Sunday, November 8, 2015

खानमंत्री स्वतंत्रता दिवस समारोह बीकानेर में कबूतर उड़ा गए तब नहीं बोले डूडी?


पहले कबूतरों को बंदी बनवाओ फिर उड़ाकर समारोह मनाओ:
इस पर रोक थी और कई सालों से यह बंद था:
- करणीदानसिंह राजपूत -
राजस्थान के वसुंधरा राज के चर्चित खान घोटाले महाघूस कांड में खान मंत्री राजकुमार रिणवा का नाम आने का आरोप लगाते हुए विधानसभा में प्रतिपक्ष नेता रामेश्वरलाल डूडी ने रिणवा से पद छोडऩे की मांग की है। डूडी ने नतिकता के हिसाब से इस्तीफा देने की मांग की है ताकि जाँच प्रभावित न हो सके।
खानमंत्री राजकुमार रिणवा ने स्वतंत्रता दिवस पर बीकानेर के स्टेडियम में आयोजित समारोह में 15 अगस्त 2015 को तिरंगा फहराने के अलावा कबूतर उड़ाए।
कबूतर उड़ाने की परंपरा कई सालों से बंद है और सरकारी समारोह में प्रतिबंधित है।
जीव जंतु पक्षियों के रक्षक लोग व संगठनों ने स्वतंत्रता दिवस आदि पर कबूतर उड़ाए जाने पर आपत्तियां की थी और इसे अत्याचार माना था।
इस पर यह रोक लगी लेकिन बीकानेर में यह हुआ और खबरें छपी। ई टीवी पर इसका प्रसारण तक दिखलाया गया। बीकानेर में किसी भी संगठन ने कोई आवाज नहीं उठाई। इसके बाद यह समाचार राजस्थान सरकार के सूचना एवं जन संपर्क विभाग की पत्रिका सूजस में भी छपा।
इस पर अभी भी डूडी व कोई संगठन चाहें तो कार्यवाही मुकद्दमा आदि कर सकते हैं।
पहले कबूतरों को बंदी बनाओ, बंदी बनाए हुए पहले रात को ही ले कर आओ बंद रखो तथा सुबह उड़ाओ।
मंत्री के लिए बीकानेर में कबूतरों का प्रबंध किसने किया? किसी विभाग ने या किसी व्यक्ति या संस्था ने,सभी पर आरोप बनता है।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog