मंगलवार, 18 अप्रैल 2017

12 पी एस रायसिंहनगर में नशा मुक्ति कार्यशाला





श्रीगंगानगर, 18 अप्रेल। पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कोटोकी द्वारा चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान के तहत पुलिस थाना रायसिंहनगर द्वारा मंगलवार को विवेकानंद मेमोरियल पब्लिक स्कूल 12 पीएस रायसिंहनगर में  निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर व कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री भारत राज अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, रायसिंहनगर ने अपने संबोधन में कहा कि नशा मानवता का दुश्मन है। नशे के कारण व्यक्ति मानव को मानव नहीं समझता तथा अत्याचारी बनकर मानवता के विरुद्ध गलत राह पर चलने लग जाता है, जबकि हमें गुरुओं के बताए मार्ग पर चलकर नशों से ना केवल खुद को बचाना चाहिए बल्कि दूसरे लोगों को भी बचाना चाहिए।

कार्यक्रम में मुख्य वक्ता नशा मुक्ति परामर्श एवं उपचार केंद्र के प्रभारी डॉक्टर रविकांत गोयल ने नशे से मानव जीवन पर पड़ने वाले विभिन्न नुकसानों के बारे में जानकारी दी तथा नशे से बचने बचाने के आसान तरीके बताएं डॉक्टर गोयल ने उपस्थित जनसमूह को जीवन पर निशाना करने की शपथ दिलाई।

इस कार्यक्रम में आनंद स्वामी वृताधिकारी पुलिस  रायसिंहनगर ने कहा कि नशे के कारण व्यक्ति कई बार ना चाहते हुए भी अपराध कर अपना जीवन सलाखों के पीछे बिताने पर मजबूर हो जाता है, इसलिए हर हाल में नशे से दूर रहना चाहिए ।

कार्यक्रम में नशा मुक्ति मुहिम के समाजसेवी श्री बनवारी लाल शर्मा व ( व्याख्याता ) ने अपने संबोधन में कहा कि नशा करना पाप का घर है इससे परिवार बर्बाद हो जाते हैं हमारे गुरुओं ने भी नशा ना करने का उपदेश दिया है जिस पर हमें चलना चाहिए ।

प्रधानाचार्य श्री धर्मेंद्र शर्मा ने पुलिस प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे इस अभियान की भूरी-भूरी प्रशंसा की उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम युवा व समाज के लिए सार्थक सिद्ध होंगे  ।

कार्यशाला में विवेकानंद मेमोरियल पब्लिक स्कूल के विद्यालय के छात्रा-छात्राओं ने स्टाफ सहित भाग लिया एवं एवं ग्रामीण भी  उपस्थित रहे ।

थाना अधिकारी रायसिंहनगर श्री अरविंद बिश्नोई ने कहा कि जनमानस को इस अभियान में भाग लेकर नशा मुक्त भारत का निर्माण करना चाहिए।

इस कार्यक्रम के अंत में डॉक्टर गोयल ने शिविर में आए नशा पीड़ित लोगों की जांच व  उचित परामर्श प्रदान किया। मंच संचालन श्री रघुवीर काजला व्याख्याता  ने किया।





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें