गुरुवार, 9 नवंबर 2017

अमेरिका के होबोकेन शहर में रवींद्र भल्ला पहले सिख मेयर चुने गए

न्यूयार्क :8.11.2017.

अमेरिकी राज्‍य न्यूजर्सी के होबोकेन शहर में मेयर पद के लिए हुए कड़े मुकाबले में भारतवंशी रवींद्र भल्ला बाजी मार गए हैं। वह होबोकेन शहर के पहले सिख मेयर बन गए हैं। इस दौरान चुनाव प्रचार का स्‍तर बेहद नीचे चला गया था, जब उनके नाम पर आपत्तिजनक पोस्‍टर लगाए गए और उन्‍हें 'आतंकवादी' करार दे दिया गया। हालांकि चुनाव में जीत के बाद उन्‍होंने लोगों को धन्‍यवाद दिया और कहा कि वह शहर की तरक्‍की के लिए काम करेंगे। वह न्‍यूजर्सी में किसी निर्वाचित पद पर पहुंचने वाले पहले सिख हैं।


मेयर पद के लिए भल्‍ला की उम्‍मीदवारी का समर्थन निवर्तमान मेयर डॉन जिमर ने किया था, जिन्‍होंने जून में घोषणा की थी कि वह दोबारा पद के लिए चुनाव नहीं लड़ेंगे। उनके इस फैसले से लोगों को हैरानी हुई थी।


भल्‍ला ने कहा-शुक्रिया!

एनजे डॉट कॉम की खबर के अनुसार, भल्ला सात साल से अधिक समय से नगर परिषद का हिस्सा रहे हैं । कल उन्होंने गार्डन स्ट्रीट के मोरान पब में अपनी जीत का दावा किया। उन्‍होंने एक ट्वीट में कहा, 'शुक्रिया होबोकेन। मैं आपका मेयर बनना चाह रहा हूं।'


चुनाव जीतने के बाद उन्होंने अपने समर्थकों से कहा, 'मुझ पर, अपने समुदाय पर, अपने राज्य और अपने देश पर विश्‍वास जताने के लिए  आप सभी का शुक्रिया। यही अमेरिका के बारे में सबकुछ बयां कर देता है।'


उन्होंने कहा, 'हमारा प्रचार अभियान बेहद कठिन दौर से गुजरा... लेकिन अब समय है कि हम एकजुट होकर सामने आएं और यह देखें हम किसके साथ मिलकर शहर को आगे बढ़ाने के लिए काम कर सकते हैं।'


'पोस्‍टरों में निशना बनाए गए थे भल्‍ला'

हाल में भल्ला को निशाना बनाते हुए कई गुमनाम पोस्टर सामने आए थे। पिछले सप्ताह एक कार की खिड़की पर एक आपात्तिजनक पोस्टर पड़ा था, जिसमें भल्ला को आतंकवादी बताया गया था। इस पर लिखा था, 'अपने शहर पर किसी आतंकवादी का अधिकार नहीं होने दें।'


इससे पहले भी न्यूजर्सी के एक व्यक्ति ने ट्वीट किया था : आखिर होबोकेन इस शख्स को निकाय सदस्य कैसे बना सकता है? उसे तो अमेरिका में भी रहने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। आतंकवादी।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें