रविवार, 20 सितंबर 2020

बहुचर्चित आवासीय नीलामी प्रकरण अदालत में पेश- दो प्रार्थी-21 को सुनवाई.

 


* करणीदानसिंह राजपूत *


सूरतगढ़ 20 सितंबर 2020.


बहुचर्चित विवादित घेरे में आया बीकानेर रोड का नगर पालिका आवासीय भूखंड नीलामी प्रकरण ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश कर दिया गया है। इसके दो प्रार्थी हैं।


एडवोकेट श्रीमती पूनम शर्मा और नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल की ओर से यह मामला जुडिशल मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश हुआ है और एसकी नीलामी को रोकने की मांग की गई है। आवेदकों की तरफ से विभिन्न प्रकार के दस्तावेज शामिल करते हुए इस नीलामी पर रोकने की मांग की गई है। इस आवेदन पर 21 सितंबर को अदालत में सुनवाई होगी।

 नगर पालिका की ओर से 21 सितंबर को ही इसकी नीलामी शुरू होगी।


 विदित रहे कि नगर पालिका जिन भूखंडों को आवासीय नीलाम करना चाहती है वह संपूर्ण क्षेत वर्तमान में सघन बाजार में घिरा हुआ है और बेशकीमती व्यावसायिक है।

 लोगों की मांग है कि नगर पालिका इस क्षेत्र को व्यावसायिक क्षेत्र घोषित करके नीलाम करे ताकि बड़ी रकम नगर पालिका को मिल सके।

 लोगों का यह भी कहना है कि नगर पालिका आवासीय क्षेत्र में नीलाम कर के दूसरे लोगों को लाभान्वित करेगी। वे लोग खरीदकर तुरंत ही इसे व्यवसायिक क्षेत्र में कन्वर्ट करा लेंगे। नगरपालिका कोष को भारी नुकसान होगा।

 लोगों की मांग है कि इस बाजार से घिरे क्षेत्र को नगरपालिका पहले व्यावसायिक क्षेत्र घोषित करे और बाद में नीलाम  करे। देखते हैं कि अदालत इस पर रोक लगाती है स्टे देती है या कोई और निर्णय करती है००







कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें