मंगलवार, 4 फ़रवरी 2020

10 साला बच्ची से रेप.हत्या की कोशिश-आरोपी अकबरखान थाने से फरार


जयपुर, 4 फरवरी 2020.
राजस्थान के चुरू जिले में दस साल की नाबालिग बच्ची से बलात्कार के सिलसिले में पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया था। लेकिन आरोपी थाने से पुलिस की गिरफ्त से भागने में कामयाब रहा है। पुलिस के अनुसार घटना राजगढ़ थाना क्षेत्र में सोमवार 3 फरवरी 2020 रात की है।
पुलिस ने प्राप्त शिकायत के आधार पर मंगलवार 4 फरवरी 2020 को सुबह पीड़िता के पड़ोसी अकबर खान के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया। लड़की कुछ सामान लेने के लिए पास की दुकान पर गयी थी। जब वह देर तक वापस नहीं लौटी तो
जयपुर राजस्थान के चुरू जिले में दस साल की नाबालिग बच्ची से बलात्कार के सिलसिले में पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया था। लेकिन आरोपी थाने से पुलिस की गिरफ्त से भागने में कामयाब रहा है।
लड़की कुछ सामान लेने के लिए पास की दुकान पर गयी थी। जब वह देर तक वापस नहीं लौटी तो परिवार वालों ने तलाश शुरू की और वह पास एक निर्जन इलाके में मिली। आरोपी उसका अपहरण कर सुनसान इलाके में ले गया और उसके साथ बलात्कार किया। चुरू की पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम ने बताया, ‘'लड़की के बयान के बाद हमने आरोपी को हिरासत में लिया था। लेकिन वह आज शाम थाने से भागने में सफल रहा। हमारी टीमें लगी हैं, उसे जल्दी पकड़ लिया जाएगा।'’ यह पूछने पर कि घटना के वक्त थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी, अधिकारी ने कहा कि अभी हम अपना पूरा ध्यान आरोपी को पकड़ने में लगा रहे हैं। एक बार उसे गिरफ्तार कर लें, फिर तय किया जाएगा कि गलती किसकी थी और उसके साथ क्या करना है। आरोपी के खिलाफ बलात्कार के साथ-साथ अपहरण, हत्या का प्रयास व पोक्सो कानून की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।
आरोपी ने हैवानियत की हदें पार करते हुए मासूम से दरिदंगी कर उसे ईंट और पत्थरों के नीचे दबा दिया था। गनीमत रही कि समय रहते इसका पता चल गया और पीड़िता को बचा लिया गया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।
तीसरी कक्षा में पढ़ती है मासूम
पुलिस के अनुसार वारदात की शिकार हुई बालिका तीसरी कक्षा में पढ़ती है। जानकारी के मुताबिक नौ साल की बच्‍ची सोमवार रात को सादुलपुर कस्बे में दुकान पर टॉफी लेने गई थी। इस दौरान रात के अंधेरे का फायदा उठाकर आरोपी ने उसका अपहरण कर लिया और उसे एक खंडहर में ले गया। आरोप है कि वहां उसने मासूम से रेप किया और बाद में उसे जान से मार देने की नीयत से उसके सिर पर ईंट से वार कर दिया। आरोपी पीड़िता को मरा हुआ समझकर उसे ईंटों और पत्थरों के नीचे दबाकर फरार हो गया।
ईंट और पत्थर के नीचे दबी मिली
पीड़िता के परिजन और मोहल्ले के लोग जब मासूम को तलाशते हुए खंहडर में पहुंचे तो उन्हें वहां सिसकने की आवाज सुनाई दी। इस पर लोगों ने उसे ईंट और पत्थरों के नीचे से बच्‍ची को निकाला. वह बुरी तरह से जख्‍मी और लहुलुहान अवस्‍था में मिली। उसके सिर और हाथ पर चोट लगी थी। पीड़िता को तुरंत निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया. बालिका के होश में आने के बाद वारदात का पता चल सका। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को तत्परता बरतते हुए कस्बे के वार्ड संख्या-22 से आरोपी अकरम काजी को गिरफ्तार कर लिया।
मौके पर पहुंची एफएसएल की टीम
बच्‍ची को राजकीय रेफरल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे चूरू के राजकीय भरतिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। बच्‍ची का मेडिकल टेस्‍ट करवाया गया है। पुलिस के मुताबिक बालिका के प्राइवेट पार्ट पर चोट और सूजन है। एफएसएल टीम ने मौका-ए-वारदात पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए इस मामले में रोजाना कार्रवाई के आदेश दिए हैं। 
००


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें