Saturday, April 27, 2013

भाजपा में कुर्सी का महत्व नही:राजस्थान में भाजपा की सरकार होगी-मीनाक्षीलेखी





खास खबर: करणीदानसिंह राजपूत   
सूरतगढ़, 27 अप्रैल 2013.भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता महिला मोर्चे की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने यहां महिला मोर्चे के समारोह में बड़े जोश से कहा कि राजस्थान में अगली सरकार सुशासन देने वाली भाजपा की होगी जिसके लिए वसुंधरा राजे की सुराज संकल्प यात्रा शुरू हो चुकी है।
उन्होंने कहा कि महिला मोर्चे के कार्यक्रम केवल महिलाओं के नहीं होते वे पूरे समाज के होते हैं। जहां महिला की भागीदारी होती है वहां पूरा परिवार शामिल होता है। उन्होंने पुरूषों से कहा कि वे महिलाओं के कार्यक्रमों में अपनी भागीदारी जरूर निभाएं। उन्होंने कहा कि इससे समन्वय रहता है तथा महिलाएं मां बहन के संबंधों रूप में स्थापित रहती है,समाज का विकास होता है।
उन्होंने कहा कि समाज में जहां रिश्ते खत्म होते हैं तथा महिलाओं को वस्तु के रूप में माना जाता है वहां बलात्कार दुराचार जैसा विकृत रूप सामने आता है। जहां पर पुरूष महिलाओं के कार्यक्रमों में भाग लेते हैं वहां जागरूकता होती है,रिश्ते होते हैं,वहां पर बलात्कार दुराचार जैसी घटनाएं नहीं होती।
उन्होंने कहा कि जहां समाज में माता के सर्वाेच्च स्थान को भूल गए वहां पर समाज गिरता चला गया। हमारे यहां रानी झांसी का नाम लिया जाता है। हमारे यहां तो ऐसी एक नहीं हजारों बहादुर नारियां थी। ऐसी नारियां थी जो ऋषि मुनियों के बीच में विचार विमर्श करती थी और उनके विचार स्वीकार किए जाते थे।
आज समाज का कितना पतन हो गया है। आज कन्या भ्रूण हत्या हो रही है। 5 वर्षीय बच्ची के साथ बलात्कार दुराचार हो रहा है। यह सब बदलना होगा। नारी को मां बहन बेटी के रूप में ही मानना होगा तब विकृतियां दूर हो सकेंगी।
उन्होंने लोगों से साफ साफ कहा कि वे दहेज के बारे में विचार बदलें। साफ कहें कि दहेज न दूंगा और न दहेज लूंगा। जब दहेज का लेन देन बंद हो जाएगा तब मां बेटी बहन सभी सुरक्षित रह पाऐंगी।

उन्होंने नारी को शक्तिशाली बताते हुए बड़े जोश से कहा कि राजस्थान में अगली सरकार महिला की होगी,भाजपा की होगी जिसके लिए वसुंधरा राजे की यात्रा शुरू हो चुकी है। भाजपा ही सुशासन देगी। पहले भी सुशासन ही दिया था। इसके साथ ही कहा कि महिलाओं की संख्या देख कर पूरा विश्वास है कि सूरतगढ़ में भी भाजपा की जीत होगी। इसके साथ एक प्रकार से  टिकट का खुलासा सा करते हुए कहा कि भाजपा में काबिल बहुत हैं और टिकट एक को मिलती है। इसलिए दूसरों को साथ रह कर काम करना होता है। उन्होंने और खुलासा करते हुए कहा कि भाजपा में कुर्सी का कोई महत्व नहीं है। महत्व है देश सेवा का जनता की सेवा का। उन्होंने चेताया कि कुर्सी के चक्कर में सुशासन न रह जाए।
    मीनाक्षी लेखी पूरे समारोह में खुशी से गदगद रही और मुस्कुराती हुई गले मिलती हुई महिलाओं को सम्मानित करती रही तथा फोटो खिंचवाती रही। महिलाओं की काफी अच्छी संख्या देख कर उन्होंने महिला मोर्चे की नगर मंडल अध्यक्ष नीलम सांगवान, जिलाध्यक्ष रजनी मोदी और महिला मोर्चे की प्रदेश कार्यकारिणी में विशेष आमंत्रित सदस्य श्रीमती राजेश सिडाना की बार बार प्रशंसा की।
इस समारोह में नीलम सांगवान,रजनी मोदी,राजेश सिडाना और भाजना जिलाध्यक्ष महेन्द्रसिंह सोढ़ी ने भी विचार रखे।
समारोह में पूर्व राज्यमंत्री रामप्रताप कासनिया,पूर्व राज्यमंत्री कुदनलाल मिगलानी,विधायक अशोक नागपाल,किसान मोर्चे के जिलाध्यक्ष राजेन्द भादू, जिला महामंत्री आत्माराम तरड़,हंसराज पूनिया,तहिला मोर्चे की जिला महामंत्री शिमला बावरी,भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष गुरदर्शनसिंह सोढ़ी,देहात मंडल अध्यक्ष नरेन्द्र घिंटाला,जिला परिषद डायरेक्टर विजेन्द्र पूनिया आदि ने भाग लिया। समारोह का मंच संयोजन श्रीमती हरविन्द्र कलेर एवं पूर्व पार्षद अहिंसा गोदारा ने किया।
यह समारोह सनसिटी रिसोर्ट में हुआ। इसके बाद श्रीमती राजेश सिडाना के आवास पर जलपान के साथ पत्रकार वार्ता हुई जिसमें भी नारी दुराचार रोकने की अपील की गई।

-     फोटो  सुभाष राजपूत



Wednesday, April 24, 2013

सूरतगढ़ के हालात बेहद खराब:पूर्व विधायक हरचंदसिंह का आमरण अनशन का नोटिस:




जाट अधिकारियों के बोलबाले से सूरतगढ़ को मुक्त कराने व इनके कार्यों की न्यायिक जांच की मांग

नगरपालिका के निर्माणों व अन्य कार्यों में हुए करोड़ों के घपलों की जांच

पहली खबर-करणीदानसिंह राजपूत

सूरतगढ़, 24 अप्रैल 2013. सूरतगढ़ के प्रशासनिक हालात बेहद खराब होने का आरोप लगाते हुए पूर्व विधायक स.हरचंदसिंह सिद्धु ने राजस्थान सरकार को विधिक नोटिस दिया है जिसमें कार्यवाही नहीं होने पर 1 जून से सुभाष चौक पर आमरण अनशन पर बैठने की चेतावनी दी गई है। सिद्धु ने आरोपों में वर्तमान कांग्रेसी विधायक गंगाजल मील को व विभिन्न विभागों में तथा पुलिस में लगाए गए जाट अधिकारियों को भी शामिल किया है। 

इस नोटिस की प्रतियां रजिस्टर्ड डाक से राजस्थान सरकार को मुख्य सचिव जयपुर के मार्फत,प्रमुख शासन सचिव स्वायत शासन विभाग जयपुर,निदेशक स्वायत शासन विभाग जयपुर, जिला कलक्टर श्रीगंगानगर और उपखंड अधिकारी सूरतगढ़ को भेज दी गई है।

    सिद्धु ने विधिक नोटिस में उच्चाधिकारियों को लिखा है कि प्रशासन के सर्वोच्च शिखर पर बैठे आप लोगों को चारों तरफ चैन ही चैन नजर आता है,धरातल पर फैले दल दल को आपने ना देखा है ना देखने की कोशिश की है। असलियत समझने व जानने की कोशिश भी नहीं की गई।

    सूरतगढ़ में महत्वपूर्ण पदों पर वर्षों से जाट अधिकारी ही लगाए जाने का आरोप लगाते हुए ब्यौरा दिया है। अतिरिक्त जिला कलक्टर पद पर संतलाल बुडानिया जाट,उपखंड अधिकारी व उपखंड मजिस्ट्रेट पद पर मोहनलाल जाट,पुलिस उप अधीक्षक पद पर केसरीचंद जांदू जाट,सदर थानाधिकारी रणवीर सांई जाट,राजियासर थानाधिकारी राजेश सिहाग जाट,विद्युत वितरण निगम के अधिशाषी अभियंता पद पर जाट,पंचायत समिति के विकास अधिकारी पद पर जाट,कृषि उपज मंडी समिति के सचिव पद पर जाट और नगरपालिका के अधिशाषी अधिकारी पर पर पृथ्वीराज जाखड़ जाट लगाए हुए हैं। सिद्धु ने सवाल उठाया है कि विधायक गंगाजल मील के जाट होने के कारण दूसरी जाति का अधिकारी यहां पद स्थापित नहीं हो सकता। क्या प्रशासन जातिवादी है? सिद्धु ने लिखा है कि इसका एतराज निरंतर मेरे द्वारा किया जाता रहा है। इस नोटिस में सिद्धु ने पहली मांग सूरतगढ़ प्रशासन को जाटों से मुक्ति दिलाने की रखी है। इसके अलावा इनके द्वारा किए गए कार्यों की निष्पक्ष उच्च स्तरीय न्यायिक जांच कराने की मांग की है। सिद्धु ने इन पर गैर कानूनी कार्य करने का आरोप लगाया है।

    पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल,अधिशाषी अधिकारी पद पर रहे राकेश मेंहदीरत्ता व वर्तमान अधिशाषी अधिकारी पृथ्वीराज जाखड़,विधायक गंगाजल मील पर पालिका की संपत्ति बाबत व अन्य भ्रष्टाचार के आरोप लगाये हैं। सिद्धु ने लिखा है कि इनके बाबत मुख्यमंत्री, विभाग के मंत्री व प्रमुख शासन सचिव को बार बार लिखित में भेजा गया मगर कोई सुनवाई नहीं हुई, इसलिए यह विधिक नोटिस दिया जा रहा है।

    नगरपालिका में कब्जों के भूखंडों के नियमितिकरण व पट्टे देने के मामलों में विधायक गंगाजल मील,पार्षद राजाराम गोदारा,पार्षद सलीम कुरैशी का नाम दिया गया है। वार्ड नं 6 की बीपीएल चयनितों कृष्णादेवी और धन्नीदेवी के साथ प्रशासन का सलूक सेंगटे खड़े कर देने वाला रहा है। वार्ड नं 5 के बीपीएल चयनित परिवार के मुखिया गोमदराम बाजीगर की पत्रावली नियमितिकरण की गायब कर दी गई है। इसके अलावा वार्ड नं 5 में लेखराम नाई द्वारा पितरजी मंदिर के नाम पर 24 बीघा भूमि हड़पने का आरोप लगाया गया है। आरोप लगाया गया है कि इस स्थान पर आए दिन अपराध होते हैं। यह आरोप भी लगाया गया है कि यहां पुलिस नगरपालिका प्रशासनों व विधायक गंगाजल मील का संरक्षण है। लिखा है कि न्यायिक जांच हो तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आऐंगे।

इसके अलावा नगरपालिका पर आरोप लगाया गया है कि 2009 से 2013 तक स्वीकृत आवासीय कॉलोनियों की विधि सम्मत जांच में जो तथ्य आऐंगे वो प्रशासन को हिला कर रख देंगे। सिद्धु ने इसकी भी न्यायिक जांच करवाने की मांग की है।

    नगरपालिका की 40 करोड़ की सीवरेज योजना का जनाजा निकल जाने का आरोप लगाया है कि इसमें प्रशासन मौन धारण किए बैठा है।इसके अलावा 2009 से 2013 की सड़कें नाले नालियां व ट्री गार्ड आदि के निर्माण की जांच करवाने की मांग है।



Sunday, April 14, 2013

गणगौर मेला सूरतगढ़:पुरानी परंपरा और प्रतियोगिता की नई रीत

  विशेष रिपोर्ट-करणीदानसिंह राजपूत:फोटो-सुभाष राजपूत
 

सूरतगढ़, 13 अप्रेल 2013.गढ़ के पास में पुराने सूरत सागर स्थल पर प्रतिवर्ष की भांति गणगौर मेला आयोजित हुआ जिसमें शहर की विभिन्न समाजों की और विभिन्न स्थानों से गणगौरें मेले में लाई गई।
नगरपालिका ने इस वर्ष से गणगौर पर प्रतियोगिता रखी जिसमें अच्छी सजावट वाली गणगौर लाने वाली महिलाओं को युवतियों को पुरस्कार प्रदान किए गए।
प्रथम घोषित गणगौर के लिए श्रीमती सुनीता पत्नी संतोषकुमार सोनी को 11 हजार रूपए प्रदान कर सम्मानित किया गया। द्वितीय घोषित गणगौर के लिए  पूजा पुत्री महावीर देरासरी को 5100 रूपए प्रदान कर सम्मानित किया गया। तृतीय घोषित गणगौर के लिए 3100 स्पए प्रदान कर सरिता पुत्री दुल्लीचंद देरासरी को सम्मानित किया गया। इनके अलावा श्रेष्ठ घोषित गणगौरों के लिए लक्ष्मी सोनी,सुगनादेवी और राधा को पांच पांच सौ रूपए प्रदान कर सम्मानित किया गया। विधायक गंगाजल मील द्वारा सभी को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल और अधिशाषी अधिकारी पृथ्वीराज जाखड़ भी उपस्थित थे। पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल ने अगले वर्ष के लए पुरस्कार राशि बढ़ाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष प्रथम को 21 हजार,द्वितीय को 11 हजार और तृतीय को 5100 रूपए प्रदान कर सम्मानित किया जाएगा।






प्रथम पुरस्कार लेने वाली टीम


द्वितीय पुरस्कार लेने वाली टीम



गणगौर मेले में आई महिलाएं



Monday, April 8, 2013

सिपाही रोहिताश और पीडि़ता की बातों की सीडी और फोटो पक्के सबूत : 180 कागजी पेज

शादीशुदा होते हुवे ब्याह किया और साथ रखने की पुकार पर पीडि़ता को गोली मारने तक की धमकी:जहर की धमकी

पालिका अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल,पार्षद पति ओम साबनिया व सिपाही रोहताश पर अनुसूचित बाजीगर महिला से दुराचार का मामला

वकील हरचंदसिंह सिद्धु

 रोहताश वर्दी में पीडि़ता के साथ

खास खबर- करणीदानसिंह राजपूत

सूरतगढ़,8 अप्रेल 2013.

 पालिका अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल,पार्षद पति ओम साबनिया व सिपाही रोहताश पर अनुसूचित बाजीगर महिला से बलात्कार करने, यौन शोषण करने, मारपीट करने,गर्भपात करवाने,शिव मंदिर में सिपाही को कुंवारा बतलाकर ब्याह करवाने के चर्चित मुकद्दमें की दुबारा जांच की जा रही है। तीनों पर ही आरोप है कि उन्होंने बलात्कार व यौन शोषण किया। आरोप यह भी है कि रोहिताश के साथ मंदिर में ब्याह करवाने में बनवारीलाल व ओम साबनिया का सहयोग था।

सिपाही रोहिताश ने पीडि़ता से ब्याह रचाया और पति के रूप में उसके घर भी जाने लगा। पीडि़ता ने उसे बार बार अपने साथ रखने का कहा तब पहले तो वह कहता रहा कि बदली होने के बाद साथ ले जाएगा। पीडि़ता पत्नी के रूप साथ रखने के लिए दबाव डालने लगी तब वह गुस्सा करने लगा और मामला सुलटाने का कहने लगा। पीडि़ता ने मोबाइल पर बार बार जोर देना शुरू किया तब गोली मार देने तक की धमकी दी। यहां तक की पीडि़ता के साथ जो बातचीत मोबाइल पर जितनी बार भी हुई हर बार वह पीडि़ता को गुस्से में हडक़ाता हुआ सा ही बात किया करता था।

 पीडि़ता के जोर देने पर मामला सुलटाने के लिए आंटी के घर पर पहुंचने और वहां पर बात करने को बुलावे भी देता रहा। यह आंटी कौन है और उसका इस मामले में क्या संबंध रहा है यह समाचार अलग से देने की कोशिश रहेगी।

सीडी का सबूत भी पक्का माना जाता है। इसकी आवाजों की जांच भी पुलिस जल्दी ही करवाएगी।

सीडी में बातचीत राजस्थानी में है। सीडी के कागजी टाईप पृष्ठ 180 हैं जिनमें से कुछ महत्वपूर्ण अंश हिन्दी में यहां दे रहे हैं। 

Thursday, April 4, 2013

सूरतगढ़ पालिकाध्यक्ष बनवारीलाल ईओ पृथ्वीराज जाखड़ के विरूद्ध एसीबी की जांच




निविदाएं आमंत्रित करने से पहले चहेते ठेकेदारों से निर्माण करवाने का आरोप

शिकायत कर्ता एडवोकेट विष्णु शर्मा के बयान लिए गए

खबर- करणीदानसिंह राजपूत


बनवारीलाल


पृथ्वीराज

सूरतगढ़, 4 अप्रेल 2013. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो श्रीगगानगर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भवानीशंकर मीणा ने यहां तीन अप्रेल को नगरपालिका में टेंडर आमंत्रित किए जाने से पहले ठेकेदारों से काम करवा लिए जाने की शिकायत की जांच शुरू की और इससे संबंधित रिकार्ड लिया। शिकायत कर्ता एडवोकेट विष्णु शर्मा के बयान भी लिए गए। विष्णु शर्मा ने बताया कि नगरपालिका अध्यक्ष बनवारीलाल मेघवाल,अधिशाषी अधिकारी पृथ्वीराज जाखड़,सहायक अभियंता करमचंद अरोड़ा व कनिष्ठ


विष्णु शर्मा

अभियंता तरसेम गर्ग के विरूद्ध शिकायत की थी। विष्णु शर्मा ने आरोप लगाया था कि लाखों रूपए के कार्य निविदा आमंत्रित किए जाने से पहले ही अपने चहेते ठेकेदारों से करवा लिए गए और भ्रष्टाचार किया गया।

खास बिंदु यह भी रहा है कि निविदाएं ली जाने और खोली जाने से पहले ये खबरें भी अखबारों में छप गई मगर फिर भी इसे रोका नहीं गया।


Search This Blog