गुरुवार, 30 जुलाई 2020

श्रीगंगानगर जिले में रविवार को आना जाना पूरी तरह से बंद का आदेश


* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़/श्रीगंगानगर 30 जुलाई 2020.


 जिला मजिस्ट्रेट कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा ने कोरोना वायरस संक्रमण से जनता को बचाने के लिए यह आदेश जारी किया है। 

इसका मतलब यह है कि कोई भी व्यक्ति रविवार को घर से बाहर नहीं निकल पाएगा।

इस आदेश के तहत शनिवार शाम 7:00 बजे बाजार बंद होने के बाद सभी को 8:00 बजे तक हर हालत में अपने घर पहुंचना होगा। इस आदेश के अनुसार शनिवार रात के 8:00 बजे सभी अपने अपने घरों में पैक हो जाएंगे इसके बाद शनिवार की पूरी रात रविवार का पूरा दिन और रविवार की पूरी रात घर में रहना होगा। सोमवार को बाहर निकलना होगा।व्यक्ति अपना कार्य जो निपटा सकते हैं वह शनिवार रात के 7:00 बजे से पहले ही उचित रूप से निपटाना चाहिए। 

यह कर्फ्यू जैसी स्थिति कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए है इसलिए इसका पालन हर व्यक्ति को चाहे वह किसी भी उम्र का हो पालन करना चाहिए। कोरोना महामारी में सरकारी कानूनों का पालन करना चाहिए ताकि व्यक्ति खुद बचे और दूसरों को भी बचा सके।

यह आदेश अगस्त माह पूरे में लागू रहेगा। इसे सख्ती से पालन करवाया जाएगा इसलिए लोगों को स्थिति को समझना चाहिए और रविवार को अपने घरों से बाहर आवागमन नहीं करना चाहिए।००


बृजलाल स्वामी की मौत आत्महत्या- दो पुत्रों सहित 6 ने आत्महत्या को मजबूर किया।

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 30 जुलाई 2020.

 बृजलाल स्वामी का मौत का खुलासा चौंकाने वाला हुआ है जिसकी अभी विस्तृत जांच बाकी है। 

मृत बृजलाल के पास पुलिस को आत्महत्या पत्र मिला है जिसमें उसने दो पुत्रों राजेंद्र और हेतराम पुत्र मंगतू की पत्नी, पत्नी की बहन और पत्नी के माता पिता को बांधा है। 

 इन लोगों से तंग होकर आत्महत्या करने का लिखा है।

बृजलाल स्वामी ने संपत्ति विवाद में अनेक पंचायतों के बाद तंग आकर यह कदम उठाया है।

श्री गंगानगर से प्रकाशित होने वाले पत्र फाइटर में यह खुलासा हुआ है कि बृजलाल स्वामी रात को अपने घर से देसी कट्टा 

लेकर  निकला और अपने पुत्र राजेंद्र के घर के आगे उसने खुद को गोली मारी। राजेंद्र के घर के पास ही दूसरे पुत्र हेतराम का मकान भी है। बृजलाल स्वामी अपने जिस पुत्र मंतूराम के पास रहता था उसकी पत्नी यानि पुत्रवधू अपनी साली,सास और ससुर को भी आत्महत्या का कारण बताया है। पुलिस के विस्तृत जांच से मालूम होगा कि आत्महत्या के पीछे पूर्ण रूप से यह लोग दोषी हैं या बृजलाल स्वामी ने उत्तेजना में इनके नाम लिखे हैं।


 सूरतगढ़ में पहले भी इस प्रकार के मामले हुए हैं जिनमें आत्महत्या नोट में अनेक लोगों को बांधा गया लेकिन उनका कुछ बिगड़ा नहीं। 

इस केस में भी मृतक ने 6 पर आरोप लगाया है और उनके नाम लिखे हैं, लेकिन पुलिस की जांच के बाद ही पूरी हालात सामने आएगी।०००




सूरतगढ़-बहुचर्चित बृजलाल स्वामी 70 वर्ष की गोली से मौत-बेटे के घर आगे पड़ा था शव.किसने मारा पर चर्चाएं गर्म-



* करणीदानसिंह राजपूत*

सूरतगढ़ 30 जुलाई 2020.


सूरतगढ़ की कच्ची बस्तियों में, अतिक्रमण की राजनीति और राजनीतिक दलों व नेताओं के संपर्कों संबंधों में पिछले करीब 40 सालों से विवादों में चर्चित रहे बृजलाल स्वामी का शव बिश्नोई धर्मशाला के पास पड़ा मिला। एक पुत्र के घर के आगे बृजलाल स्वामी का शव पड़ा था। बृजलाल अपने अन्य बेटे मंगतू के साथ रहता था। वह घर काफी दूर है।


सूरतगढ़ की कच्ची बस्तियों के ज्यादातर व्यक्ति बृजलाल स्वामी से और नाम से परिचित हैं। जिस राजनीतिक दल की प्रदेश में सरकार रही बृजलाल स्वामी उस दल के स्थानीय नेता व विधायक के संपर्क करने में माहिर रहा।


गोली लगने से मौत का मामला है। जांच से ही मालूम होगा कि गोली किसने और कब मारी और क्यों मारी?


मृतक कुछ सालों से घरेलू संपत्ति विवाद व मुकद्मे से भारी परेशान भी रहा था। एक पुत्र से अधिक था संपत्ति विवाद। पुत्र पर चर्चाएं गर्म हैं। मृतक के तीन पुत्र हैं। चर्चाएं गर्म है कि एक पुत्र  से विवाद अधिक था। 

बृजलाल स्वामी की रिश्तेदारियां आसपास ही हैं। बृजलाल का शव मौके पर ही पड़ा है। मृतक के कुछ रिश्तेदार भी सूचना मिलने पर सूरतगढ़ पहुंचे हैं।


श्रीगंगानगर की एफएसएल टीम  घटनास्थल से सुबूत जुटाएगी।सूरतगढ़ सिटी पुलिस के आला अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। संभव है की पुलिस कुछ घंटों में मामला ओपन करदे। 

यह बिंदु भी महत्वपूर्ण है कि बृजलाल भोर में यहां क्यों आया था? उसका निवास तो दूर है।

पुलिस के सामने दो पहलु हैं।

1- क्या बृजलाल को गोली मारी गई यदि हां तो किसने मारी?

2- क्या बृजलाल ने आत्महत्या की?

००



गृह मंत्रालय ने अनलॉक-3 के लिए जारी किए दिशा-निर्देश,जिम खुलेंगे:स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे.


अनलॉक-3 के दौरान सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यों की अनुमति नहीं। इसके अलावा, स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 31 अगस्त, 2020 तक बंद रहेंगे।


 देश में कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए केंद्र सरकार ने चार चरणों में लॉकडाउन लगाया जिसके बाद अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की गई। सरकार ने देशभर में अनलॉक 3 के लिए बुधवार को दिशानिर्देश जारी कर दिये जिनमें निषिद्ध क्षेत्रों के बाहर और अधिक गतिविधियों की अनुमति दी गयी है, लेकिन स्कूल, कॉलेज, मेट्रो रेल सेवाएं, सिनेमाघर और बार 31 अगस्त तक बंद रहेंगे। राजनीतिक और धार्मिक समागमों पर भी रोक जारी रहेगी। कोरोना वायरस के कारण 25 मार्च से लागू लॉकडाउन के बाद से सरकार ने पहली बार योग संस्थानों और जिम को पांच अगस्त से खुलने की अनुमति दी है जिसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय अलग से मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी करेगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से गहन विचार-विमर्श के बाद निर्णय लिया गया है कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 31 अगस्त तक बंद रहेंगे। हालांकि मंत्रालय के अनुसार, रात में लोगों की आवाजाही पर पाबंदी (रात्रिकालीन कर्फ्यू) को हटा लिया गया है। ‘अनलॉक 3’ के दिशानिर्देश एक अगस्त से प्रभाव में आएंगे और निषिद्ध क्षेत्रों में 31 अगस्त तक लॉकडाउन कड़ाई से लागू रहेगा।

प्रतिबंधित गतिविधियों में मेट्रो रेल सेवाएं, सिनेमाघर, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर, बार और सभागारों का खुलना शामिल है। सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक समारोह और अन्य समागम भी 31 अगस्त तक प्रतिबंधित रहेंगे।

 



गृह मंत्रालय ने इन लोगों को घर पर रहने की सलाह दी

गृह मंत्रालय की ओर से 65 साल से ज्यादा उम्र, बीमारियों से जूझ रहे लोगों, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर में रहने की ही सलाह दी गई है। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना पहले की तरह अनिवार्य रहेगा। शादी-समारोह में 50 से ज्यादा लोगों की इजाजत नहीं होगी। अंतिम संस्कार में 20 लोगों से ज्यादा के शामिल होने पर रोक जारी रहेगी।


   

एक राज्य से दूसरे राज्य जाने में कोई प्रतिबंध नहीं


किसी राज्य के अंदर और एक राज्य से दूसरे राज्य में लोगों व वस्तुओं के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा। इसके लिए अलग से अनुमति या ई-परमिट लेने की भी जरूरत नहीं होगी। अनलॉक 3 में कोविड- 19 पर केंद्र सरकार की ओर से जारी सभी प्रोटोकॉल पूरी तरह लागू रहेंगे।


   

कंटेनमेंट जोन की निगरानी केंद्र सरकार करेगी


देश के सभी कंटेनमेंट जोन की निगरानी केंद्र सरकार करेगी। राज्य सरकारों को कंटेनमेंट जोन के बाहर की गतिविधियों पर फैसला लेना है। राज्य सरकार कंटेनमेंट जोन के बाहर की कुछ गतिविधियों को प्रतिबंधित कर सकते हैं।


   

निर्माण गतिविधियां चलेंगी लेकिन सामाजिक दूरी और मास्क का पालन करना होगा


कंटेनमेंट जोन में 31 अगस्त तक लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाना जारी रहेगा। निर्माण गतिविधियां चलेंगी लेकिन सामाजिक दूरी और मास्क का पालन करना होगा।


   

हालात के आधार पर मेट्रो रेल, सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल आदि खोलने का फैसला लिया जाएगा


मेट्रो रेल, सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल और इसी तरह के स्थान सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्य और अन्य बड़ी मंडलियां इन सबको खोलने के लिए हालात के आधार पर फैसला लिया जाएगा।

कोविड-19. प्रतिष्ठान सायं 7 बजे तक खुलेंगे, 8 बजे तक व्यापारी, कार्मिकों को घर पहुंचना होगा



* करणीदानसिंह राजपूत*

श्रीगंगानगर, 29 जुलाई 2020.


 जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट महावीर प्रसाद वर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमण एवं बचाव के लिये रात्रि कालीन कर्फ्यू (धारा 144) के समय में परिवर्तन करते हुए, इस अवधि को बढ़ाया जायेगा। रात्रि कालीन कर्फ्यू का समय रात्रि 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक है, इस रात्रि कालीन कर्फ्यू की अवधि बढ़ाते हुए अब सायं 7 बजे व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद कर 8 बजे तक उद्यमियों, कार्मिकों को अपने घर पहुंचना होगा। यह व्यवस्था 30 जुलाई 2020 से प्रभावी होगी। 

जिला कलक्टर श्री वर्मा ने बुधवार को शहर के विभिन्न व्यापारिक संगठनों, प्रतिष्ठानों के पदाधिकारियों से संवाद के दौरान यह बात कही। सभी संगठनों के पदाधिकारियों ने सर्वसम्मति से जिला प्रशासन का सहयोग करने का आश्वासन दिया। जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना महामारी के समय में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। आमजन को इस महामारी से बचाने के लिये सभी प्रतिष्ठान सायं 7 बजे अपना प्रतिष्ठान का कार्य पूर्ण कर रात्रि 8 बजे तक अपने-अपने घरों में पहुंचना होगा। 

जिला कलक्टर ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोरोना प्रोटोकाॅल का उल्लंघन करने पर एक सप्ताह का विशेष अभियान चलाया गया, जिसमें लगभग 5000 चालान किये गये तथा 7 लाख रूपये का जुर्माना लगाया गया। 

मास्क का उपयोग नही करने, सामाजिक दूरी की पालना नही करने, शादी समारोह में 50 से अधिक की संख्या पाये जाने, अंत्येष्टि  में 20 से अधिक की संख्या होने पर, सार्वजनिक स्थलों पर थूकने पर अधिकारियों द्वारा कार्यवाही की जायेगी। 

चालान के साथ-साथ जुर्माना होगा तथा आवश्यकता पड़ने पर पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी। 

उन्होंने कहा कि किसी समारोह में सरकारी कार्मिक उपस्थित है तथा  प्रोटोकाॅल का उल्लंघन पाये जाने पर संबंधित कार्मिक को निलम्बित किया जायेगा। 


जिला मजिस्ट्रेट श्री वर्मा ने कहा कि अंतर्राज्जीय सीमाओं पर आवागमन को लेकर सख्ती की जायेगी। अन्य  राज्यों में आवागमन के लिये जिला मजिस्ट्रेट, अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट, एसडीएम, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तथा थानाधिकारी स्तर के अधिकारी पास देने के लिये अधिकृत है।

 किसी भी नागरिक को असुविधा नही हो, इस बात का विशेष ध्यान रखा जायेगा। 

इस अवसर पर एडीएम प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी, एसडीएम श्री उम्मेद सिंह रतनू, प्रर्वतक अधिकारी श्री सुरेश कुमार, विभिन्न प्रतिष्ठानों के पदाधिकारी, गुड चीनी एसोशिएसन के कालीचरण अग्रवाल, कच्चा आहड़तियां संघ के श्री कुलदीप, श्री रमेश कुक्कड़, चेम्बर आॅफ काॅमर्स के श्री रामगोपाल पांडुसरिया, गंगानगर परचून एसोशिएसन के श्री चंदुराम बदरा, संयुक्त व्यापार मंडल के श्री संदीप सेरेवाला, श्री रोशनलाल बंसल, हाॅलसेल किरयाना के श्री राकेश शर्मा, संयुक्त व्यापार मंडल के श्री ललित शर्मा, श्री हरीओम लूथरा, श्री कृष्ण चंद आसोपा, बस यूनियन के अध्यक्ष श्री सोनू अनेजा, श्री गुरूपाल सिंह, श्री जोगेन्दर बजाज, श्री तरसेम गुप्ता, श्री अमित चुघ, श्री लोकेश मनचंदा, दुर्गामंदिर ऐसोशिएसन के श्री नरेन्द्र चोधरी, श्री मुकेश तलुजा, श्री कृष्णलाल, श्री रामप्रकाश मिढ्ढा, श्री नरेश सेतिया, श्री संदीप अनेजा, श्री रणधीर मिढ्ढा व श्री नीटा सुखेजा सहित विभिन्न व्यापारिक प्रतिष्ठानों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

----------



बुधवार, 29 जुलाई 2020

कोविड-19 संक्रमण एवं बचाव-जुर्माना लगाने की पावर किनके पास है।


श्रीगंगानगर, 29 जुलाई 2020.
कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं संक्रमण के प्रसार की रोकथाम हेतु संक्रमण की श्रंखला को तोड़ने व आमजन का जीवन बचाने हेतु लोकहित में राज्य सरकार द्वारा निरन्तर सभी संभव प्रयास किये जा रहे है।
इसके अलावा समय-समय पर राज्य सरकार द्वारा इस संबंध में आवश्यक आदेश, एडवाईजरी व दिशा निर्देशों की पालना करवाने के लिये उपखण्ड मजिस्ट्रेट, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, हैड कांस्टेबल एवं उनसे उपर के पुलिस विभाग के अधिकारी, राजस्व निरीक्षक, सफाई निरीक्षक एवं उनसे उपर के नगर निकाय के अधिकारी तथा सचिव मंडी समिति को जुर्मानें से दण्डित करने हेतु अधिकृत किया गया है। 
जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अभियान 1 अगस्त 2020 तक बढ़ाया जाता है। गृह विभाग के आदेशानुसार वर्णित अपराधों के संबंध में कार्यवाही करते हुए जुर्माना राशि से दण्डित कर जुर्माना राशि हैड में दण्डाधिकारी न्यायालय में जमा करवाकर प्रतिदिन की निरीक्षण  रिपोर्ट की सूचना संलग्न प्रपत्र में संबंधित उपखण्ड अधिकारी को भिजवायेंगे तथा समस्त उपखण्ड अधिकारी अपने क्षेत्र की संकंलित सूचना अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट सतर्कता श्रीगंगानगर को ईमेल आईडी judcollsgnr@gmail.com  , व्हाॅटस एप नम्बर 9829067097 एवं 9887605684 पर उसी दिवस सायं 6 बजे तक प्रेषित करेंगे।
----------


* सूरतगढ़ कोरोना संक्रमित रेलकर्मी को कोविड सेंटर भेजा गया.

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 29 जुलाई 2020.

सूरतगढ़ में पुराना लोको स्थान की रेलवे कालोनी में एक रेलकर्मी कोरोना संक्रमित मिला हैँ जिसे 28 जुलाई को देर रात ईलाज के लिए कोविड सेंटर श्रीगंगानगर भिजवाया गया।

यह कर्मचारी 15 जुलाई को बिहार से लौटा था। यहां 25 जुलाई को 23 जनों के सैम्पल लिये गये थे। प्रयोगशाला जांच में 22 जनों कि रिपोर्ट नैगेटिव और उक्त रेल कर्मी की रिपोर्ट पोजिटिव आई। 

इस आधार पर सरकारी कर्मचारियों के दल 28 जुलाई शाम को उक्त रेल कर्मचारी के आवास पर पहुंचा। उसके आवास पर ताला लगा था। सेम्पल लेने के बाद कर्मचारी को अपने आवास पर ही रहने की हिदायत दी गई थी। 

उससे संपर्क किया गया तो वह स्वरूपसर से आगे श्रीबिजयनगर रोड पर स्कूटी दौड़ा रहा था। उसने सरकारी दल को बताया कि यों हि घूमने आ गया था। उसके दो घंटे बाद सूरतगढ़ पहुचने पर रात को पूछताछ कर करीब नौ बजे कोविड सेंटर श्रीगंगानगर भिजवाया गया।


उसका आवास पुराना लोको स्थान की रेलवे कालोनी में रामलीला मंच के पीछे डबलस्टोरी में आवास है। वह अकेला रहता है।


उसके संपर्क में आए रेल कर्मचारियों व अन्य लोगों को अपना चेकअप कराना चाहिए।००




मंगलवार, 28 जुलाई 2020

* उसके प्यार से बेचैन दुनिया* काव्य शब्द- करणीदानसिंह राजपूत.


प्यार करने को सभी
तड़पते रहते हैं।
प्यार छुपे छुपे कर
कोई तारे गिनता है।

रात को छत पर
कोई नदिया किनारे
बहते पानी में ढूंढता
समुद्र की लहरों में।

कोई भूले बिसरे गीत
सुनकर जी बहलाता
कोई चित्र देखता
तो कोई चित्र बनाता।

अनेक मेरे जैसे तो
दिल में ही देखते हैं
और दिल में से
निकालने नहीं देते।

दूसरों को बताने से
डरते हैं कोई छीन ले
उस प्यार को जिसे
कली से पुष्प बनाया।

प्यार कभी हम नहीं
दूसरा भी कर लेता है
अचानक मालूम पड़ते
ही हमारा चैन खत्म।

तब बाग बगीचे नदिया
समुद्र की लहरें किनारा
पहाड़ आकाश बादल
कुछ भी नहीं सुहाता।

ऐसा प्यार जिसके
संकेत मिलते ही वो
भाग उठता है तुरंत
ईलाज के लिए।

प्यार का अहसास
अच्छा नहीं लगता
उसकी तस्वीर भी
देखना नहीं चाहता।

बड़ा अजब गजब है
अनूठा है उसका प्यार
वह दिल लगाता है
दुनिया दूर भागती है।

प्यार करने को सभी
तड़पते हैं हर वक्त
मगर इस प्यार से
सभी दूर भागते हैं।

दुनिया के हर देश में
उसके प्यार के चर्चे
वह तो करता है प्यार
जग मारने को लगा है।

उसने जिससे प्यार किया
लोग उससे भी दूर भागते
पूरी दुनिया उसे मारने का
तरीका खोजने में लगी।

बड़ा अजब गजब है
अनूठा है उसका प्यार
वह दिल लगाता है
दुनिया दूर भागती है।

०००००
दि. 28 जुलाई 2020.
करणीदानसिंह राजपूत,
पत्रकार,
सूरतगढ़
94143 81356.
*******

सूरतगढ़ थर्मल में कारगिल विजय दिवस एवं विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस पर भाविप द्वारा पौधारोपण.


* करणीदानसिंह राजपूत





सूरतगढ़/श्रीगंगानगर, 28 जुलाई 2020:
कारगिल विजय दिवस तथा विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस उपलक्ष्य भारत विकास परिषद थर्मल शाखा द्वारा जूनियर इरेक्टर हॉस्टल एसटीपीएस कॉलोनी में वृक्षारोपण किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अभियंता केएल मीणा द्वारा पौधारोपण करके की गई।
पर्यावरण प्रकल्प प्रभारी मनीष कालड़ा ने बताया कि जूनियर इरेक्टर हॉस्टल के युवा अभियंता अश्विनी, अभिषेक, आशुतोष, विक्रम तथा कनिष्ठ अभियंता साथियों के प्रयासों से एसटीपीएस कॉलोनी में 50 छायादार व फलदार पौधे लगाए गए।
पौधारोपण कार्यक्रम में मातृशक्ति सोनल, विनोद गोदारा, वर्षा, पदमा तथा मनीषा ने श्रमदान करके महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 
इस अवसर पर उप मुख्य अभियंता एसके परिहार, अधीक्षण अभियंता एमआर चाचान, राजेश, हॉस्टल में रह रहे वरिष्ठ अभियंता साथियों के साथ, सिविल से अधिशासी अभियंता हिम्मत सिंह, थर्मल शाखा से विनोद आढा, गोपाल मित्तल, वीरेंद्र सिंह, मनोज गुप्ता, मनोज शर्मा, दीपक गुप्ता तथा हुकमाराम आदि उपस्थित थे।
* बिना मास्क वाली फोटो प्रकशित नहीं कर रहे*
( मनीष कालड़ा,पर्यावरण प्रकल्प प्रभारी,भारत विकास परिषद्
थर्मल शाखा।
मो.नं. 94133-42186 )
********



लेटेस्ट न्यूज-श्रीगंगानगर जिले में बसों व निजी वाहनों से प्रवेश करने वालों की प्रभावी मोनिटरिंग *

* * करणीदानसिंह राजपूत*

श्रीगंगानगर, 27 जुलाई 2020. जिला कलेक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा की अध्यक्षता में कोरोना बचाव संबंधी बैठक जिला कलक्ट्रेट सभाहाॅल में सोमवार सायं संपन्न हुई।

 जिला कलेक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोरोना की स्थिति से निपटने के लिए युद्ध स्तर पर तैयारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना पाॅजिटिव की रिपोर्ट जल्द दी जाए, ताकि उनके क्लोज काॅन्टेक्ट्स के सैम्पल शीघ्र लिए जा सकें। उन्होंने प्रो एक्टिव होकर कार्य करने के निर्देश दिए। 

 श्री वर्मा ने मौके पर ही सैम्पलिंग करने के निर्देश सीएमएचओ को दिए। उन्होंने कहा कि सैम्पलिंग का समय निश्चित हो तथा सम्पूर्ण जिले में सीसीसी (कोविड केयर सेंटर) में पूरी व्यवस्था रखी जाए ताकि केसेज बढ़ने के समय परेशानी नहीं हों। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कार्ययोजना तैयार कर जिला कलेक्टर को वस्तुस्थिति से अवगत कराया तथा कोरोना बचाव के संबंध में जिला कलेक्टर ने दिशा निर्देश जारी किए।

 जिला कलेक्टर ने श्रीगंगानगर जिले में आने वाले माइग्रेंट्स के मौके पर ही सैंपल लेने के लिए चिकित्सा विभाग को मुस्तैदी से कार्य करने के निर्देश दिए व कहा कि माइग्रेन्ट्स के बसों से उतरने पर ही या प्राइवेट गाड़ियों से जिले में प्रवेश करने की प्रभावी माॅनिटरिंग की जाए। जिला कलेक्टर ने पूरे जिले के ग्रामीण इलाकों विशेषकर कस्बों में मास्क पहनने व सैनिटाइजिंग करने पर जोर देने के लिए चिकित्सा विभाग को पाबंद किया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में आशा व एएनएम का सहयोग लेकर घर.घर सर्वे कराया जाए तथा सर्दी जुकाम के मरीजों को तुरंत अपने टेस्ट कराने के लिए भेजा जाए ताकि जिले में कोरोना मरीजों को बढ़ने से रोका जा सके।

 उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार सभी सरकारी कार्यालयों, व्यापारिक संस्थानों, दुकानों, फैक्ट्रियों, प्राइवेट दफ्तरों में बाहर कोविड-19 से संबंधित पोस्टर प्रदर्शित किए जाएं, जिससे कोविड-19 से संबंधित महामारी को रोकने के लिए जनता को जागरूक किया जा सके।

 बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) डाॅ0 गुंजन सोनी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (सिटी) अरविंद जाखड़, यूआईटी सचिव डाॅ0 हरीतमा, सीएमएचओ डाॅ0 गिरधारी लाल मेहरड़ा एवं पीएमओ के डाॅ0 एस कामरा सहित अन्य चिकित्सा विभाग के अधिकारी मौजूद रहे। 

--------------


सोमवार, 27 जुलाई 2020

जैतसर फार्म में 160 मेगावाट का सोलर प्लांट लगेगा- सांसद द्वारा सीएमसीएस भवन का शिलान्यास

 

* केन्द्रीय फार्म के 340 हैक्टर भूमि पर लगेगा राज्य का सबसे बड़ा पाॅवर प्लांट*


श्रीगंगानगर, 27 जुलाई 2020.

 पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद ने कहा कि जैतसर सोलर प्लांट से इस क्षेत्र को बिजली पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति संभव होगी तथा इस क्षेत्र को आर्थिक गति मिलेगी। 

श्री निहालचंद सोमवार को केन्द्रीय जैतसर फार्म में 160 मेगावाट के सोलर प्लांट के सीएमसीएस के भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि यह सोलर प्लांट इस वर्ष में बिजली का उत्पादन प्रारम्भ कर देगा। यह सोलर प्लांट राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड के 340 हैक्टर जमीन पर स्थापित किया जाना प्रस्तावित है। 

श्री निहालचंद ने कहा कि केन्द्र सरकार विधुत के क्षेत्र में बहुत तेज गति से कार्य कर रही है। आने वाले समय में पूरा देश विधुत के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होगा तथा प्रत्येक किसान, उद्यमी, परिवारों को जरूरत के अनुसार उच्च गुणवत्ता की विधुत उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि विधुत के अलावा सड़क विकास, कृषि विकास, शिक्षा, चिकित्सा तथा प्रत्येक नागरिक को शुद्ध पेयजल मिलें, इसके लिये बड़ी-बड़ी परियोजनाएं प्रगतिरत है। उन्होंने कहा कि देश में सौर उर्जा के विकास के लिये केन्द्र सरकार द्वारा अधिक प्रयास किये जा रहे है। किसानों को सिंचाई के लिये भी अनुदान पर सोलर की सुविधा उपलब्ध है। नागरिक अपने घरों में भी अनुदान पर सोलर प्लांट स्थापित कर सकते है। 

श्री निहालचंद ने ग्राम बाजुवाला के निकट 710 करोड़ रूपये की लागत से 340 हैक्टर भूमि पर लगने वाले राजस्थान के सबसे बड़े 160 मेगावाट सोलर प्लांट का शिलान्यास किया। इस प्लांट को एनटीपीसी के द्वारा तैयार किया जा रहा है। इस सोलर प्लांट के शुरू होने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे तथा किसान, मजदूर व आमजन इससे लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर परियोजना प्रमुख श्री अखिल गर्ग तथा नेशनल प्रोजेक्ट के श्री ए.के.सिंह उपस्थित थे।

---------


श्रीगंगानगर जिले में कार्यालयों का वार्षिक निरीक्षण कार्य ये अधिकारी करेंगे


श्रीगंगानगर, 27 जुलाई 2020.

 जिला कलक्टर श्री महावीर  प्रसाद वर्मा ने वर्ष 2020-21 के लिये विभिन्न कार्यालयों में किये जाने वाले वार्षिक निरीक्षणों का विभाजन कर निर्देश दिये है कि संबंधित अधिकारी 31 मार्च 2021 से पूर्व आवंटित कार्यालयों का निरीक्षण कर अनुपालना करना सुनिश्चित करेंगे। 


*आदेशानुसार समस्त उपखण्ड कार्यालय श्रीगंगानगर, कोष कार्यालय, जिला परिषद, जिला रसद अधिकारी, केन्द्रीय कारागृह, तहसील सादुलशहर, श्रीबिजयनगर, करणपुर, पंचायत समिति अनूपगढ़, श्रीबिजयनगर , सूरतगढ, उपतहसील लालगढ़, केसरीसिंपुर, राजियासर तथा पुलिस थाना सदर गंगानगर, सादुलशहर, श्रीबिजयनगर , करणपुर, सूरतगढ़ तथा अनूपगढ, उपकारागृह सूरतगढ़ एवं कलेक्ट्रेट कार्यालय का निरीक्षण जिला कलक्टर द्वारा किया जायेगा। 

*इसी प्रकार तहसील रावला, रायसिंहनगर, घडसाना, पंचायत समिति पदमपुर, श्रीगंगानगर, रायसिंहनगर, उप तहसील बींझवायला, चूनावढ़, समेजा कोठी, मुकलावा, पुलिस थाना पदमपुर, पुरानी आबादी श्रीगंगानगर, हिन्दुमलकोट, गजसिंहपुर, मुकलावा, रावला तथा उप कारागृह रायसिंहनगर का निरीक्षण अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन द्वारा किया जायेगा। 

*इसी प्रकार तहसील श्रीगंगानगर, पदमपुर, पंचायत समिति श्रीकरणपुर, उपतहसील मिर्जेवाला, हिन्दुमलकोट, सादुलशहर, पुलिस थाना कोतवाली श्रीगंगानगर, केसरीसिंहपुर, मटीलीराठान एवं उपकारागृह श्रीकरणपुर का निरीक्षण अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता द्वारा किया जायेगा। 

*तहसील अनूपगढ, सूरतगढ, पंचायत समिति घडसाना, अनूपगढ, उप तहसील 365 हैड, जैतसर, पुलिस थाना रामसिंहपुर, 365 हैड तथा उप कारागृह अनूपगढ का निरीक्षण अतिरिक्त जिला कलक्टर सूरतगढ द्वारा किया जायेगा। 

-------

*कांग्रेस अपने घर की लड़ाई का दोषारोपण भाजपा पर कर रही है: राजकुमार सोनी*


श्रीगंगानगर:27 जुलाई 2020. भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष राजकुमार सोनी ने कहा कि"स्पीक अप इंडिया डेमोक्रेसी"अभियान चलाने वाले जब कॉन्ग्रेस अपने घर की लड़ाई को भाजपा पर क्यों थोप रही है।उन्होंने कहा यह सब गहलोत का अपनी कुर्सी को बचाने का प्रोपेगंडा चल रहा है।     

राजकुमार सोनी ने कहा कि जब आपने दो बार बहुजन समाज पार्टी विधायकों को खरीदा।तब तो लोकतंत्र की हत्या नहीं हुई।जब आपकी सरकार के उपमुख्यमंत्री व आपकी ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट आपकी ही पार्टी के मंत्री व विधायकों को ले भागे हैं,तो आप इसका दोष भाजपा को क्यों दे रहे हैं।आपका आपने डिप्टी सीएम व विधायकों से सामंजस्य नहीं है।तो आप दोष दूसरों को दे रहे हो, राजस्थान की जनता इस बात को अच्छी तरह से जानती है।आपके 20 माह के कार्यकाल में राजस्थान का विकास ठप हो गया है।जनता प्रत्येक समस्या से त्रस्त है।बिजली के दामों में भारी बढ़ोतरी कर दी गई है।कोरोना महामारी विशाल रूप ले रही है। सैकड़ों लोग रोज मर रहे हैं।किसान टिड्डी दल के हमले से बहुत परेशान हैं, राज्य के बेरोजगार आपके किए गए चुनावी वादे ₹3500 बेरोजगारी भत्ता और रोजगार की आस में आपकी और देख रहे हैं।किसानों का 10 दिन में कर्जा माफी का आपने वादा किया था किसान उस की बाट जोह रहा है।और आप अपनी कुर्सी बचाने के लिए विधायकों को पांच सितारा होटल में बंधक बनाए बैठे हैं।सरकार के सारे कामकाज ठप है। 


     सोनी ने कहा कि प्रदेश की जनता को मुख्यमंत्री जी जवाब दे, कि आपकी पार्टी के मुखिया प्रदेशाध्यक्ष, आपकी सरकार के मंत्री, विधायक जिनका आप पर से विश्वास उठ गया है।तब यह विद्रोह हुआ है।तो आप क्यों नहीं राज्य की जनता के हित में अपनी कुर्सी छोड़ देते। जब आप राज्य के मुख्यमंत्री व गृहमंत्री होते हुए घोषणा करते हैं कि कांग्रेस के कार्यकर्ता राजभवन तो घेर लेंगे और राज भवन की सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी नहीं होगी।तो बताइए की राज्यपाल की सुरक्षा की जिम्मेदारी किस की होती है? मुख्यमंत्री गृहमंत्री की होती है या किसी और की?

              भाजपा नेता राजकुमार सोनी ने कहा कि अब जब लड़ाई आपके के खुद के घर की है,लोकतंत्र की हत्या आप,आपकी पार्टी आप के नेता कर रहे हैं।तो आप किस मुंह से दोष भाजपा को दे रहे हैं।

भवदीय

राजकुमार सोनी

09414087189

09460917989

***********


शनिवार, 25 जुलाई 2020

बसंत विहार कालोनी से इनोवा कार चोरी.खूंटे सांकल से बाधनी होगी कारें।


* करणीदानसिंह राजपूत *


सूरतगढ़ 25 जुलाई 2020.


वसंत विहार कॉलोनी में से 24- 25 जुलाई की मध्य रात्रि में घर के आगे खड़ी इनोवा कार अज्ञात चोर ले गए। ठेकेदार विशाल गुप्ता की इनोवा कार घर के आगे खड़ी थी। विशाल गुप्ता का घर सुखवंत चावला के घर के पास में है। 

आसपास के घरों के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखे गए।

रमन मोदी के घर में लगे सीसीटीवी कैमरे के सड़क पर केन्द्रित कैमरे में चोरों का मालूम हुआ है। चार व्यक्ति एक  स्विफ्ट कार में मुख्य सड़क से प्रवेश कर गुप्ता के घर के आगे कार रोकते हैं। 

कार में से दो आदमी उतरते हैं और कार वापस लौट जाती है।

 वे दो आदमी गुप्ता की इनोवा कार को स्टार्ट करते हैं और बड़े आराम से लेकर के जाते हैं। एक घर के आगे चौकीदार भी होता है उसके आगे से चोरों की कार आती है जाती है। इनोवा कार भी उसके आगे से ले जाई जाती है,लेकिन उसे मालूम नहीं पड़ता। 

आश्चर्य यह है कि बसंत बिहार से कुछ वर्ष पहले पंकज शर्मा की कार ऑल्टो  भी चोरी हुई थी जिसको पुलिस आज तक बरामद नहीं कर सकी।

 बसंत विहार से यह दूसरी कार की चोरी हुई है।

कुछ दिन पहले रेलवे स्टेशन के पास से बाजार से भी कार की चोरी हुई थी। 

सूरतगढ़ के नगर पालिका द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हैं। जिनका नियंत्रण सिटी पुलिस के पास है।इन कैमरों की सुबह शाम दो बार कंप्यूटर स्टाफ के द्वारा सही खराब की रिपोर्ट होनी चाहिए। ठेकेदार को नगर पालिका की ओर से रखरखाव का ठेका दिया हुआ है उसको कोई परवाह नहीं है। 

पुलिस रिपोर्ट करेगी तो खराब दिनों के पैसे ठेकेदार के काटे जाएंगे। 

कुछ दिन पहले मिश्रा कांप्लेक्स के आगे से एक मोटरसाइकिल चोरी हुआ। उस समय सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखे गए तो मालूम हुआ कि कैमरे खराब पड़े हैं। कैमरों के खराब होने के लिए कितनी ही बार नगरपालिका की बैठकों में प्रश्न उठ चुके हैं। 

 एक बार फिर बसंत बिहार की बात करें। यहां पैसे वालों के मकान है लेकिन कार सड़क पर खड़ी करते वक्त वे लापरवाह हो जाते हैं। 

ऐसा लगता है कि कॉलोनियों में जहां कारें घरों से बाहर खड़ी रहती है वहां खूंटे से बंधी जानी चाहिए। मतलब घर के किसी जगह से लेकर कार के कार तक सांकल से बंधी हो तो शायद कार बच जाए। इसे मजाक भी नहीं समझें। 

बसंत विहार कॉलोनी में कई बार अवरोधक लगाने के लिए कोशिशें हुई। कोरोना लोकडाउन में भी यह कोशिश हुई लेकिन कोई न कोई निवासी दिक्कत महसूस करते हुए बसंत बिहार के सारी सड़कों को तालाबंदी नहीं करवाना चाहता। रात्रि को सुरक्षा के लिए चारों तरफ से बंद हो और एक गेट या एक सड़क खुली हो तो इस वीआईपी कॉलोनी में इस प्रकार के अपराध रुक सकते हैं। 

सूरतगढ़ में पिछले कुछ दिनों से वाहन चोरी की घटनाएं बढ़ी हैं। 

****








शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

जिला कलक्टर व एसपी जैतसर पहुंचे - पुलिस को सख्ती करने के निर्देश




* होम क्वारेंटाइन के पड़ोसियों को सूचना देने के लिए भरवाएंगे शपथ पत्र*


श्रीगंगानगर, 24 जुलाई 2020.

 जैसतर मंडी एरिया में एक साथ 12 कोरोना पाॅजिटिव मिलने के बाद शुक्रवार को जिला कलक्टर महावीर प्रसाद वर्मा, पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत, एडीएम प्रशासन डाॅ0 गुंजन सोनी व सीएमएचओ डाॅ0 गिरधारी मेहरड़ा सहित एसडीएम प्रियंका व बीसीएमओ डाॅ0  बी.एम. शर्मा सहित अन्य अधिकारी जैतसर पहुंचे।

 कोरोना को लेकर की जा रही गतिविधियों की जायजा लिया।

 वहीं अधिकारियों ने संबंधित कन्टेनमेंट एरिया का निरीक्षण करते हुए स्थानीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

 जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा व अधिकारियों ने जैतसर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं सैंपल स्थल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने  अधिकारियों को निर्देशित किया कि होम क्वारेंटाइन वालों के पड़ोसियों से भी शपथ पत्र लें कि इनके बाहर निकलते ही विभाग को सूचना देंगे।


 वहीं गठित कमेटियों को सक्रिय करें, साथ ही होम क्वारेंटाइन वाले घरों के बाहर रेड कलर नोटिस बोर्ड में होम क्वारेंटाइन की सूचना चस्पा करें।


उन्होंने अधिकारियों ने कन्टेन्मेंट एरिया का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी एवं जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने आमजन से भी वार्ता की। इस दौरान सामने आया कि कुछ लोग कोरोना को लेकर गंभीर नहीं है एवं होम क्वारेंटाइन होने के बावजूद बाहर घूमते हैं। 

पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सख्ती करें एवं मास्क न लगाने वालों, सोशल डिस्टेंसिंग व होम क्वारेंटाइन की पालना नहीं करने वालों पर कार्रवाई करें। 

 सीएमएचओ डाॅ0 गिरधारी मेहरड़ा ने बताया कि जैतसर में गुरुवार को 12 कोरोना पाॅजिटिव मिले थे, जिनमें 11 जैतसर व एक नजदीकी गांव एक में था। एक साथ आए इन मरीजों के चलते शुक्रवार को सभी अधिकारी जैतसर पहुंचे। निरीक्षण के दौरान सूरतगढ़ व अनूपगढ़ में कोविड केयर सेंटर होने की जानकारी मिलने व श्रीविजयनगर से दूरी अधिक होने पर श्रीविजयनगर में ही कोविड केयर सेंटर स्थापित करने के निर्देश दिए गए। अधिकारियों ने जैतसर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया एवं वहां लिए जा रहे सैंपल की व्यवस्थाएं देखी। शुक्रवार को जैतसर में 108 लोगों के सैंपल लिए गए हैं, जिनमें अधिकांश संपर्क वाले एवं कुछ अन्य लोगों के सैंपल शामिल है। देर रात आए कोरोना पाॅजिटिव के एरिया में पहुंची टीमे गुरुवार सुबह 14 कोरोना पाॅजिटिव मिलने के बाद गुरुवार देर रात 8 और पाॅजिटिव मरीज सामने आए। नए मरीजों के एरिया में स्वास्थ्य विभाग की टीमें शुक्रवार अलसुबह पहुंची। इदं्रा काॅलोनी में एक ही परिवार के तीन लोग पाॅजिटिव आए हैं, जहां एरिया में विभागीय टीम ने सेनेटाइज करवाते हुए पाॅजिटिव आए मरीजों को जिला अस्पताल भेजा। 

इस अवसर पर डिप्टी सीएमएचओ डाॅ0 करन आर्य, श्री कोटपा, प्रभारी अजय सिंह शेखावत, पीएचएम चंद्रप्रकाश, सीओआईईसी विनोद बिश्रोई, व अन्य टीम यहां पहुंची। इसी तरह पटेल नगर में डाॅ0 राजन गोकलानी, कुलदीप स्वामी आदि पहुंचे। वहीं भांभू काॅलोनी में पूर्व में पाॅजिटिव आई एक युवती की दादी सास पाॅजिटिव आई है। वहां डाॅ0 सोनालिका सारस्वत व पीएचएम आशीष शर्मा आदि ने मौके पर पहुंचकर आवश्यक गतिविधियां करवाई। उल्लेखनीय है कि जिले में अब तक 137 कोरोना पाॅजिटिव मरीज आ चुके हैं, जिनमें से 67 ठीक हो चुके हैं। शुक्रवार को जिले में 332 सैंपल लिए गए।

------------


रक्षाबंधन पर्व पर कोरोना वायरस के अधिक फैलने का खतरा-समझदारी करें



* करणीदानसिंह राजपूत*


शादी ब्याह,नूतन गृहप्रवेश समारोहों से कोरोना वायरस बहुत तेजी से फैला है। 

अब रक्षाबंधन भी आने वाला है।इस त्यौहार पर  आने जाने और कार्यक्रम में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा पहले से अधिक है। कारण की यह त्यौहार घर घर में होता है। चाहे एक दो परिवारों का ही कार्यक्रम हो,लेकिन संक्रमण फैलने में सबसे अधिक बड़ा कारण हो सकता है।


👌 इसमें बचाव कैसे हो सकता है। 

* विवाहिता पुत्री को पीहर आने का नहीं कहा जाए। बेटी से कहा जाए कि कोरोना से बचने के लिए ससुराल में सुरक्षित रहे और संतान को भी सुरक्षित रखें। दस वर्ष से कम आयु के बच्चे तो बहुत नाजुक संवेदनशील होते हैं जिनके संक्रमित होने का खतरा बड़ों के मुकाबले कई गुना अधिक होता है। 


** बहु अपने पीहर का निमंत्रण मना करे और कहे कि कोरोना संकट में ससुराल से बाहर निकलना खतरनाक हो सकता है। पीहर वालों को मां बाप भाई को बाद में आने का कहा जाए। 


*** ससुराल के आसपास फैला कोरोना उसके साथ पीहर पहुंच सकता है। पीहर के आसपास फैला वायरस उसके साथ ससुराल पहुंच सकता है। दोनों परिवारों को समझदारी से कोरोना वायरस संक्रमण से बचाया जा सकता है। यह समझदारी पीहर और बेटी दोनों की ओर से होनी चाहिए।


**** बहु भी पीहर जाने की बात करे तो ससुराल की तरफ से मना किया जाए। अभी कोरोना बहुत फैल रहा है,बाद में पीहर जाने का कहें जब खतरा बहुत कम हो जाए। 


***** बहन बच्चों के साथ पीहर आए जाए। उससे अच्छा है कि भाई अपनी जांच करा कर बहन की ससुराल पहुंचे और राखी बंधवा ले। इसमें कुछ हद तक सुरक्षा रह सकती है।


👌 रक्षा बंधन त्यौहार पर सभी की समझदारी जरूरी है। यह संकट भी टलेगा खत्म होगा और उसके बाद भी हरेक त्यौहार पहले की तरह हर्ष उल्लहास से मनाते रहेंगे।०००




कोविड-19.सरकारी निर्देशों की पोईंट टू पोईंट कठोरता से पालना करवाई जाये

श्रीगंगानगर, 24 जुलाई 2020.

 अतिरिक्त मुख्य सचिव राजस्थान जयपुर द्वारा कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति की उच्च स्तरीय समीक्षा के दौरान विशेषज्ञों द्वारा राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या में पिछले कुछ समय में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है, जिनका कारण राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किये गये आदेशों एवं दिशा निर्देशों की पालना नही किया जाना, अन्तर्राज्जीय सीमा पर व्यक्तियों का अनियंत्रित आवागमन तथा सार्वजनिक स्थानों एवं कार्यालयों पर सामाजिक दूरी एवं मास्क पहनने के संबंध में प्रचलित कानूनी प्रावधानों की अनुपालना नही किया जाना है। 


जिला कलक्टर  महावीर प्रसाद वर्मा ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा पूर्व में जारी किये गये निर्देशों की निरन्तरता में तथा मुख्य सचिव द्वारा विडियोंकांफ्रेंस के द्वारा दिये गये निर्देशों की पालना में निर्देश जारी किये गये हैं। समस्त कार्यालय प्रभारी यह सुनिश्चित करेंगे कि कार्य स्थल पर सभी कर्मचारियों  एवं अन्य द्वारा आवश्यक रूप से फेस मास्क पहना जा रहा है तथा समुचित सामाजिक दूरी रखी जा रही है। 

सभी सार्वजनिक स्थानों एवं परिवहन में समस्त व्यक्तियों द्वारा समुचित सामाजिक दूरी बनाये रखना सुनिश्चित किया जायेगा। इसकी पालना नही करना जुर्माने से दण्डनीय होगा।

श्री वर्मा ने बताया कि दुकानों में ग्राहकों के मध्य सामाजिक दूरी बनाये रखने के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि किसी भी स्थिति में एक समय पर दुकानों में अधिक संख्या में व्यक्ति एकत्रित न हो। सम्पूर्ण कार्य स्थलों, आम सुविधाओं एवं मानव सम्पर्क में आने वाले सभी बिन्दुओं जैसे दरवाजे के हैण्डल, रैलिंग आदि को बार-बार विसंक्रमित करना सुनिश्चित किया जायेगा। सभी व्यक्तियों को यह सलाह दी जाती है कि ये किसी ऐसी सतह जो सार्वजनिक सम्पर्क में अधिक आती है, उसे छूने के उपरांत साबुन एवं पानी से हाथ आवश्यक धोये एवं साबुन और पानी आसानी से उपलब्ध नहीं होने पर सेनिटाईजर का उपयोग करें। 

इस संबंध में अपने-अपने कार्यालयों का समय-समय पर निरीक्षण करे। सार्वजनिक स्थानों पर सामाजिक दूरी की पालना कराये जाने हेतु निश्चित दूरी पर खड़ा रहने हेतु चिन्ह जैसे कि गोले, बाॅक्स इत्यादि के बनाकर व्यक्तियों के मध्य निश्चित दूरी निर्धारित करवाई जाये। समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में सुपर सप्रेडर्स (जैसे ग्रोसरी, पान, डेयरी, ई मित्र, सब्जी वाले, सैलून, मेडिकल स्टोर, शराब की दुकानें, ढाबे, बैंकिंग संस्थान, उचित मूल्य दुकानदार, स्टाम्प वैण्डर्स अप-डाउन करने वाले व्यक्ति, लेबर चैराहे, घरेलू गैस वितरण करने से संबंधित कार्मिक, राजकीय कार्यालयों इत्यादि एवं अन्य राज्यों, विदेश से आने वाले प्रवासियों) का चिन्हिकरण कर उनकी सैम्पलिंग करवाई जाये। 

उन्होंने बताया कि सामान्य सुरक्षा सावधानियों की क्रियान्विति आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एवं राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 में वर्णित जुर्माना एवं दण्ड कार्यवाही के माध्यम से उपखण्ड अधिकारी, उपाधीक्षक पुलिस, तहसीलदार, विकास अधिकारी, थानाधिकारी, आयुक्त नगरपरिषद, अधिशाषी अधिकारी, नगरपालिका तथा अन्य अधिकृत अधिकारियों द्वारा करवाई जाएगी व निर्देशों की अनुपालन सुनिश्चित करने के लिये प्राधिकृत अधिकारी द्वारा आकस्मिक निरीक्षण कराया जाना सुनिश्चित करेंगे। यदि किन्ही स्थानों पर निर्देशों की पालना किया जाना नही पाया जाता है तो संबंधित संस्थान प्रभारी, व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए प्रावधित जुर्माने, अपेक्षित कार्यवाही भी सुनिश्चित करेंगे। 

साथ ही जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के कैसेज में अप्रत्याशित वृद्धि को देखते हुए इसे नियंत्रित करने एंव आमजन के स्वास्थ्य की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित किये जाने हेतु राज्य सरकार द्वारा जारी किये गये निर्देशों की अक्षरशः कठोरता से पालना सुनिश्चित करवाई जाये। 

----------





सूरतगढ़ में कोरोना विस्फोट-कुल सात कोरोना संक्रमित- बचाव सावधानी जरूरी



* करणीदानसिंह राजपूत *


सूरतगढ़ 24 जुलाई 2020.

भग्गू वाले कुए के उत्तर दिशा में वार्ड नंबर 40 में सोहन जी हलवाई के मकान के  सामने एक महिला कोरोना संक्रमित मिली है। 

ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मनोजकुमार अग्रवाल ने बताया कि उक्त महिला को आज 24 जुलाई को सुबह चिकित्सा के लिए श्रीगंगानगर भेजा गया है। डा.अग्रवाल ने बताया कि महिला जैतसर विवाह समारोह में भाग लेकर आई थी। (पत्रकार गोविंद भार्गव के घर के पास में यह परिवार रहता है उक्त महिला का पीहर जैतसर में है विवाह समारोह से मिठाई के डिब्बे आदि के साथ में यह है कोरोना फैलने का अंदेशा है। सूचना है कि उसके ससुर का और उसके पुत्र का सैंपलिंग हुआ है जिनकी रिपोर्ट अभी आनी बाकी है।)


ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मनोजकुमार अग्रवाल ने बताया कि वायु सेना स्थल पर पहले एक परिवार के चार सदस्य कोरोना संक्रमित मिले थे। वे पुनः संक्रमित पाए गए हैं। उसी परिवार का एक बच्चा और संक्रमित मिला है। वायु सेना में उनकी अपनी चिकित्सा व्यवस्था है। 

सूर्योदय नगरी वार्ड नं 15 में कोरोना संक्रमित मिले बैंक कर्मचारी को गंगानगर भेजा जा चुका है। उसके पिता का सेम्फल लिया गया था। उसकी रिपोर्ट आएगी। बैंक कर्मचारी के पिता सूरतगढ़ फार्म में मशीनमेन है।

 सूरतगढ़ में सजगता बहुत जरूरी है शादी ब्याह और मृत्यु के घटनाओं में एकत्रित होना खतरनाक प्रमाणित हो रहा है अपने आप को बचाएं दूसरों को बचाएं।

********



यह ब्लॉग खोजें