Wednesday, June 7, 2017

सूरतगढ़ पुलिस थाने में मील परिवार के तीन जनों व अन्य के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

सूरतगढ़ 7 जून 2017 सूरतगढ़ पुलिस थाने में महेंद्र मील,हजारीराम मील, हनुमान मील,सतपाल भादू,बलराम भाट, श्यामलाल के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ है।  गिरदावरी नामक महिला ने उक्त मुकदमा दर्ज करवाया है।
अदालत एसीजेएम सूरतगढ़ की ओर से दिए आदेश पर यह मुकदमा 2 जून 2017.को सिटी थाना पुलिस ने दर्ज किया।
 सूरतगढ़ से चिपती राष्ट्रीय उच्च मार्ग नंबर 62 पर बेशकीमती कृषि भूमि है जिस पर दोनों पक्षों में विवाद है।
गिरदावरी पत्नी रामस्वरूप बिश्नोई उम्र 52 साल निवासी वार्ड संख्या 11 सूरतगढ़ ने इस्तगासा किया की जमीन का आधा हिस्सा उसका है। उसने अपने हिस्से पर रिहायशी मकान  व दो दुकानें बना रखी थी।
इस भूमि के मामले में विभाजन के संबंध में उपखंड न्यायालय सूरतगढ़ में प्रकरण विचाराधीन है तथा दोनों पक्षों को यथास्थिति रखने का आदेश है।
आरोप लगाया है कि 14 मई 2017 को सुबह करीब 9:00 बजे हजारीराम पुत्र दानाराम मील, महेंद्र मील पुत्र गंगाजल मील,हनुमान पुत्र हजारी राम मील, सतपाल भादू हथियार लिए हुए खड़े, बलराम व श्यामलाल की जेसीबी मशीन से अपने धियाड़िये मजदूर लगाकर महिला के मकानों को तुड़वा रहे थे। उनको मना किया गया मगर वह उल्टे धमकियां देने लगे व लाठियां लेकर पीछे भागे गालियां निकाली।  मकान तोड़ दिए। महिला का आरोप है कि तोड़े गए मकानों की कीमत करीबन 15- 20 लाख रूपये है।महिला को आर्थिक और मानसिक नुकसान पहुंचा कर परेशान किया जा रहा है।

 आरोप यह लगाया गया है कि  16 अप्रैल 2017 को सूरतगढ़ सिटी थाने में एक दरख्वास्त दी थी की भूमि पर काबिज होना चाहते हैं और जेसीबी मशीन आदि लगाकर खेत में जबरन मिट्टी डालकर भौतिक स्थिति में परिवर्तन करने का प्रयास कर रहे हैं। मगर पुलिस ने कोई  इनके राजनीतिक प्रभाव के कारण कोई कार्यवाही नहीं की। महिला ने 16 मई 2017 को जिला पुलिस अधीक्षक को भी परिवाद दिया।  राजनीतिक दबाव से कोई कार्यवाही नहीं की गई।
इसके बाद महिला ने अदालत एसीजेएम सूरतगढ़ में इस्तगासा पेश किया अदालत ने पुलिस को मुकदमा दर्ज कर जांच करने का आदेश दिया।

 पुलिस थाना सूरतगढ़ में 2 जून को भारतीय दंड संहिता की धारा 447, 147,148, 45, 427, 504 और 149 के तहत मुकदमा दर्ज किया।

सतपाल भादू चक ठाकुर वाला पीलीबंगा निवासी है। बलराम भाट वार्ड  नंबर 7 सूरतगढ़ का निवासी है।
जांच पुलिस उप निरीक्षक प्रताप सिंह को सौंपी गई।






No comments:

Post a Comment

Search This Blog