रविवार, 12 अगस्त 2018

आवाज उठने लगी: कासनिया के पक्ष में भादू दावा छोड़ें



* करणीदानसिंह राजपूत *

आवाज आवाज उठने लगी है कि विधायक राजेंद्र सिंह भादू आगामी चुनाव 2018 के लिए सूरतगढ़ सीट रामप्रताप कासनिया  के  लिए छोड़ दें, क्योंकि 2013 के चुनाव में रामप्रताप कासनिया ने भादू को साथ दिया था। रामप्रताप कासनिया 2013 में भाजपा टिकट के प्रबल दावेदार थे और भादू को टिकट घोषित होने के बाद उनका भरपूर समर्थन किया जिससे भादू चुनाव में अच्छी जीत हासिल कर पाए। अब वक्त है कि भादू भी अपना फर्ज निभाएं और कासनिया को भाजपा टिकट में और चुनाव में सहयोग करते हुए उत्तर पातरहो जाएं। 

रामप्रताप कासनिया आगामी चुनाव 2018 में सूरतगढ़ से भाजपा के प्रबल दावेदारों में है। रामप्रताप कासनिया गांव गांव और ढाणी ढाणी पहुंच रहे हैं जहां आदर्श चुनाव लड़ने और सहयोग की मांग कर रहे हैं। रामप्रताप कासनिया वर्षों से गांवों की आवाज बने हुए कद्दावर नेता रहे हैं। इ
सी पावर के ही कारण से वे राज्यमंत्री तक पहुंचे। अब उनके पक्ष में गांवों में यह आवाज उठने लगी है कि रामप्रताप कासनिया का भारी सहयोग राजेंद्र भादू की जीत में  रहा है इसलिए राजेंद्र भादू को अब घोषणा करके चुनावी मैदान से कासनिया के पक्ष में हट जाना चाहिए। कासनिया ने भारतीय जनता पार्टी को जीत दिलाने के लिए चुनावी आमसभा में 11 नवंबर 2013 को पुरानी धान मंडी सूरतगढ़ में घोषणा की थी कि वे पार्टी को जिताने के लिए फांसी खा रहे हैं। अब कुछ महीने ही 2018 के चुनाव के बाकी हैं।

 चुनावी शतरंज में भारतीय जनता पार्टी की टिकट के प्रबल दावेदारों में रामप्रताप कासनिया और राजेंद्र सिंह भादू हैं। 

भाजपा को जीत के लिए इस बार बहुत कुछ पापड़ बेलने होंगे जिसमें एकजुटता का परिचय देते हुए एकजुटता का नारा लगाते हुए जीत को पक्का किया जा सकता है। 

रामप्रताप कासनिया का ग्रामीण क्षेत्र में जबरदस्त प्रभाव रहा है और जनता में अब आवाज उठ रही है जिसका वर्णन

ऊपर किया जा चुका है। सूरतगढ़ शहर और उसके वार्डों में भी रामप्रताप कासनिया को समर्थन देने वाले और  जी जान लगाने वाले लोगों की संख्या काफी है। लोग शहर में भी इस आवाज को उठाने लगे हैं की रामप्रताप कासनिया के लिए राजेंद्र भादू मैदान छोड़ें और दोस्ती दिखाएं व भारतीय जनता पार्टी को विजय श्री दिलाएं।( यहां 11 नवंबर 2013 की चुनावी सभा के फोटो दिए जा रहे हैं)


(समय गवाह:जब कासनिया ने 2013 के चुनाव में भादू का साथ दिया था:






 खास खबर- करणीदानसिंह राजपूत      सूरतगढ़, 11 नवम्बर 2013.

भाजपा में मनुहार के बाद रामप्रताप कासनिया व उनके समर्थकों ने प्रत्याशी राजेन्द्र भादू का साथ देने की घोषणा करदी। करीब 10 बजे कासनिया, प्रधान सुभाष भूकर, गोपाल लेघा,विजय गोयल व अन्य सैंकड़ों लोग राजेन्द्र के साथ हुए। भाजपा प्रत्याशी राजेन्द्र भादू आज सुबह कासनिया निवास पहुंचे और बातचीत की। इसके बाद कासनिया जिंदाबाद के नारे लगाए गए। आम सभा में भाजपा के नेताओं ने हाथों में हाथ डाल ऊंचे उठा कर एकता प्रदर्शित की। 

भाजपा की चुनावी सभा में पुरानी धानमंडी में लोगों की उत्साहित भीड़ थी। ऐसी भीड़ इस चुनाव में पहली बार देखी गई। 

वरिष्ठ भाजपा नेता श्याम मोदी की अध्यक्षता में हुई चुनावी सभा को प्रत्याशी राजेन्द्र भादू, पूर्व राज्यमंत्री रामप्रताप कासनिया,पूर्व विधायक अशोक नागपाल,प्रधान सुभाष भूकर,पूर्व प्रधान पंचायत समिति चंदुराम लेघा,स.शरणपालसिंह,महिला मोर्चा प्रदेश मंत्री श्रीमती राजेश सिडाना, जिलाध्यक्ष श्रीमती रजनी मोदी,हंसराज पूनिया,देहात मंडल अध्यक्ष नरेन्द्र घिंटाला,पीताम्बर दत्त शर्मा,राजेन्द्र सेतिया,किशन भार्गव, पुरूषोत्तम शर्मा,रेंवतराम मेघवाल,कृष्ण डांग महामंत्री नगर मंडल मुरलीधर पारीक आदि ने संबोधित किया।

चुनाव कार्यालय का उदघाटन रामप्रताप कासनिया ने किया।

 सभा के बाद जूलूस के रूप में लोग उपखंड कार्यालय के आगे पहुंचे। राजेन्द्र भादू ने अपना नामांकन पेश किया।)




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें