शुक्रवार, 27 जुलाई 2018

कांग्रेस भाजपा टिकटार्थियों की जासूसी जानकारियां लेने लगी पार्टियां




* पत्रकार बता कर लोगों से करते हैं पूछताछ*

आपके आसपास कई 'जासूस' घूम रहे हैं। जो आपके बारे में छोटी से छोटी जानकारियां एकत्र कर रहे हैं। न सिर्फ आपकी बल्कि आपके घनिष्ठ समर्थकों का बायोडाटा भी तैयार कर रहे हैं। इनका एकमात्र उद्देश्य यह पता लगाना है कि आप जिताऊ उम्मीदवार हैं या नहीं?


दरअसल, राजस्थान में विधानसभा चुनाव में अब कुछ महीने ही शेष रह गए हैं। ऐसे में राजनीतिक पार्टियों ने प्रत्याशियों के लिए सर्वे शुरू कर दिया है। राजस्थान के लगभग सभी जिलों में इन दिनों सर्वे टीम पहुंच रही है। स्वयं को पत्रकार बताते हुए यह लोग क्षेत्र के गणमान्य लोगों से मिल रहे हैं। संभावित प्रत्याशियों के बारे में पूरी जानकारी ले रहे हैं। उनके समर्थक कैसे हैं? कितने हैं? उनकी 'फेसवेल्यू' क्या है?


दोनों पार्टियां करा रही हैं सर्वे


दोनों राजनीतिक पार्टियां इन दिनों सर्वे करा रही हैं। हालांकि सर्वे का एक राउंड पहले ही पूरा हो चुका है। तब यह पता लगाया गया था कि कहां कौन जीत रहा है? अब उम्मीदवार के नाम से पता किया जा रहा है कि वो जीत सकता है या नहीं? जो लोग स्वयं को उम्मीदवार बताते हुए पिछले महीनों में सक्रिय हुए हैं, उनके नाम और मोबाइल नंबर के साथ तमाम तरह की रिपोर्ट इन सर्वेकर्ताओं के पास है।


इसी महीने सौपेंगे रिपोर्ट


माना जा रहा है कि इसी महीने सर्वे पूरा हो जाएगा और पार्टी के राष्ट्रीय मुख्यालय को रिपोर्ट सौंप दी जाएगी। इस सर्वे के आधार पर ही अभी एक बार फिर यही लोग क्षेत्रों में फिर से जाएंगे। माना जा रहा है कि टिकट वितरण से पहले दो-तीन बार अलग-अलग तरह से यह पता लगाया जाएगा कि टिकट मांगने वाला कौनसा नेता जीत  सकता है। 

( साभार अमर उजाला)




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें