शनिवार, 10 दिसंबर 2016

लालगढ जाटान में नशा मुक्ति जन-जागृति कार्यशाला का आयोजनx

 
श्रीगंगानगर, 10 दिसम्बर। जिला पुलिस प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे नशा मुक्ति जन-जागृति कार्यशाला का आयोजन शुक्रवार को रा.उ.मा.विधालय लालगढ जाटान में स्वास्थय एवं शिक्षा विभाग के सहयोग से किया गया।
 
नशा मानवता के लिये क्लंक है, प्रारम्भ में व्यक्ति उत्सुकतावश अधिक काम करने के लालचवश, यौवन शक्ति बढाने हेतू मानसिक तनाव कम करने व संगत निभाने आदि कारणों से नशे रूपी कुऐं में गिर जाता है। जहां से निकल पाना मुश्किल हो जाता है। ये शब्द नशा मुक्ति परामर्श एवं उपचार केन्द्र के प्रभारी डा.रविकान्त गोयल ने मुख्य वक्ता के रूप में कहे। डा.गोयल ने नशीले पदार्थों के सेवन से मानव जीवन पर पडने वाले विभिन्न कुप्रभावों की जानकरी देते हुए नशे से बचने व छोडने के उपायें बताऐं तथा उपस्थित विधार्थीयों को जीवन भर नशा न करने की शपथ दिलाई।
कार्यक्रम में डा.ओमप्रकाश पारीक आयु. चिकि. लालगढ जाटान ने कहा कि विधार्थी देश का भविष्य होते हैं। इनका मन कोरे कागज की तरह होता है। बचपन में जो सद् विचार इनके मन पर अंकित हो जाते हैं। वे जीवन भर अपना प्रभाव बनाये रखते हैं। इसलिये श्रीगंगानगर का पुलिस प्रशासन नशा मुक्ति अभियान के माध्यम से विधार्थीयों को नशा मुक्ति की सीख दे रहा है, जो काफी लाभकारी सिद्ध हो रहा है।
कार्यक्रम में श्री गुरमेल सिहं उपनिरीक्षक थानाधिकारी पुलिस थाना लालगढ जाटान ने कहा कि व्यक्ति नशा करके अपराध कर बैठता है, जिससे अपना व अपने परिवार का जीवन दुखमया कष्टमय बना लेता है तथा समाज में अपनी प्रतिष्ठा खो बैठता है। इसलिये हर व्यक्ति विधार्थीयों को नशे से व अन्य बुराईयों से दूर रहना चाहिये।
कार्यक्रम में रा.उ.मा.विधालय लालगढ जाटान, रा.उ.प्रा. विधालय लालगढ जाटान, चूनादेवी उ.प्रा.विधालय लालगढ जाटान, शिवा बी.एड.कॉलेज लालगढ जाटान, जमींदारा उच्च प्रा.विधालय लालगढ जाटान, ज्ञान ज्योति उच्च प्रा.विधालय लालगढ जाटान के छात्रा छात्राओं व अध्यापकगण ने भाग लिया।
कार्यक्रम में श्रीमती सविता शर्मा प्रिन्सीपल रा.उ.मा.विधालय, श्री कुलदीप गोदारा सरपंच पति ग्राम पंचायत लालगढ जाटान भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अन्त में डा.गोयल ने शिविर में आये तथा पीडित लोगों की जांच की व उचित परामर्श प्रदान किया।
 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें