में बाजारों में अवैध निर्माणों के फोटो सहित समाचार छपे। कचरा गंदगी निस्तारण स्थल चिन्हित है लेकिन शहर में ही एक वार्ड से उठाते हैं और दूसरे वार्ड में डाल देते हैं। 


नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी की जिम्मेदारी मांनते हुए मैंने एक पत्र अधिशासी अधिकारी को 13 मार्च 2020 को दिया था। उस पर तुरंत कार्यवाही होनी चाहिए थी लेकिन कार्यवाही नहीं हुई। उसके एक सप्ताह बाद कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन हो गया। लॉक डाउन की स्थिति में कार्य करने में कोई दिक्कत नहीं थी मगर कार्यवाही लॉकडाउन खुलने के बाद भी नहीं हुई।


नगर पालिका अधिशासी अधिकारी के द्वारा कार्यवाही नहीं होने पर एक पत्र अतिरिक्त जिला कलेक्टर सूरतगढ़ को 4 जून 2020 को दिया गया जिसके साथ नगर पालिका अधिशासी अधिकारी को 13 मार्च को दिए गए पत्र के 2 पृष्ठ भी साथ में लगाए गए। 

अतिरिक्त जिला कलेक्टर से आग्रह किया गया कि नगरपालिका कार्रवाई नहीं कर रही है आप संज्ञान लेकर अपने कार्यालय से कार्यवाही करवाएं ताकि शहर का भला हो सके।

बरसात में शहर की दुर्दशा सभी ने देखी। उपखंड कार्यालय के आगे कच्ची बस्तियों के गरीबों का धरना चल रहा है। 

आरोप है की उनको पालिका उजाड़ रही है और यह सब पूर्व विधायक की शह पर हो रहा है।००


****


*तन मन भीगे,वह आ गई* काव्य शब्द- करणीदानसिंह राजपूत



मैंने बार-बार बुलाया
सावन का महीना है
चुपके से आजा मिलने
भिगो देना तन मन।


मैं नहाना चाहता हूं
तेरी मोती बूंदों से
भिगो देना मुझे
और मेरे खेतों को।


वह तो चौड़े धाड़े आ गई
दौड़े-दौड़े आ गई।
जोरो से भिगो दिये
तन मन दोनों।


खेत भी मेरे सभी के
हर्षा गए भीगे भीगे
उसके आने की खुशी
दूर-दूर तक छा गई।


किसान खेतों में पहुंचे
हल खेतों में चल गए
बिजाई जोरोंशोरों से हुई
सभी के मन नाच उठे।


मोरो संग लोग नाचे
ढोल नगाड़े बजने लगे
सरोवर की पाल पर
नाच गाने होने लगे।


बालू के टीब्बों पर
रेत के घर महल मंदिर
गुड्डे गुड्डियों के खेल
बच्चे बच्चियों ने किए।


मेघों संग आकाश का
मिलन सब ने देखा।
हम तुम कब मिले
मालूम ही नहीं चला।


वर्षा आई सावन में
गांव गांव खुशी छाई
लोग खेतों को चले
बरखा में नहाते चले।


मैंने पुकारा था उसे
आजा सावन का महीना है
चुपके से आजा

वह आ गई चौड़े धाडे़।

उसने भिगो दिया
मेरा तन और मन
दूर-दूर तक उसके आने का
आनंद छा गया।
****
दि. 21 जुलाई 2020.
करणीदानसिंह राजपूत,
पत्रकार,
सूरतगढ़।
94143 81356.
*****





सोमवार, 20 जुलाई 2020

पत्रकार करणीदानसिंह राजपूत एवं विनीता सूर्यवंशी की शादी की 40 वीं वर्षगांठ.


💐 मेरे सम्मानीय पाठक दर्शक मित्रों और मित्र परिवार,

मैं करणीदानसिंह राजपूत और विनीता सूर्यवंशी( सुपुत्री श्रीमती विजयलक्ष्मी-स्व.मोतीसिंह तोमर) मेरे माता पिता श्रीमती हीरा और श्री रतनसिंह के आशीर्वाद से दि. 20 जुलाई 1980 को विवाह बंधन में बंधे। मेरा लेखन पत्रकारिता सच्च की ओर रहे,यही आशीर्वाद हम दोनों तीर्थों,मंदिरों,पूजन अर्चन में लेते रहे हैं। 

* यहां फोटो उस समय का है  जब दिल्ली पालिका बाजार में फहराते विशाल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के नीचे दि. 4 नवंबर 2016 को सत्य लेखन का संकल्प लिया था। 

👌 ईश्वर मेरे को सत्य लेखन के प्रयास में लगाए रखे।  मेरा लेखन व पत्रकारिता जनहितकारी रहे। यही कामना है।*

दि. 20 जुलाई 2020.


शनिवार, 18 जुलाई 2020

पालिका अध्यक्ष ओम कालवा के आरोपों पर पूर्वाध्यक्ष बनवारीलाल के जवाब और कालवा पर नये आरोपों की बौछार


 * करणीदानसिंह राजपूत *


सूरतगढ़ नगरपालिका मैं अतिक्रमण, पट्टे बनाने,खांचा भूमि देने आदि को लेकर करोड़ों रूपयों के आरोप-प्रत्यारोप लग रहे हैं लेकिन यह हवाई फायर हैं। कोई भी गहराई में जाकर न जांच करवाना चाहता है न मुकदमे करवाना चाहता है। गरीब कच्ची बस्तियों के नागरिक इस बड़े लोगों की लड़ाई में पिस रहे हैं और शहर गंदगी और टूट फूट में विकसित होता जा रहा है। पूर्व पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल ने वर्तमान अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा के विरुद्ध शिकायतें की है या अन्य लोगों ने आरोप लगाए हैं। 

 

नगर पालिका में पट्टे बनाने और सीवरेज सिस्टम में गड़बड़ी होने के आरोप निरंतर लग रहे है।  पत्रकार वार्ता में आरोप लगते रहे हैं लेकिन बड़े अखबार कभी भी भ्रष्टाचार के बाबत पूछने वाले सवालों पर न्यूज़ नहीं बनाते। उनका कोई विवरण भी नहीं देते। सरकारी पक्ष से सत्ता पक्ष से लाभ उठाने की नीयत भी रहती है।


यहां नगरपालिका के भ्रष्टाचार आरोप-प्रत्यारोप पर राजनेताओं को राजनीतिक दलों को शिक्षित लोगों को जागना चाहिए मगर उनको जगाना बहुत मुश्किल है।


राजनेता आरोप तो लगाते हैं मगर उससे आगे कार्रवाई नहीं करना चाहते।

पत्रकार वार्ताओं में ताजा घटनाक्रम भाजपा ने शुरू किया। कुछ दिन पहले भारतीय जनता पार्टी ने भोजन के साथ प्रेस वार्ता की जिसमें पूर्व विधायक गंगाजल मील और पालिका अध्यक्ष ओम प्रकाश कालवा पर आरोप लगाए गए थे। 

इसके बाद नगर पालिका अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा की ओर से एक होटल में 2 जुलाई को पत्रकार वार्ता आयोजित की गई जिसमें पूर्व विधायक गंगाजल मील ने भी पूरा हिस्सा लिया। 

 भारतीय जनता पार्टी के आरोपों पर और पूर्वपालिकाध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल के आरोपों का जवाब दिया गया। बनवारीलाल मेघवाल और गंगाजल मील कभी एकसाथ थे। मील विधायक और बनवारीलाल पालिका अध्यक्ष थे। दोनों ही कांग्रेसी। 

ओमप्रकाश कालवा की प्रेस वार्ता में आरोपों के समय यह कहा गया कि भारतीय जनता पार्टी के काजल छाबड़ा की अध्यक्षता वाले पिछले बोर्ड में सर्वाधिक भ्रष्टाचार हुआ और नियम विरुद्ध कानून तोड़ते हुए रिकॉर्ड तोड़ते पट्टे बनाए गए मगर मीडिया वह बातें नहीं छापता।

  इसके अलावा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल पर भी उनकी अध्यक्षता काल में गलत पट्टे बनाने का आरोप लगाया गया। कालवा और मील ने कहा कि बनवारीलाल मेघवाल ने पहले तो गलत पट्टे बना दिए और बाद में जब मालूम हुआ कि इस प्रकरण में फंस रहा हूं तब खुद ने ही जांच की मांग कर ली और कहा कि  ईओ मदनसिंह बुड़ानिया ने भ्रमित करके गलत जानकारी देकर के पट्टे बनवा लिए। इन पट्टों,खांचा भूमि और स्टेट ग्रांट में जारी पट्टों में बनवारीलाल ने जमकर भ्रष्टाचार किया। 

 कालवा और मील ने उनके बारे में आरोप तो लगाए जांच कार्य करवाने के मामले में पत्रकारों को समुचित उत्तर नहीं दिया। जांच करवाने और मुकदमें करवाने बाबत सवालों पर हां नहीं की।  

बनवारी लाल मेघवाल पर आरोप लगे तो बनवारीलाल मेघवाल का तिलमिलाना लाजिमी ही था। 


 बनवारीलाल मेघवाल ने भी 15  जुलाई को एक पत्रकार वार्ता आयोजित की जिसमें खुद द्वारा जारी 62 पट्टों के मामले में कहा कि मैंने तो भ्रमित होकर पट्टे गलत जारी कर दिए और मालूम होते ही जांच करने आदि के लिए मार्गदर्शन मांगने के लिए मुख्यमंत्री को और तत्कालीन विधायक गंगाजल मील को पत्र भी दे दिए थे। अब उन पट्टों को गलत और भ्रष्टाचार मानते हैं तो जांच करवाने और मुकदमें करने की ड्यूटी

वर्तमान में नगर पालिका अध्यक्ष ओम प्रकाश कालवा की है। कालवा की जांच करवाने की पूरी जिम्मेदारी बनती है। बनवारीलाल ने चैलेंज किया कि मेरे द्वारा जारी पट्टे गलत हैं तो कालवा जांच करवाएं मुकदमा करवाएं उनको खुली छूट है। चैलेंज देते हुए बनवारी लाल ने  आरोपों की गेंद को वापस ओमप्रकाश कालवा के पाले में फेंक दिया। अब वर्तमान अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा आगे जांच करवाने के लिए या मुकदमा करवाने के लिए कार्यवाही करते हैं ऐसी उम्मीद लग नहीं रही क्योंकि अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी उन्होंने और मील ने ऐसी किसी भी कार्यवाही करने की हां नहीं की। असल में उन पट्टों में अधिकांश भाजपा के नेताओं कार्यकर्ताओं के हैं। उनमें काग्रेसी लोगों के भी हैं। 

अब बनवारील मेघवाल के बड़े  चैलेंज दिए जाने पर और व नए आरोप लगाए जाने पर कालवा और मील कोई कार्यवाही कर सकते हैं। ऐसी उम्मीद हो सकती है। 

बनवारीलाल मेघवाल ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर तो कह डाला कि ओमप्रकाश कालवा कार्यवाही करें उनकी जिम्मेदारी बनती है लेकिन इसके साथ ही उन्होंने ओम प्रकाश कालवा पर भी अनेक नये आरोप जड़ दिए। जिनका जवाब आगे ओमप्रकाश कालवा को देना है।  वे आरोपों का जवाब कार्यवाही करके देते हैं या फिर पत्रकार वार्ता में जबानी जमा खर्च करते हैं। यह कुछ दिनों में आगे आ सकता है।  

बनवारीलाल मेघवाल ने पत्रकार वार्ता में जो आरोप लगाए वह गंभीर श्रेणी में आते हैं।  बनवारी लाल ने पत्रकार वार्ता में मील पर आरोप नहीं लगाए केवल कालवा को ही घेरा। बनवारी लाल ने कहा कि कालवा अपने पर लगे आरोपों में बचने के लिए मील को भ्रमित कर साथ रख रहा है। 


पूर्व अध्यक्ष ने कहां के कोरोना काल लॉकडाउन शुरू होने के बाद जब लोक प्रशासन कोरोना बचाव में लगा हुआ था तब वर्तमान अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा और सेवानिवृत्त हो चुके अधिशासी अधिकारी लालचंद सांखला गैर कानूनी रूप से पट्टे बनाने में लगे हुए थे। पूर्व अध्यक्ष का आरोप है कि लाखों रुपए लेकर के यह पट्टे बनाए गए जो पूरी तरह से गैरकानूनी हैं। कच्ची बस्ती के अतिक्रमण नियमित करने के प्रावधान के तहत जारी पट्टे,खांचा भूमि के पट्टे नगर पालिका बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव से पारित होने चाहिए थे लेकिन ओमप्रकाश कालवा के अध्यक्षता काल में केवल दो बैठकें   हुई है जिन में अतिक्रमण नियमित करने के पट्टे और खांचा भूमि दिए जाने संबंधी प्रकरण एजेंडे में ही नहीं थे।

 बोर्ड की स्वीकृति के  बिना यह सारे पट्टे गैर कानूनी जारी कर दिए गए जिन पर मेघवाल के अनुसार लाखों रुपए लिए गए। 

मेघवाल ने कहा कि जब यह पट्टे बनाए जाने शुरू हुए थे तभी अधिकारियों को शिकायत कर दी गई थी और बाद में भी शिकायत की गई लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई और नगरपालिका में यह भ्रष्टाचार का खेल चलता रहा रहा। 

 पूर्व अध्यक्ष ने कोरोना  लोकडाउन  काल में राशन बांटने में भी घोटाले का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि 5000 किट बांटने का अनुमानित ठेका 25 लाख रुपए का हुआ। बाजार में आटे का भाव साडे ₹22 था लेकिन उससे बहुत अधिक कीमत में खरीदा गया। भारी कमाई कर ली गई। उन्होंने यह आरोप लगाया कि ढाई हजार किट्स पहले आई और वितरित हुए लेकिन बाद वाली ढाई हजार  कब आई कब वितरित हुए यह जांच का विषय है?

पूर्व अध्यक्ष आरोप लगाया कि कोरोना काल में शहर में सैनिटाइजेशन की जो सामग्री खरीदी गई और शहर को सैनिटाइजेशन किया गया। उसमें भी घपला है जो जांच का विषय है। पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि अरोड़ा युवा कार्यकर्ताओं की ओर से उनके क्षेत्र में सैनिटाइजेशन करवाने की सामग्री नगर पालिका को उपलब्ध करवाई गई थी। 

नगर पालिका ने सैनिटाइजेशन की सामग्री किस रेट में खरीदी गई यह जांच का विषय है। 

नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि सीवरेज सिस्टम बाईपास रोड पर प्लांट नं 1बना हुआ है वहां से पानी नजदीकी किसानों को और सूरतगढ़ फार्म को दिया जा सकता है लेकिन वर्तमान अध्यक्ष पाइप लाइन के द्वारा सीवरेज सिस्टम संयंत्र  2 पर  यहां का पानी लेजाने की योजना को पूरा करना चाहते हैं जिसमें  40-45 लाख रुपए का खर्च करके उसके आसपास के खेतों को सिचाई का पानी देना चाहते हैं।  पालिका अध्यक्ष कालवा के जानकार नेताओं के खेत है उनकी सिंचाई करने के लिए नगर पालिका को खर्चे में डाला जा रहा है। 

पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि ओमप्रकाश कालवा ने पत्रकार वार्ता में 30 सूत्री  विकास चार्ट पेश किया है वह झूठ का पुलिंदा है। 

उस विकास चार्ट में अध्यक्ष ने कहा कि सूरतगढ़ में लैंड बैंक की स्थापना की जाएगी जबकि लैंड बैंक तो ऑलरेडी सालों से काम कर रहा है। उनके बनवारी लाल के कार्यकाल से ही लैंड बैंक में राजस्व विभाग से ली गई जमीनों की एंट्री शुरू हो चुकी थी।

कालवा ने कहा था कि लैंडबैंक से गरीबों को रियायती छूट पर भूखंड देंगे। लेकिन नगरपालिका यह नहीं कर सकती। राज्य सरकार ही छूट दे सकती है। नगर पालिका नगरपालिका के नए भवन निर्माण के बारे में पूर्व पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल ने कहा कि उसका शिलान्यास मेरे कार्यकाल में हो चुका है। कोई नई बात नहीं है पुरानी बातों का पुराने कामों का श्रेय वर्तमान अध्यक्ष अपने नाम से करना चाहते हैं। 

उन्होंने एक बहुत महत्वपूर्ण बात कही की वर्तमान अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा पूर्व विधायक गंगाजल मील को गुमराह करते हुए गलत जानकारियां देते हुए कार्य कर रहे हैं नगर पालिका में जो कुछ हो रहा है जो गड़बड़ घोटाले हो रहे हैं उनसे बचने के लिए वर्तमान अध्यक्ष गंगाजल मील को आगे करते हुए कार्यवाही कर रहे हैं। वे मील को भ्रमित कर रहे हैं। 

पूर्व अध्यक्ष ने ओम प्रकाश कालवा पर अनेक आरोप मंड दिए। 

 ओमप्रकाश कालवा ने पत्रकार वार्ता में दो सामुदायिक भवनों एक दमकल विभाग के पास और दूसरा स्टेडियम के भीतर का अधिक सुधार करके उपयोग में लाने की बात कही थी।  बनवारी लाल ने कहा कि यह बहुत बड़ा घोटाला है। वे इनमें क्या कार्रवाई ,क्या नया निर्माण कराना चाहते हैं?अभी तक नगर पालिका को ठेकेदारों ने यह भवन सुपुर्द भी नहीं किए हैं। 

पूर्व पालिका अध्यक्ष ने सीवरेज सिस्टम पर कहा कि इसमें बहुत बड़ा घोटाला है गलत निर्माण हुए हैं फिर भी सीवरेज कंपनी को करीब 2 करोड रुपए का भुगतान कर दिया गया जिसमें अध्यक्ष जी पर बड़ी रकम लेने का आरोप लगाया गया। आने वाले समय में ओमप्रकाश कालवा को आगे जवाब देने हैं अपने ऊपर लगाए गए आरोपों का जवाब देना है या खंडन करना है और जांच का चैलेंज भी कार्यवाही के रूप में पूर्ण करना है।

बनवारी लाल ने कहा कि सीवरेज का दूसरा चरण जिन वार्डो में जहां पर तय है वहां नयी सड़कें आदि बना कर पालिका को करोड़ों रूपये के नीचे धकेला जा रहा है। यह भी बड़ा घोटाला है।

ओमप्रकाश कालवा को

बनवारीलाल के चैलेंज का जवाब देना बहुत जरूरी है। यह इसलिए महत्वपूर्ण है कि बनवारीलाल मेघवाल ने जो 62 पट्टे कच्ची बस्ती नियमन में खांचा भूमि में स्टेट ग्रांट में वितरित किए जो गैर कानूनी रूप से किए गए थे। खुद बनवारीलाल यह बात स्वीकार करते हैं कि अधिशासी अधिकारी ने गलत करवाया लेकिन पता लगते ही उन्होंने राज्य सरकार को इस संबंध में सूचना दे दी। बनवारी लाल ने जो चैलेंज दिया है कि वर्तमान अध्यक्ष इसकी जांच करवाएं। वह चैलेंज ओमप्रकाश कालवा को पूरा करना है तथा खुद पर लगे आरोपों का भी जवाब देना है। 

अब ओमप्रकाश कालवा के द्वारा पत्रकारवार्ता में ही जवाब दिए जाने की संभावना अधिक है। तब तक ये आरोप सिर पर रहेंगे। 

👌 ओमप्रकाश कालवा ने चैलेंज को स्वीकार करके जांच भी शुरू करवा दी तो पूर्व अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल और पट्टे लेने वाले बड़ी मुसीबत में फंस सकते हैं। करणी प्रेस इंडिया में यह प्रकरण 2015 में प्रसारित हुआ और 2017 में अपडेट भी हुआ। यह ब्लास्ट की आवाज में भी दो बार प्रकाशित हुआ। चैलेंज में अब आया है।

बनवारीलाल की पत्रकार वार्ता में कई पत्रकार नाराजगी के कारण नहीं आए।एक पत्रकार का कहना था कि बनवारीलाल ने कुछ समय पहले पत्रकारों को चोर  कह दिया था। बनवारीलाल ने पूछने पर कहा कि सभी पत्रकारों को चोर कहने की बात असत्य है।  ००० 





शुक्रवार, 17 जुलाई 2020

*मैं समझलूं कि मेरी कविता जगाती है.



- करणीदानसिंह राजपूत -

मेरी कविता से तोता मैना प्यार करें
मेरी कविता से चिड़ा चिड़ी इतराएं
मेरी कविता से पेड़ पौधे झूमने लगें
मेरी कविता से परिवारों में मिलन हो।

तो मैं समझ लूं कि कविता पूर्ण है
मेरे शब्द दिलों में हलचल मचाएं
दो दिल आपस में मिलन की सोचें
तो समझलूं की कविता में प्यार है।

पुराने जमाने में राग से दीया जलता
वे गीत भी होते जिनसे मेघ बरसते
हो सकता है उतनी पहूंच के करीब हो
मेरी कविता को तुम सब गुनगुनाओ।

मालूम करो कि कहां प्रेम मिलन है
मालूम हो कि कहां चिड़ाचिड़ी मेल है
कविता के शब्दों से मौसम मुस्कुराए
धीमी बहती हवा सुगंध फैलाने लगे।

मेरी कविता के छोटे छोटे शब्द वाक्य
जब सीमा पर सैनिकों में जोश भरे।
मेरी कविता सुन सीमा पर खेत पुकारे
अब हम हथियार गोलेबारूद उगाएंगे।

सीमा के खेत हैं हम पूरे देश भक्त हैं।
तो मैं समझलूं कि मेरी कविता पूर्ण है
मैं समझलूं कि मेरी कविता जगाती है
मैं जयघोष करूं मां भारती जय हो।

मैं जय बोलूं वीर जवानों का जो
सीमा पर डटे हैं दुश्मन का वध करने
मैं समझलूं कि मेरी कविता पूर्ण है
मैं समझलूं कि मेरे शब्द परिपूर्ण है।

आप सभी कहो जय हो मां भारती
मैं आपके जयघोष पर इतराऊं
मै समझलूं कि मेरा कविता पूर्ण है
मेरी कविता में बस यही है कामना।

****

दि. 17 जुलाई 2020.
*********


करणीदानसिंह राजपूत,
सूरतगढ़. (राजस्थान. भारत)
94143 81356.
*******



रविवार, 12 जुलाई 2020

* बड़े निर्माणाधीन व्यावसायिक भवन और भी सीज होने की संभावना*पालिका की नजर-कुछ फाईलें गायब*




* करणी दान सिंह राजपूत *


सूरतगढ़। शहर में निर्माण स्वीकृति के विपरीत निर्माणाधीन विशाल व्यवसायिक भवनों पर नगर पालिका की गाज गिरने की संभावना है। उच्च मार्ग और शहर के मुख्य बाजारों में

नगरपालिका की सख्त निरीक्षण नजरें घूमी हैं। सूत्र के अनुसार माने तो एक दो भवनों पर जल्दी ही नापजोख नोटिस जवाब और सीज की कार्यवाही हो सकती है। 


भादू कटला 13 दिसंबर 2019 को निर्माण मंजूरी के विपरीत करने पर सील किया गया जो अभी सीज पड़ा है और आठ माह बीत चुके हैं। 


शहर में बहुत बड़े बड़े निर्माणों पर भी नजर डाल रही है सूत्र के अनुसार भादू कटले की तरह निर्माण में गड़बड़ी के कुछ बड़े लोगों के निर्माणाधीन भवन सीध में हैं। 

 करोड़ों रुपए के व्यावसायिक भवन बड़े लोग बनाते हैं जो निर्माण की स्वीकृति का नक्शा और मौके पर निर्माण में बहुत बड़ा अंतर कर देते हैं।


सूत्र के अनुसार राष्ट्रीय उच्च मार्ग इंदिरा सर्कल से मानकसर चौक ,शहर के बीच में मुख्य मार्गों पर बने भवनों पर नगर पालिका की नजर है। शहर में कुछ भवन अभी बन रहे हैं कुछ बने हुए भवनों में भी काफी गड़बड़ी है।

 नगर पालिका मैं भूमि शाखा में बड़े लोगों की बड़े भवनों की फाइलों में नजरें गड़ाए गई है।

 सूत्र के अनुसार कुछ बड़े लोगों की फाईलें भी गायब हैं या इधर-उधर है और मिल नहीं रही है। 

आखिर फाइलें कहां गई यह भी एक रहस्य है?

सूचना के अनुसार वर्तमान कांग्रेस बोर्ड अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा के कार्य प्रारंभ से पहले भाजपा का काजल छाबड़ा की अध्यक्षता का बोर्ड था।उस भाजपा बोर्ड की अध्यक् काजल छाबड़ा के कार्यकाल में गंभीर प्रवृत्ति की गड़बड़ियों के आरोप हैं। आरोप काजल छाबड़ा पर लगते रहे हैं। सूत्र अनुसार उस समय निर्माण स्वीकृति या और मौके के निर्माणाधीन में भारी गड़बड़ियां हुई और कुछ निर्माण अभी चल रहे हैं। अभी कुछ दिन पूर्व पालिकाध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा और पूर्व विधायक गंगाजल मील की पत्रकार वार्ता में भी काजल छाबड़ा के कार्यकाल में गलत पट्टे बनाने और व्यावसायिक गलत निर्माण के होने के आरोप लगाए गए थे। 


सूत्र के अनुसार नगर पालिका की ओर से बड़े लोगों के एक दो व्यावसायिक भवन सीज की श्रेणी में आ सकते हैं। विदित रहे कि निर्माण में बहुत बड़ी गड़बड़ी होने पर भवन को सीज करना डिस्मेंटल करना आदि कार्यवाहियां होती है। 

सूरतगढ़ नगरपालिका में विशाल मार्केटिंग कांपलेक्स  भादू कटले से भी  बड़ा कटला किशनगढ़ में सीज हुआ है जिसकी निर्माण लागत करीब ₹30 करोड़ रूपये है और वहिं के विधायक से संबंधित है। ऐसी स्थिति में माना जा रहा है कि सूरतगढ़ में अन्य कोई विशाल व्यावसायिक भवन निर्माण मंजूरी नक्शे के विपरीत निर्माण हुआ या हो रहा पाया जाता है तो वह सीज हो सकता है।००




रविवार, 5 जुलाई 2020

श्रीगंगानगर में कोविड-19 जांच लैब शुरू- 4 घंटों में मिलेगी रिपोर्ट- विधायक राजकुमार गौड़ ने किया लोकर्पण



* करणीदानसिंह राजपूत *
श्रीगंगानगर, 5 जुलाई 2020.
गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड़ व जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने राजकीय जिला चिकित्सालय में नवनिर्मित भवन कोरोना जांच लैब का आज रविवार को लोकार्पण किया।
गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड़ ने  कहा कि राज्य सरकार कोरोना को लेकर बेहद गंभीर है और हर तरह से जागरूक है, जिसके तहत जिले में कोरोना वायरस को रोकने के लिए सभी तरह के प्रयास किये जा रहे हैं।  उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर में कोरोना लैब खोलना भी राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता रही है, क्योकि श्रीगंगानगर जिले से कोरोना संबंधित जांचे बीकानेर भेजनी पड़ती थी, जिसके बाद दो से चार दिन में यह रिपोर्ट मिलती थी। लेकिन अब यही जांचे श्रीगंगानगर के राजकीय जिला चिकित्सालय के विशेष कोरोना लैब में हो सकेगी, जिससे जांच रिपोर्ट मिलने में अधिक समय नही लगेगा। उन्होंने  कहा कि इस लैब पर सरकार द्वारा लगभग 4 करोड रूपयें की राशि व्यय की गई है।  
जिला कलक्टर श्री वर्मा ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा 6 जिलों में कोरोना लैब स्वीकृत की गई है, जिनमें एक श्रीगंगानगर को मिली है। उन्होने कहा कि राज्य के 25 जिले और भी है जहां इस प्रकार की लैब का फायदा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले कोरोना संभावित सैम्पल बीकानेर भिजवाए जाते थे, जिनकी रिपोर्ट आने में दो-चार दिन लग जाते थे, लेकिन अब कोरोना के संभावित सैम्पलों की जांच भी यही होने से चार घण्टे में ही इसकी रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि कहा कि गंगानगर में कोरोना पाॅजिटिव के 59 केस थे, जिनमें से अधिकतर ठीक हो गये है तथा अभी यहां पर इन केसों  की संख्या 25 है, जो अन्य जिलों से कम है। इस जिले में कोरोना के पाॅजिटिव केसों की संख्या कम है यह एक अच्छी बात है।
इस अवसर सीएमएचओ डाॅ0 गिरधारी लाल, पीएमओ डाॅ0 के.एस. कामरा, तहसीलदार श्री संजय अग्रवाल, डाॅ0 पवन सैनी, डाॅ0 सुनीता सरदाना, श्री विजय जोग, पार्षद श्री दीपक मिढ्ढा सहित चिकित्सालय का स्टाॅफ एवं गणमान्य नगारिक उपस्थित थे।


*******************




सूरतगढ़ में विशाल जनरल मार्केट बनाने,नया मास्टर प्लान,निर्माण योजनाएं. * विशेष रिपोर्ट--करणीदानसिंह राजपूत *

*  नगरपालिका का नया विशाल कार्यालय निर्माण भी होगा*


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००


नगर पालिका सूरतगढ़ ने विकास और निर्माण का विस्तृत एजेंडा 2 जुलाई की पत्रकार वार्त में दिया जो सफल और  पूर्ण हो तो सूरतगढ़ चमन बन सकता है लेकिन कितना बजट आएगा कहां से आएगा पैसा कहां से जुटाया जाएगा यह आने वाले समय में स्पष्ट होगा। हालांकि नगरपालिका ने आय के तरीकों को भी बताया है।


* नगर पालिका अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा ने पूर्व विधायक गंगाजल मील की उपस्थिति में बताया कि बस स्टैंड के पश्चिम दिशा में बहुत बड़ा जनरल मार्केट बनाने की योजना है जिसमें  350 से अधिक दुकानें होंगी। 

इसमें बहुत सी सुविधाएं होंगी असल में यह कार्य 1972 की स्कीम के तहत है। मंडी समिति क्षेत्र की प्लानिंग जमीन पर  यह योजना थी जो पहले शुरू ही नहीं हुई। किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। ओमप्रकाश कालवा ने बताया कि नगर पालिका जनरल मार्केट बनाएगी तो शहर के अन्य जो बाजार हैं उन पर दबाव कम हो पाएगा भीड़भाड़ कम होगी। आवागमन की दुविधा हो रही है उस से भी छुटकारा मिलेगा। विभिन्न व्यवसाय करने वाले इस जनरल मार्केट की ओर आकर्षित होंगे। 350 से अधिक दुकानों का मार्केट सूरतगढ़ में बने तो लगता है कि विभिन्न क्षेत्रों के व्यवसायिक स्थल एक जगह पर लोगों को उपलब्ध होंगे।


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००

* नगर पालिका का कार्यालय भी बनाने की योजना को सिरे चढ़ाया जाएगा। गंगाजल मील ने अपने कार्यकाल में आज से करीब 6 साल पहले नगरपालिका के नए भवन का शिलान्यास हरिराम बाबा मंदिर के ठीक सामने पूर्व दिशा की ओर किया था। उसके बाद भारतीय जनता पार्टी का बोर्ड आया और उसने कोई ध्यान इस ओर नहीं दिया।  अब नगर पालिका में कांग्रेस का बोर्ड फिर से बना है ऐसी स्थिति में नगर पालिका अपने विशाल कार्यालय को बनाकर शहर में एक बहुत बड़ा कदम साबित कर सकती है। 

*नगर पालिका शहर के विकास के लिए नया मास्टर प्लान बनाने को तत्पर है। वर्तमान मास्टर प्लान 2022 तक का है और अब आगे शहर के विकास को आधुनिकता और विभिन्न जरूरतों को देखते हुए मास्टर प्लान के लिए भी सुझाव मांग रही है।  नगर पालिका के अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा का कहना है कि नया मास्टर प्लान शहर को व्यवस्थित रूप देने के लिए बहुत बड़ा कदम होगा। 

 नगर पालिका शहर के विकास के लिए गरीब और मध्यम वर्ग के परिवारों के लिए भी आगे आ रही है।  गरीब और  मध्यम वर्गीय लोग रियायती दरों पर आवासीय भूखंड ले सकेंगे इसके लिए लैंडबैंक प्रकोष्ठ स्थापित करेगी। अध्यक्ष ने बताया कि इस बैंक के कार्यालय के लिए नगर पालिका कार्यालय में ही स्थान दिया जाएगा। 


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००

नगर पालिका की विभिन्न योजनाओं में राजीव गांधी आवासीय योजना की पूरी व्यवस्था के लि 100 फुट  चौड़ी रोड योजना को पूरा कर नया हाउसिंग बोर्ड से कनेक्टिविटी जोड़ना और इसके लिए कोर्ट में उचित पैरवी करना होगा। 

*मुख्य बाजार व अन्य स्थानों पर व्यावसायिक भूखंडों की लीज समाप्त कर पूर्ण स्वामित्व देने की नियमानुसार कार्रवाई कर नगरपालिका की आय बढ़ाई जाएगी। सैनी धर्मशाला के पास से 100 फुट चौड़ी सड़क बनाकर हनुमानगढ़ सड़क से मिलान किया जावेगा जिससे आदर्श कॉलोनी में उस क्षेत्र के लोगों को आवागमन में बाधा खत्म होकर सुविधा मिलेगी। इसके पास में पड़ी खाली भूमि का योजनाबद्ध तरीके से विकास करवाया जाएगा।

 नगर पालिका अध्यक्ष ने सीवरेज सिस्टम द्वितीय चरण को भी शुरू करने की बात कही। इसमें यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी के बोर्ड में सीवरेज व्यवस्था बेतरतीब ढंग से शुरू की गई जो आज नागरिकों के लिए भारी परेशानी का कारण बनी हुई है। संपूर्ण व्यवस्था को सुधारने का काम किया जा रहा है। 

अध्यक्ष जी का कहना था कि थोक  फल सब्जी मंडी  शहर के हिसाब से बहुत छोटी है। नई फल सब्जी मंडी के लिए सही जगह बीकानेर रोड पर चयनित करके और कार्यवाही की जाएगी। 

बाबा रामदेव मंदिर परिसर को अतिक्रमण से मुक्त रखने के लिए चारों तरफ दीवार का निर्माण छायादार पेड़ पौधे लगाकर सौंदर्यीकरण किया जाएगा। शहर को निराश्रित पशुओं से मुक्त करने कैटल फ्री करने के लिए नंदी शाला के बारे में नई कार्ययोजना तैयार की जाएगी जिसके तहत जन सहयोग और राज्य सरकार से अनुदान व भूमि आवंटन की कार्यवाही पूरी की जाएगी। विदित रहे कि अभी जो नंदी शाला चल रही है उसकी भूमि का आवंटन भी नहीं हुआ है। 

सूरतगढ़ व आसपास के क्षेत्र के युवाओं में देशभक्ति का जोश पैदा करने के लिए सेना और  वायु सेना अधिकारियों से संपर्क करके शहर के चेतक चौराहे पर वायु सेना का फाइटर प्लेन व माणकसर सर्कल पर सेना के एक टैंक का प्रतीक लगाने का आग्रह किया जाएगा। इंदिरा सर्कल का सौंदर्य करण इंदिरा सर्कल  से टिड्डी विनाशक दल कार्यालय तक बीकानेर रोड पर डिवाइडर निर्माण हेतु राष्ट्रीय उच्च मार्ग विभाग से स्वीकृति प्राप्त कर निर्माण करवाया जाएगा। 

शहर में वाहन  पार्किंग के लिए स्थान चयनित किए जाएंगे। प्राइवेट बसों वास्ते ओवर ब्रिज के नीचे पार्किंग का स्थान निश्चित करना,स्थाई रैन बसेरे का निर्माण करना,शहर में सौंदर्य द्वार का निर्माण करना, राजकीय चिकित्सालय का विकास करवाना, बस स्टैंड का सुंदरीकरण करवाना शहीद स्मारकों का सौंदर्यकरण करवाना,सुभाष चौक पर टैक्सी स्टैंड हेतु रेलवे से टैक्सी स्टैंड के लिए भूमि की मांग करना कार्य भी होंगे।


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००

*  दमकल कार्यालय की तरफ से हनुमानगढ़ रोड चौराहे तक रेल लाईन पर ओवर ब्रिज बनाने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। नगर पालिका कार्यालय नगर पालिका की ओर से शहर के समस्त मुख्य स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगवा कर सिटी थाना और सदर थाना कोओ सौंपा जाएगा। बाईपास के पास नजदीक भट्टा क्षेत्र को पानी से मुक्त करा विकास हेतु कार्य योजना बनाई जाएगी। केशव गार्डन का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। 

*सूरतगढ नगर पालिका पैराफेरी  में आने वाले रेतीले टिब्बों का सरंक्षण किया जाएगा व  हैरिटेज लुक दिया जाएगा। आम लोगों में प्रचार किया जाएगा प्रेस नोट प्रेस कान्फ्रेंस कानूनी कार्यवाही का सहारा लेते हुए प्राकृतिक सुंदरता को बनाए रखने का प्रयास किया जाएगा ताकि इनका अस्तित्व और लुक बना रहे। 

नगर पालिका की नीलामी योग्य संपत्ति को चयनित कर उस कार्यवाही को पूर्ण किया जाएगा। नई पुरानी सभी प्रकार की भूमि आवासीय व्यवसायिक नीलामी कर नगरपालिका की आय बढाई जाएगी।डीएलसी दर स्टेट ग्रांट और जहां कहीं भी नियमानुसार पट्टे बनाए जा सकते हैं वहां बनाए जाएंगे और राज्य सरकार से कच्ची बस्ती के पट्टे बनाए जाने की स्वीकृति ली जाएगी। चिल्ड्रन पार्क के बारे में प्लान कर बच्चों के लिए इंडोर गेम्स के लिए ऑडिटोरियम बनाया जाएगा। वुमेन हेल्थ सेंटर का सही उपयोग हो इसलिए विभिन्न महिला संस्थाओं व महिला पार्षदों से विचार विमर्श कर वुमन हेल्थ सेंटर को महिलाओं हेतु अधिक से अधिक उपयोगी बनाने की योजना तैयार की जाएगी। 

स्टेडियम का मुख्य द्वार बनाकर उसका पुनर्निर्माण में शौचालय पीने के पानी की व्यवस्था आदि की सुविधाएं दी जाएंगी। दो सामुदायिक भवनों  पंचायत समिति के पास व स्टेडियम के पास को उपयोगी बनाने हेतु आवश्यक कार्य करवाए जाएंगे।  शहर के लिए विशेष योजना डीएलबी राज्य सरकार के द्वारा संचालित हो रही सभी योजनाओं को संबंधित पात्र लाभार्थी तक पहुंचाने हेतु कार्य किए जाएंगे। 

सीवरेज दूसरे चरण के 111 करोड़, जलदाय विभाग की योजना  55 करोड़ तैयार की जा चुकी है, जल्द से जल्द सरकार से टेंडर करवाने की कार्यवाही करवाई जाएगी। 


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००

 राठी स्कूल एवं माणक चौक से रिलायंस पंप आईडीएसएमटी योजना तक स्ट्रीट लाइट लगाने की कार्यवाही की जाएगी। 

हनुमान खेजड़ी मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए इस सड़क को डिवाइडर सड़क बनवा कर दोनों तरफ छायादार पौधे पेड़ लगाकर व कुर्सियां लगाकर अच्छा कार्य करवाया जाएगा। शहर की सफाई व्यवस्था के लिए नए कर्मचारियों की स्थाई भर्ती की कार्यवाही करवाने की योजना है। ऐतिहासिक सूरत सागर व  गणेश मंदिर के सौंदर्यीकरण कराने की भी योजना है। इस क्षेत्र में चौपाटी मार्केट बनाने का प्लान भी तैयार किया जाएगा। सूर्योदय नगरी क्षेत्र में पुलिस चौकी के लिए बड़ोपल रोड पर किसी जगह स्थान चयनित किया जाएगा।


 नगर पालिका अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा और गंगाजल मील ने शहर के विकास और सौंदर्यीकरण करने के लिए शहर के नागरिकों से भी सहयोग की अपील प्रेस कान्फ्रेंस के माध्यम से की है।


००  करणी प्रेस इंडिया की विशेष रिपोर्ट.००






शनिवार, 4 जुलाई 2020

श्रीगंगानगर जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने संभाला कार्यभार



श्रीगंगानगर, 4 जुलाई 2020.

श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने शनिवार सायं जिला कलक्टर का पदभार ग्रहण किया। जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा इससे पूर्व वन विभाग के संयुक्त शासन सचिव के पद पर थे। श्री महावीर प्रसाद वर्मा की पहली पोस्टिंग विकास अधिकारी के पद पर अनूपगढ़ में रही। जिला कलक्टर काल के रूप में यह   शुरुआत है।

प्रेस वार्ता में पत्रकारों से कहा कि लोक सेवक के रूप में कार्य करूंगा। कार्यः- जिला कलक्टर

जिला कलक्टर ने पदभार ग्रहण करते ही सबसे पहले श्रीगंगानगर के मीडिया प्रतिनिधियों से प्रेसवार्ता की और कहा कि वे इस पद पर जनता के लोक सेवक के रूप में कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि वे कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए कृत-संकल्प हैं।

 उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर अभी अन्य जिलों से बेहतर स्थिति में है और वे उसे बनाए रखने की पूरी कोशिश करेंगे। उन्होंने कोविड-19 की हालात की सबसे पहले समीक्षा की व सीएमएचओ को निर्देशित किया कि वे कोविड-19 पर राज्य सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पूर्णतया पालन कराएं।

उन्होंने कहा कि जहां भी कोरोना के नये मरीज आएंगे, वहां कर्फ्यू लगाना, आइसोलेट करना, आसपास के घरों का सर्वे किया जाएगा व ट्रीटमेंट तथा कैंटोनमेंट जोन यथाशीघ्र तय किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वे कोरोना से संबंधित सभी मामलों को स्वयं माॅनिटर करेंगे।

जिला कलक्टर ने कहा कि वे श्रीगंगानगर के ड्रेनेज सिस्टम पर कार्य करेंगे तथा शहर को पानी भरने की समस्या से छुटकारा दिलाने का पूर्ण प्रयत्न करेंगे। उन्होंने कहा कि बिजली, पानी तथा किसानों की समस्या का जल्द हल निकाला जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्या यदि तहसील स्तर पर हो तो उसे तहसील स्तर पर ही हल किया जाएगा। जिला कलक्टर के रूप में वे हर समस्या का समाधान 24 घंटे करने के लिए स्वयं उपलब्ध रहेंगे। 

प्रेस वार्ता में एडीएम प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी, एडीएम सर्तकता श्री अरविंद जाखड़ तथा सभी मीडिया जन व सूचना केंद्र के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।**

-------/-



शुक्रवार, 3 जुलाई 2020

👌तुम्हारे मिलन से मैं भीग भीग मस्त हो जाऊंगा।* कविता- करणीदानसिंह राजपूत।


तुम आओ दोनो गले मिलें
पचास डिग्री गरमी भीतर।
तुम्हारे मिलने से मेरा तन
शीतल शीतल हो जाएगा।


तुम्हें भेज रहा रोज संदेश
तुम पढती हो हर संदेश।
रात में जब वो चली जाती
तब कितने बुलावे देता हूं।


दिन में गरमी में आ मिलो
तुमसे मिले बिना चैन नही।
दिन में आओ तो बुरा नही
रात के अंधेरे में मिललो।


तुम समझो मेरी बेचैनी
यह गरमी झुलसा रही है।
तुम आओ और मिल लो
प्रिय क्यों सता रही हो ।


मेरे संग  दूजों से भी  मिलन
कितना अच्छा मौका होगा।
बस,जल्दी से आओ मिलो
मुझे शीतल शीतल कर दो।


आकाश से उतर परी जैसे
लिपटो चिपटो मेरे अंगों से।
मेरे हर अंग को तर करदो
मैं भीग भीग मस्त हो जाऊं।


तुम आओ दोनो गले मिलें
पचास डिग्री गरमी भीतर।
तुम्हारे मिलने से मेरा तन
शीतल शीतल हो जाएगा।


मुझे भरोसा है तुम आओगी
मैं भीगा भीगा गाऊंगा गीत।
तुम्हारे मिलन से मेरा तन ओ
मेरी धरा शीतल शीतल होंगे।


***शब्द विन्यास.
करणीदानसिंह राजपूत,
सूरतगढ़।
94143 81356.
******



गुरुवार, 2 जुलाई 2020

पत्रकारवार्ता में कालवा और मील ने भाजपा नेताओं पर आरोप लगाते हुए खूब धोया

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 2 जुलाई 2020.

नगर पालिका अध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा और पूर्व विधायक गंगाजल मील ने आज पत्रकार वार्ता में भाजपा नेताओं और  विधायक रामप्रताप कासनिया पूर्व पालिका अध्यक्ष काजल छाबड़ा पर आरोपों की झड़ी लगाकर खूब धोया। 

हालांकि आरोपों के बाद एक पत्रकार ने ओमप्रकाश कालवा से स्पष्ट कहा कि भाजपा  नेता कार्यकर्ता भ्रष्टाचार में दोषी हैं तो अभी तक उनके विरुद्ध मुकदमे करवाने में पीछे क्यों रहे हैं।

मील ने कई मामले मौखिक आरोप लगाते हुए बताए और कहा कि मीडिया छापता नहीं है। काजल छाबड़ा के राज में सबसे अधिक पट्टे बांटने और उनमें भ्रष्टाचार होने के आरोप मील द्वारा लगाए गए। काजल छाबड़ा के राज में अतिक्रमण नियमन और स्टेट ग्रांट कमीशन पट्टे जारी करने के आरोप चर्चित रहे थे। काजल छाबड़ा भाजपा का पिछला बोर्ड था।

यह भी कहा कि हमारे पूर्व पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल अब पट्टों में भ्रष्टाचार होने का आरोप कालवा पर लगा रहे हैं जबकि उनके द्वारा गलत पट्टे बनाए गए और खुद बचने के लिए कह रहे हैं कि भ्रमित कर तत्कालीन ईओ ने उनसे पट्टे बनवा लिए। यह सरकार को लिखा। मील ने कहा मीडिया ने उन पर नहीं छापा। एक पत्रकार ने कहा कि अनेक बार यह गबर छपी लेकिन आप मुकदमें नहीं करते। उनमें भाजपा के पट्टे हैं और आप आपस में मिले हुए हो,कार्रवाई नहीं करते। बनवारी लाल द्वारा जारी पट्टों और बाद में बनवारीलाल द्वारा स्वायत्त शासन मंत्री को लिखे पत्र का समाचार ब्लास्ट की। आवाज में दो बार छप चुका है। उसमें भाजपा के क ई नेताओं के नाम पट्टे बनाने का लिखा है। मील को भी उसकी कोपी दी गई थी। पालिकाअध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा के पास वह सूची भी थी जो दिखाई।

कोरोना लाक डाउन में पट्टे काटने की चर्चा होने की बात एक पत्रकार ने उठा कर सवाल किया। अध्यक्ष ने कहा कि उनकी जांच एसडीएम कर रहे हैं। उन्हें सभी कागजात दे दिए गए हैं। यदि पट्टे जारी होने में नियम विरुद्ध होंगे तो उन पर कार्रवाई होगी। भू माफिया पर अध्यक्ष कालवा और मील दोनों बोले कि अतिक्रमण तुड़वाए हैं और कुछ पर मुकदमा भी करवाया है। अतिक्रमण नहीं होने दिया जाएगा।  मील और कालवा के हावभाव से लग रहा था कि आगे मुकदमे कराए जा सकते हैं। अब कोई तनातनी बढी है। ऐसा लग रहा था। मील ने कासनिया की जाखड़ावाली भूमि मुआवजा पर टिप्पणी की जो नये उच्च मार्ग में आई है। एक जाखड़ावाली स्कूल का मामला भी बताया। मील कासनिया और पूर्व पालिकाध्यक्षों बनवारीलाल मेघवाल और काजल छाबड़ा पर आक्रामक रुख में थे। मील और कालवा मंच पर थे जबकि उनके अलावा पत्रकारवार्ता में उपाध्यक्ष सलीम कुरैशी,संगठन के शहर अध्यक्ष विकासदीप गाबा,ब्लॉक महामंत्री धर्मदास सिंधी,महेंद्र गोदारा,सुरेश गवारिया व अन्य पार्षद भी थे।


कालवा ने विकास और निर्माण कार्य करवाने का,सीवरेज के नये चरण,विशाल बाजार,पालिका के नये कार्यालय आदि का विस्तृत ब्यौरा दिया,जिसका समाचार अलग से विभिन्न रूपों में देंगे।



( करणी प्रेस इंडिया समाचार)





बुधवार, 1 जुलाई 2020

💐 प्रिय आओ,मैं झूम झूम नाचूंगा: काव्य शब्द- करणीदानसिंह राजपूत*


अगर तुम आज आई
मैं झूम झूम नाचूंगा।
मैं समझूंगा मेरे संदेश
तुमने स्वीकार किये।


मेरा तप मेरे संदेश
तुम देखती रही हो।
मगर कोई उत्तर नहीं
बस तुम्हारा इंतजार।


यह अनोखी परीक्षा
मैं होता पसीना पसीना।
तुम्हें तो सभी चाहते हैं
सभी मिलने को आतुर।


तुम आओगी आज
मुझे बुलाओगी आज।
प्यार बरसाओगी आज
तन मन नहाएगा आज।


मेरे संदेश प्यार भरे
तुम पढती रही हो।
बस नखरा तुम्हारा
कर रहा हूं सहन।


आज तुम आई तो
मैं झूम झूम नाचूंगा।
मैं समझूंगा मेरे संदेश
दिल से स्वीकार किए।


तुम्हारी दूरी बढाती बेचैनी
क्यों आग में झुलसाती हो।
आज आओ बरस पड़ो
तन मन को भिगो डालो।


प्रिय आज आओ न
मैं झूम झूम नाचूंगा।
मैं समझूंगा मेरे संदेश
तुमने स्वीकार किये।


तुम्हारी ठंडी ठंडी बूूंदें
भिगोएगी अंग प्रत्यंग।
बरसने की चाह तुम्हारी
मिलन ईच्छा पूरी होगी।


तुम आओ न आज
मैं झूम झूम नाचूंगा।
००००००
शब्द विन्यास:-
करणीदानसिंह राजपूत,
पत्रकार
सूरतगढ़।
94143 81356.
*******






यह ब्लॉग खोजें