शुक्रवार, 29 मार्च 2019

डूंगरराम गेदर का कांग्रेस प्रवेश बाद सूरतगढ़ पहुचने पर स्वागत: मील व कई नहीं आए:बसपा के लोग मौजूद थे.

*प्रस्तुति- करणीदानसिंह राजपूत ०

** डूंगरराम गेदर का पहला बयान-पार्टी का सिपाही बनकर कार्य करूंगा **

^^ स्वागत के बाद खुद के निजी कार्यालय में गए गेदर^^


सूरतगढ 29/03/2019.

 डूंगरराम गेदर कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के बाद जयपुर से सूरतगढ़ पहुंचे।  इंदिरा सर्किल पर हजारों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने ढोल नगाड़ों के साथ गेदर का फूल मालाएं पहनाकर स्वागत किया और काँग्रेस पार्टी में शामिल होने की शुभकामनाएं दी। इस कार्यक्रम में मील नहीं पहुंचे और उनके नजदीकी पार्टी पदाधिकारी भी नहीं पहुंचे। कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष बलराम वर्मा मौजूद रहे व स्वागत में भाषण भी दिया।




 बसपा के अनेक लोग जो गेदर को आदर्श मानते हैं,कार्यक्रम में शामिल हुए। ऐसे संकेत हैं कि वे भी निकट भविष्य में कांग्रेस में शामिल हो जाएंगे। इसका संकेत यह है कि उन्होंने गेदर को कांग्रेस प्रवेश पर बधाई दी व फूल मालाएं पहना कर खुशी जताई। पूर्व विधायक गंगाजल मील और हनुमान मील इस कार्यक्रम में दिखाई नहीं दिए। गेदर भी कांग्रेस पार्टी के ब्लॉक कार्यालय नहीं जाकर खुद के कार्यालय पहुंचे। सूरतगढ़ कांग्रेस की राजनीति में गेदर के प्रवेश से हलचल मची है।

 कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए गेदर ने कहा कि जिस प्रकार कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय राहुल गांधी जी, प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, राष्ट्रीय महासचिव व राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे जी ने मुझे कांग्रेस पार्टी में शामिल करके जो विश्वास मुझ में दिखाया है मैं उनके विश्वास को कायम रखते हुए इमानदारी से कांग्रेस पार्टी का सिपाही बनकर कार्य करूंगा। 

प्रदेश में लोकसभा चुनाव में कड़ी मेहनत करके टारगेट 25 को पूरा करने के लिए कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर कार्य करने का आह्वान किया। 

कांग्रेस पार्टी के जिला उपाध्यक्ष बलराम वर्मा, राकेश बिश्नोई, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रभूदान गेदर, बीरमाना सरपंच संतोष जालप, हनुमानगढ़ कृषि उपज मंडी के चेयरमैन रामेश्वर चांवरिया, खेतपाल वर्मा, भागीरथ गेदर, पवन सोनी, जगदीश विश्नोई, बलवन्त विश्नोई ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और डूंगरराम गेदर को शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में हाजी दारे खाँ, सुभाष सुथार, सहीराम नायक, मनोहर नायक, पूर्व सरपंच काशीराम मेघवंशी, हरलाल मेघवाल, मांगीलाल विश्नोई, पार्षद पति मोहन वर्मा, सरपंच आशकरण जालप, सरपंच भजनलाल जालंधरा, कालूराम बैगड़, शिव प्रेम तेहरपुरिया आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए।


जयपुर से सूरतगढ आने पर रास्ते में डूंगरगढ़, बीकानेर, लूणकरणसर, अर्जुनसर, राजियासर, बिलधवाल हैंड आदि जगह जगह पर गेदर के प्रशंसकों ने फूल मालाओं से स्वागत किया।









कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें