Thursday, July 20, 2017

रामनाथ कोविंद भारत के राष्ट्रपति निर्वाचित

नई दिल्‍ली :20 जुलाई 2017. एक ऐतिहासिक दिन एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्‍ट्रपति चुन लिए गए हैं. उन्होंने यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार को 34.35 प्रतिशत से अधिक वोट से हराया. राष्ट्रपति चुने जाने के बाद रामनाथ कोविंद ने कहा, "मुझे समर्थन देने के लिए सभी दलों का धन्यवाद, ये मेरे लिए भावुक पल है. मेरा चयन लोकतंत्र की महानता का प्रतीक है. राष्ट्रपति के तौर पर चयन बड़ी जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति बनना मेरा लक्ष्य नहीं था. मुझ पर भरोसा जताने के लिए सभी का आभारी हूं." कोविंद ने ये भी कहा कि वे सर्वे भवंतु सुखिन: के सिद्धांत पर चलते हुए समाज के हर वर्ग के लिए काम करेंगे.17 जुलाई को भारत के 14वें राष्ट्रपति के लिए हुए मतदान के नतीजों के लिए गुरुवार सुबह 11 बजे से संसद भवन में मतगणना शुरू हुई थी. नया राष्‍ट्रपति चुनने के लिए करीब 99 फीसदी मतदान हुआ था. मतगणना में कोविंद को 65.65 फीसदी वोट मिले, जबकि मीरा कुमार को करीब 34.35 फीसद मतदान मिले हैं. रामनाथ कोविंद को 7 लाख 2 हजार 44 वोट वैल्यू मिले. वहीं मीरा कुमार को 3 लाख 67 हजार 314 वोट वैल्यू मिले.पीएम मोदी ने रामनाथ कोविंद को शुभकामनाएं दी.

रामनाथ कोविंद की जीत पर प्रधानमंत्री ने उनके साथ की दो तस्वीर भी ट्विटर पर साझा की. एक साथ साझा की गई इन दोनों तस्वीरों में से एक तस्वीर 20 साल पहले की तस्वीर थी और एक तस्वीर वर्तमान की है. चुने हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बारे में ट्वीट करते हुए पीएम मोदी ने लिखा कि चाहे 20 साल पहले की बात हो या आज की, उनके साथ हमेशा गर्व की अनुभूति हुई. पीएम मोदी ने यूपी प्रत्याशी मीरा कुमार को लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव प्रचार के लिए शुभकामनाएं दी. मतगणना के पहले और दूसरे राउंड में रामनाथ कोविंद ने विपक्ष की मीरा कुमार से काफी बढ़त बनाई हुई थी. पहले राउंड में कोविंद को जहां 60683 वोट वैल्‍यू मिले थे, वहीं मीरा कुमार के खाते में 22941 वोट वैल्‍यू गए हैं. पहली राउंड के आंकड़ों के मुताबिक एनडीए उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद को 552 सांसदों ने वोट दिया है. जबकि मीरा कुमार के पक्ष में 225 सांसदों के वोट गए हैं.रामनाथ कोविंद की जीत के बाद बीजेपी समर्थकों ने मनाया जश्न (फोटोः पीटीआई) आपको बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव में सबसे ज्यादा वोट हासिल करने से ही जीत तय नहीं होती है. राष्‍ट्रपति वहीं बनता है, बल्कि राष्ट्रपति वही बनता है जो सांसदों और विधायकों के वोटों के कुल वेटेज का आधा से ज्यादा हिस्सा हासिल कर ले और रामनाथ कोविंद ऐसा कर पाने में सफल रहे. 25 जुलाई को नए राष्‍ट्रपति शपथ लेंगे.

यूपीए की प्रत्याशी मीरा कुमार ने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा "आज 20 जुलाई 2017 को मैं एक बात स्पष्ट कर देना चाहती हूं, विचारधारा को लेकर मेरी लड़ाई खत्म नहीं हुई है, ये जारी रहेगी"

ऐसी रही मतगणना की प्रक्रिया- सबसे पहले संसद भवन की मतपेटी खोली गई और फिर राज्यों से आई मतपेटियों को वर्णमाला के आधार पर खोला गया.- वोटों की गिनती चार अलग- अलग मेजों की गई, यानी चार जगह पर एक साथ वोटों की गिनती हुई.- राष्‍ट्रपति चुनाव की मतगणना आठ चरणों में की गई इसमें कुल साढ़े दस लाख वोट रहे.

- राष्ट्रपति चुने जाने के लिए कुल वोटों के आधे से एक वोट अधिक हासिल करना ज़रूरी था.

- इस समय राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए कुल वेटेज 10,98,882 है. यानी जीत के लिए उम्‍मीदवार को 5,49,442 वोट हासिल करने थे.


No comments:

Post a Comment

Search This Blog