मंगलवार, 28 अगस्त 2018

पीएम मोदी की हत्या करने की साजिश:गिरफ्तारियां:5 राज्यों में छापे: माओवादियों पर आरोप


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्‍या की साजिश रचने के मामले में नया मोड़ आ गया है। माओवादियों की साजिश की तह तक जाने के लिए पुलिस ने पांच राज्‍यों के 8 ठिकानों पर एक साथ छापे मारे हैं। न्‍यूज एजेंसी यूएनआई के अनुसार, इस मामले में लेखक पी. वारावारा राव को हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया है। तकरीबन सात घंटे तक चली छानबीन के दौरान उनके घर से कई दस्‍तावेज बरामद किए गए हैं। मालूम हो कि दिल्‍ली स्थित सामाजिक कार्यकर्ता रोना विल्‍सन के घर पर मारे गए छापे में एक चिट्ठी बरामद की गई थी, जिससे पीएम मोदी की हत्‍या की साजिश का खुलासा हुआ था। पुणे पुलिस को संदेह है कि इस पत्र में वारावारा राव के नाम का भी उल्‍लेख था। माओवादियों के पत्र के सामने आने के बाद पुलिस ने पूर्व में भी कई जगहों पर छापा मारा था, लेकिन पीएम मोदी की हत्‍या की माओवादी साजिश के मामले में यह अब तक कि सबसे बड़ी कार्रवाई है। पुलिस ने महाराष्‍ट्र, गोवा, तेलंगाना, दिल्‍ली और झारखंड में संयुक्‍त तौर पर एक साथ छापे मारे हैं।

+

पुणे पुलिस ने कुछ दिन पहले भीमा कोरेगांव में हुए हिंसक प्रदर्शन के मामले में 5 दलित कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गये दलित कार्यकर्ताओं में से एक रोना जैकब विल्सन के लैपटॉप से पुलिस को एक पत्र बरामद हुआ था। इस पत्र से पता चला है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जिस तरह से हत्या की गई थी, उसी तरह से पीएम मोदी की भी हत्या की साजिश रची जा रही थी। अब इस मामले को लेकर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं। कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने कहा कि ‘ मैं यह नहीं कहता कि यह पूरी तरह से गलत है। लेकिन यह पीएम मोदी का पुराना हथकंडा भी हो सकता है। जब वो मुख्यमंत्री थे और जब उनकी लोकप्रियता कम होने लगी थी तो इस तरह की कहानियां प्रचारित कई गई थीं। इसलिए इसमें कितनी सच्चाई है इसकी जांच होनी चाहिए।

इधर सीपीआई (एम) के जनरल सेक्रेटरी सीताराम येचुरी ने भी इस पूरे मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सीताराम येचुरी ने कहा है कि देश के अंदर सुरक्षा संस्थाएं हैं वो अपना काम करेंगी। अभी तक तो नेताओं की हिफाजत यह संस्थाएं करती रही हैं और आगे भी करेंगी। जब उनसे पूछा गया कि क्या ऐसी खबरें प्रचारित की जा रही हैं इसपर सीपीआई (एम) के जनरल सेक्रेटरी ने कहा कि अभी इसपर कुछ नहीं कहा जा सकता क्योंकि मामला अदालत में और जांच के बाद ही पता चलेगा की असलियत क्या है?

इससे पहले पुणे पुलिस ने जो ख़त बरामद किया है उसमें इस बात का जिक्र है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जिस तरह से हत्या की गई थी उसी तरह से ही रैली के दौरान मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की जा सकती है। कहा जा रहा है कि यह ख़त किसी माओवादी नेता को लिखा गया है। इस ख़त में कहा गया है कि मोदी के नेतृत्व वाला हिंदू कट्टरवाद आदिवासियों के जीवन को बर्बाद कर रहा है।

पत्र में लिखा हुआ है कि- ‘पीएम मोदी का पूरे देश में बढ़ता दायरा हमारी पार्टी के लिए हर लिहाज से बड़ा खतरा है. मोदी लहर का फायदा उठाते हुए बीजेपी देश के 15 से ज्यादा राज्यों में अपनी सरकार बनाने में सफल रही है. ऐसे में हमें पीएम मोदी के खात्मे को लेकर सख्त कदम उठाने ही होंगे. हम सोच रहे हैं कि राजीव गांधी हत्याकांड की तरह इसे भी अंजाम दिया जाए ताकि देखने में यह आत्महत्या या दुर्घटना जैसा लगे. एक और राजीव गांधी हत्याकांड को अंजाम देने के लिए पीएम के रोड शो को टार्गेट किया जा सकता है’। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

+

पुणे पुलिस ने एक पत्र बरामद किया है, जिसमें बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। दरअसल इस पत्र से पता चला है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जिस तरह से हत्या की गई थी, उसी तरह से पीएम मोदी की भी हत्या करने की साजिश रची जा रही थी। इस पत्र में पीएम मोदी को किसी रोड शो के दौरान निशाना बनाए जाने की बात कही गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। बता दें कि बीते बुधवार पुणे पुलिस ने महाराष्ट्र के भीमा कोरेगांव में हुए हिंसक प्रदर्शन के मामले में 5 दलित कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था। पुणे पुलिस ने दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर रोना जैकब विल्सन, सुधीर धावले, शोमा सेन, महेश राउत और सुरेंद्र गाडलिंग को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना है कि इन दलित कार्यकर्ताओं के संबंध माओवादियों के साथ है, जिसकी फिलहाल जांच चल रही है। इन्हीं गिरफ्तार दलित कार्यकर्ताओं में से एक रोना जैकब के लैपटॉप से पुलिस ने पीएम मोदी की हत्या की साजिश वाला पत्र बरामद किया है।

पुणे पुलिस द्वारा बरामद किया गया पत्र किसी माओवादी नेता को लिखा गया है। जिसमें कहा गया है कि “हिंदू कट्टरवाद हमारे एजेंडे की प्रमुख चिंता है। कई नेताओं ने इस मुद्दे को गंभीरता से उठाया है। हम समान विचारधारा के लोगों के साथ गठजोड़ करके इस मुद्दे पर काम कर रहे हैं। मोदी के नेतृत्व वाला हिंदू कट्टरवाद आदिवासियों के जीवन को बर्बाद कर रहा है। बिहार और पश्चिम बंगाल में मिली जबरदस्त हार के बावजूद मोदी ने 15 राज्यों में सफलतापूर्वक भाजपा की सरकार बना दी है। यदि भाजपा और मोदी की यही रफ्तार कायम रही तो इससे पार्टी को काफी नुकसान हो सकता है। पत्र में कहा गया है कि कामरेड किशन और कुछ अन्य वरिष्ठ कामरेड मोदी राज को खत्म करने के लिए कोई ठोस कदम उठाना चाहते हैं। इसके लिए राजीव गांधी जैसे हमले के बारे में सोचा जा रहा है। हालांकि यह आत्मघाती हो सकता है और हम इसमें फेल भी हो सकते हैं, लेकिन इसके बावजूद पार्टियों PB/CC को हमारे इस सुझाव पर विचार करना चाहिए। इसके लिए मोदी के रोड शो को निशाना बनाना असरदार साबित हो सकता है।”

पुणे पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों के पास से पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क और कुछ अन्य दस्तावेज भी बरामद किए हैं। पुणे के ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस रविंद्र कदम ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया है कि “हम इनके लिंक और कनेक्शन की जांच कर रहे हैं। हमने कई घरों पर भी छापेमारी की है। रोना जैकब विल्सन के घऱ से हमने एक पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क और कुछ अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं, जिन्हें फिलहाल फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है। हमें पता लगा है कि रोना विल्सन और सुरेंद्र गाडलिंग के नक्सलवादियों के साथ संबंध हैं। सुरेंद्र गाडलिंग को कोर्ट में पेश किया गया है, जहां से उसे 8 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।”



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें