शनिवार, 24 अगस्त 2019

युवती संतोष फरार 7 युवक गिरफ्तार:सूरतगढ़ से बड़ी खबर

* करणीदानसिंह राजपूत *

 सूरतगढ़ 23 अगस्त 2019.

युवती को आगे रखकर वारदात करने वाली गैंग के 7 नौजवानों शंकरलाल,भीमसेन,राजेंद्र कुमार, अजय कुमार,राकेश कुमार,टिक्कू राम, पवन कुमार को पुलिस ने पकड़ा मगर युवती संतोष धाणक बच निकली और फरार हो गई।

यह गैंग पुलिस के धक्के चढ़ी जिसमें महिला का बड़ा रोल सामने आया है। ताजा वारदात से लगा है की ये सूरतगढ़ में राष्ट्रीय उच्च मार्ग नं 62 पर वारदात करके भागकर पास के मोहल्ले में अपने निवासों मे चले जाते। कुछ युवक सूरतगढ़ के और कुछ बाहर से अपराध के लिए सूरतगढ़ में राष्ट्रीय उच्च मार्ग नं 62 के चिपते वार्ड नं 1 में रहने लगे। 

इस गिरोह के पकड़ में आने से और राज अपराध खुलने की संभावना मानी जा रही है लेकिन युवती संतोष धानक पुलिस के हत्थे लगने से पहले ही फरार हो गई। 

ताजा अपराध से लगता है युवती गैंग के एक युवक के साथ वाहन चालकों को रोकती,फिर कुछ अन्य युवक भी आते और वाहन चालक से मारपीट और लूटपाट करके भाग जाते।  इन्होंने कितने वाहन चालकों को अभी तक लूटा है यह मालूम नहीं हो सका लेकिन 21 अगस्त और 22 अगस्त की मध्यरात्रि के बाद करीब 3:00 बजे हुई एक घटना ने इनको पुलिस की गिरफ्त में पहुंचा दिया।

 पंजाब से एक ट्रक फ्रीज्ड मीट का लेकर चालक साहून खान सूरतगढ़ के पास बीरधवाल में सेना को पहुंचाने के लिए रवाना हुआ था। सूरतगढ़ के पास से नेशनल हाईवे पर से वह ट्रक ले जा रहा था। रिलायंस पेट्रोल पंप के पास में युवती और एक व्यक्ति ने टॉर्च के रोशनी से रुकने का इशारा किया। वाहन चालक ने अपना ट्रक रोका और नीचे उतरा। वह कुछ समझ पाता इससे पहले ही आसपास से और लोग आए और हमला कर दिया।चालक अचानक मारपीट से वह घबरा गया।

 इस गैंग ने वाहन चालक से रुपए मोबाइल ड्राइविंग लाइसेंस आदि छीने और फरार हो गए। पीड़ित ने सूरतगढ़ सिटी थाने की मदद ली और अपने साथ हुआ सारा किस्सा बताया। राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर अपराध गंभीर श्रेणी का माना जाता है और अपराध होते ही उच्चाधिकारियों को भी सूचना दी जाती है। तत्काल ही जिला मुख्यालय कंट्रोल रूम और शीघ्र ही राज्य के कंट्रोल रूम को ऐसी सूचना से अवगत कराया जाता है।


 सूरतगढ़ सिटी पुलिस थाना के थाना अधिकारी सीआई निकेत कुमार पारीक ने सूचना मिलने के बाद तत्काल कार्यवाही की और स्वयं के नेतृत्व में सब इंस्पेक्टर करतार सिंह व दो सिपाहियों रोशन लाल और तरसेम सिंह (ड्राइवर)के साथ एक टीम का गठन किया व खोज में लगाया। 


ट्रक चालक साहुन खान पुत्र कासिम निवासी टपकन जिला नूंह (मेवात) से पूछताछ और स्थान की जानकारी ले पुलिस टीम ने शीघ्र ही अभियुक्तों का पीछा किया। जहां पर यह मारपीट और लूट हुई वहां से पैरों के निशान पास के मोहल्ले में गए। पुलिस तो पुलिस होती है। पुलिस ने खोजबीन शुरू की तब वहां मालूम हुआ कि कुछ लोग सूरतगढ़ के और कुछ बाहर के इस लूट में शामिल है जिसमें एक युवती भी है। 

पुलिस ने 7 युवकों को अपनी गिरफ्त में लिया।  1-शंकरलाल पुत्र पप्पू राम धाणक उम्र 24 निवासी 42 एसएसडब्ल्यू,पुलिस थाना हनुमानगढ़ सदर,हाल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ़।

2- भीमसेन पुत्र पप्पू राम जाति धाणक उम्र 21 साल निवासी एसएसडब्ल्यू,पुलिस थाना हनुमानगढ सदऱ जिला हनुमानगढ़ हाल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ़।

3- राजेंद्र पुत्र पालाराम  जाति नायक उम्र 19 साल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ।

4- अजय कुमार पुत्र राजकुमार जाति ओड  राजपूत उम्र 19 साल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ़।

 5- राकेश कुमार पुत्र हेतराम जाति नायक उम्र 20 साल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ।

6- टिकु राम उर्फ सुनील कुमार पुत्र सुखराम जाति नायक उम्र 20 साल निवासी वार्ड नंबर 1सूरतगढ़।

 7- पवन कुमार पुत्र काशीराम जाति नायक उम्र 19 साल निवासी वार्ड नंबर 1 सूरतगढ़।

ये सात लोग पुलिस की पकड़ में आए लेकिन इस गैंग में शामिल युवती संतोष धाणक बचने के लिए फरार है। 

सीआई निकेत कुमार पारीक ने बताया कि शीघ्र ही उसकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। पुलिस के अनुसार ट्रक चालक शाहुन खान के साथ मारपीट कर उसके पास से ₹13,000 ड्राइविंग लाइसेंस और मोबाइल छीन लिया गया था ।

पुलिस सब इंस्पेक्टर करतार सिंह 

की तेज जांच के कारण अपराधी कुछ घंटों में  पुलिस की निगाह में आ गए और 23 अगस्त को पकड़े गए।

^^^^^^^^^^^^



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें