गुरुवार, 29 जून 2017

सालासर जसरासर व दूजोद में प्रदर्शन जाम:आनंदपाल प्रकरण

आनंदपाल के एनकाउंटर की आग पांचवे दिन पूरे शेखावाटी में फैल गई। लोगों ने सड़कों पर टायर जलाकर विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिए। पुलिस से कई जगह झड़प भी हो गई। चूरू व सालासर सहित कई स्थानों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। पूरे जिले में तनाव का महौल बन गया है। जिला मुख्यालय से करीब 18 किमी दूर सरदारशहर मार्ग पर जसरासर गांव में राजपूत समाज के लोगों ने मार्ग पर पत्थर डालकर जाम लगा दिया। इसके बाद मौजूद दर्जनों लोगों ने सरकार व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। जाम के कारण मार्ग पर यातायात ठप हो गया। 

चूरू से पुलिस रवाना

सूचना मिलते ही चूरू से दो बज्र वाहनों में सवार होकर पुलिस व थानाधिकारी रवाना हो गए। मौके पर तनाव बना हुआ है। लोग अब मरने और मारने पर उतारू होने लगे हैं। पूरे शेखावाटी में विरोध का आग जलने लगी है। पुलिस कानून व्यवस्था संभालने में नाकामयाब होती जा रही है। स्थिति को संभालने के लिए चूरू में दो आईजी व एसओजी के अधिकारी सुबह से ही डेरा डाले हुए हैं। जिले में दूसरे जिले से पुलिस मंगवाई गई है।

सालासर में भी करणी सेना ने लगाया जाम

सालासर में भी करणी सेना के युवाओं ने हाइवे पर जाम लगा दिया। हाइवे पर टायर जला कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जाम के कारण हाइवे पर दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। सूचना मिलते ही मौके​ पर सालासर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने युवाओं को शांत करने का प्रयास किया लेकिन युवा आनंदपाल के परिजनों को न्याय दिलाने के लिए मांग पर अड़े हैं। 

सीकर ।

दूजोद में आनंदपाल एनकाउंटर से गुस्साए उनके समर्थकों ने गुरुवार को तहसीलदार की गाड़ी में आग लगा दी। इसके बाद लोगों ने वहां जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। आनंदपाल एनकाउंटर मामले में सीबीआई की जांच की मांग कर रहे राजपूत समाज के लोगों ने दूजोद में जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद लोगों में गुस्सा इस कदर बढ़ गया कि उन्होंने तोडफ़ोड़ करनी शुरू कर दी। इसके बाद समाज के लोगों ने आनंदपाल के समर्थन में सड़क पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर धोद तहसीलदार अशोक रणवां मौके पर पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारियों को काफी समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं माने। उल्टा उन्होंने तहसीलदार की गाड़ी में तोडफ़ोड़ करनी शुरू कर दी। जब बात तोडफ़ोड़ से भी नहीं बनी तो उन्होंने तहसीलदार की गाड़ी आग के हवाले कर दी। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें