Saturday, December 16, 2017

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को काले झंडे दिखाए-पुलिस ने की पिटाई


राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को जनसंवाद कार्यक्रम में विरोध का  सामना करना पड़ा। यहां फतेहपुर में सरकारी कॉलेज नहीं खोले जाने से नाराज एसएफआई के छात्रों ने सीएम को काले झंडे दिखाए और कार्यक्रम के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। बाद में पुलिस ने विरोध करने वाले छात्रों पर लाठियां भांजकर खदेड़ा।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे जनसंवाद कार्यक्रम के लिए फतेहपुर पहुंची। मुख्यमंत्री राजे ने अन्नपूर्णा भंडार योजना व 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान की शुरुआत की। इस दौरान वसुंधरा राजे महिलाओं से रूबरू हुईं। मुख्यमंत्री ने अलग अलग समाजों से संवाद स्थापित किया और समस्याएं जानीं। सीएम राजे ने लोगों की परेशानियों के निदान करने के दिशा-निर्देश दिए। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अन्नपूर्णा रसोई योजना के वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इससे पहले हेलीपैड पर सांसद सुमेधानंद, चिकित्सा राज्य मंत्री बंशीधर बाजिया, प्रभारी मंत्री राजकुमार रिणवा, आईजी हेमंत प्रियदर्शी, जिला कलक्टर नरेश ठकराल, एसपी विनीत कुमार सहित जनप्रतिनिधि व अधिकारियों ने सीएम राजे का स्वागत किया।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री विभिन्न समाजों के प्रतिनिधियों से संवाद कायम कर रही थीं, इसी दौरान कार्यक्रम स्थल के बाहर कॉलेज छात्रों ने काले झंडे दिखाकर जमकर नारेबाजी की। फतेहपुर में सरकारी कॉलेज खोलने सहित विभिन्न मांगों को लेकर छात्रों ने जमकर हुड़दंग मचाया। 

बाद में पुलिस ने बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा। पुलिस ने घरों में घुसे छात्रों को निकाल निकाल कर पीटा। इस दौरान छात्रों ने पुलिस पर पत्थर फेंकने की कोशिश भी की। पुलिस ने इस मामले में आधा दर्जन छात्रों को हिरासत में लिया है।

16.12.2017..


No comments:

Post a Comment

Search This Blog