शनिवार, 25 जून 2016

एसडीएम रामचन्द्र पोटलिया के ठिकानों पर एसीबी के छापे:अपुष्ट खबरें गर्म:


आय से अधिक संपत्ति की शिकायतें: कुछ माह पहले भी हुई थी शिकायतें और बाद में हो गया था खंडन:बीकानेर,चुरू व सीकर की एसीबी टीमों की कार्यवाही:सूरतगढ़ 25 जून:
सूरतगढ़ में पद स्थापित एसडीएम रामचन्द्र पोटलिया के सूरतगढ़ सहित अन्य कई ठिकानों पर एसीबी की संयुक्त छापामार कार्यवाही हुई। पोटलिया के पास आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायतें होने पर एसीबी ने पोटलिया व उनके पुत्र से संबंधित ठिकानों पर छापे मारे हैं। एसीबी की वेबसाईट पर शाम तक कोई अधिकृत समाचार नहीं था कि छापों में क्या कुछ मिला है या कुछ भी नहीं मिला। तरफ से अधिकृत कोई सूचना अभी तक जारी नहीं हुई है लेकिन हर तरफ अफवाहों व अपुष्ट समाचारों की हलचल है। लोग अपने अपने तरीकों से पोटलिया की संपत्तियों का बखान कर रहे हैं। सूरतगढ़ में बीकानेर की एसीबी टीम ने छापेमारी की जिसका नेतृत्व एडीशनल एसपी पर्वतसिंह कर रहे थे। ज्योंहि यह खबर मिली मीडिया कर्मी पहुंच गए व काफी देर तक न्यूज मिलने का इंतजार करते रहे। रात तक पोटलिया के सूरतगढ़ ठिकाने पर कार्यवाही चल रही थी। कई घंटों से चल रही कार्यवाही से कुछ मिलने की संभावना की जा रही है।
जैतसर में पुत्र का व्यवसाय है। वहां पर भी कार्यवाही हुई है। पोटलिया के विरूद्ध पिछले कुछ महीनों से गुपचुप कार्यवाही चल रही थी।
कुछ माह पहले राजस्थान सरकार को पोटलिया के विरूद्ध संपत्ति बनाने की शिकायतें हुई थी तथा कमीश्रर बीकानेर के निर्देश पर जाँच जिला कलकटर को सौंपी गई थी। उसके बाद पत्रकार वार्ता में एक व्यक्ति राधाकृष्ण श्योराण ने यह कहा कि उसके दस्तखतों से किसी अन्य ने शिकायत करदी है। इसके बाद पोटलिया ने पत्रकारों को बताया कि अन्य चार पांच शिकायतें थी लेकिन उन नामों के लोगों ने भी शपथपत्रों के साथ लिखा कि शिकायत उनकी तरफ से नहीं की गई है। पत्रकारवार्ता में राधाकृष्ण श्योराण का किया खंडन अगले ही दिन प्रमुखता से छपा। एक दैनिक ने तो खंडन की न्यूज मुख्यपृष्ठ पर काफी बड़ी लगाई।
एसीबी सभी स्थानों की कार्यवाही की एक ही रिपोर्ट जारी करेगी की संभावना है। अभी अफवाहें व अपुष्ट समाचार हैं जब भी अधिकृत न्यूज मिलेगी देने का प्रयास होगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें